Tax, Incometax, Homeloan, Interest, Loan, Income Tax Rebate On Loans, How To Get İncome Tax Return, How To Get İncome Tax Rebate, İncome Tax Rebate, İncome Tax, Loan, Loan İnterest, Tax Exemption, Rules Of İncome Tax, Calculation Of Tax, Rule Of İncome Tax On Loans, Tax Exemption Up To Rs 2 Lakh On Loan İnterest, Loans Taken From Relatives And Friends, टैक्स का गणित, टैक्स से जुड़ी जानकारी, इनकम टैक्स में छूट के नियम, आयकर का नियम, Business News İn Hindi, Business Diary News İn Hindi, Business Diary Hindi News

Tax, Incometax

टैक्स का गणित: अपनों से लिए कर्ज पर क्या हैं आयकर के नियम, दो लाख रुपये तक होम लोन के ब्याज पर कैसे मिलेगी टैक्स छूट

कर और निवेश मामलों के विशेषज्ञ बलवंत जैन बताते हैं कि आप मकान बनवाने या खरीदने के लिए अपने पिता से भी होम लोन ले सकते

27-09-2021 04:55:00

टैक्स का गणित : अपनों से लिए कर्ज पर क्या हैं आयकर के नियम, दो लाख रुपये तक होम लोन के ब्याज पर कैसे मिलेगी टैक्स छूट Tax Income Tax HomeLoan Interest Loan

कर और निवेश मामलों के विशेषज्ञ बलवंत जैन बताते हैं कि आप मकान बनवाने या खरीदने के लिए अपने पिता से भी होम लोन ले सकते

2 लाख रुपये तक टैक्स छूट मिलेगी होम लोन ब्याज परहालांकि, आयकर की धारा 24 के तहत ब्याज पर मिलने वाली दो लाख की टैक्स छूट का दावा किया जा सकता है। इसके लिए कर्जधारक को अपने पिता की ओर से जारी ब्याज सर्टिफिकेट विभाग को मांगने पर उपलब्ध करना होगा। ध्यान रखने वाली बात है कि ब्याज की यह राशि आपके पिता की आय मानी जाएगी और उन्हें अपने रिटर्न में इसे दर्शाना पड़ेगा।

छत्तीसगढ़ के बाद अब भोपाल में दुर्गा विसर्जन समारोह में दौड़ी कार, चपेट में आया बच्चा कर्नाटकः 'जबरन धर्म परिवर्तन' का पता लगाने के लिए चर्चों के सर्वेक्षण कराने के आदेश 100 Crores Vaccine Dose: पीएम मोदी ने दिखाई राह तो आसान हुई मंजिल, बढ़ता गया भारत में टीकाकरण का कारवां

वॉलेट से अधिकतम 50 हजार रुपये तक भुगतानमोबाइल वॉलेट के जरिये मित्रों या रिश्तेदारों से किसी एक वित्तवर्ष में अधिकतम कर्ज 50 हजार रुपये तक लिए जा सकते हैं। दरअसल, आयकर विभाग इस राशि को तोहफे के रूप में लेता है और 50 हजार तक ही टैक्स छूट रहती है। इससे ज्यादा की राशि अतिरिक्त आय मानी जाएगी और आपको स्लैब के हिसाब से कर चुकाना पड़ सकता है।

मित्रों से लिया कर्ज तो कोई टैक्स नहींसंकट के समय अपने मित्रों या पहचान वालों (पारिवारिक सदस्य नहीं) से कर्ज लिया है, तो यह राशि भी आयकर के दायरे से बाहर होगी। हालांकि, अगर उसने आपको तोहफे के रूप में बतौर मदद यह राशि दी है तो किसी एक वित्तवर्ष में सिर्फ 50 हजार पर ही टैक्स छूट का दावा किया जा सकेगा। इससे ज्यादा की राशि आपकी अतिरिक्त आय मानी जाएगी और उस पर स्लैब के हिसाब से कर देनदारी बनेगी। अगर राशि कर्ज के रूप में ली है और उसे लौटाया गया है, तो कर्जधारक पर टैक्स देनदारी नहीं बनेगी। यह ध्यान रखना होगा कि इस राशि पर मित्र को ब्याज दिया है, तो उसे ब्याज के रूप में मिली राशि पर टैक्स देना पड़ेगा। headtopics.com

20 हजार रुपये से ज्यादा न हो नकद में लेनदेनकिसी मित्र या रिश्तेदार से लिए गए कर्ज की राशि 20 हजार से ज्यादा नकद में नहीं होनी चाहिए। ऐसा होने पर आयकर विभाग उस राशि के बराबर जुर्माना लगा सकता है। समान नियम कर्ज के भुगतान पर भी लागू होंगे। यानी, कर्ज लेने वाला व्यक्ति उसे चुकाते समय 20 हजार से ज्यादा नकद में नहीं देगा। आयकर की धारा 269टी के तहत इस तरह का कर्ज चेक या इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से ही दिया जाना चाहिए और लौटाने में भी इसका पालन होना चाहिए।

एनआरआई रिश्तेदार से तीन साल के लिए ही कर्जकोई भारतीय नागरिक अपने अनिवासी भारतीय (एनआरआई) रिश्तेदार से कर्ज लेता है, तो इसकी अधिकतम अवधि तीन साल होगी। कर्ज की राशि भी 2.50 लाख डॉलर से अधिक व ब्याज बैंक के समान कर्ज के ब्याज से दो फीसदी से अधिक नहीं होना चाहिए। मसलन, बैंक 8 फीसदी ब्याज पर कर्ज दे रहा, तो रिश्तेदार अधिकतम 10 फीसदी ले सकता है। इसी तरह, कोई भारतीय अपने एनआरआई रिश्तेदार को कर्ज देता है, तो अधिकतम एक साल के लिए 2.5 लाख डॉलर बिना ब्याज के दे सकता है।

लोन एग्रीमेंट बनवाना दोनों पक्ष के लिए सहीमित्रों या रिश्तेदारों को बड़ी राशि कर्ज के रूप में देनी है, तो लोन एग्रीमेंट बनाना बेहतर होगा। इस पर ब्याज का लेनदेन होता है, उसे भी एग्रीमेंट में शामिल किया जाना चाहिए। ताकि, आयकर विभाग के मांगने पर सभी वैध दस्तावेज उपलब्ध कराए जा सकें और टैक्स छूट का वाजिब लाभ मिल सके।

-एके निगम निदेशक, बीपीएन फिनकैपविस्तार हैं। शर्त यह है कि इस तरह के होम लोन पर आयकर अधिनियम की धारा 80सी के तहत मूल राशि चुकाने पर मिलने वाली 1.5 लाख रुपये की छूट नहीं दी जाएगी। इसके लिए आपको किसी सरकारी, निजी बैंक अथवा अन्य वित्तीय संस्थान से ही कर्ज लेना पड़ेगा। headtopics.com

दक्षिण एशिया में काम कर रहा है इस्लामिक एजेंडा, कांग्रेस नेता ने कश्मीर-बांग्लादेश की घटनाओं को जोड़ा पश्चिम बंगालः मां दुर्गा विसर्जन कर लौट रहे लोगों पर गुंडों ने फेंके बम, गाड़ियां तोड़ीं जब रिसेप्शन में अमिताभ बच्चन को देख माधुरी के पति डॉ. नेने ने कहा 'इनका चेहरा जाना-पहचाना है'

विज्ञापन2 लाख रुपये तक टैक्स छूट मिलेगी होम लोन ब्याज परहालांकि, आयकर की धारा 24 के तहत ब्याज पर मिलने वाली दो लाख की टैक्स छूट का दावा किया जा सकता है। इसके लिए कर्जधारक को अपने पिता की ओर से जारी ब्याज सर्टिफिकेट विभाग को मांगने पर उपलब्ध करना होगा। ध्यान रखने वाली बात है कि ब्याज की यह राशि आपके पिता की आय मानी जाएगी और उन्हें अपने रिटर्न में इसे दर्शाना पड़ेगा।

वॉलेट से अधिकतम 50 हजार रुपये तक भुगतानमोबाइल वॉलेट के जरिये मित्रों या रिश्तेदारों से किसी एक वित्तवर्ष में अधिकतम कर्ज 50 हजार रुपये तक लिए जा सकते हैं। दरअसल, आयकर विभाग इस राशि को तोहफे के रूप में लेता है और 50 हजार तक ही टैक्स छूट रहती है। इससे ज्यादा की राशि अतिरिक्त आय मानी जाएगी और आपको स्लैब के हिसाब से कर चुकाना पड़ सकता है।

मित्रों से लिया कर्ज तो कोई टैक्स नहींसंकट के समय अपने मित्रों या पहचान वालों (पारिवारिक सदस्य नहीं) से कर्ज लिया है, तो यह राशि भी आयकर के दायरे से बाहर होगी। हालांकि, अगर उसने आपको तोहफे के रूप में बतौर मदद यह राशि दी है तो किसी एक वित्तवर्ष में सिर्फ 50 हजार पर ही टैक्स छूट का दावा किया जा सकेगा। इससे ज्यादा की राशि आपकी अतिरिक्त आय मानी जाएगी और उस पर स्लैब के हिसाब से कर देनदारी बनेगी। अगर राशि कर्ज के रूप में ली है और उसे लौटाया गया है, तो कर्जधारक पर टैक्स देनदारी नहीं बनेगी। यह ध्यान रखना होगा कि इस राशि पर मित्र को ब्याज दिया है, तो उसे ब्याज के रूप में मिली राशि पर टैक्स देना पड़ेगा।

20 हजार रुपये से ज्यादा न हो नकद में लेनदेनकिसी मित्र या रिश्तेदार से लिए गए कर्ज की राशि 20 हजार से ज्यादा नकद में नहीं होनी चाहिए। ऐसा होने पर आयकर विभाग उस राशि के बराबर जुर्माना लगा सकता है। समान नियम कर्ज के भुगतान पर भी लागू होंगे। यानी, कर्ज लेने वाला व्यक्ति उसे चुकाते समय 20 हजार से ज्यादा नकद में नहीं देगा। आयकर की धारा 269टी के तहत इस तरह का कर्ज चेक या इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से ही दिया जाना चाहिए और लौटाने में भी इसका पालन होना चाहिए। headtopics.com

एनआरआई रिश्तेदार से तीन साल के लिए ही कर्जकोई भारतीय नागरिक अपने अनिवासी भारतीय (एनआरआई) रिश्तेदार से कर्ज लेता है, तो इसकी अधिकतम अवधि तीन साल होगी। कर्ज की राशि भी 2.50 लाख डॉलर से अधिक व ब्याज बैंक के समान कर्ज के ब्याज से दो फीसदी से अधिक नहीं होना चाहिए। मसलन, बैंक 8 फीसदी ब्याज पर कर्ज दे रहा, तो रिश्तेदार अधिकतम 10 फीसदी ले सकता है। इसी तरह, कोई भारतीय अपने एनआरआई रिश्तेदार को कर्ज देता है, तो अधिकतम एक साल के लिए 2.5 लाख डॉलर बिना ब्याज के दे सकता है।

लोन एग्रीमेंट बनवाना दोनों पक्ष के लिए सहीमित्रों या रिश्तेदारों को बड़ी राशि कर्ज के रूप में देनी है, तो लोन एग्रीमेंट बनाना बेहतर होगा। इस पर ब्याज का लेनदेन होता है, उसे भी एग्रीमेंट में शामिल किया जाना चाहिए। ताकि, आयकर विभाग के मांगने पर सभी वैध दस्तावेज उपलब्ध कराए जा सकें और टैक्स छूट का वाजिब लाभ मिल सके।

कश्मीरी नेताओं पर संघ प्रमुख का हमला: भागवत बोले- आर्टिकल 370 हटने से पहले जम्मू-कश्मीर का 80% फंड नेताओं की जेब में जाता था सीमाओं की सुरक्षा पर सस्ती राजनीति, बंगाल और पंजाब की सरकारें आखिर क्यों जता रही आपत्ति? राजस्थानः कैंसर से जूझ रहे पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा का निधन, भंवरी केस में थे मुख्य आरोपी

-एके निगम निदेशक, बीपीएन फिनकैपआपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »

विधायक का कुंभकरण अंदाज: राक्षस वेश में दशहरा मैदान में उतरे केशकाल MLA संतराम नेताम, राम से युद्ध करने पहुंचे रावण की सेना के साथ

छत्तीसगढ़ के कोंडगांव में केशकाल से विधायक संतराम नेताम अपने अनोखे अंदाज के लिए जाने जाते हैं। कभी लोग उन्हें खेतों में हल चलाते तो कभी गाना गाते हुए देख चुके हैं। इस बार वो कुंभकरण का रूप बनाकर दशहरा मैदान में उतर पड़े। राक्षस वेशभूषा में लोग उन्हें पहचान ही नहीं सके। इसके बाद जब राम से युद्ध में धराशायी हुए और अंत में मुखौटा हटाया तो सब हैरान रह गए। यह विधायक संतराम नेताम का कुंभकरण अंदाज था। | Ravana And Rama's Armies Fight; Chhattisgarh Congress Mla Santram Netam Kumbhakarna Style

नीतीश कुमार के जेल जाने का समय अब नजदीक आ रहा है , सृजन , एस्टीमेट धोटाला, मुज्जफरपुर शेल्टर कांड, असम स्लीपर धोटाला जैसे अनेक कारण मौजूद हैं, एक मैथिली कहावत है कि देव ना मारें डांग से दियों कुपंथ चढ़ाए, नीतीश कुमार को अपने कर्मों का फल अपने बड़े भाई के जैसे भोगना ही पड़ेगा

राहुल गांधी से चर्चा के बाद पंजाब कैबिनेट के मंत्रियों के नाम तय : सूत्रपंजाब में मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने अपने मंत्रिमंडल के लिए नामों को अंतिम रूप दे दिया है. सूत्रों के मुताबिक, चन्‍नी ने राहुल गांधी के साथ मिलकर के पंजाब कैबिनेट के मंत्रियों  के नाम तय किए हैं. कैबिनेट में बदलाव को  लेकरबातचीत के लिए चन्‍नी तीन बार दिल्‍ली आए थे. कितना भी सीएम बना लो गुलामी नहीं जाएगी क्या राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष हैं या पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष आखिर क्यों उनसे पूछ कर कैबिनेट का विस्तार किया जाएगा यह एक गुलामी वाली सोच है

इमरान खान पर स्‍नेहा दूबे के पलटवार से लाल हुआ पाकिस्‍तान, भारत पर निकाली भड़ासSneha Dubey Vs Imran Khan UNGA: भारत की फर्स्ट सेक्रटरी स्‍नेहा दुबे के संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में इमरान खान पर पलटवार से पाकिस्‍तान बौखला गया है। पाकिस्‍तान ने जम्‍मू-कश्‍मीर को अंतरराष्‍ट्रीय विवाद करार दिया है। हमने तो वीडियो देखा था उसमे स्नेहा दुबे उठ कर चली गई थी 🤔 यानी तुम भी मोदी की तरह सच बोलने लगे 😂😂 सच कड़वा होता है और अक्सर वे लोग जो सच से भागने की कोशिश करते है, इसी तरह प्रतिक्रिया देते हैं | सबूतों को कैसे झुठलाया जा सकता है? स्नेहा जी ने तो सिर्फ आईना दिखाने की कोशिश की है | जब शक्ल बुरी हो तो आईना देखने से डर तो लगेगा ही | यह कुछ नहीं, अपनी ही शक्ल पर भड़ास निकालना है |

IPL 2021: सीएसके को वरुण चक्रवर्ती से खतरा, कल केकेआर से भिड़ेंगे धोनी के धुरंधरचेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच रविवार को मुकाबला खेला जाएगा। आईपीएल के दूसरे चरण में दोनों टीमें

IPL 2021- राजस्थान पर जीत के साथ दिल्ली फिर टॉप पर - BBC Hindiआईपीएल-2021 में शनिवार को दिल्ली कैपिटल ने राजस्थान रॉयल्स को 33 रनों के बड़े अंतर से हराते हुए टूर्नामेंट के प्ले ऑफ़ राउंड में अपनी जगह लगभग पक्की कर ली.

पुरानी हरकतों पर उतरा तालिबान, हेरात में चार लोगों के शव को चौराहे पर लटकायातालिबान ने शनिवार को पश्चिम अफगानिस्तान के हेरात प्रांत में चार लोगों को गोली मार कर उसका शव चौराहे पर लटका दिया। शव काफी देर तक क्रेन से लटका रहा और घंटों तक हवा में झूलता रहा।

इस वजह से आमिर खान के साथ डिनर के दौरान इमोशनल हुए नागार्जुनबॉलीवुड सुपरस्टार आमिर खान जल्द ही 'लाल सिंह चड्ढा' में नजर आने वाले हैं। इस फिल्म में उनके साथ साउथ स्टार नाग चैतन्य भी दिखेंगे। हाल ही में आमिर खान अपने सह-कलाकार नाग चैतन्य की आगामी फिल्म 'लव स्टोरी' को प्रमोट करने के लिए हैदराबाद गए थे।