India, Chhattisgarh, Chhattisgarh Government, Bhupesh Government, Corona In Chhattisgarh, Chhattisgarh Bhupesh Government

India, Chhattisgarh

छत्तीसगढ़: कोरोना काल मे शराब की होम डिलीवरी शुरू कर सकती है भूपेश सरकार

छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री ने दिए संकेत (@ReporterRavish ) #India #Chhattisgarh

09-05-2021 14:57:00

छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री ने दिए संकेत (ReporterRavish ) India Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा का कहना है कि 'यदि योजना शुरू हुई तो मोबाइल एप से शराब मंगवाई जा सकेगी. आबकारी मंत्री कवासी लखमा पहले ही इस बात की संभावना जता चुके थे कि प्रदेश में जल्द शराब की होम डिलीवरी करने का सरकार विचार कर रही है और इस संबंध में विभाग की तैयारी चल रही है'.

स्टोरी हाइलाइट्सछत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री ने दिए संकेतशराब की होम डिलीवरी कर सकती है भूपेश सरकारपूर्व CM रमन सिंह ने की आलोचनाछत्तीसगढ़ में आबकारी विभाग जल्द ही लॉकडाउन के दौरान शराब की होम डिलीवरी की अनुमति दे सकता है. इसके बाद जल्द ही सुबह 9 से रात 8 बजे तक शराब की होम डिलीवरी हो सकती है. आबकारी मंत्री कवासी लखमा का कहना है कि 'यदि योजना शुरू हुई तो मोबाइल एप से शराब मंगवाई जा सकेगी. आबकारी मंत्री कवासी लखमा पहले ही इस बात की संभावना जता चुके थे कि प्रदेश में जल्द शराब की होम डिलीवरी करने का सरकार विचार कर रही है और इस संबंध में विभाग की तैयारी चल रही है'.

नेतन्याहू के सत्ता से बेदख़ल होने पर ईरान जश्न मना रहा है? - BBC News हिंदी पश्चिम बंगाल में सार्वजनिक रूप से माफ़ी क्यों मांग रहे हैं बीजेपी कार्यकर्ता? - BBC News हिंदी चिराग पासवान को झटका, पशुपति कुमार पारस बने लोजपा संसदीय दल के नेता - BBC Hindi

वहीं, दूसरी ओर पूर्व सीएम रमन सिंह ने सरकार के इस फैसले पर निशाना साधा है. रमन सिंह ट्वीट कर लिखा है कि सरकार को शाबासी दीजिए! कोरोना संकट में यह देश की पहली सरकार है, जो शराब की होम डिलीवरी करेगी. आपके घर राशन, दवाई और वैक्सीन पहुंचे या नहीं लेकिन यह शराब जरूर पहुंचाएंगे. सोचिए! अस्पतालों में मरीज दम तोड़ रहे हैं लेकिन इस सरकार को बस शराबियों की चिंता है.

.@bhupeshbaghelसरकार को शाबासी दीजिए!कोरोना संकट में यह देश की पहली सरकार है जो शराब की होम डिलीवरी करेगी।आपके घर राशन, दवाई और वैक्सीन पहुंचे या नहीं लेकिन यह शराब जरूर पहुंचाएंगे। और पढो: आज तक »

कोरोना को लेकर नई चिंता: डेल्टा वैरिएंट अब और ज्यादा खतरनाक डेल्टा+ में बदला, इस पर मोनोक्लोनल एंटीबॉडीज कॉकटेल का असर नहीं होने की आशंका

कोरोना की दूसरी लहर में देश में तबाही मचाने वाला डेल्टा वैरिएंट अब और ज्यादा खतरनाक डेल्टा+ में बदल गया है। वैज्ञानिकों को आशंका है कि कोरोना मरीजों को दी जा रही मोनोक्लोनल एंटीबॉडीज कॉकटेल इस वैरिएंट पर बेअसर हो सकती है। अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट टाइम्स ऑफ इंडिया ने यह रिपोर्ट दी है। बता दें कि मोनोक्लोनल एंटीबॉडीज कॉकटेल को देश में मई की शुरुआत में इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मिली थी। | Delta variant changed to more dangerous Delta+ not affected by cocktail of monoclonal antibodies

ReporterRavish ReporterRavish धन्य हो bhupeshbaghel क्या खुब। घर में पियो और लुड़को ज्यादा से ज्यादा घर में क्लेश होगा। देसी या अंग्रेज़ी।

राष्ट्रीय कोरोना नियंत्रण मिशन, जिससे काबू में आ सकता है कोरोनादेश में चारों तरफ कोरोना महामारी का प्रकोप है। केंद्र और राज्य सरकारों के पास अभी तक ऐसी कोई ठोस कार्ययोजना नहीं है जिससे आम जनता में यह विश्वास जग सके कि हम इस महामारी से निबटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। ऐसे कठिन दौर में देश के कई प्रतिष्ठित अनुभवी चिकित्सकों और जमीनी कार्य करने वाले समाजसेवियों के साथ कई दिनों के गहन विचार-विमर्श के बाद भारतीय राजस्व सेवा के सेवानिवृत वरिष्ठ अधिकारी डॉक्टर आरके पालीवाल, पूर्व प्रिंसिपल चीफ़ कमिश्नर इनकम टैक्स, मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ ने कोरोना के प्रभावी नियंत्रण के लिए एक कार्ययोजना बनाई है जिसे 'राष्ट्रीय कोरोना नियंत्रण मिशन' नाम दिया है। जानतेइस कार्ययोजना के बिंदु-

Hrithik Roshan ने कोरोना काल में आगे बढ़ाया मदद का हाथ, Twinkle Khanna ने की तारीफकोरोना महामारी के इस दौर में कई बॉलीवुड सेलेब्स मदद के लिए हाथ आगे बढ़ा रहे हैं। बॉलीवुड एक्टर रितिक रोशन भी कोविड रिलीफ में मदद करने की हर संभव कोशिश कर रहे हैं। अब, ट्विंकल खन्ना ने ऋतिक रोशन इस संकट के दौरान आगे आने और मदद करने के लिए उनकी प्रशंसा करते हुए अपने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट साझा किया है।

बक्सर: कोरोना काल में गंगा में बह रही लाशों के पीछे जुड़ी है वर्षों पुरानी परंपराबिहार के बक्सर से कोरोना काल की सबसे भयानक तस्वीर आई, जहां गंगा नदी के महादेवा घाट के पास करीब 40 लाशें तैरती दिखाईं दीं. माना जा रहा था कि कोरोना की इस महामारी में लोग अपनों का अंतिम संस्कार नहीं कर पा रहे हैं, इसलिये लाशों को गंगा नदी में फेंक रहे हैं, लेकिन इसके पीछे की कहानी कुछ और ही है. sujjha गुलामी को सलाम ,गुलाम हो तो आ.....जेसा sujjha जो कुछ छुपाना हों छुपा लो ये सब ऊपर वाला देख रहा है sujjha Bas ab e hi sun na baki tha .....parampara wahhhh.......kitna giroge niche or

कोरोना काल में मदद के नाम पर जमकर हुआ साइबर फ्रॉड, 372 FIR, 91 गिरफ्तारकोरोना की दूसरी लहर में लोगों की मजबूरी का जमकर फायदा उठाया गया. बड़ी संख्या में लोग ठगी का शिकार हुए. अब इस मामले में दिल्ली पुलिस ने ऑपरेशन साइबर प्रहार शुरू किया है, जिसके तहत बड़ी कार्रवाई की गई है. TanseemHaider srk love Shoaib akhtar Rare video ipl 2008 TanseemHaider कफ़न चोरों की कमी नहीं है अच्छा हुआ चेहरे सामने आए जनता के। TanseemHaider Ye sahib hai...

कोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों को अडॉप्ट करने में न करें गलती, एक्सपर्ट्स ने चेतायाकोरोना महामारी के दौर में सोशल मीडिया पर बच्चों को गोद लेने जैसे पोस्ट भी चल रहे हैं, लेकिन बच्चों को गोद लेने की प्रक्रिया इतनी आसान नहीं है. साथ ही एक्सपर्ट ये भी चिंता जाहिर करते हैं कि कुछ लोग इन स्थितियों का गलत फायदा उठा सकते हैं.