Violenceagainstdoctors, Ministry Of Health, Winter Session Of Parliament, Health Ministry, Dr Harsh Vardhan, Union Health Minister, Violence Against Doctors, Surrogacy Bill, शीतकालीन सत्र, स्वास्थ्य मंत्रालय, हर्षवर्धन

Violenceagainstdoctors, Ministry Of Health

डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा के मामलों को लेकर बिल पेश कर सकता है स्वास्थ्य मंत्रालय

डॉक्टरों के खिलाफ देश में बढ़ते हिंसा के मामलों को लेकर सरकार इसी शीत सत्र में बिल ला सकती है। इसके तहत डॉक्टर-नर्स से

17.11.2019

डॉक्टरों के खिलाफ देश में बढ़ते हिंसा के मामलों को लेकर सरकार इसी शीत सत्र में बिल ला सकती है। drharshvardhan MoHFW_INDIA violenceagainstdoctors

डॉक्टरों के खिलाफ देश में बढ़ते हिंसा के मामलों को लेकर सरकार इसी शीत सत्र में बिल ला सकती है। इसके तहत डॉक्टर-नर्स से

अस्पताल के सभी वर्ग के कर्मचारियों को सुरक्षा देने वाले इस बिल में चिकित्सा कर्मियों को गंभीर चोट पहुंचाने वाले व्यक्ति के लिए तीन से 10 साल के कारावास की सजा और दो से 10 लाख रुपये तक जुर्माने का प्रावधान है। साथ ही अस्पताल या क्लीनिक की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने पर छह माह से 10 साल के कारावास की सजा और 50 हजार रुपये से पांच लाख रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान है। देश के चिकित्सकीय वर्ग को भी इस बिल के आने का इंतजार है।

लंबे समय से अटका सरोगेसी कानून भी इसी शीत सत्र में पास हो सकता है। लोकसभा में पारित होने के बाद ये फिलहाल राज्यसभा में अटका हुआ है। स्वास्थ्य मंत्रालय के भी अधिकारियों का मानना है कि इस बिल को काफी वक्त हो चुका है। अब इसके पास होने की उम्मीद है।

मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ई सिगरेट पर प्रतिबंध लगने के बाद अब इससे जुड़ा बिल शीत सत्र में लाया जा सकता है। ई-हुक्का, ऑनलाइन बिक्री पर प्रतिबंध इत्यादि इसमें शामिल होंगे। कानून की अवेहलना करने पर बिल में एक साल की सजा और एक लाख रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान है। बीते दिनों ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगने के बाद बाजार से पुराना स्टॉक नजदीकी थाना पुलिस में जाकर जमा कराने की अवधि भी अब समाप्त हो चुकी है।

नए कानून के अधीन आएंगे सभी अस्पताल कर्मचारी, ई-सिगरेट पर भी बिल लाने के आसार

वहीं दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) आरडीए के सचिव डॉ. राजीव का कहना है कि पश्चिम बंगाल में दो डॉक्टरों से मारपीट के बाद एम्स के बैनर तले पूरे देश में विरोध बढ़ा था। सदन में बिल आने के बाद चिकित्सीय वर्ग के लिए सबसे बड़ी जीत होगी।

इसके पास होने के बाद नेशनल सरोगेसी बोर्ड गठित होगा। साथ ही जिला स्तर पर भी एक बोर्ड गठित होगा जिसमें प्रसूति रोग के अलावा बालरोग विशेषज्ञ और जिले का सिविल सर्जन भी शामिल होगा। इस बिल के पास होने के बाद भारत में कमर्शियल सरोगेसी पर पूरी तरह से रोक लगेगी।

और पढो: Amar Ujala

drharshvardhan MoHFW_INDIA Doctors par hath uthane walo par kathor karwahi ho drharshvardhan MoHFW_INDIA Doctors k khilaf hinsa q hoti h is topic ko dhyan me rakh kr bill laiye janab. Patients k gharwalo k sath doctors jo suluk krte h iske barr me v sochiye, ye bde bde super speciality hospitals logo ko lut te h is matter pe bill laiye, dead body k v paise wasulte h ispe bill laiye.

drharshvardhan MoHFW_INDIA डॉक्टरों के खिलाफ भी कोई बिल आना चाहिए, ये लोग मरे हुओं पर मशीनें लगा कर पैसे बना रहे हैं drharshvardhan MoHFW_INDIA मरीजों से अनर्गल पैसा ऐंठने और बिना जानकारी के इलाज करने के बाद मरीजों की मौत के जिम्मेदार डाक्टरों पर किसी कार्रवाई की तैयारी है या आम जनता को मरने के लिए छोड़ देंगे। सब डाक्टर खराब नहीं हैं लेकिन एक बड़ी संख्या भी है जो सिर्फ मरीजों को पैसे की मशीन समझते हैं, खून चूसते हैं। 🚑

श्रीलंका के नए राष्ट्रपति बने गोटाबाया राजपक्षा, लिट्टे के खिलाफ हुई सिविल वॉर के हैं हीरोगोटाबाया राजपक्षा की छवि एक कठोर नेता की है और उन पर लिट्टे के खिलाफ लड़ाई में मानवाधिकारों के उल्लंघन के आरोप भी लगे हैं। श्रीलंका की इस सिविल वॉर में हजारों लोगों की जान गई।

अयोध्या: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ दायर होगा रिव्यू, फैसला आजअयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ रिव्यू याचिका दाखिल किए जाने की उम्मीद बढ़ गई है। मुस्लिम पर्सनल देश में शांति के दुश्मन । हिन्दुओं को हर उस मंदिर को वापस लेना होगा जिसे मुग़ल हरामखोरों ने तोड़ा ओर मस्जिद बना दी। अब ये ऐसा कर के देश का माहोल खरब करने की कोशिश करेँगे। कहा गया इनका वो दावा जब कहते थे कि हिमे सर्वोच्च न्यायालय पर विश्वास है। फैसला जो भी होगा मंजूर होगा। देशवासियों को इन लोगो को पहचान लेना चाहिए ये हिमायती नही है अमन चैन के। इनकी दूकान जो बन्द हो गई है।

अयोध्‍या मामला: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील करना चाहते हैं मुस्लिम पक्षकारअयोध्‍या मामले (Ayodhya Case) पर हाल ही में आए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले के खिलाफ मुस्लिम पक्षकार (Muslim Side) अपील करना चाहते हैं. अपील दाखिल किए जाने की इच्‍छा जताते हुए मुस्लिम पक्षकारों ने शनिवार को कहा कि मुसलमानों को बाबरी मस्जिद (Babari Masjid) के बदले कोई जमीन भी नहीं लेनी चाहिए. इन पक्षकारों ने ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (All India Muslim Personal Law Board) के महासचिव मौलाना वली रहमानी से नदवा में मुलाकात के दौरान यह ख्‍वाहिश जाहिर की. | uttar-pradesh News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी आगये न औकात में अपनी साले मुल्लो के प्रति जो हमारी सोच है एकदम सटीक बैठती है। अगर जजमेंट सही आया होता तो शायद आज ऐसा हाल नही होता । लेकिन अगर मुस्लिम के पक्ष में आता तो अब तक कितने हत्या हो गए होते और देश की हाल अब तक बदतर होती कुत्ते की दुम कभी सीधी हो सकती

अयोध्या मामले के मुख्य वादी इकबाल अंसारी रिव्यू पिटीशन के खिलाफ, फैसले से संतुष्टउच्चतम न्यायालय ने नौ नवंबर को बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि मामले में अपने फैसले में कहा था कि 2.77 एकड़ विवादित जमीन राम लला को सौंपी जानी चाहिए, जो तीन वादियों में से एक हैं।

'एक ट्रिलियन में कितने जीरो' पूछ चर्चा में आए वल्लभ लड़ेंगे सीएम के खिलाफ चुनावसंबित पात्रा से 'एक ट्रिलियन में कितने जीरो' पूछ चर्चा में आए वल्लभ लड़ेंगे सीएम के खिलाफ चुनाव JharkhandElection2019 JharkhandAssemblyPolls gauravvallabh RaghubarDas dasraghubar GouravVallabh INCIndia BJP4India sambitswaraj dasraghubar GouravVallabh INCIndia BJP4India sambitswaraj कांग्रेस का सिपाही, देश जनता के सामने, सत्य के लिए लडता हुआ, सलाम आपके जस्बे को, गौरव भाई पर गर्व है,, जय जय कांग्रेस,, dasraghubar GouravVallabh INCIndia BJP4India sambitswaraj Cm sahab ab dusri jagah se bhi khadhe ho jayen Keun ke jeeten ge vallabh Bhai hi BJP ka patan shuro ju ho gaya hai dasraghubar GouravVallabh INCIndia BJP4India sambitswaraj 12 zero hote hai ..Ab harega yeh

महाभियोग: ट्रंप के खिलाफ नहीं मिला कोई सबूत, राष्ट्रपति ने कहा यह दोहरा मापदंडट्रंप के खिलाफ हाउस की ओर से महाभियोग की सुनवाई शुरू की गई थी इसीलिए यूक्रेन में अमेरिका की पूर्व राजदूत मैरी योवानोविच

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

18 नवम्बर 2019, सोमवार समाचार

पिछली खबर

आजम खान के बाद अब चोरी हुई इस BJP नेता की दो भैंसें, CCTV में कैद हुए चोर

अगली खबर

दुनिया मेरे आगेः विनम्रता के बजाए