Jammuandkashmir, Faisal Shah, Ex-Bureaucrat, İas Officer, Jammu News İn Hindi, Latest Jammu News İn Hindi, Jammu Hindi Samachar

Jammuandkashmir, Faisal Shah

जम्मू-कश्मीरः पूर्व नौकरशाह फैसल ने ट्विटर से अध्यक्ष का पदनाम हटाया, प्रशासनिक सेवा में लौटने की अटकलें तेज

पूर्व नौकर शाह फैसल ने रविवार को अपने ट्विटर परिचय में लिखे जम्मू एंड कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट के अध्यक्ष के पदनाम को

09-08-2020 23:50:00

जम्मू-कश्मीरः पूर्व नौकरशाह फैसल ने ट्विटर से अध्यक्ष का पदनाम हटाया, प्रशासनिक सेवा में लौटने की अटकलें तेज JammuAndKashmir shahfaesal

पूर्व नौकर शाह फैसल ने रविवार को अपने ट्विटर परिचय में लिखे जम्मू एंड कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट के अध्यक्ष के पदनाम को

ख़बर सुनेंभारतीय प्रशासनिक सेवा से इस्तीफा देकर राजनीति के मैदान में उतरने वाले पूर्व नौकरशाह फैसल ने रविवार को अपने ट्विटर परिचय में लिखे जम्मू एंड कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट के अध्यक्ष के पदनाम को हटा दिया है।इससे एक बार फिर उनके प्रशासनिक सेवा में लौटने के कयास लगाए जाने लगे हैं। शाह ने प्रशासनिक सेवा से इस्तीफा देने के बाद इस पार्टी का गठन किया था। हालांकि पद नाम हटाने का कारण बताने वाला कोई आधिकारिक बयान उन्होंने नहीं जारी किया है।

तेजस्वी का चुनावी दांव- 'पहली कैबिनेट में पहली कलम से बिहार के 10 लाख युवाओं को देंगे जॉब' 'कृषि बिल को समर्थन देना किसानों के साथ धोखा', AIADMK पर बरसे कमल हासन दुनिया को कोरोना संकट से बाहर निकालने में मदद करने का PM मोदी ने किया वादा, WHO ने की तारीफ

वर्ष 2010 में शाह फैसल ने यूपीएससी की परीक्षा में टॉप किया था। सिविस सर्विस ज्वाइन करने के बाद वर्ष 2019 में उन्होंने इस्तीफा देकर राजनीति के मैदान में उतरने का मन बनाया और जम्मू एंड कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट नाम से एक राजनीति तंजीम का गठन किया था।पांच अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा समाप्त किए जाने के बाद 14 अगस्त 2019 को फैसल को दिल्ली हवाई अड्डे पर विदेश जाते समय हिरासत में ले लिया गया था। वहां से श्रीनगर लाकर एमएलए हॉस्टल में रखा गया था।

उसके बाद 15 फरवरी 2020 को उन पर पीएसए की कार्रवाई की गई थी। दो माह पहले 3 जून 2020 को उन्हें पीएसए से मुक्त कर दिया गया था। इसके बाद उन्होंने इच्छा जताई थी कि वह नौकरी में लौट सकते हैं। रविवार के घटनाक्रम को उनके बयान से जोड़कर देखा जा रहा है।भारतीय प्रशासनिक सेवा से इस्तीफा देकर राजनीति के मैदान में उतरने वाले पूर्व नौकरशाह फैसल ने रविवार को अपने ट्विटर परिचय में लिखे जम्मू एंड कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट के अध्यक्ष के पदनाम को हटा दिया है।

विज्ञापनइससे एक बार फिर उनके प्रशासनिक सेवा में लौटने के कयास लगाए जाने लगे हैं। शाह ने प्रशासनिक सेवा से इस्तीफा देने के बाद इस पार्टी का गठन किया था। हालांकि पद नाम हटाने का कारण बताने वाला कोई आधिकारिक बयान उन्होंने नहीं जारी किया है।वर्ष 2010 में शाह फैसल ने यूपीएससी की परीक्षा में टॉप किया था। सिविस सर्विस ज्वाइन करने के बाद वर्ष 2019 में उन्होंने इस्तीफा देकर राजनीति के मैदान में उतरने का मन बनाया और जम्मू एंड कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट नाम से एक राजनीति तंजीम का गठन किया था।

पांच अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा समाप्त किए जाने के बाद 14 अगस्त 2019 को फैसल को दिल्ली हवाई अड्डे पर विदेश जाते समय हिरासत में ले लिया गया था। वहां से श्रीनगर लाकर एमएलए हॉस्टल में रखा गया था। और पढो: Amar Ujala »

Sushant Singh Rajput की डायरी के ये 11 पन्ने खोलेंगे कौन से राज?

सुशांत की डायरी बोलेगी, मौत मिस्ट्री खोलेगी! आजतक को सुशांत सिंह राजपूत की डायरी के वो ग्यारह एक्सक्लूसिव पन्ने मिले हैं जो और किसी के पास नहीं हैं. उन पन्नों में छुपा है सुशांत के साथ हुई साजिश के तमाम राज. इन पन्नों में सुशांत की ज़िंदगी का उजाला है, निराशा का वो अंधेरा नहीं जिसकी तस्वीर रिया चक्रवर्ती अपने झूठ से पेश कर रही थी. आज सुशांत के हाथों से लिखे नोट्स उनकी गवाही दे रहे हैं. वो बता रहे हैं कि जिंदगी में रिया के आने से पहले उनका एक मकसद था और उस मकसद को लेकर उनमें जबरदस्त कमिटमेंट थी. देखें ये रिपोर्ट.

shahfaesal Kiya Bharat ke khilaf bolne wale dusman desh ki support karne Wale Ex I. A. S. Ko dubara Govt naukri par kis Base par rakh sakti hai?Desh dyaan de. shahfaesal Ab nahi milni chahiye, kherat thode hi h ki jab chaho jao or jab chaho aao shahfaesal ये अब प्रशासनिक सेवा में आ कर देश का क्या हित करेगा ?

shahfaesal It's not in the service Rule book.... shahfaesal Once a Terr0rist supporter, Always One.

जम्मू-कश्मीर: बीजेपी कार्यकर्ता पर हमले के बाद 4 नेताओं ने सौंपा इस्तीफाashraf_wani Atankiyo ki ma ka ashraf_wani Desh ke Gaddar v hain j&k me

जम्मू-कश्मीर में सरकार लाएगी नया भूमि अधिकार कानून, संसद में पेश होगा विधेयकनई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के लोगों के भूमि अधिकारों की रक्षा के लिए एक नए कानून लाने पर विचार किया जा रहा है ताकि वहां संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान निरस्त किए जाने के बाद केंद्रशासित प्रदेश के लोगों की चिंताओं को दूर किया जा सके। इस संबंधी विधेयक को संसद में पेश किए जाने की संभावना है।

सदी के अंत तक 7 डिग्री बढ़ सकता है जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का तापमानजलवायु परिवर्तन के कारण 21वीं सदी के अंत तक जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में 6.9 डिग्री तक तापमान में वृद्धि हो सकती है। prodefencejammu ClimateChange climate ClimateEmergency ClimateStrike

जम्‍मू-कश्‍मीर: उपराज्‍यपाल मनोज सिन्‍हा ने दिया सभी कर्मचारियों को 25 हजार के यात्रा भत्‍ते का उपहारश्रीनगर न्यूज़: जम्‍मू-कश्‍मीर के नवनियुक्‍त उपराज्‍यपाल ने भ्रष्‍टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने पर जोर दिया साथ ही युवाओं को आत्‍मनिर्भर बनने पर जोर दिया। भाभी जी पापड़ का क्या हुवा। लगता है जल्दी चुनाव आने वाले है The best starting. Govt. officers are back bone of successful administration.

Jammu-kashmir news: लापता जवान की तलाश जारी, आतंकियों का ऑडियो वायरलश्रीनगर न्यूज़: ऑडियो में कहा गया कि हम लोग पिछले काफी समय से जवान की हरकतों को देख रहे थे। वह आतंकियों के खिलाफ काम करने में लगा हुआ था। मौका मिलते ही हमने उसका अपहरण करके हत्या कर दी। हमने उसे दफना दिया है।

राम मंदिर निर्माण की बधाई देने पर हसीन जहां को मिली दुष्कर्म व जान से मारने की धमकीतेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की पत्नी ने पीएम मोदी गृह मंत्री अमित शाह बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से मामले का संज्ञान लेने का किया अनुरोध अब कहां मर गए महिला सुरक्षा की बात करने वाले यह है मुल्लो की हरकत। एक तरफ सिर्फ इस्लाम का राज चाहते है दूसरी तरफ डेमोक्रेसी और बराबरी की मांग भी करते है। NCWIndia sharmarekha Please take cognizance.