Germanyelection, 3Candidates । 60 Million Germans । Voting । German Elections । Chancellor Angela Merkel । Parliament

Germanyelection, 3Candidates । 60 Million Germans । Voting । German Elections । Chancellor Angela Merkel । Parliament

जर्मनी में 16 साल बाद बदलेगा चांसलर: एंजेला मर्केल की जगह लेने के लिए 3 नेता रेस में; जानिए इस इलेक्शन के बारे में सबकुछ

जर्मनी में 16 साल बाद बदलेगा चांसलर: एंजेला मर्केल की जगह लेने के लिए 3 नेता रेस में; जानिए इस इलेक्शन के बारे सबकुछ #GermanyElection

26-09-2021 18:31:00

जर्मनी में 16 साल बाद बदलेगा चांसलर: एंजेला मर्केल की जगह लेने के लिए 3 नेता रेस में; जानिए इस इलेक्शन के बारे सबकुछ GermanyElection

जर्मनी में रविवार को संसदीय चुनाव के लिए मतदान हुआ। 16 साल सत्ता में रहने के बाद चांसलर एंजेला मर्केल की विदाई हो रही है। तीन पार्टियां मुख्य तौर पर रेस में हैं और इन तीनों में से ही किसी एक पार्टी का चीफ अगला चांसलर हो सकता है। अगर किसी एक पार्टी को मैजॉरिटी हासिल नहीं होती तो गठबंधन सरकार बनेगी। मर्केल ने चुनाव के पहले ही साफ कर दिया कि वो इस बार चांसलर की रेस में नहीं हैं। | 3 candidates । 60 million Germans । Voting । German elections । chancellor Angela Merkel । parliamentary elections । Berlin । Annalena Baerbock । Armin Laschet । Olaf Scholz

जर्मनी में 16 साल बाद बदलेगा चांसलर:एंजेला मर्केल की जगह लेने के लिए 3 नेता रेस में; जानिए इस इलेक्शन के बारे में सबकुछबर्लिनएक घंटा पहलेकॉपी लिंकजर्मनी में रविवार को संसदीय चुनाव के लिए मतदान हुआ। 16 साल सत्ता में रहने के बाद चांसलर एंजेला मर्केल की विदाई हो रही है। तीन पार्टियां मुख्य तौर पर रेस में हैं और इन तीनों में से ही किसी एक पार्टी का चीफ अगला चांसलर हो सकता है। अगर किसी एक पार्टी को मैजॉरिटी हासिल नहीं होती तो गठबंधन सरकार बनेगी। मर्केल ने चुनाव के पहले ही साफ कर दिया कि वो इस बार चांसलर की रेस में नहीं हैं।

गृह मंत्री अमित शाह बोले, नरेंद्र मोदी आजादी के बाद देश के सबसे सफल प्रधानमंत्री Aryan Khan पर जब Shahrukh Khan की मैनेजर Pooja Dadlani ने लिखी थी भावुक पोस्ट समीर वानखेड़े की बहन यास्मीन ने की नवाब मलिक पर केस दर्ज करने की मांग, ओशिवारा थाने में दी शिकायत

भारत समेत हर देश की नजर जर्मनी में होने वाले इस लोकतंत्र के महायज्ञ और उसके परिणाम पर है। दावे से यह नहीं कहा जा सकता कि औपचारिक तौर पर नतीजे कब आएंगे। शायद एक या दो दिन लगें, लेकिन एग्जिट पोल से तस्वीर तकरीबन साफ हो जाती है। यहां इस चुनाव से जुड़ी अहम बातें सवाल-जवाब के रूप में खासतौर पर आपके लिए।

कैसे चुना जाता है चांसलरहमारे देश की तरह जर्मनी में भी लोकतंत्र और संसदीय व्यवस्था है, लेकिन चांसलर चुनने का तरीका अलग है। भारत में चुनाव के पहले प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के नाम की घोषणा जरूरी नहीं है। जर्मनी में सभी दलों को चांसलर कैंडिडेट का नाम बताना जरूरी है। इसी के नाम और चेहरे पर चुनाव लड़ा जाता है। अगर उसकी पार्टी या गठबंधन चुनाव जीत जाता है तो उसे बुंडेस्टाग (संसद का निचला सदन) में स्वयं के लिए बहुमत जुटाना होता है। headtopics.com

कैसे बनती है सरकारअगर किसी पार्टी या गठबंधन को बहुमत हासिल हो जाता है तो कोई दिक्कत नहीं। फर्ज कीजिए कि अगर ऐसा नहीं होता तो चुनाव के बाद भी हमारे देश की तर्ज पर गठबंधन या समर्थन से सरकार बनाई जा सकती है। साझा कार्यक्रम तय होता है। इसकी जानकारी संसद को देनी जरूरी है। चुनाव के बाद 30 दिन के भीतर संसद की बैठक होती है।

क्या एक पार्टी को आसानी से बहुमत मिल जाता हैआमतौर पर नहीं। दरअसल, जर्मनी ने गठबंधन सरकारों का इतिहास और वर्चस्व रहा है। लिहाजा, किसी एक पार्टी का दबदबा नहीं रहता। मर्केल भी कोएलिशन गवर्नमेंट की ही चांसलर रहीं। चुनाव पूर्व या चुनाव के बाद हमारे देश की तर्ज पर कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनते हैं। इसके बाद सरकार का गठन होता है।

क्या सरकार बनाना और चांसलर चुनना आसान हैनहीं। जाहिर सी बात है कि अगर हर पार्टी अपने चांसलर फेस के साथ मैदान में उतरेगी तो चुनाव के बाद गठबंधन में भी उसको ही चांसलर बनाना चाहेगी। इससे टकराव होना तय है। हालांकि, चुनाव पूर्व गठबंधन है तो चांसलर पहले ही तय हो जाता है। लेकिन, अगर चुनाव के बाद गठबंधन होता है तो मैच्योर डेमोक्रेसी के तहत कोएलिशन पार्टनर्स बैठते हैं। तय करते हैं कि सरकार में मंत्री कौन बनेंगे और चांसलर कौन होगा। लेकिन चांसलर के नाम पर अंतिम मुहर बुंडेस्टाग यानी संसद ही लगाती है। हर मंत्री के मामले में भी यही होता है।

चांसलर को बहुमत न मिले तो क्या होगायहां मामला फंसता है। संसद में चांसलर के मतदान का दूसरा दौर होता है। इसमें दूसरे कैंडिडेट का नाम भी प्रस्तावित किया जा सकता है। उसे संसद के कुल वोटों का एक चौथाई समर्थन मिलना जरूरी है। ये चुनाव के बाद 14 दिन के अंदर होना चाहिए। किसी को बहुमत मिल गया तो ठीक, नहीं तो राष्ट्रपति के पास यह अधिकार है कि वो 7 दिन के अंदर किसी को चांसलर नियुक्त कर दे। अगर विवाद है तो राष्ट्रपति 60 दिन में नए सिरे से पूरा चुनाव कराने के आदेश भी दे सकता है। headtopics.com

टी20 वर्ल्ड कप: छात्रा को मिल रही धमकी, कश्मीर में पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने का किया था विरोध वारदात: पंचनामा से निकाहनामा तक... Sameer Wankhede पर लगे 8 आरोपों का विश्लेषण Delhi News: घर में पूजा करने पर पड़ोसी बोले, 'घंटी और शंख बजाने से खराब होती है नींद'

किस पार्टी या गठबंधन की सरकार बनने का अनुमान हैमुकाबला कांटे का नजर आ रहा है। कई प्री-पोल सर्वे हुए। इसमें सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी (SPD) थोड़ा आगे दिखती है। मर्केल की पार्टी CDU और सहयोगी CSU भी ज्यादा दूर नहीं है। तीसरा स्थान ग्रीन पार्टी को मिल सकता है। करीब-करीब तय लगता है कि गठबंधन सरकार ही बनेगी।

कितने वोट डालते हैं मतदाताबैलट पेपर एक ही होता है, लेकिन वोट दो डालने होते हैं। पहला- जिले का प्रतिनिधि या सांसद। यह करीब ढाई लाख लोगों का प्रतिनिधित्व करता है। दूसरा- पार्टी कैंडिडेट। 299 सदस्य सांसद बनते हैं, बाकी पार्टी प्रतिनिधि। और पढो: Dainik Bhaskar »

भास्कर एक्सप्लेनर: बॉर्डर एरिया पर चीन नागरिकों को बना रहा ‘फर्स्ट लाइन ऑफ डिफेंस’; उसका नया कानून हमारी चिंता बढ़ाने वाला?

चीन ने 23 अक्टूबर को बॉर्डर सिक्योरिटी से जुड़ा नया कानून पास किया है। इस कानून को लैंड बॉर्डर लॉ कहा जा रहा है। कानून का लाने के पीछे चीन का उद्देश्य नेशनल, रीजनल और लोकल लेवल पर राष्ट्रीय सुरक्षा को मजबूत करना और बॉर्डर सिक्योरिटी से जुड़े मसलों को कानूनी रूप से बेहतर तरीके से मैनेज करना है। | China New Land Border Law Explained by Dainik Bhaskar (दैनिक भास्कर); Know Everything About China बॉर्डर सिक्योरिटी चीन ने ये कानून आखिर बनाया क्यों? और इस कानून को अभी क्यों पास किया गया? कानून को पास करने की टाइमिंग,

Agar mene sucide kra to iski puri jimaadari bharat pay aur uske recovery agent ki hogi me sab jgh bharat pay ke agent ke number aur bharat se hui wo baat save kar skhi he mere sath kuch bi hota he uski jimedari bharat pay ke agent ki hogi aur bharat pay ke logo ki

चांसलर पद के उम्मीदवार ने की ऐसी गलती | DW | 26.09.2021जर्मन चांसलर अंगेला मैर्केल की पार्टी सीडीयू के नेता और चांसलर पद के उम्मीदवार आर्मिन लाशेट मतदान के दौरान गड़बड़ी के कारण चर्चा में हैं. ऐसा क्या किया उन्होंने? BTW21 btw2021 germanelections2021 जर्मनी में भी पहुंच गए हमारे मोदी जी

सहकारिता सम्मेलन में अमित शाह: भारत के संस्कारों में सहकारिता, समृद्धि हमारा नया मंत्रसहकारिता सम्मेलन: अमित शाह को मंत्रालय का पहला मंत्री बनने पर गर्व, बोले- सहकार से समृद्धि हमारा मंत्र AmitShah CooperativeConference Delhi

बाइडेन के किस्से, मोदी के ठहाके...व्हाइट हाउस में दिखी दोनों नेताओं की जबरदस्त बॉन्डिंगमोदी-बाइडेन की मुलाकात के कई ऐसे पल रहे जिन्हें देख साफ महसूस किया जा सका कि भारत-अमेरिका के रिश्ते नए अध्याय की ओर बढ़ रहे हैं. इसकी शुरुआत तो तभी हो गई जब पीएम मोदी ने व्हाइट हाउस में दस्तक दी और राष्ट्रपति जो बाइडेन ने काफी गर्मजोशी से उनका स्वागत किया. FEKU is working very hard to make 130 crores jobless at the earliest possible ... bolo FEKU keejay .. FEKU is brining 5 trillion US$ from US .. US$ easily available in US .. what an invention FEKU.. अख़बार में आएगा कल फ़्रंट पेज पर Ye kab hua .. apka hi chenal dekh rha tha

मुंबई इंडियंस के मेंटर ने दिया बड़ा अपडेट, IPL के अगले मुकाबले में खेलेंगे हार्दिक पंड्या?हार्दिक पंड्या 2019 में सर्जरी के बाद से लगातार फिटनेस से जूझ रहे हैं। आईपीएल 2021 के दूसरे चरण में उन्हें मुंबई इंडियंस के लिए दोनों मुकाबलों में खेलते हुए नहीं देखा गया था। इसे लेकर टीम के मेंटर जहीर खान ने बड़ा अपडेट शेयर किया है।

बांदा: कलयुगी पिता ने शराब के नशे में अपनी बेटी के साथ की छेड़छाड़ की कोशिशशुक्रवार को उसने बुरी नीयत से अपनी बेटी को पकड़ने का प्रयास किया. लड़की के विरोध करने पर उसने मारपीट भी किया है और अपनी बेटी के साथ पहले भी ऐसी घटना को अंजाम दे चुका है.

'आईए, भारत में कोरोना वैक्सीन बनाइए' : UN में पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातेंप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) के 76वें सत्र को संबोधित किया. पिछले वर्ष महासभा का सत्र कोविड-19 महामारी के कारण डिजिटल तरीके से आयोजित किया गया था. पीएम मोदी ने अपने संबोधन में जहां पाकिस्तान पर निशाना साधा, वहीं कोरोना महामारी को लेकर भी भारत और विश्व के प्रयासों का जिक्र किया. इसके साथ ही उन्होंने कोरोना वैक्सीन निर्माताओं को भारत में आकर वैक्सीन निर्माण के लिए आमंत्रित किया. Lol Adar punawala bhag gya Britain ayega kon Excellent Jaichand got some words to show our Jaichandi keep going.