जानिए- कौन हैं जस्टिस मुरलीधर, दिल्ली पुलिस को फटकार के बाद जिनका किया गया ट्रांसफर

Who İs Justice S Muralidhar, Justice S Muralidhar Profile, Muralidhar Profile, Justice Transfer, Delhi Violence, Justice Muralidhar Profile, जस्टिस मुरलीधर, दिल्ली हिंसा

राष्ट्रपति भवन से दिल्ली हाईकोर्ट के जस्टिस मुरलीधर के तबादले की अधिसूचना हुई जारी

Who İs Justice S Muralidhar, Justice S Muralidhar Profile

2/27/2020

राष्ट्रपति भवन से दिल्ली हाईकोर्ट के जस्टिस मुरलीधर के तबादले की अधिसूचना हुई जारी

जस्टिस एस. मुरलीधर ( Justice S. Muralidhar) को दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) से पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ट्रांसफर कर दिया गया है. जस्टिस मुरलीधर के तबादले पर विपक्षी दल कांग्रेस ने सरकार पर सवाल खड़े किए तो केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने जवाब दिया.

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ दिल्ली में हुए हिंसक प्रदर्शन मामले में दाखिल याचिकाओं पर हाईकोर्ट में सुनवाई चल रही है. इस बीच जस्टिस एस. मुरलीधर को दिल्ली हाईकोर्ट से पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ट्रांसफर कर दिया गया है. जस्टिस मुरलीधर के तबादले पर विपक्षी दल कांग्रेस ने सरकार पर सवाल खड़े किए तो केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने जवाब दिया. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कोलेजियम ने 12 फरवरी को जस्टिस एस. मुरलीधर के तबादले की सिफारिश की थी. इसके बाद पूरी कानूनी प्रक्रिया के बाद तबादला आदेश जारी हुआ. दिल्ली हाई कोर्ट के जस्टिस एस. मुरलीधर के तबादले पर बवाल शुरू हो गया है. आइए, जस्टिस एस. मुरलीधर के बारे में जानते हैं- जस्टिस एस. मुरलीधर ने साल 2003 में दिल्ली यूनिवर्सिटी से पीएचडी की डिग्री हासिल की. उन्होंने साल 2004 में 'लॉ, पॉवर्टी एंड लीगल एड: एक्सेस टू क्रमिनिल जस्टिस' नाम की एक किताब भी लिखी है. दिल्ली हाईकोर्ट की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, जस्टिस एस. मुरलीधर ने सितंबर 1984 में चेन्नई से वकालत शुरू की थी. जस्टिस मुरलीधर ने 1987 में सुप्रीम कोर्ट और दिल्ली हाई कोर्ट में वकालत शुरू कर दी थी. साल 2006 में उन्हें दिल्ली हाईकोर्ट में जज नियुक्त किया गया. एस. मुरलीधर दो बार सुप्रीम कोर्ट की लीगल सर्विस कमेटी के सक्रिय सदस्य रहे हैं. ये भी पढ़ें- दिल्ली हिंसा की सुनवाई कर रहे जज मुरलीधर का तबादला, पुलिस को लगाई थी फटकार एस. मुरलीधर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (National Human Rights Commission) और भारतीय निर्वाचन आयोग (Election Commission of India) के सलाहकार भी रहे हैं. इसके अलावा दिसंबर 2002 से मई 2006 तक मुरलीधर लॉ कमिशन के पार्ट टाइम सदस्य भी रहे हैं. बिना फीस के लड़े कई केस जस्टिस एस. मुरलीधर ने कई लोगों के केस बिना किसी फीस के लड़े हैं. इनमें भोपाल गैस त्रासदी और नर्मदा बांध पीड़ितों के केस भी शामिल हैं. जस्टिस मुरलीधर अपने कड़े फैसलों के लिए चर्चित रहे हैं. 1984 में हुए सिख दंगों में शामिल रहे सज्जन कुमार के मामले में भी जस्टिस एस. मुरलीधर फैसला सुनाने वालों में से एक थे. साल 2009 में नाज फाउंडेशन मामले की सुनवाई करने वाली दिल्ली हाईकोर्ट की बेंच में जस्टिस मुरलीधर भी शामिल थे जिस बेंच ने पहली बार समलैंगिकता को अपराध की श्रेणी से बाहर किया था. हिंसा पर दिल्ली पुलिस को लगाई फटकार दिल्ली हिंसा मामले में दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा था कि दिल्ली में दूसरे '1984' को नहीं होने देंगे. दिल्ली हिंसा मामले पर दिल्ली पुलिस को फटकार लगाई थी. इसके अलावा नागरिकता संशोधन के विरोध प्रदर्शन के दौरान दिल्ली में हुई हिंसा में घायलों को सुरक्षा और बेहतर इलाज के लिए दिल्ली हाईकोर्ट के जस्टिस मुरलीधर के घर 25 फरवरी को आधी रात को सुनवाई हुई थी. ये भी पढ़ें- आधी रात को जज का तबादला, प्रियंका गांधी बोलीं- न्याय का मुंह बंद करना चाहती है सरकार 2023 में पूरा होगा जस्टिस मुरलीधर का कार्यकाल जस्टिस मुरलीधर को दिल्ली हाईकोर्ट में 2006 में बतौर जज नियुक्त किया गया था और उनका कार्यकाल 2023 में पूरा होगा. जस्टिस मुरलीधर के ट्रांसफर के बारे में पहले भी दो बार चर्चा हो चुकी है लेकिन सुप्रीम कोर्ट के कुछ जजों के विरोध के बाद इसे रोक दिया गया था. उनके ट्रांसफर पर पहली बार दिसंबर 2018 में और फिर जनवरी 2019 में चर्चा हुई थी. और पढो: आज तक

PM मोदी की अपील पर कांग्रेस का हमला, कोरोना से जंग पर उठाए कई सवाल



कोरोना वायरस: ऑस्ट्रेलियाई पीएम का चीन के मांस बाज़ार पर हमला

मौलाना साद का आलीशान फार्म हाउस: स्वीमिंग पूल और गाड़ियों का काफिला - trending clicks AajTak



कोरोना वायरस: किम जोंग-उन ने ऐसा क्या किया कि संक्रमण नहीं फैला

Coronavirus Latest Update: देशभर में कोरोना मामले बढ़कर हुए 2547, अब तक 62 की मौत, 24 घंटे में आए 478 नए मामले



कोरोना वायरस: पिछले दो दिनों में तबलीग़ी जमात से जुड़े 647 नए मामले- ICMR - BBC Hindi

कोरोनावायरस: दिल्ली में कुल संक्रमितों की संख्या 384, इनमें से मरकज के 259 मरीज



Gentleman person ka sath aesa hota hai hamesha सुप्रीम कोर्ट का क्या जो शाहीन बाग को देश का धरोहर मान बैठा । Faisla 12 Feb ko hee ho Gaya thaa .. to shayad usee Ka gussa neekal rahe ho आज तक वाले वामपंथी मीडिया है इस लिए हमेशा जेहादी आतंकी देश विरोधी ओर दंगाई के समर्थन में ही नैरेटिव सेट करने लगते है।।। केजरी जैसे नक्सली को cm बनाने के लिए आज तक वालो का योगदान बहोत रहा था।। rndtv ओर आज तक मे कोई फर्क नही है।।

Judge who today ordered FIR against Kapil Mishra, Pravesh Verma and Anurag Thakur transferred to Punjab and Haryana HC at midnight Another judge will hear this case tomorrow. Expect safe passage to all the rioters of BJP Gujarat model on repeat mode. sardanarohit asadowaisi Aaj Tak fake channel बहुत शर्मनाक और असंवैधानिक है सब कुछ...

No, this is not a pogrom. Anurag Thakur did not say anything. Neither did Kapil Mishra. Sanghi goons were not helped by Delhi police. We saw nothing of the sort. Ye toh anti-CAA Vs pro-CAA ka dandiya competition chal rha tha. नक्सलियों के मौसा Pure trah desh gulam banrha h

जस्टिस मुरलीधर के तबादले पर भड़की कांग्रेस, राहुल-प्रियंका ने मोदी सरकार को घेरा जस्टिस मुरलीधर के तबादले पर भड़की कांग्रेस, राहुल-प्रियंका ने मोदी सरकार को घेरा JusticeMuralidhar INCIndia RahulGandhi priyankagandhi INCIndia RahulGandhi priyankagandhi शर्म करो दोनों कांग्रेसी भाई-बहन, लोग मर रहे है और तुम लोग हर जगह राजनीति कर रहे हो। INCIndia RahulGandhi priyankagandhi बस ट्वीट पर बैठकर घेरते रहो सड़कों पर मत उतरना बुजदिलों.😡😡 RahulGandhi priyankagandhi INCIndia RahulGandhi priyankagandhi ऐसे पक्षपाती जज का सिर्फ ट्रांसफर नहीं जांच होनी चाहिए क्यों वो असली मुस्ज्रिम की अनदेखी कर कपिल मिश्रा बीजेपी पर आरोप कगा रहे थे?कौन है उनके पीछे?

Bahut sahi

जस्टिस मुरलीधर के तबादले पर सरकार का बयान, 12 फरवरी को ही हो चुकी थी सिफारिश जस्टिस मुरलीधर के तबादले पर सरकार का बयान, कहा- पहले ही हो चुकी थी सिफारिश JusticeMuralidhar rsprasad INCIndia RahulGandhi rsprasad INCIndia RahulGandhi कुतो का काम है भौकना।सरकार अपना काम करने में वयस्त रहे। rsprasad INCIndia RahulGandhi हम जानते हैं बीजेपी के नेता भगवान पूजा-पाठ को मानते हैं। श्रीमान कानून मंत्री जी। किस पंडित जी ने मुहूर्त निकाला था आधी रात को? rsprasad INCIndia RahulGandhi पुराना अनुभव है गुजरात दंगों में किसको सजा मिली? बाबू बजरंगी को किस तरह बचाया गया। आप उनके ही मुंह से सुन सकते है यूट्यूब पर।

जस्टिस मुरलीधर मामले पर हमलावर कांग्रेस, प्रियंका बोलीं- आधी रात का ट्रांसफर चौंकाने वाला नहींकांग्रेस ने दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High court) के जज एस. मुरलीधर (Justice S Murlidhar) के तबादले पर कहा कि ऐसा लगाता है कि न्याय करने वालों को देश में बख्शा नहीं जाएगा. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी Good move... Ye wo bike huye judge hain jinko wo bayan nahi bhadkau lagte italian soniya ke jisme wo bolti hai cAA ke khilaf rodo main utro sare.. Ye savidhan ki haty hai jabki bill dono sadno se pass hua hai jaha bjp bhi alpmat hai rajya sabh main. Lkn kwl KM ka bayan bhadkau bs कयो दिल्ली जलाकर भी दिल नहीं भरा ,सत्ता के भूखे भेडियों। priyankagandhi कुछ तो शर्म कर लो

जानें- कौन हैं जस्टिस मुरलीधर जिनके ट्रांसफर पर कॉलेजियम भी हुआ था दो फाड़एस. मुरलीधर ने सितंबर 1984 में चेन्नई से कानून की प्रैक्टिस शुरू की थी। साल 1987 में वे सुप्रीम कोर्ट और दिल्ली हाईकोर्ट में स्थानांतरित हो गए। दंगाई SoniaGandhi RahulGandhi priyankagandhi yadavakhilesh anuragkashyap72 sardesairajdeep VishalBhardwaj को तुरंत गिरफ्तार करो

दिल्ली हाई कोर्ट के जस्टिस का तबादला, राहुल गांधी को याद आए जज लोयादिल्ली हाई कोर्ट के जस्टिस एस. मुरलीधर के ट्रांसफर पर कांग्रेस नेताओं ने सवाल खड़े किए हैं. प्रियंका गांधी के बाद अब राहुल गांधी ने भी सरकार पर निशाना साधा है. Aaj tak ki maa ki chu fat gayi re.... यह दोनों भाई बहन खाली दोगलो के साथ जा सकते है कुछ मुल्लों के हमदर्द यह लोग कभी इस देश को आगे बढ़ते नहीं देख सकते हैं इनका काम है केवल तुष्टिकरण की राजनीति जो आज जनता ने इनके मुंह पर तमाशा मार दिया है ये दोनों भाई आज भी यही समझते हैं कि भारत इनके बाप दादा का गुलाम है पर अब ऐसा नहीं है

दिल्ली हिंसा मामले पर आज फिर हाई कोर्ट में सुनवाई, चीफ जस्टिस सुनेंगे केस दिल्ली हिंसा मामले पर आज फिर हाई कोर्ट में सुनवाई होगी. भड़काउ बयान देने वाले बीजेपी नेताओं पर एफआईआर दर्ज करने के हाईकोर्ट के आदेश पर दिल्ली पुलिस दाखिल जवाब करेगी. twtpoonam twtpoonam अगर पक्ष में फैसला ना आये तो यहां जज साहब को भी ठिकाने लगा दिया जाता है, मुरलीधरन साहब का ट्रान्सफर ये बताता है कि भाजपा नहीं चाहती कि उसके नेताओं पर FIR हो twtpoonam ArrestTahirHussain



कोरोना वायरस: क्या इस वीडियो में दिख रहे लोग तबलीग़ी के थे?- फ़ैक्ट चेक

आज तक @aajtak

निज़ामुद्दीन मरकज़ मामला : दिल्ली पुलिस ने मौलाना साद को भेजा नोटिस, पूछे इन 26 सवालों के जवाब

VIDEO: जमातियों की बदसलूकी, सुनिए क्या बोल रहे मुस्लिम धर्मगुरु

कोरोना से बचने के लिए दो मीटर की दूरी काफी नहीं, MIT शोधकर्ता की चेतावनी

CoronaVirus Positive in UP : आने लगी तब्लीगी जमात में शामिल लोगों की रिपोर्ट, UP में एक दिन में सर्वाधिक 34 पॉजिटिव

Coronavirus: गाजियाबाद में अश्लील हरकतें करने वाले जमातियों का इलाज नहीं करेगा महिला स्टाफ

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

27 फरवरी 2020, गुरुवार समाचार

पिछली खबर

दिल्ली हिंसा पर HC में अर्जियां, स्वरा-सायमा सहित कई पर FIR दर्ज करने की मांग

अगली खबर

मनमोहन ने दिल्ली हिंसा को बताया राष्ट्रीय शर्म, बोले- सरकार को राष्ट्रपति याद दिलाएं राजधर्म
PM मोदी की अपील पर कांग्रेस का हमला, कोरोना से जंग पर उठाए कई सवाल कोरोना वायरस: ऑस्ट्रेलियाई पीएम का चीन के मांस बाज़ार पर हमला मौलाना साद का आलीशान फार्म हाउस: स्वीमिंग पूल और गाड़ियों का काफिला - trending clicks AajTak कोरोना वायरस: किम जोंग-उन ने ऐसा क्या किया कि संक्रमण नहीं फैला Coronavirus Latest Update: देशभर में कोरोना मामले बढ़कर हुए 2547, अब तक 62 की मौत, 24 घंटे में आए 478 नए मामले कोरोना वायरस: पिछले दो दिनों में तबलीग़ी जमात से जुड़े 647 नए मामले- ICMR - BBC Hindi कोरोनावायरस: दिल्ली में कुल संक्रमितों की संख्या 384, इनमें से मरकज के 259 मरीज ह‍रियाणा पुलिस की बड़ी कार्रवाई, 107 विदेशी तब्‍लीगी जमातियों पर FIR दर्ज, पासपोर्ट जब्‍त Super Pink Moon 2020: 8 अप्रैल को दिखेगा सुपरमून, भारत में यहां देख सकते हैं लाइव 'रामायण' ने खड़ा कि‍या सवाल, क्या सास-बहू के नाटक देखना चाहते हैं इंडियन टेलीविजन दर्शक? दिल्ली में कोरोना के 384 केस, 24 घंटे में 91 बढ़े, हालात चिंताजनक: अरविंद केजरीवाल दो दिन में दिल्ली के तबलीगी जमात से जुड़े कोरोना के करीब 650 पॉजिटिव मामले आए सामने
कोरोना वायरस: क्या इस वीडियो में दिख रहे लोग तबलीग़ी के थे?- फ़ैक्ट चेक आज तक @aajtak निज़ामुद्दीन मरकज़ मामला : दिल्ली पुलिस ने मौलाना साद को भेजा नोटिस, पूछे इन 26 सवालों के जवाब VIDEO: जमातियों की बदसलूकी, सुनिए क्या बोल रहे मुस्लिम धर्मगुरु कोरोना से बचने के लिए दो मीटर की दूरी काफी नहीं, MIT शोधकर्ता की चेतावनी CoronaVirus Positive in UP : आने लगी तब्लीगी जमात में शामिल लोगों की रिपोर्ट, UP में एक दिन में सर्वाधिक 34 पॉजिटिव Coronavirus: गाजियाबाद में अश्लील हरकतें करने वाले जमातियों का इलाज नहीं करेगा महिला स्टाफ बिहार में दरभंगा के डीएम को स्क्रीनिंग कराने की सलाह देने पर गोली मारने की धमकी 'कोरोना का डर हमें अमानवीय बनाता जा रहा है': नज़रिया Positive India: इस टेलर के जज्बे को सलाम, दिव्यांग व गरीब होने के बावजूद मुफ्त बांट रहे मास्क Covid 19 से पाकिस्तान में लड़ रहे हिन्दू, गेंदबाज ने युवराज और हरभजन से मांगी मदद नर्सों, डॉक्टरों से बदसलूकी करने वाले कोरोना संदिग्ध जमातियों का जेल में होगा इलाज!