Jaiprakashchowksey, Columnist

Jaiprakashchowksey, Columnist

जयप्रकाश चौकसे का कॉलम: आम आदमी भी अपने देश के अविभाज्य हिस्से में हो रही हिंसा से व्यथित है

जयप्रकाश चौकसे का कॉलम: आम आदमी भी अपने देश के अविभाज्य हिस्से में हो रही हिंसा से व्यथित है #Jaiprakashchowksey #columnist

20-10-2021 06:51:00

जयप्रकाश चौकसे का कॉलम: आम आदमी भी अपने देश के अविभाज्य हिस्से में हो रही हिंसा से व्यथित है Jaiprakashchowksey columnist

कभी कश्मीर को धरती पर बसा स्वर्ग कहा जाता था। लेकिन आज उसी स्वर्ग कहे जाने वाले कश्मीर में हत्याएं हो रही हैं। पर्यटन वहां के लोगों की रोजी-रोटी कमाने का अहम जरिया रहा है पर मौजूदा घटनाओं के कारण वहां के हालात चिंतनीय हैं। आज कश्मीर में तमाम सुरक्षा व्यवस्थाओं के बावजूद शांति स्थापित नहीं हो पा रही है! | The common man is also distressed by the violence taking place in the indivisible part of his country.

जयप्रकाश चौकसे का कॉलम:आम आदमी भी अपने देश के अविभाज्य हिस्से में हो रही हिंसा से व्यथित है5 घंटे पहलेकॉपी लिंकजयप्रकाश चौकसे, फिल्म समीक्षककभी कश्मीर को धरती पर बसा स्वर्ग कहा जाता था। लेकिन आज उसी स्वर्ग कहे जाने वाले कश्मीर में हत्याएं हो रही हैं। पर्यटन वहां के लोगों की रोजी-रोटी कमाने का अहम जरिया रहा है पर मौजूदा घटनाओं के कारण वहां के हालात चिंतनीय हैं। आज कश्मीर में तमाम सुरक्षा व्यवस्थाओं के बावजूद शांति स्थापित नहीं हो पा रही है!

गौरतलब है कि शीत ऋतु में वहां के लोग अपने पलंग के नीचे गर्मी के लिए एक सिगड़ी रखते हैं परंतु आज पूरा क्षेत्र ही झुलस रहा है। फिल्मकार कबीर खान की सलमान खान और करीना कपूर अभिनीत फिल्म ‘बजरंगी भाईजान’ में पाक अधिकृत कश्मीर का भी जिक्र है।राज कपूर ने अपनी फिल्म ‘बरसात’ से लेकर आखिरी फिल्म ‘राम तेरी गंगा मैली’ की कुछ शूटिंग कश्मीर में की थी। उन्हें कश्मीर का पहलगाम नामक क्षेत्र बहुत पसंद था। शशि कपूर और नंदा अभिनीत फिल्म ‘जब जब फूल खिले’ की शूटिंग भी कश्मीर में की गई थी।

कालांतर में थोड़े फेरबदल के साथ इसी फिल्म को आमिर खान के साथ ‘राजा हिंदुस्तानी’ के नाम से भी बनाया गया है, जिसमें करिश्मा कपूर ने भी अहम भूमिका अदा की थी। काजोल और आमिर खान के साथ इसी पृष्ठभूमि पर ‘फना’ नामक फिल्म भी बनाई गई थी और राहुल बोस अभिनीत फिल्म ‘शौर्य’ अन्य फिल्मों से अलग तरह की फिल्म साबित हुई। शाहरुख खान और मनीषा कोइराला ने भी कश्मीर की पृष्ठभूमि पर बनी फिल्म ‘दिल से’ में अभिनय किया था। मणिरत्नम की फिल्म ‘रोजा’ की कहानी भी कश्मीर से जुड़ी रही है। headtopics.com

फिल्मकार मुजफ्फर अली खान ने कश्मीर की हब्बा खातून के जीवन से प्रेरित विनोद खन्ना डिंपल खन्ना अभिनीत फिल्म ‘जूनी’ को अधूरा ही छोड़ दिया था। कारण पूंजी की कमी नहीं थी, लेकिन फिल्मकार अपने काम से संतुष्ट नहीं था इसलिए काम बंद कर दिया गया। रेखा को ‘उमराव जान’ में बहुत सराहा गया था। शशधर मुखर्जी की शम्मी कपूर और सायरा बानो अभिनीत फिल्म ‘जंगली’ भी कामयाब रही। बाद में शक्ति सामंत ने शम्मी कपूर और शर्मिला टैगोर अभिनीत ‘कश्मीर की कली’ बनाई थी।

दुखद है कि कई कामयाब फिल्मों की पृष्ठभूमि रहा कश्मीर आज झुलस रहा है। रामानंद सागर ने राजेंद्र कुमार और साधना अभिनीत फिल्म ‘आरजू’ बनाई थी। यह फिल्म एक हॉलीवुड फिल्म से प्रेरित थी, जिस पर आमिर खान और मनीषा कोइराला अभिनीत फिल्म ‘मन’ भी बनाई गई थी। शंकर जयकिशन के संगीत के कारण ‘आरजू’ फिल्म को सराहा गया था।

इस फिल्म का हसरत जयपुरी द्वारा लिखा गया एक गीत इस तरह है, ‘बेदर्दी बालमा तुझको, मेरा मन याद करता है, बरसता है जो आंखों से, वो सावन याद करता है..., कभी हम साथ गुज़रे जिन सजीली रहगुज़ारों से, फ़िज़ा के भेस में गिरते हैं अब पत्ते चनारों से, ये राहें याद करती हैं ये गुलशन याद करता है..., कोई झोंका हवा का जब मेरा आंचल उड़ाता है, गुमां होता है जैसे तू, मेरा दामन हिलाता है, कभी चूमा था जो तूने वो दामन याद करता है।’ ठीक इसी तरह आम आदमी भी अपने देश के अविभाज्य हिस्से में हो रही हिंसा से व्यथित है।

ज्ञातव्य है कि फिल्मकार तो बहुत पहले से स्विट्जरलैंड में शूटिंग करने लगे, जहां सूर्यास्त देर से होता है तो शूटिंग के लिए अधिक समय मिल जाता है। अब फिल्मकार का दिल उसकी जेब में रहता है और वह चिल्लर भी दांत से दबाए रहता है। लगता है कि अब हम धरती को स्वर्ग से सुंदर नहीं बनाना चाहते, वरन धरती पर स्वर्ग कहे जाने वाले हिस्से की आग को तापना चाहते हैं। headtopics.com

गोया कि खाकसार के एक मित्र ने दिल्ली में बने अपने मकान में कश्मीर के चिनार की लकड़ी लगावाई थी। खिड़की से तेज हवा चलने पर कमरे में चिनार की सुगंध आती थी। अब वह कमरा चीख रहा है, कराह रहा है, परंतु अब हम पर किसी आवाज का असर नहीं होता। और पढो: Dainik Bhaskar »

दंगल: क्या अब्बाजान और चिलमजीवी ही यूपी चुनाव के मुद्दे हैं?

उत्तर प्रदेश में चुनाव का माहौल जैसे-जैसे गर्माता जा रहा है, नेताओं की जुबान तीखी होती जा रही है. समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने योगी सरकार को एक बार फिर चिलमजीवी कह के घेरा है. अखिलेश अक्सर चिलम फूंकने का आरोप लगाकर योगी आदित्यनाथ को घेरते रहे हैं. लेकिन चिलम के नाम पर अखिलेश को जवाब संत समाज की ओर से मिला है. कुछ साधु संतों ने इसे संतों का अपमान बताकर अखिलेश से माफी की मांग की है. आज दंगल में देखें क्या चिलम वाले बयान पर अखिलेश ने संतों की नाराजगी मोल ले ली है? और क्या 2022 के चुनाव में इसका असर पड़ेगा? देखें वीडियो.

प्रतिबंध के बावजूद उत्तरी अफगानिस्तान में स्कूल जा रही लड़कियां | DW | 18.10.2021अफगानिस्तान के अधिकांश हिस्सों में लड़कियां घर पर रहती हैं और लड़के स्कूल जाते हैं लेकिन देश के उत्तरी हिस्से में लड़कियों के लिए स्कूल खुले हैं. तालिबान के सत्ता में आने के दो महीने बाद क्षेत्रीय मतभेद उभरने लगा है. Afghanistan EducationForAll

केरल में आज फिर हो सकती है भारी बारिश, 11 जिले में आरेंज अलर्ट जारीभारत मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने कोल्लम अलप्पुझा व कासरगोड समेत राज्य के 11 जिलों के लिए आरेंज अलर्ट जारी किया है। इसका मतलब हुआ कि इन जिलों में बुधवार को भारी से बहुत भारी यानी 64.5 से 204.4 मिलीमीटर तक बारिश हो सकती है।

बांग्लादेश में फिर निशाने पर हिंदू: जमात-ए-इस्लामी के उपद्रवियों ने हिंदुओं के 65 घरों में आग लगाई, मंदिर में भी हो चुकी तोड़फोड़बांग्लादेश में फिर हिंदुओं पर हमला: 65 से ज्यादा घरों में लगाई आग, उपद्रवी जमात-ए-इस्लामी के थे सदस्य Bangladesh PMOIndia MEAIndia PMOIndia MEAIndia ये बंग्लादेश का आंतरिक मामला है भारत को इसमे हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए PMOIndia MEAIndia Kutta hai tu bhosri wala 😂 godi chennal PMOIndia MEAIndia Bdi jldi jldi ho rha sb kch whaaa ek dm se hindu khtre me aa gya whaa kch to sochi smjhi sajis k tehat ho rha h

भारतीय सबमरीन के झूठ पर पाकिस्‍तान के जहरीले बोल- बताया क्षेत्र में शांति का 'दुश्‍मन'Pakistan NSA On Indian Submarine: पाकिस्‍तानी नौसेना के भारतीय पनडुब्‍बी को रोकने के दावे की पोल खुलने के बाद भी पाकिस्‍तानी दुष्‍प्रचार करने में लगे हुए हैं। अब आतंकियों का पालने वाले पाकिस्‍तान के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोइद युसूफ ने भारत को शांति का दुश्‍मन करार दे दिया है।

उत्तराखंड के चम्पावत में बारिश का कहर, बाढ़ में फंसे 2400 लोगों को किया गया रेस्क्यूचम्पावत। उत्तराखंड के चम्पावत में आफत की बारिश ने एक बार फिर से जहन में 2013 की यादें ताजा कर दी है। चम्पावत जिले के बीते दो दिनों से मूसलाधार बारिश हो रही है, जिसके चलते टनकपुर में शारदा नदी ने विकराल रूप धारण कर लिया है।

बड़े लोगों पर कीचड़ उछालने में सबको मजा आता है...आर्यन के समर्थन में जावेद अख्‍तरमुंबई के जुहू स्थित एक बुक स्टोर में 'चेंजमेंकर्स' नाम की किताब के लॉन्‍च के मौके पर जावेद अख्‍तर (Javed Akhtar) ने शाहरुख और आर्यन का नाम लिए बिना उनका समर्थन किया। उन्‍होंने कहा कि जांच के नाम पर बॉलिवुड और इंडस्ट्री के बड़े-बड़े सिलेब्रिटीज को निशाना बनाया जा रहा है। इंसान बड़ा अपने कर्मों से और अपनी सोच से होता है, यही दल्ला जब बंगला तोड़ा गया कंगना का तब दल्ला कोनसा बिल में छुपा बैठा था तब कियू नही मुंह खोला Javedakhtarjadu इन जैसे लोग अब भी देश को राह दिखाएंगे