Arun Jaitley Death, Bhupendra Yadav, Troublemaker For Modi Government, Troublemaker For Bjp, Amit Shah, अरुण जेटली, संकट मोचक, जेटली, भूपेंद्र यादव

Arun Jaitley Death, Bhupendra Yadav

जेटली के निधन के बाद क्या भूपेंद्र यादव होंगे मोदी सरकार के अगले 'संकट मोचक'?

क्या भूपेंद्र यादव होंगे मोदी सरकार के अगले संकट मोचक?

8.9.2019

क्या भूपेंद्र यादव होंगे मोदी सरकार के अगले संकट मोचक ?

पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) सालों तक पार्टी के संकट मोचक रहे. ये शायद ही संभव है कि दिवंगत जेटली का स्थान कोई ले सकता है. लेकिन उनके निधन के बाद संकट मोचक के तौर पर बीजेपी (BJP) का कौन नेता कारगर हो सकता है. अगर इस संदर्भ में बात की जाए तो बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव (Bhupender Yadav) को इस स्थान पर देखा जा सकता है. | bihar News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

बिहार बीजेपी प्रभारी के तौर पर भी भूपेंद्र यादव ने केंद्र और राज्य के बीच सामजंस्य बिठा कर रखा है. दरअसल भूपेंद्र यादव कई राज्यों में बीजेपी के लिए 'संकट मोचक' का काम कर अपने संगठनात्मक क्षमता को पहले ही साबित कर चुके हैं. 2013 में राजस्थान, 2014 में झारखंड, 2017 में गुजरात और उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान वार रूम संभालते हुए पर्दे के पीछे रहकर उन्होंने काम किया और जीत के तौर पर नतीजा सबके सामने आया. अब बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भूपेंद्र यादव को महाराष्ट्र की कमान सौंपी है.

और पढो: News18 India

jay shriram jay ho Ho sakta hai

सही है हजारों बिच्छुओं के झुंड वाला वीडियो लेकिन राजस्थान नहीं गुजरात का हैक्या वायरल : हजारों बिच्छुओं के झुंड वाला एक वीडियो। इसे राजस्थान का बताया जा रहा है क्या सच : बिच्छुओं का यह झुंड गुजरात में पाया गया था। राजस्थान का इससे लेनादेना नहीं है | Viral Video Of Scorpions | No Fake News: Gujarat Video Shares as Rajasthan

अनिल अंबानी की कंपनी RELIANCE NAVAL मुश्किल में, नकदी के संकट से जूझ रहीरिलायंस नेवल के कर्जदाताओं ने कंपनी के कर्ज भुगतान प्लान को खारिज कर दिया है, जिसके बाद कंपनी के खिलाफ दिवालिया प्रक्रिया शुरू हो सकती है। जो रिजर्व बैंक से पेसा निकाला है वो ऎसे दोस्तो की मदद के लिये ही है दलालो अनिल कहे का सकँट वो दिवालिया होके निकल लेगा सकँट तो जनता पे है जो टैकस चककी मे ओर तेज पिछेगी मोदी जी यहां भी जनधन लगा छोटे मालिक को संभाल लेंगे 😂🤣

सैटेलाइट तस्वीरों ने अरुणाचल के नेताओं के चीनी घुसपैठ के दावों की पुष्टि कीइस साल जुलाई में भाजपा की अरुणाचल प्रदेश इकाई के अध्यक्ष और लोकसभा सांसद तापिर गाओ और नेशनलिस्ट पीपुल्स पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गिशो कबाक ने दावा किया था कि चीनी सैनिकों ने पिछले महीने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की थी और पुल बनाया था. हालांकि, भारतीय सेना ने अरुणाचल प्रदेश के बिशिंग गांव में चीनी सेना द्वारा दो किमी लंबी सड़क बनाने के दावे को खारिज कर दिया था. सावधान चीन कमल फाड़ सकता है पहले ढोकलाम फिर नागालैंड अब आरूनाचल ? ये हो क्या रहा है ? मिजरोम और सिक्किम तो सुरक्षित रहेगा ना ? यंहा मुस्लिम एंगल नहीं हैं इसलिए सरकार चिंतित नहीं,, चीन के नाम पर वोट का धुर्वीकरण नहीं होता,,

घूस लेने के स्टिंग वीडियो के बाद त्रिपुरा यूनिवर्सिटी के वीसी ने दिया इस्तीफावीएल धारूकर को जुलाई 2018 में वीसी नियुक्त किया गया था। अभी धारूकर के कार्यकाल में लगभग 4 साल का समय बाकी है। \n

कश्मीर के कई हिस्सों में कर्फ्यू जैसी पाबंदियां, मोहर्रम के जुलूस को रोकने के लिएमोहर्रम का जुलूस निकालने से रोकने के लिए शहर सहित कश्मीर के कई हिस्सों में रविवार को कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लगाई गई हैं. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

चंद्रयान-2: नाकाम नहीं हुआ है मिशन, ऑर्बिटर अब भी काट रहा है चंद्रमा का चक्करचंद्रयान-2: नाकाम नहीं हुआ है मिशन, ऑर्बिटर अब भी काट रहा है चंद्रमा का चक्कर Chandrayan2 ProudOfISRO Sivan ISRO isro isro ProudOfISRO India is with ISRO. We salute ISRO. कोई रुकावट भारत का मनोबल नही तोड़ सकती। 75% सफलता तो हमने पाया ली है।अगली बार हम जरूर 100% सफलता पाएंगे। isro प्रयासों से है पता चलता है कहाँ कमी है।।। isro लोगों को लग रहा कि मिशन फेल हो गया, पर ये सच नहीं हैं.. 16 दिन में विक्रम सिग्नल भेजेगा( और सब पहले जैसे होगा..). ये सब मेडिटेशन टाईम ट्रैवल से होगा.. लोग वरदानी को कभी क्रेडिट शायद ही दे.. ऐसा चमत्कार वरदानी बाबा पहले भी करे हैं, जब मंगल का रोवर कई साल बाद तुफान दिखाता हैं..

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

08 सितम्बर 2019, रविवार समाचार

पिछली खबर

सरकार ने 100 दिनों में किया अतुलनीय काम, जनता भी जानती है: राजनाथ सिंह

अगली खबर

नवजातों के लिए कितना ख़तरनाक है गर्भावस्था के दौरान तनाव
सरकार ने 100 दिनों में किया अतुलनीय काम, जनता भी जानती है: राजनाथ सिंह नवजातों के लिए कितना ख़तरनाक है गर्भावस्था के दौरान तनाव