Aryankhan, Aryankhandrugcase, Ncb, Entertainment, Bollywood, Aryan Khan, Aryan Khan Drugs Case, Ananya Panday, Aryan Khan Drugs Case Update, Aryan Khan Bail Hearing, Aryan Khan Arrested, Aryan Khan Ncb Custody, Divya Bharti, Somy Ali Drugs Case, Raveena Tondon, शाह रुख खान, शाहरुख खान आर्यन खान, आर्यन खान ड्रग्स केस, आर्यन खान जमानत, रवीना टंडन, सोमी अली, दिव्या भारती, Entertainment Movies Bollywood

Aryankhan, Aryankhandrugcase

जेल में धार्मिक किताबें पढ़कर समय काट रहे हैं आर्यन खान, रोज संध्या आरती में भी होते हैं शामिल

जेल में धार्मिक किताबें पढ़कर समय काट रहे हैं आर्यन खान, रोज संध्या आरती में भी होते हैं शामिल #AryanKhan #AryanKhanDrugCase #NCB

24-10-2021 11:00:00

जेल में धार्मिक किताबें पढ़कर समय काट रहे हैं आर्यन खान, रोज संध्या आरती में भी होते हैं शामिल AryanKhan AryanKhanDrugCase NCB

आर्यन रोज जेल में होनी वाली संध्या आरती में शामिल होते हैं। उनकी परेशानी को देखते हुए जेल कर्मचारियों ने आर्यन को सुझाव दिया है कि वो लाइब्रेरी से अपनी पसंद की किताबें पढ़कर समय गुजार सकते हैं। जेल की लाइब्रेरी में कई धार्मिक और मोटिवेशनल किताबें मौजूद हैं।

सुपरस्टार शाह रुख खान के बेटे आर्यन ड्रग्स केस के चलते जेल में हैं। तीन हफ्तों से मुंबई के आर्थर रोड जेल में बंद आर्यन की जमानत याचिका दो बार खारीज हो चुकी है। खबर हैं कि शाह रुख के लाडले जेल में काफी परेशान हैं। किंग खान जब मुलाकात के लिए जेल गए थे तो आर्यन पूरे समय सिर्फ रो रहे थे। वहीं आर्थर रोड जेल के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, आर्यन जेल में लाइब्रेरी से किताबें लेकर पढ़ रहे हैं। हाल ही में उन्होंने यहां से दो किताबें ली हैं, जिनमें पहली है गोल्डन लॉयन और दूसरी किताब भगवान राम और सीता की कहानियों पर बेस्ड है।

यह भी पढ़ेंजेल में परेशान हैं आर्यनएचटी के रिपोर्ट्स के मुताबिक धार्मिक किताबें पढ़ काट रहे समययह भी पढ़ेंआर्यन ने जेल की लाइब्रेरी से दो किताबें ली हैं। वो पिछले दो दिनों से भगवान राम और माता सीता पर लिखी किताब पढ़ रहे हैं। इससे पहले खान ने द लायन्स गेट नाम की किताब पढ़ी थी। जेल प्रशासन के मुताबिक, अगर कोई कैदी चाहे तो अपने रिश्तेदारों से अपनी पसंद की किताब मंगवा सकता है, लेकिन सिर्फ धार्मिक किताबों की इजाजत है। इसके अलावा अगर कोई कैदी जेल से बाहर निकलते समय किताब छोड़ देता है तो उसे भी जेल की लाइब्रेरी में शामिल कर लिया जाता है।

सोमवार को होगी सुनवाईइससे पहले बुधवार को विशेष अदालत ने ड्रग्स मामले में आर्यन खान और दो अन्य को जमानत देने से इनकार कर दिया था। इसके बाद, आर्यन खान ने अपनी जमानत खारिज होने पर एनडीपीएस अदालत के आदेश के खिलाफ बॉम्बे हाई कोर्ट में जमानत याचिका दायर की। 26 अक्टूबर को हाई कोर्ट में आर्यन की जमानत याचिका पर सुनवाई होगी। headtopics.com

और पढो: Dainik jagran »

दंगल: क्या अब्बाजान और चिलमजीवी ही यूपी चुनाव के मुद्दे हैं?

उत्तर प्रदेश में चुनाव का माहौल जैसे-जैसे गर्माता जा रहा है, नेताओं की जुबान तीखी होती जा रही है. समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने योगी सरकार को एक बार फिर चिलमजीवी कह के घेरा है. अखिलेश अक्सर चिलम फूंकने का आरोप लगाकर योगी आदित्यनाथ को घेरते रहे हैं. लेकिन चिलम के नाम पर अखिलेश को जवाब संत समाज की ओर से मिला है. कुछ साधु संतों ने इसे संतों का अपमान बताकर अखिलेश से माफी की मांग की है. आज दंगल में देखें क्या चिलम वाले बयान पर अखिलेश ने संतों की नाराजगी मोल ले ली है? और क्या 2022 के चुनाव में इसका असर पड़ेगा? देखें वीडियो.

कितने घंटे सो रहा , नींद आ रही है कि नहीं ये तो बताया नहीं। धार्मिक नही जमाती, इस्लाम, आतंकवाद की किताब पढ़ रहा होगा क्यों झूँठ फैला रहे हो।कितना मिला ये सब लिखने का ? आर्यन खान अपने अब्बा को झांसे देकर ही माल फुकता था। ये तो बहुत खुशी की बात है इसे अंदर ही रहने दो लड़का 4 से 5 साल बाद जब बाहर आएगा तो सभी गंदी आदतें छोड़ चुका होगा

अब यही देखना बाकी रह गया 🤗🤗 Ishe kahte hai dalali hindu se sahanbhuti lena dekho dekho Aryan aarti bhi karta hai. सर,, जेल में इंसान, और कर भी क्या सकता है? अन्य लोगों को देखकर, व्यक्ति में सुधार और बिगाड़ दोनों ही आ सकते हैं। यही मानव स्वभाव है अगर पछतावा होता है तो अच्छी बात है। *रामेश्‍वर चंडक [ माहेश्‍वरी ]*

आप मीडिया वाले यही काम पहले किये होते तो आज उसको जेल नही जाना पड़ता ।अब कितना भी चरण वंदन कर लो कोई फर्क नही पड़ता । उसके परिवार से ज्यादा मेहनत तो देश की मीडिया कर रही है उसको जेल से छुड़ाने में ।आखिर मामला क्या है ? इतनी हमदर्दी क्यों ? बस दीक्षा लेना बाकी है पक्का सन्त महात्मा या मौलाना बन जायेगा। नशेड़ी की इमेज बदलने की कोशिश में लगा है

नशेड़ी है MC स्मगलर कंही का

भारत में अल्पसंख्यक नहीं हैं मुस्लिम, राष्ट्रनिर्माण में निभाएं भूमिका- कांग्रेस नेता रहमान खानवरिष्ठ कांग्रेस नेता रहमान खान ने कहा कि संविधान हमारा संरक्षक है कोई राजनीतिक दल नहीं। कोई भी व्यक्ति किसी पार्टी में शामिल हो सकता है। और मेरे हिसाब से कोई भी पार्टी दावा नहीं कर सकती कि मुस्लिम उनके साथ हैं। आप अपनी महारानी सोनिया ख़ान को कोसमझाआओ वो केवल गज़वा-ए-हिन्द करने में भूमिका निभायेंगे। मुस्लमान बहुसंख्यक नहीं है रहमान साहब और राष्ट्र निर्माण में क्यूँ निभाएं अपनी भूमिका l अल्पसंख्यक के नाम पर ना जाने कितनी योजनाएं फ्री में मिल रहीं हैं वो सब बंद हो जाएंगी l

Aaj se mai dainikjagran ka bahiskar karta hu baki koi comment ni karunga sab samajhdar hai anantvijay क्या ये ख़बर कुख्यात सूत्रों के हवाले से आई है? या केवल जमानत याचिका के लिए दवाब बनाने को चलाया जा रहा प्रचार मात्र है? क्या आधिकारिक रूप से इस सूचना की कोई पुष्टि हुई है? किसी नशेड़ी की जेल यात्रा और जमानत की याचिका को समाचार पत्रों के मुख्य पृष्ठ पर स्थान कियू? जय हो 🇮🇳

anantvijay कौन सी धार्मिक किताबे ये भी बता दे। anantvijay अरे वाह, फिर तो उसे भारत रत्न मिलना चाहिए🤣 anantvijay क्या आपके अखबार का सवांददाता भी जेल के अंदर है 😠😠😠 anantvijay तो हम क्या करें भाई🙄 anantvijay देखना कहीं बाप न बदल ले....☺️ phenko aaram se...hum lapet rahe hain anantvijay तो क्या करे हम लोग

Kuchh bhi !

लखीमपुर खीरी हिंसाः पुलिस रिमांड के बीच आरोपी आशीष मिश्रा को डेंगू, जेल अस्पताल में शिफ्टलखीमपुर खीरी हिंसा के आरोपी और पुलिस कस्टडी रिमांड पर चल रहे मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की हालत बिगड़ गई है. उसे जेल अस्पताल में शिफ्ट कराया गया है. पुलिस कस्टडी रिमांड खत्म होने से पहले ही आशीष मिश्रा को जेल में दाखिल किया गया है. Jhooth ,safed jhooth hai क्या भारत की न्याय व्यवस्था एक मजाक नहीं जनता के साथ क्या एक मुर्ख व्यवस्था नहीं प्रजातंत्र के तहत कोई भी जिम्मेदारी तय नहीं हे। एक समूह साथ में खड़े होकर चिल्लाये तो उसे सच मान लिया जाता हे न्याय व्यवस्था में जिम्मेवारी तय होनी चाहिए।

Ye koi news ha kuchh bhi daalte ho Wo hagta kitni baar hai ye news bhi batao Le me to : TRP के लिए कुछ भी...😁😁😁 To? दैनिक जागरण भी मुजरा करता है क्या ? शर्म करो चरस गांजा फूंक कर अन्दर गया है इसके जैसे सैकड़ों होंगे वहां सबका हाल चाल बताओ आखिर ये भी कैदी ही है । दैनिक जागरण बिकाऊ अखबार लखीमपुर खीरी का जो अपराधी बंद है उसके बारे में भी कभी दिखा दिया करो

Halala kaise kare जिस देश में एक नाचने वाले के बेटे को नशा करते हुए पकड़ लिया जाता है और मिडिया उस खबर को प्राईम न्यूज में चला रही हो उसमें दोष मिडिया कि नहीं है हमारे जैसे लोगों कि हमें इनके बारे देखना पसंद है। यह चिकना घड़ा है इस पर किसी भी ज्ञान का कोई असर नहीं होने वाला इस धोखे में मत रहना की यह आदमी जेल से छूट कर गायत्री मंत्र जपने लगेगा।

बैरक में रोते हैं आर्यन, वॉशरूम भी नहीं करना चाहते यूज़, हेल्थ को लेकर चिंता में जेल स्टाफ़ः रिपोर्ट्स'मन्नत' में जन्मे और पले-बढ़े आर्यन खान ( Aryan Khan ) आज जेल की सलाखों के पीछे जीने को मजबूर हैं। खबर है कि आर्यन जेल ( Aryan Khan ) के अंदर रोते रहते हैं और खाना-पीना क्या वॉशरूम तक जाने से बचने की कोशिश करते हैं। जेल स्टाफ उनके हेल्थ को लेकर चिंतित हैं। हो गया 20 दिन रख दिए , अब छोड़ दो और ऐसा ही भारत के हर एक नागरिक के साथ करो. Bhag bcd ke विश्व स्तरीय हथियार,ड्रग्स व गैरकानूनी- संस्थानों द्वारा उपयोगी डार्क इन्टरनेट के माध्यम से चैटिंग करने की अभ्यस्तता का दुष्परिणाम अंततः भोगना हीं पड़ता है,एक आम आदमी तो ऐसे अपराधों की सजा के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई को बेमतलब कह पाने का दुःसाहस करना तो दूर ऐसी सोच भी नहीं सकता ।

शाहरुख की PR टीम में तुम शामिल हो गए क्या Good job done by PR team 👍🏻 यह 'छबि सुधार' की प्रक्रिया है जिसपर बॉलीवुड इंडस्ट्री का लाभ और घाट निर्भर है। छवि सुधारने पर बहुत पैसा खर्च किया जाता है। जेल में बंद ड्रगिस्ट की छवि सुधार मीडिया के माध्यम से कोर्ट को प्रभावित करने के लिए किया जा रहा है। जेल से ड्रगिस्ट आर्यनखान की ख़बर बन रही है।

अभी भी नहीं सुधरा झोपड़ी!!! और क़ोई क्या करता है जेल में। अपराधी को सुधारने के लिए ही जेल होता है। नमाज क्यों नही पढ रहा ? भाई अब जेल में तो ड्रग्स मिलेगी नही किसी तरह तो समय पार करना पड़ेगा, मगर यदि धर्म की राह पर चला तो शायद सुधर जाए। Agar arayan khan nirdosh hai to chhod dena chahiye Sabki apni life hai Use jine ka adhikar hona chahiye. Agar galat kiya hai to saja deni chahiye Lekin inshan ko sudharne ka mauka dena chahiye

नाटी जागरण अलताकिया क्यों कर रहे हो ? जेल में धार्मिक किताबें पढ़कर नहीं मजहबी किताबें पढ़कर समय काट रहे हैं आर्यन खान लाहौल विला कूवत

उत्तराखंड: पहाड़ों में आपदाएं सियासी मुद्दा क्यों नहीं बनती हैं...पहाड़ों में जनता की दुख-तकलीफ़ों को दूर करने के सियासी एजेंडा में पर्यावरण और विकास के सवाल हमेशा से ही विरोधाभासी रहे हैं क्योंकि राजनीतिक दलों को लगता है कि पर्यावरण बचाने की बातें करेंगे तो विकास के लिए तरसते लोग वोट नहीं देंगे. क्योंकि वहाँ मुस्लिम नहीं है क्यूंकी यहां अंडभक्तों कि फौज ज्यादा है क्योकि आम लोगों की ईन कारणों से होने वाली मौतों के लिए प्रशासन सरकार को नहीं उन्हीं को जिम्मेदार समझा जाता है पेड़ जंगल सरकार लूटे कीमत वहाँ का आम आदमी चुकता है क्योंकि वो चुप रहता है जब जंगल लूटे का रहे होते हैं

PR एजेंसी ने काम शुरू कर दिया है इमेज बिल्डिंग का दैनिक जागरण को यह न्यूज़ लिखने के कितना मिला ! हगने ,मूतने की भी न्यूज देंगे तो हम क्या करे जरूरी है ताकी अमनी माँ के कुकर्मों को धो सके Ye bhi bata do pooti kab jate susu kb jate kynki in sb ke alawa to godi media ko mahngayi berojgari se koi matlab nai Or namaz ni padhte hai ...or upwas bhi rakhne Lage hai ..sale PR gang

आजादी का अमृत महोत्सव : कटक के कण-कण में बसते हैं नेताजी सुभाषचंद्र बोसआजादी का अमृत महोत्सव : कटक के कण-कण में बसते हैं नेताजी सुभाषचंद्र बोस AzadiKaAmritMahotsav Legacy Birthplace Netaji NetajiSubhasChandraBose SubhasChandraBose PMOIndia

जर्मनी में वेश्यावृत्ति कानून का विरोध क्यों कर रही हैं सेक्स वर्कर | DW | 22.10.2021जर्मनी की सरकार ने पांच साल पहले वेश्यावृत्ति संरक्षण अधिनियम को लागू किया था. इसका मकसद यौनकर्मियों को सुरक्षा प्रदान करना था, लेकिन अब वही इस नियम का विरोध कर रही हैं. आखिर क्यों?