Jammu Kashmir, Article 370, India Pakistan, India Pakistan At United Nations, Unsc, जम्मू-कश्मीर, धारा 370, भारत-पाकिस्तान, यूएन

Jammu Kashmir, Article 370

जम्मू-कश्मीर मामले पर पाक और चीन को यूएनएसी में तगड़ा झटका, इन देशों ने किया भारत का समर्थन

जम्मू-कश्मीर मामले पर पाक और चीन को यूएनएसी में तगड़ा झटका, इन देशों ने किया भारत का समर्थन...

17-08-2019 22:45:00

जम्मू-कश्मीर मामले पर पाक और चीन को यूएन एसी में तगड़ा झटका, इन देशों ने किया भारत का समर्थन...

सूत्रों के अनुसार परिषद में अफ्रीकी देशों, आईवरी कोस्ट एवं इक्वेटोरियल गुएना, डोमिनिकन रिपब्लिक, जर्मनी, अमेरिका, फ्रांस और रूस ने भारत का समर्थन किया. संयुक्त राष्ट्र के कूटनीतिक सूत्र ने कहा कि फ्रांस क्षेत्र की स्थिति पर नजर रखे हुए है. उसकी प्राथमिकता यह है कि भारत एवं पाकिस्तान द्विपक्षीय संवाद करे. अमेरिका और जर्मनी का भी यही रूख था.

कश्मीर मामले पर सुरक्षा परिषद की बैठक में पाकिस्तान को सिर्फ चीन का समर्थन: समाचार पत्रसूत्रों के मुताबिक सुरक्षा परिषद के 15 सदस्यों में ज्यादातर का कहना था कि इस चर्चा के बाद कोई बयान या नतीजा जारी नहीं किया जाना चाहिए और आखिरकार उनकी ही बात रही. उसके बाद चीन बैठक से बाहर आ गया और बतौर एक देश उसने बयान दिया. फिर पाकिस्तान ने भी बयान दिया. सूत्रों ने बताया कि यूएनएससी अध्यक्ष ने चर्चा के बाद कहा, ‘पाकिस्तान द्वारा कश्मीर मुद्दा संयुक्त राष्ट्र में उठाने का कोई आधार नहीं है. इस बार भी उसकी बातों में कोई दम नहीं था. कोई नतीजा नहीं निकला, परामर्श के बाद पोलैंड ने कोई बयान नहीं दिया.' संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन ने मीडिया से कहा कि ‘‘यदि राष्ट्रीय बयानों को अंतरराष्ट्रीय समुदाय की इच्छा के रूप में पेश करने कोशिश की जाएगी'' तो वह भी भारत का राष्ट्रीय रूख सामने रखेंगे. उनका इशारा चीन और पाकिस्तान के बयानों की ओर था. 

पिता के साथ बेचते थे सब्जी, यह हैं बिहार दसवीं के टॉपर हिमांशु राज ‘कोरोना आपदा को बदला लेने का अवसर मान रही मोदी सरकार’: छात्र नेताओं ने लगाया आरोप कांग्रेस के संजय निरुपम ने महाराष्‍ट्र में कोरोना संकट के लिए सीएम उद्धव ठाकरे को दोषी ठहराया, लगाया यह आरोप..

UNSC में हुई 'बंद कमरे' में बैठक के बीच इमरान खान ने डोनाल्ड ट्रंप से कश्मीर मुद्दे पर की बातसूत्रों के अनुसार सुरक्षा परिषद के ज्यादातर सदस्यों ने माना कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच का द्विपक्षीय मुद्दा है और उन दोनों को ही आपस में इसका समाधान करने की जरूरत है. यह कश्मीर का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की मंशा रखने वाले पाकिस्तान के लिए एक झटका है. सुरक्षा परिषद में वीटो का अधिकार वाले पांच स्थायी सदस्य देशों में शामिल चीन ने यह बैठक बुलाने की मांग की थी. परिषद की प्रक्रियाओं के अनुसार उसके सदस्य किसी भी मुद्दे पर चर्चा की मांग कर सकते हैं, लेकिन बंद कमरे में बैठकों का कोई रिकॉर्ड नहीं रखा जाएगा. सूत्रों के अनुसार सुरक्षा परिषद के सदस्यों के साथ इस चर्चा में भारत ने एक-एक कर सारी दलीलें ध्वस्त कर दी. भारत का यह रूख रहा कि कैसे कोई संवैधानिक मामला शांति एवं सुरक्षा के लिए खतरा हो सकता है, जैसा कि पाकिस्तान ने अनुच्छेद 370 के संदर्भ में दावा किया है. 

सुरक्षा परिषद में कश्मीर पर बंद कमरे में हुई बैठक के बाद भारत ने कहा- 'पूरी तरह से हमारा आंतरिक मामला'सूत्रों ने बताया कि भारत का कहना था, ‘कैसे किसी संघीय व्यवस्था का सीमा के पार असर हो सकता है.' भारत बार-बार इस बात पर बल दे रहा है कि वह कश्मीर मुद्दे पर शिमला समझौते के प्रति प्रतिबद्ध है. मानवाधिकारों के गंभीर उल्लंघन के मुद्दे पर सूत्रों ने कहा, ‘पाकिस्तान इस मोर्चे पर भी मात खा गया क्योंकि चीन मानवाधिकारों की दुहाई दे रहा है.' सूत्रों ने कहा कि यदि पाकिस्तान महसूस करता है कि अनुच्छेद 370 स्थिति में एक बड़ा बदलाव है तो चीन- पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) क्या है.  

टिप्पणियांसंयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कश्मीर में अत्यधिक संयम बरतने को कहा, शिमला समझौते का दिया हवालारूस के उप-स्थायी प्रतिनिधि दिमित्री पोलिंस्की ने बैठक कक्ष में जाने से पहले संवाददाताओं से कहा कि मॉस्को का मानना है कि यह भारत एवं पाकिस्तान का ‘द्विपक्षीय मामला' है. इंडोनेशिया भी बढ़ते तनाव से चिंतित था और उसने दोनों देशों से संवाद एवं कूटनीति पर लौटने की अपील की. ब्रिटिश सरकार के प्रवक्ता ने कहा, ‘आज सुरक्षा परिषद ने कश्मीर की स्थिति पर चर्चा की. हम स्थिति पर नजर रखे हुए हैं. कश्मीर की घटनाओं की क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय प्रासंगिकता है. हम सभी से शांति एवं सतर्कता बनाए रखने की अपील करते हैं.' बंद कमरे में हुई सुरक्षा परिषद की इस बैठक से पहले पाकिस्तान को कई झटके लगे हैं. उसने इस विषय पर खुली बैठक की मांग की थी. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पत्र लिखकर जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने के भारत के कदम पर सुरक्षा परिषद में चर्चा की मांग की थी, लेकिन सुरक्षा परिषद ने एक अनौपचारिक और बंद कमरे में बैठक की. कुरैशी ने यह भी अनुरोध किया था कि पाकिस्तान सरकार के एक प्रतिनिधि को बैठक में हिस्सा लेने दिया जाए. उस अनुरोध को भी नहीं माना गया क्योंकि चर्चा बस सुरक्षा परिषद के 15 सदस्यों के बीच थी. 

और पढो: NDTVIndia »

पाकिस्तान चीन का पालतू कुत्ता है R को क्या हो गया कैसी बहकी बहकी बातें कर रहा है या सरकार ने PLC में छतरी डाल कर खोल दी है अब तो सारी दुनिया ही एक ही बात बोलती है Sir please help... Rrb Je cbt1 ka cutoff high kyo ... Only qualify natura ka h But minimum cutoff jani chahiye.. Rrb Je cbt1 ka revise results aana Chahiye.... Please help

भारत सरकार ने चीन को आंख दिखने के लिये क्या कदम उठाये है कृपया देश को भी बताये !!

पाकिस्तान ने फिर किया संघर्षविराम का उल्लंघन, भारत ने तबाह की PAK की चौकीश्रीनगर। पाकिस्तानी गोलीबारी का करारा जवाब देते हुए भारतीय सैनिकों ने शनिवार को सीमापार शत्रु चौकी को तबाह कर दिया। इससे पहले पाक ने सुबह सीजफायर का उल्लंघन कर गोलीबारी की, जिसमें 1 भारतीय जवान शहीद हो गया।

चीन ने माना- वैश्विक आतंकवाद का शिकार है भारतचीन की तरफ से जारी आतंकी हमलों से प्रभावित देशों की सूची में भारत का जिक्र किया गया है. Sara hidustan tbah kren gye hm inshallah atank mukt Bharat चाइना भी अब जब दूध पिलायेगा उसको अपने आस्तीन से सांप निकलता नजर आएगा

कश्मीरः लंदन में भारत विरोधी और समर्थक आमने-सामनेगुरुवार को लंदन में भारतीय उच्चायोग के बाहर कश्मीर का ख़ास दर्जा ख़त्म किए जाने के ख़िलाफ़ बड़ा प्रदर्शन. Pahle sahi likna sikha lo fir likho landon kashmir me nahi hai ya fir is hading ko lekar un me jakar dava pesh karun Pakistani samne aye... आज एक वीडियो मिला है इसको देखने के बाद आभाष हुआ मेरा वोट सही जगह गया इसको इतना शेयर करो कि चमचो से होते हुए 10 जनपथ तक पहुंच जाए

कश्‍मीर मुद्दे पर UNSC में भारत को रोकने में विफल साबित हुए चीन और पाकिस्‍तानकश्‍मीर मुद्दे पर UNSC में भारत को रोकने में विफल साबित हुए चीन और पाकिस्‍तान UNSC JammuKashmir Pakistan China china products forget all Indian people boycottchinaproduct we should boycott china product .. Because china supporting pak in unsc SurendraVishn29 दुःखी हो या ख़ुशी जतायी जा रही है! मोदी जी ने सब की तरीक़े से बजायी है मै तो ख़ुश हू!

UNSC: अमेरिका, UK और रूस भारत के साथ आए, पाक के साथ खड़ा हुआ चीनकश्मीर मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र की इमरजेंसी बैठक शुरू, भारत के पक्ष में खड़ा हुआ रूस JammuAndKashmir UNSecurityCouncil China Abe aalsi khatam b ho gyi hai soye rehte ho kya. चीन बिस्तारबाद का जनक है और भारत का दुश्मन, कभी भारत का सुख चैन नहीं चाहेगा। उरिगर में चीन के क्रियाकलापों पर UNO का क्या सोच होना चाहिए। मीडिया तो allow नहीं है तो फिर ये बात किसने बताई.... बगावत.... हा हा.... हमारी जेल में सुरंग हा हा

पाकिस्तान के बाद अब भारत ने भी रोकी थार एक्सप्रेस भारत-पाकिस्तान के बीच अब थार एक्सप्रेस रोकी दी गई है. जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद बौखलाए पाकिस्तान ने थार एक्सप्रेस रोकने का फैसला किया था. जिसके बाद अब भारत ने भी थार एक्सप्रेस रोक दी है. दरअसल, भारत-पाकिस्तान के बीच चलने वाली थार एक्सप्रेस राजस्थान के जोधपुर से पाकिस्तान जाती थी. अच्छी बात है 👏 यहाँ से जाते कम हैं वहाँ से आते ज्यादा हैं BAHUT SUNDAR JAI HIND , I DO NOT WANT ANY RELATION WITH PAKISTAN ............................ डरपोक पाकिस्तान

राहुल गांधी का वार- पीएम ने पहले फ्रंटफुट पर खेला, लेकिन अब बैकफुट पर हैं मजदूरों की मदद के नाम पर पब्लिस्टी स्टंट के आरोप, सोनू सूद ने द‍िया जवाब योगी आदित्यनाथ का वो बयान जिस पर मच रहा है सियासी घमासान अभिजीत बनर्जी की सलाह- प्रत्येक भारतीय को 1000 रुपये हर महीने दे सरकार ईद के दिन फिर दिल्ली की सड़कों पर निकले राहुल, टैक्सी ड्राइवर से जाना हाल 2 महीने बाद शुरु हुई घरेलू उड़ान, देखें कैसा था पहला दिन VIDEO: राहुल बोले- लॉकडाउन हुआ फेल, मोदी सरकार माने नाकामी सोनू सूद के बाद मजदूरों के मसीहा बने प्रकाश राज, घर पहुंचाने में कर रहे मदद कोरोना अपटडेटः भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या डेढ़ लाख के क़रीब, अकेले महाराष्ट्र में 52 हज़ार से ज़्यादा मामले - BBC Hindi नेपाल के साथ क्या हुआ, लद्दाख में कैसे हालात? देश के सामने सच्चाई बताए सरकार: राहुल गांधी केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा ने क्वारंटाइन से किया किनारा, सफाई में बोले- छूट वाली कैटेगरी में आता हूं