Jenniferarcuri, Boris Johnson, Jennifer Arcuri, Britain Prime Minister, World News İn Hindi, World Hindi News

Jenniferarcuri, Boris Johnson

जेनिफर अर्चुरी के साथ संबध: पीएम जॉनसन को नहीं करना पड़ेगा आपराधिक जांच का सामना

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को अमेरिकी व्यवसायी जेनिफर अर्चुरी के साथ लंदन के मेयर रहते हुए अपने संबंधों

21-05-2020 19:49:00

जेनिफर अर्चुरी के साथ संबध को लेकर ब्रिटेन के पीएम जॉनसन को नहीं करना पड़ेगा आपराधिक जांच का सामना BorisJohnson JenniferArcuri 10DowningStreet

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को अमेरिकी व्यवसायी जेनिफर अर्चुरी के साथ लंदन के मेयर रहते हुए अपने संबंधों

Updated Thu, 21 May 2020 09:50 PM ISTविज्ञापनब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन (फाइल फोटो)- फोटो : PTIएड फ्री प्रीमियम एक्सपीरियंस के लिएअमर उजाला प्लस सब्सक्राइब करेंख़बर सुनेंख़बर सुनेंब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को अमेरिकी व्यवसायी जेनिफर अर्चुरी के साथ अपने संबंधों को लेकर आपराधिक जांच का सामना नहीं करना पड़ेगा। जॉनसन पर आरोप था कि जब वह लंदन मेयर थे तब जेनिफर अर्चुरी के साथ उनके अंतरंग संबंध थे और उन्होंने जेनिफर को फायदा पहुंचाया था, लेकिन इसके कोई भी सबूत नहीं मिले हैं।

BJP नेता सोनाली फोगाट ने अफसर को जड़ा थप्पड़, बरसाई चप्पल, वीडियो वायरल Video: TikTok स्टार और BJP नेता सोनाली फोगाट की दबंगई, अफसर पर बरसाई चप्पल आज तक @aajtak

द इंडिपेंडेंट ऑफिस फॉर पुलिस कंडक्ट (आईपीओसी) ने गुरुवार को कहा कि वह सार्वजनिक कार्यालय में कदाचार के दावों पर प्रधानमंत्री की के खिलाफ जांच शुरू नहीं करेगा। लेकिन लंदन असेंबली ने कहा कि वह आरोपों की अपनी जांच फिर से शुरू करेगी।अर्चुरी को पब्लिक मनी से हजारों पाउंड मिले और जॉनसन की अगुवाई में तीन विदेशी व्यापार यात्राओं का भी प्रबंध किया गया, जब वह मेयर थे। इस मामले को लेकर पीएम और अर्चुरी ने अभी तक कुछ नहीं कहा है और ना ही अपने रिश्ते को लेकर कोई सफाई दी है।

द इंडिपेंडेंट ऑफिस फॉर पुलिस कंडक्ट के महानिदेशक माइकल लॉकवुड ने कहा कि इस बात का कोई सबूत नहीं था कि जॉनसन ने प्रायोजकों को दान या व्यापार मिशन में भाग लेने के लिए प्रभावित किया था। जॉनसन ने सुझाव दिए थे इस बात के सबूत थे, लेकिन उन अधिकारियों ने अपने फैसले खुद लिए। जॉनसन और अर्चुरी के बीच घनिष्ठ संबंध थे इससे उनके निर्णय लेने पर असर पड़ा।

आईपीओसी ने बोरिस जॉनसन और ग्रेटर लंदन अथॉरिटी को सूचित किया कि वह इन आरोपों की आपराधिक जांच नहीं करेगा कि लंदन के मेयर के पद पर रहते हुए जॉनसन ने अमेरिकी व्यवसायी जेनिफर को फायदा पहुंचाया या नहीं। जॉनसन के डाउनिंग स्ट्रीट कार्यालय ने कहा कि राजनीति से प्रेरित शिकायत को बाहर फेंक दिया गया है। यह पुलिस का मामला नहीं था, सिर्फ पुलिस का समय बर्बाद किया गया है।

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को अमेरिकी व्यवसायी जेनिफर अर्चुरी के साथ अपने संबंधों को लेकर आपराधिक जांच का सामना नहीं करना पड़ेगा। जॉनसन पर आरोप था कि जब वह लंदन मेयर थे तब जेनिफर अर्चुरी के साथ उनके अंतरंग संबंध थे और उन्होंने जेनिफर को फायदा पहुंचाया था, लेकिन इसके कोई भी सबूत नहीं मिले हैं।

विज्ञापनद इंडिपेंडेंट ऑफिस फॉर पुलिस कंडक्ट (आईपीओसी) ने गुरुवार को कहा कि वह सार्वजनिक कार्यालय में कदाचार के दावों पर प्रधानमंत्री की के खिलाफ जांच शुरू नहीं करेगा। लेकिन लंदन असेंबली ने कहा कि वह आरोपों की अपनी जांच फिर से शुरू करेगी।अर्चुरी को पब्लिक मनी से हजारों पाउंड मिले और जॉनसन की अगुवाई में तीन विदेशी व्यापार यात्राओं का भी प्रबंध किया गया, जब वह मेयर थे। इस मामले को लेकर पीएम और अर्चुरी ने अभी तक कुछ नहीं कहा है और ना ही अपने रिश्ते को लेकर कोई सफाई दी है।

द इंडिपेंडेंट ऑफिस फॉर पुलिस कंडक्ट के महानिदेशक माइकल लॉकवुड ने कहा कि इस बात का कोई सबूत नहीं था कि जॉनसन ने प्रायोजकों को दान या व्यापार मिशन में भाग लेने के लिए प्रभावित किया था। जॉनसन ने सुझाव दिए थे इस बात के सबूत थे, लेकिन उन अधिकारियों ने अपने फैसले खुद लिए। जॉनसन और अर्चुरी के बीच घनिष्ठ संबंध थे इससे उनके निर्णय लेने पर असर पड़ा।

यूपी में बेहाल किसान, खेतों में मिट्टी के मोल बिक रहीं सब्जियां एक साथ 25 स्कूलों में पढ़ा रही थी महिला टीचर, उठाई 1 करोड़ सैलरी, जांच शुरू बिहार: अमित शाह की वर्चुअल रैली को सफल बनाने के लिए पटना पहुंचे बीजेपी के रणनीतिकार और पढो: Amar Ujala »

चीन के साथ गतिरोध खत्म करने के लिए सैन्य के साथ-साथ कूटनीतिक बातचीत जारी, डोभाल भी रख रहे नजरIndia News: लद्दाख और सिक्किम में भारत-चीन के बीच जारी गतिरोध को खत्म (ongoing India-China standoff ) करने के लिए दोनों देशों के बीच सैन्य के साथ-साथ कूटनीतिक स्तर (talks through military and diplomatic channels) पर भी बातचीत चल रही है। चीन की हर चालबाजी पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (NSA Ajit Doval) की नजर है। सुनने के लिए बहुत कुछ है, लेकिन देखने के लिए सिर्फ नाकामी है, निकम्मीसरकार

राशिफल 20 मई 2020: तुला राशि के जातक बिताएंगे परिवार के साथ वक्तHoroscope 20 May 2020 In Hindi: तुला: मुसीबत के वक्त परिवार से आपको मदद और सलाह हासिल होगी, आप दूसरों के तजुर्बों से कुछ सबक सीख सकते हैं

लॉकडाउन के बीच गृह मंत्रालय ने शर्तों के साथ दी बोर्ड परीक्षाएं कराने की इजाजतलॉकडाउन के बीच गृह मंत्रालय ने शर्तों के साथ दी बोर्ड परीक्षाएं कराने की इजाजत guidelines Exams2020 HomeMinistry CBSEBoardExams2020

औरैया हादसाः शवों के साथ मजदूरों को भेजने पर बोले DM- लेंगे एक्शनमामला सामने आने के बाद औरैया के जिलाधिकार अभिषेक सिंह ने सफाई दी है. साथ ही उन्होंने कहा कि इस मामले में जांच कराई जाएगी और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. media ke pass aur kuch kaam nahi hai Surmnak sarkar Thodi to sharam krein

श्रमिक कानून और श्रमिकों के साथ न्यायदेश का नब्बे फीसद श्रम शक्ति असंगठित क्षेत्र में ही कार्यरत हैं। अफसोस कि इनके लिए कोई यूनियन पहले से नहीं है। माना जाता है कि जब जनता पर संकट आता है तब सरकार उनकी मदद के लिए हर मुमकिन प्रयास करती है। लेकिन यहां उलटा होता दिख रहा है।

25 मई से शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, सोशल डिस्टेंसिंग नियमों के साथ मिली इजाजतbah bus nehi chal rehi aur 😠😠

राहुल ने फिर लॉकडाउन को बताया फेल, कहा- राज्यों को उनके हाल पर छोड़ रहा केंद्र मोदी सरकार पर सिब्बल का वार, कहा- आत्मनिर्भर भारत अभियान एक और जुमला हथिनी की मौत पर राहुल गांधी से मेनका का सवाल, पूछा- क्यों नहीं की कार्रवाई जब सब कुछ रामभरोसे ही छोड़ना था, तो तालाबंदी कर अर्थव्यवस्था की रीढ़ क्यों तोड़ी...? गर्भवती हथिनी की मौत से दुखी IPS डी रूपा, दोषियों को सजा की मांग 'सच बोलने से डरते हैं लोग', उद्योगपति राजीव बजाज ने लॉकडाउन पर कही ये 5 बातें शामली: एक को गिरफ्तार करने गई पुलिस ने 35 मुस्लिम घरों में तोड़फोड़ व मारपीट की जॉर्ज फ्लॉयड के सपोर्ट में उतरे स्टार्स पर अभय देओल का तंज- अपना देश भी देख लो कोरोना वायरस: दुनिया भर में 65.6 लाख से ज़्यादा संक्रमित, 3.87 लाख लोगों की मौत - BBC Hindi NDTV से बोले नितिन गडकरी- देश संकट में है, अभी राजनीति करने का समय नहीं पुरी के जगन्नाथ मंदिर में देवस्नान के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, पुजारियों ने मास्क भी नहीं पहना - देखें VIDEO