टोक्यो ओलंपिक : मेडल जीत कमलप्रीत कौर रच सकती हैं इतिहास - BBC News हिंदी

टोक्यो ओलंपिक : मेडल जीत कमलप्रीत कौर रच सकती हैं इतिहास

02-08-2021 04:39:00

टोक्यो ओलंपिक : मेडल जीत कमलप्रीत कौर रच सकती हैं इतिहास

कमलप्रीत कौर ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए डिस्कस थ्रो के फ़ाइनल में जगह बनाई है.अभी तक किसी भारतीय महिला खिलाड़ी ने एथलेटिक्स में मेडल नहीं जीता है. आज शाम साढ़े चार बजे उनका इवेंट है.

समाप्तलेकिन सुर्खियों से दूर कमलप्रीत ने पिछले दो-तीन सालों से लगातार मेहनत कर ओलंपिक तक का सफ़र तय किया है.इमेज स्रोत,Getty Imagesपंजाब के गांव से शुरू हुआ सफ़रकमलप्रीत पंजाब में मुख़्तसर साहब ज़िले के एक छोटे से गाँव आती हैं और बकौल कमलप्रीत जब उन्होंने खेलना शुरु किया तो वहाँ खेल के नाम कुछ ख़ास नहीं था.

बच्चे का मिठाई चुराना अपराध नहीं: जज ने आरोपी बच्चे को बरी करते हुए कहा- माखन चोरी बाल लीला है तो मिठाई चोरी अपराध कैसे? 'इस सुरक्षा चूक को बर्दाश्त नहीं करेंगे' : रोहिणी कोर्ट में हुई फायरिंग पर दिल्ली पुलिस कमिश्नर दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में फायरिंग, एक गैंगस्टर और दो हमलावरों की मौत - BBC News हिंदी

पूछते पाछते वो बादल गाँव के स्पोर्ट्स सेंटर पहुँचीं जहाँ से उन्होंने खेलना शुरू किया. अच्छी कद काठी वाली कमलप्रीत ने डिस्कस में हाथ आज़माया और सफलता भी मिलने लगी.कमलप्रीत को इस बात का मलाल है कि करियर के शुरुआती सालों में गाँव में ठीक से मार्गदर्शन मिला होता तो वो टोक्यो नहीं रियो ओलंपिक में दावेदार होतीं.

वीडियो कैप्शन,पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतालेकिन इससे भी पहले कमलप्रीत को एक और चुनौती को पार करना पड़ा. अक्सर आज भी गाँव-कस्बों में लड़कियों को खेलों में भेजने को लेकर संकोच रहता है.कमलप्रीत कहती हैं कि गाँव में जैसा माहौल था उसके कारण माँ-बाप भी यही चाहते थे कि बेटी कुछ पढ़ लिख जाए और शादी हो जाए, लेकिन कमलप्रीत अपनी बात पर अड़ी रहीं और परिवार को जल्द ही मना लिया. headtopics.com

परिवार के समर्थन से जो हिम्मत मिली और कमलप्रीत ने जो फ़ैसला लिया था, वो पूरी तरह उस पर खरी उतरीं और 2019 में उन्होंने डिस्कस थ्रो में कई साल पुराना नेश्नल रिकॉर्ड तोड़ा.ओलंपिक में महिला जूडो खिलाड़ी को कोच का ये 'सहमति वाला थप्पड़'खेती-किसानी की वजह से माँ-बाप कमलप्रीत के साथ नहीं जा पाते थे और न ही सफ़र के लिए फ़्लाइट की टिकट दे पाते थे, लेकिन आगे बढ़ने के लिए कमलप्रीत का हौसला ही काफ़ी था.

इस साल उन्होंने फ़ेडरेशन कप में 65.06 मीटर का थ्रो डाला था और कुछ दिन बाद इसी साल 66.59 मीटर का. 65 मीटर को पार करने वाली वो पहली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं.कमल कहती हैं कि शुरुआती दौर में वो ट्रेनिंग तो करती थीं, लेकिन खेल के दूसरे पहलुओं के बारे में उन्हें अंदाज़ा नहीं था जैसे सही डाइट और खाना.

बीबीसी से बातचीत में उन्होंने कहा था, "गाँव में यही समझते थे कि सब्ज़ी रोटी खाना अच्छी डाइट है, लेकिन ये गाइडेंस तो बाद में मिली कि न्यूट्रीशन का मतलब क्या होता है. फिर मैंने डाइट पर ध्यान देना शुरू किया.."पिछले दो साल से लगातार कमलप्रीत ने अपने प्रदर्शन में सुधार किया है जो ओलंपिक में नज़र भी आ रहा है.

वीडियो कैप्शन,टोक्यो ओलंपिक के लिए बेघरों को क्यों ग़ायब किया जा रहा?क्रिकेट से भी है लगावकमलप्रीत हरफ़नमौला हैं और क्रिकेट भी खेलती हैं- न सिर्फ़ खेलती हैं बल्कि क्रिकेटर बनना भी चाहती हैं. उनका सपना है कि जब उन्हें मौका मिलेगा तो वो क्रिकेट में भी हाथ आज़माना चाहेंगी. headtopics.com

दिल्ली के कोर्ट में गैंगवॉर: कोर्ट रूम में गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की हत्या, वकील की ड्रेस में आए दोनों बदमाश पुलिस शूटआउट में मारे गए जल्द जीएसटी के दायरे में आ सकते हैं पेट्रोल-डीजल, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने चंडीगढ़ में दिए संकेत मोदी की प्लेन की फोटो वायरल: PM ने एयर इंडिया वन से फाइलें पढ़ते हुए फोटो ट्वीट की, लोगों ने पूर्व प्रधानमंत्रियों की ऐसी ही फोटो शेयर कर कहा- यादें ताजा हो गईं

पर फ़िलहाल तो टार्गेट और फ़ोकस डिस्कस थ्रो और ओलंपिक मेडल पर है.टोक्यो ओलंपिक: चीन कैसे पदकों के ढेर लगा रहा और भारत तरस रहा हैजब ओलंपिक की फ़ाइनल में कमलप्रीत जगह बना रही थीं तो उनके पिता खेत में काम कर रहे थे क्योंकि किसानी का काम रुक नहीं सकता था.उनके परिवार को भी बेटी का इंतज़ार है. पदक मिल जाने की इच्छा तो है ही पर ओलंपिक तक पहुँच पाना भी कमलप्रीत के परिवार के लिए किसी पदक से कम नहीं है.

और पढो: BBC News Hindi »

दिग्विजय का हिंदू-मुस्लिम आबादी पर बयान: बोले- देश में मुस्लिमों की जन्म दर में हिंदुओं से ज्यादा गिरावट, यह 2028 तक बराबर हो जाएगी

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने हिंदू-मुसलमान की बढ़ती आबादी को लेकर बड़ा बयान दिया है। दिग्विजय ने कहा कि मुसलमानों की जन्म दर घट रही है। साल 2028 तक हिंदुओं और मुसलमानों की जन्म दर बराबर हो जाएगी। उन्होंने एक स्टडी का हवाला देते हुए कहा- 1951 के बाद से मुसलमानों की जन्म दर में गिरावट हिंदुओं की तुलना में अधिक रही है। जनसंख्या वृद्धि को लेकर मुसलमानों से को... | Former Chief Minister of Madhya Pradesh and senior Congress leade, birth rate of Hindus and Muslims

टोक्यो ओलंपिक में झूठ वाला भी खेल शामिल होता तो साहब बोरी भर के ले कर आ जाते आजकल दोनों साहब झूठ यूपी जाकर बोलते हैं😀😀😀 बेईमानी के बाद भी भारत ने ब्रिटिश को हराया । बेईमान पत्रकारिता । कोई कार्टून नहीं । बीबीसी चुप ।

मीराबाई चनू सीमा पर BSF जवानों से मिलने पहुंचीं, ओलंपिक में जीता है सिल्वर मेडलमीराबाई चानू शनिवार को मणिपुर के इंफाल में अपने पैतृक गांव नॉन्गपोक के नजदीक स्थित सीआई पोस्ट दामोदर पहुंचीं. यहां उन्होंने बीएसएफ जवानों के साथ वक्त बिताया. mirabai_chanu Ager is baar opan board ke students ko prmote nhi kiya to mere gaav aur aas pass me koi bhi c Congress ko vote nhi dega jaldi se jaldi fesla lo cancelExamsSaveStudent RSOS_EXAM_Cancel_करे RSOS_के_छात्रों_को_प्रमोट_करें GovindDotasra ashokgehlot51 narendramodi mirabai_chanu cancelExamsSaveStudent RSOS_EXAM_Cancel_करे RSOS_के_छात्रों_को_प्रमोट_करें rsos12thexam mirabai_chanu Good...it motivates to BSF personnel's

कंडोम की मदद से इस लड़की ने जीता ओलंपिक मेडल, Video में देखिए पूरी घटनाऑस्ट्रेलिया की 27 साल की जेसिका फॉक्स ने टोक्यो ओलंपिक में महिलाओं की कयाक स्लैलम (kayak slalom) में कांस्य पदक और कैनोइंग स्लैलम में स्वर्ण पदक अपने नाम किया है। वह ओलंपिक इतिहास में कैनोइंग स्लैलम रेस जीतने वाली पहली महिला हैं।

Tokyo Olympics: भारत की झोली में आया दूसरा मेडल, सिंधु ने जीता कांस्य पदकTokyo Olympics: भारत की झोली में आया दूसरा मेडल, सिंधु ने जीता कांस्य पदक Pvsindhu1 BAI_Media Tokyo2020hi WeAreTeamIndia PVSindhu Badminton Tokyo2020 Olympics Bronze Pvsindhu1 BAI_Media Tokyo2020hi WeAreTeamIndia Follow the twitter handles of 'All India Trinamool Congress' from all over India 👇👇👇 AITC4Assam AITC4Delhi AITC4Bihar AITC4Jharkhand AITC4Tripura AITC4UP

Tokyo Olympics: पीवी सिंधू ने बैडमिंटन सिंगल्स में जीता ब्रॉन्ज मेडल, भारत को दिलाया दूसरा पदकPV Sindhu won Bronze Medal in Tokyo Olympics 2020 भारतीय महिला स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू ने बैडमिंटन एकल प्रतियोगिता में भारत के लिए ब्रॉन्ज मेडल जीता। उन्होंने पिछले ओलिंपिक में भारत के लिए सिल्वर मेडल जीता था। Pvsindhu1 Please help the private students noone is listening their voice kindly I request you too do something In favour of these CBSE private students.

Tokyo Olympics: पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, चीनी शटलर को हराकर जीता ब्रॉन्ज मेडलTokyo Olympics PV Sindhu Bronze Medal Match : भारत की दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु (PV Sindhu) भले ही गोल्ड मेडल नहीं जीत पाई हैं लेकिन ब्रॉन्ज मेडल (Bronze Medal) जीतने में सफल हो गई हैं. सिंधु ने दोनों सेटों में चीन की शटलर हे बिंगजिआओ (He Bing Jiao) को 21-13 और दूसरा सेट 21-15 से जीतकर इतिहास रच दिया है. रियो ओलंपिक में भी सिंधु ने सिल्वर मेडल जीता था. Congratulations Congratulations 🇮🇳🇮🇳🇮🇳❤️❤️❤️

टोक्यो ओलिंपिक LIVE: पीवी सिंधु ने ब्रॉन्ज मेडल जीता, टोक्यो ओलिंपिक में भारत का तीसरा मेडल; भारतीय हॉकी टीम ने ब्रिटेन पर बढ़त बनाईभारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलिंपिक में महिला सिंगल्स का ब्रॉन्ज मेडल जीत लिया है। उन्होंने तीसरे स्थान के लिए हुए मैच में चीन की जियाओ बिंग हे को 21-13, 21-15 से हराया। यह मैच 53 मिनट तक चला। सिंधु दुनिया की सिर्फ चौथी बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई हैं, जिन्होंने दो अलग-अलग ओलिंपिक में मेडल जीता है। साथ ही वे दो ओलिंपिक मेेडल जीतने वाली दूसरी भारतीय खिलाड़ी और पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन... | Tokyo Olympics 2021 Live Updates; Get the Latest Tokyo Olympics News Today and Hindi News Headlines on Dainik Bhaskar (दैनिक भास्कर) IndianOlympians Congratulations IndianOlympians ना ग़ोली चली ना तीर चली ओलंपिक में हिंदुस्तान कीं बेटी चली🥇🥇🥇🇮🇳🇮🇳 IndianOlympians तीसरा मेडल नहीं..अभी दूसरा ही है..😊