Loksabha, Article 370, Jammuandkashmir, Jammukashmir, Amitshah, Mehboobamufti, जम्मू कश्मीर, लोकसभा, बहस, लद्धाख, अनुच्छेद 370

Loksabha, Article 370

जम्मू और कश्मीर राज्य को बांटने पर लोक सभा में बहस | DW | 06.08.2019

भारत की संसद के निचले सदन लोक सभा में जम्मू और कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 से जुड़ा प्रस्ताव पेश कर दिया गया है. संसद में इस पर बहस चल रही है.

6.8.2019

पूरा जम्मू कश्मीर एक तरह से बंद पड़ा है. राज्य में कर्फ्यू जैसे हालात हैं. राज्य के पूर्व मुख्यमंत्रियों महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला को बीती रात गिरफ्तर कर लिया गया. loksabha Article370 JammuAndKashmir JammuKashmir AmitShah MehboobaMufti

भारत की संसद के निचले सदन लोक सभा में जम्मू और कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 से जुड़ा प्रस्ताव पेश कर दिया गया है. संसद में इस पर बहस चल रही है.

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने बीजेपी पर राजनीति करने का आरोप लगायाय. इसके जवाब में अमित शाह का कहना है कि यह एक राजनीतिक कदम नहीं है. अमित शाह ने संसद में कहा,"संसद को पूरा अधिकार है कि वह पूरे देश के लिए कानून बना सके. भारत के संविधान और जम्मू कश्मीर के संविधान दोनों ने इस बात की अनुमति दी है.

इस मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी के भीतर अंतर्विरोध नजर आया है. पार्टी के कई नेताओं ने सरकार के कदम का स्वागत किया है इनमें प्रमुख रूप से जनार्दन तिवारी का नाम लिया जा रहा है. राज्य सभा में कांग्रेस के नेता भुवनेश्वर कलिता ने इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने अनुच्छेद 370 हटाने के मामले में कांग्रेस पार्टी के रुख पर विरोध जताया है. पार्टी ने उनसे इस मामले में व्हिप जारी करने को कहा था. भुवनेश्वर कलिता का कहना है,"पार्टी आत्महत्या कर रही है मैं इसमें भागीदार नहीं बनूंगा." गृह मंत्री ने इस मुद्दे पर कांग्रेस को अपना पक्ष साफ करने के लिए भी कहा.

उन्होंने आगे लिखा,"इसी प्रकार, जम्मू-कश्मीर के लेह-लद्दाख को अलग से केंद्र शासित क्षेत्र घोषित किए जाने से खासकर वहां के बौद्घ समुदाय के लोगों की बहुत पुरानी मांग अब पूरी हुई है, बसपा जिसका भी स्वागत करती है. इससे पूरे देश में, विशेषकर बाबा साहेब डॉ़ भीमराव अम्बेडकर के बौद्घ अनुयाई काफी खुश हैं."

और पढो: DW Hindi

जानिये क्‍या था Article 370 और जम्‍मू-कश्‍मीर में इसके लागू होने, हटाए जाने के मायने Article 370 - तमाम लोग जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने की मांग कर रहे हैं। आइये जानते हैं अनुच्छेद 370 क्‍या है और इसके लागू होने हटाए जाने के क्‍या मायने हैं। narendramodi AmitShah narendramodi AmitShah 🇮🇳 It's a 'History' now. Thank you Respected PM Sir and Amit Shah Sir.

क्या हम अब जम्मू-कश्मीर में जमीन खरीद पाएंगे और कैसे?केन्द्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर को विशेषाधिकार प्रदान करने वाली धारा 370 हटाने की अधिसूचना जारी होने के बाद अब लोगों के मन में एक सवाल प्रमुखता से उठ रहा है कि जिस तरह अपने राज्य से इतर वे दूसरे राज्यों में संपत्ति खरीद सकते हैं क्या उसी तरह जम्मू-कश्मीर में भी वे जमीन खरीद पाएंगे?

जम्‍मू-कश्‍मीर: घाटी में मोबाइल और इंटरनेट सेवा बंद, मोदी कैबिनेट की बैठक आजकश्‍मीर में आतंकी हमले की आशंका के बाद सरकार की एडवाइजरी के बाद हालात तनावपूर्ण हैं. जम्‍मू कश्‍मीर में रविवार को सर्वदलीय बैठक हुई. narendramodi अर्थव्यवस्था? narendramodi Ab kashmiri leader ko house arrest kiya jayega narendramodi GOOD

अघोषित कर्फ्यू और संगीनों के साए में जम्मू-कश्मीरजम्मू। संगीनों के साए में जम्मू-कश्मीर की हालत इसी से बयान की जा सकती है कि पिछले 24 घंटों से सब कुछ बंद है। फोन, इंटरनेट से लेकर स्कूल कॉलेज, दुकानें, यातायात। इस बंदी का आदेश सरकारी है जो रात 12 बजे ही लागू हो गई थी।

जम्मू-कश्मीर: घाटी में माहौल तनावपूर्ण, लद्दाख में खुले स्कूल-कॉलेजजम्मू और कश्मीर में माहौल तनावपूर्ण हैं, जबकि लद्दाख में जन-जीवन सामान्य रूप से चल रहा है . लद्दाख में किसी भी तरह की अतिरिक्त सतर्कता नहीं बरती जा रही है. Have u noticed that there are no statements from rahul gandhi , sonia gandhi or priyanka gandhi. Have they been taken into confidence? Chaney ky saath ab ghun picna band ho gya hy ek badlav to dikha

जम्मू-कश्मीर: श्रीनगर में दर्जी की दुकान में धमाका, 15 ग्रेनेड भी बरामदजम्मू-कश्मीर में कुपवाड़ा जिले के केरन में एक दर्जी की दुकान से 15 ग्रेनेड बरामद हुए हैं. रविवार को इस दुकान में धमाके में एक व्यक्ति की मौत के बाद ये ग्रेनेड बरामद हुए हैं. ग्रेनेड मिलने के बाद दुकान के मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया है. यह दुकान निंयत्रण रेखा (एलओसी) से सटे केरन के फरकियान इलाके में स्थित है. सूत्रों के मुताबिक जब दर्जी की दुकान में धमाका हुआ, तो पुलिस और सेना की संयुक्त टीम फौरन मौके पर पहुंच गई. इस धमाके में अब्दुल हमीद बजाद नाम के शख्स की मौत हो गई. इसके बाद जब पुलिस और सेना की संयुक्त टीम ने दुकान की तलाशी ली, तो 15 हैंड ग्रेनेड बरामद हुए. अब इसपर MehboobaMufti की जुबान नहीं खुलेगी, इन्हें आतंकियों से डर नहीं लगता बल्कि हमारे सेना के जवानों से डर लगता है। धूर्त_लोमड़ी टेलर मास्टर को दाँत-खुदनी नही मिल रही थी..सो बम की ही पिन निकाल ली होगी…☺️☺️ Jk मै जितने भी राजनीतिक दलों के लोग हैं उन सभी को कतार में खड़ा कर गोली मार देनी चाहिए।क्योंकि कश्मीर की आम जनता इन लोगों से आजाद होना चाहती है।मै स्वयं कश्मीर मेंआम जनता के बीच रहकर आया हूँ।

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

06 अगस्त 2019, मंगलवार समाचार

पिछली खबर

बुंदेलखंड में बगैर पानी के बीवी भी नहीं मिलती | DW | 06.08.2019

अगली खबर

2040 तक पूरे देश में ढाई करोड़ से ज्यादा लोग आ सकते हैं बाढ़ की चपेट में