Arunachalpradesh, China, India, Border, Lac, Arunachal Pradesh News Hindi, China News Hindi, China İndia Face Off, İndia China Face Off, İndia China Border

Arunachalpradesh, China

चुनौती: अरुणाचल पर चीन की नापाक निगाहें, सीमा पर बढ़ाई तैनाती, भारत भी निपटने के लिए तैयार

पूर्वी लद्दाख में डेढ़ साल से तनाव के बीच चीनी सेना की अब अरुणाचल प्रदेश से सटी सरहद के भीतरी हिस्सों में सैन्य ड्रिल

20-10-2021 03:43:00

चुनौती: अरुणाचल पर चीन की नापाक निगाहें, सीमा पर बढ़ाई तैनाती, भारत भी निपटने के लिए तैयार ArunachalPradesh China India Border LAC DefenceMin India PMO India HMO India

पूर्वी लद्दाख में डेढ़ साल से तनाव के बीच चीनी सेना की अब अरुणाचल प्रदेश से सटी सरहद के भीतरी हिस्सों में सैन्य ड्रिल

पूर्वी कमान के कमांडर ले. जनरल मनोज पांडे ने बताया, चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के सालाना प्रशिक्षण कार्यक्रम में भी इस बार गतिविधियां बढ़ी हैं, उसके सैनिकों को सीमावर्ती भीतरी इलाकों में तैनात किया जा रहा है। ले. जनरल पांडे ने यह भी बताया, दोनों देश वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के निकट बुनियादी ढांचे का विकास कर रहे हैं, इससे कुछ विवाद पैदा होते रहते हैं।

सिद्धू ने जब पकड़ी केजरीवाल की राह, अतिथि शिक्षकों के साथ उन्हीं के आवास पर दिया धरना - BBC Hindi पाकिस्तानी रक्षा मंत्री सियालकोट लिंचिंग पर बोले- लड़के हैं जोश में आकर हत्या कर दी - BBC Hindi पैरा स्पेशल फोर्सेज के खिलाफ नगालैंड पुलिस ने स्वत: दर्ज की FIR, मर्डर के लगाए आरोप

सैन्य तैनाती भी बढ़ाई जा रही है। चीन द्वारा पूर्वोत्तर भारत में भूटान के साथ कूटनीतिक रिश्ते बनाने की कोशिशों से भी भारत में चिंता है। चीन-भूटान में दशकों पुराने सीमा विवाद पर हुए समझौते पर सीधे कुछ न कहते हुए ले. जनरल ने उम्मीद जताई कि यह समझौता सरकारी अधिकारियों की नजर में होगा।

सीमा पर गांव बसा रहा चीन भारत कर रहा है निगरानीले. जनरल पांडे ने कहा कि सीमा के करीब चीन नए-नए गांव बसा रहा है। भारत इसके अनुसार रणनीति बना रहा है, क्योंकि आबादी वाले क्षेत्रों का इस्तेमाल सैन्य उद्देश्य के लिए हो सकता है।ले. जनरल ने पूर्वी भारत के 1300 किमी लंबी एलएसी पर सेना की तैयारियों का जायजा लिया और बताया कि भारतीय सेना का माउंटेन स्ट्राइक कोर अब पूरी तरह काम करने लगा है। headtopics.com

समझौते-प्रोटोकॉल तोड़ने पर उच्चस्तरीय चर्चाचीन द्वारा सीमा समझौते और प्रोटोकॉल तोड़ने पर उच्चस्तरीय चर्चा हुई है। हाल में चीन-भारत के बीच चौथी हॉटलाइन शुरू हुई है।-ले. जनरल मनोज पांडे, पूर्वी सेना कमांडरइंटीग्रेटेड बैटल समूह:भारतीय सेना को नई कॉम्बैट फॉर्मेशन इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स (आईबीसी) की सैद्धांतिक सहमति। इसमेंं इंफेंट्री, आर्टिलरी, वायु रक्षा, टैंक व लॉजिस्टिक्स यूनिट्स शामिल। इससे पाकिस्तान व चीन की सीमा पर लड़ाकू क्षमताओं में इजाफा।

बढ़ाई निगरानी:एलएसी व सीमा के भीतरी क्षेत्रों में भारत ने निगरानी बढ़ाई। सभी उपलब्ध संसाधनों का उपयोग।आपात चुनौती के लिए तैनाती:सभी सेक्टरों में सुरक्षा संबंधी आपात चुनौतियों के मद्देनजर सैन्य तैनाती। आपात योजना का अभ्यास भी जारी।आधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल:

एलएसी पर दिन-रात निगरानी के लिए मानव रहित विमानों की तैनाती। इस्राइल के मध्यम ऊंचाई पर लंबे समय तक उड़ने वाले हैरॉन ड्रोन पहाड़ी इलाकों से अहम डाटा व तस्वीरें कंट्रोल सेंटर को भेज रहे हैं।सेना की एविएशन विंग ने भी हल्के एडवांस हेलिकॉप्टर रुद्र की एकीकृत हथियार प्रणाली तैनात की है। सरकार तवांग को भी तेजी से रेल नेटवर्क से जोड़ रही है।

वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर इस समय 50 से 60 हजार सैनिक तैनात हैं।विस्तार और तैनाती को लेकर भारत सतर्क है। भारतीय सेना ने सुरक्षा संबंधी किसी भी चुनौती से निपटने के लिए आपात योजना तैयार कर ली है।विज्ञापनपूर्वी कमान के कमांडर ले. जनरल मनोज पांडे ने बताया, चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के सालाना प्रशिक्षण कार्यक्रम में भी इस बार गतिविधियां बढ़ी हैं, उसके सैनिकों को सीमावर्ती भीतरी इलाकों में तैनात किया जा रहा है। ले. जनरल पांडे ने यह भी बताया, दोनों देश वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के निकट बुनियादी ढांचे का विकास कर रहे हैं, इससे कुछ विवाद पैदा होते रहते हैं। headtopics.com

जब यौन शिक्षा से जुड़ा एक केस हार गए थे आंबेडकर - BBC News हिंदी दिल्ली की हवा अभी भी 'बहुत खराब', कल और ज्यादा खराब होने के आसार अमेरिकी सांसद ने परिवार के साथ बंदूकें लेकर तस्वीर की पोस्ट, भड़क उठे लोग - BBC Hindi

सैन्य तैनाती भी बढ़ाई जा रही है। चीन द्वारा पूर्वोत्तर भारत में भूटान के साथ कूटनीतिक रिश्ते बनाने की कोशिशों से भी भारत में चिंता है। चीन-भूटान में दशकों पुराने सीमा विवाद पर हुए समझौते पर सीधे कुछ न कहते हुए ले. जनरल ने उम्मीद जताई कि यह समझौता सरकारी अधिकारियों की नजर में होगा।

सीमा पर गांव बसा रहा चीन भारत कर रहा है निगरानीले. जनरल पांडे ने कहा कि सीमा के करीब चीन नए-नए गांव बसा रहा है। भारत इसके अनुसार रणनीति बना रहा है, क्योंकि आबादी वाले क्षेत्रों का इस्तेमाल सैन्य उद्देश्य के लिए हो सकता है।ले. जनरल ने पूर्वी भारत के 1300 किमी लंबी एलएसी पर सेना की तैयारियों का जायजा लिया और बताया कि भारतीय सेना का माउंटेन स्ट्राइक कोर अब पूरी तरह काम करने लगा है।

समझौते-प्रोटोकॉल तोड़ने पर उच्चस्तरीय चर्चाचीन द्वारा सीमा समझौते और प्रोटोकॉल तोड़ने पर उच्चस्तरीय चर्चा हुई है। हाल में चीन-भारत के बीच चौथी हॉटलाइन शुरू हुई है।-ले. जनरल मनोज पांडे, पूर्वी सेना कमांडरपुख्ता है तैयारी, कमांडर ने बतायाइंटीग्रेटेड बैटल समूह:

भारतीय सेना को नई कॉम्बैट फॉर्मेशन इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स (आईबीसी) की सैद्धांतिक सहमति। इसमेंं इंफेंट्री, आर्टिलरी, वायु रक्षा, टैंक व लॉजिस्टिक्स यूनिट्स शामिल। इससे पाकिस्तान व चीन की सीमा पर लड़ाकू क्षमताओं में इजाफा।बढ़ाई निगरानी:एलएसी व सीमा के भीतरी क्षेत्रों में भारत ने निगरानी बढ़ाई। सभी उपलब्ध संसाधनों का उपयोग। headtopics.com

आपात चुनौती के लिए तैनाती:सभी सेक्टरों में सुरक्षा संबंधी आपात चुनौतियों के मद्देनजर सैन्य तैनाती। आपात योजना का अभ्यास भी जारी।आधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल:एलएसी पर दिन-रात निगरानी के लिए मानव रहित विमानों की तैनाती। इस्राइल के मध्यम ऊंचाई पर लंबे समय तक उड़ने वाले हैरॉन ड्रोन पहाड़ी इलाकों से अहम डाटा व तस्वीरें कंट्रोल सेंटर को भेज रहे हैं।

सेना की एविएशन विंग ने भी हल्के एडवांस हेलिकॉप्टर रुद्र की एकीकृत हथियार प्रणाली तैनात की है। सरकार तवांग को भी तेजी से रेल नेटवर्क से जोड़ रही है।वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर इस समय 50 से 60 हजार सैनिक तैनात हैं। और पढो: Amar Ujala »

छात्रों से मिले 51 हजार बिजनेस आइडिया, देखें Business Blasters Programme पर क्या बोले Sisodia

दिल्ली सरकार की नई योजना स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों में उद्यमी एवं व्यावसायिक क्षमता को विकसित करने वाले बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम को लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आजतक से खास बातचीत की है. इस दौरान उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में छात्र बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और कई तरह के अनूठे आइडिया दे रहे हैं. इसकी सफलता को देखते हुए दिल्ली सरकार ने भविष्य में प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को भी इस प्रोग्राम से जोड़ने की योजना बनाई है. साथ में दिल्ली सरकार के कॉलेजों में भी प्रोग्राम को ले जाने की तैयारी है. देखिए ये वीडियो.

DefenceMinIndia PMOIndia HMOIndia जय हिंद DefenceMinIndia PMOIndia HMOIndia लद्दाख के खुले मैदान से डरकर चीन की अरूणांचल के जंगल से मोर्चा खोलने की तैयारी है...या फिर लद्दाख और दक्षिण चीन सागर की दूरी से परेशान होकर उसने अरूणांचल को चुना है...या फिर उसको बंगाल की खाड़ी तरफ सैन्य तैयारी कमजोर लगी...जो भी कारण हो। तेझपुर एयरपोर्ट को hi tech करना पड़ेगा।

DefenceMinIndia PMOIndia HMOIndia China kuch nhi ukhad payega..indian army hai ... Bs thoda Laal ankh se dr hai DefenceMinIndia PMOIndia HMOIndia सेना के सामने सेना खड़ा कर देने से ही चीन को कंट्रोल करना संभव नहीं है जैसा की पिछले सालों से हम लोग लगातार देखते आ रहे हैं.अब समय आ गया है कि इंडिया भी चीन के समान ही आक्रमक हो और तिब्बत पर अपनी पॉलिसी को चेंज कर तिब्बत बॉर्डर के पास अपने सैनिकों को चीन के समान ही तैनात करे.

DefenceMinIndia PMOIndia HMOIndia Justice for ssc gd CAPF candidate 2018 🙏 pls 55,000 remaining Medical fit candidates Waiting for more than 3 year's 🙏 1 lakh 11 thousand seats are vaccant in Central armed police force pls give us Justice 🙏 🇮🇳 AmitShah HMOIndia narendramodi PMOIndia rashtrapatibhvn 🇮🇳 🇮🇳

DefenceMinIndia PMOIndia HMOIndia Justice for ssc gd CAPF candidate 2018 🙏 pls 55,000 remaining Medical fit candidates Waiting for more than 3 year's 🙏 1 lakh 11 thousand seats are vaccant in Central armed police force pls give us Justice 🙏 🇮🇳 AmitShah HMOIndia narendramodi PMOIndia rashtrapatibhvn 🇮🇳 🇮🇳

DefenceMinIndia PMOIndia HMOIndia upp_2800gp myogiadityanath yadavakhilesh TheLallantop aajtak ABPNews मा० मुख्यमंत्री जी पुलिस स्मृति दिवस पर पुलिस की सबसे बडी समस्या बार्डर स्कीम और वेतन विसंगति दुर करने की कृपा करे

पीलीभीतः धान की तौल ना होने पर किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, मचा हड़कंपफंदा लगाकर आत्महत्या की कोशिश करने वाले किसान को वहां मौजूद किसानों ने किसी तरह रोका. वहीं, सूचना मिलने के बाद उप जिलाधिकारी मौके पर पहुंचे, जिसके बाद धान की तौल शुरू करा दी गई. ढोंगी है तो मुमकिन है

विभिन्न मानवाधिकार उल्लंघनों के बीच आयोग के अध्यक्ष द्वारा सरकार की तारीफ़ के क्या मायने हैंजिस राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को देशवासियों के मानवाधिकारों की रक्षा करने, साथ ही उल्लंघन पर नज़र रखने के लिए गठित किया गया था, वह अपने स्थापना दिवस पर भी उनके उल्लंघन के विरुद्ध मुखर होने वालों पर बरसने से परहेज़ न कर पाए, तो इसके सिवा और क्या कहा जा सकता है कि अब मवेशियों के बजाय उन्हें रोकने के लिए लगाई गई बाड़ ही खेत खाने लगी है? ashoswai Inko b rajyasabha ya loksabha jana hoga tabhi to desh ko barbaad krne walo k gungaan kr the.. योगी और मोदी का एकी नारा.....! 'ना घर बसा हमारा' 'ना बसने देगे तुम्हारा'।

LOC के दौरे पर आर्मी चीफ: गैर कश्मीरियों की हत्या के बीच सेना प्रमुख 2 दिन के जम्मू दौरे पर, व्हाइट नाइट कोर ने LOC के हालात बताएकश्मीर में गैर कश्मीरियों पर बढ़ते हमलों के बीच आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे मंगलवार को 2 दिन के दौरे पर जम्मू पहुंचे। उन्होंने यहां LoC के फॉरवर्ड बेस में तैनात व्हाइट नाइट कोर के जवानों से मुलाकात की। इस दौरान उन्हें कोर के सैन्य अधिकारियों ने LOC पर हालात की जानकारी दी। | Army chief General M M Naravane visits forward areas along LoC in Jammu, कश्मीर में गैर कश्मीरियों पर बढ़ते हमलों के बीच आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे मंगलवार को 2 दिन के दौरे पर जम्मू पहुंचे। उन्होंने यहां LoC के फॉरवर्ड बेस में तैनात व्हाइट नाइट कोर के जवानों से मुलाकात की। आखिर तेजीसे संख्यावृद्धि करतेइन बांग्लादेशीघुसपैठियोंको भारतीय simcards किसने दिए: ८८५८२६५२६ (यूसुफ अली), ९००५५९९२२५ (शरीफुद्दीन), ९०४४१४४५०१ (अब्दुल रहीम अली) यहदेशविरोधी भ्रष्टाचारको सिद्धकरताहै narendramodi PMOIndia AmitShah CMyogiUPLKO DrMohanBhagwat NITIAayog HMOIndia

सार्थक दिवाली की सलाह पड़ी कोहली पर भारी, ट्विटर पर ट्रैंड हुआ सुनो कोहली (वीडियो)विराट कोहली ने पिछले साल ट्विटर पर अपने फैंस को दिवाली पर पटाखे ना चलाने की सलाह दी थी। इसके बाद उन्हें ऑनलाइन ट्रोलिंग सहनी पड़ी थी।

जनसंख्या नियंत्रण के प्रभावी उपायों पर जोर, सभी पहलुओं पर दिया जाए ध्यानभारत की भौगोलिक आर्थिक एवं सामाजिक स्थितियों को जनसंख्या वृद्धि दर के चश्मे से देखते हुए और अन्य विकसित देशों के तुलनात्मक अध्ययन करने का सही समय आ चुका है लेकिन कानून लाने से पहले देश को इसके लिए तैयार करना आवश्यक है।

Jammu Kashmir के दौरे पर पहुंचे सेना प्रमुख, जवानों से की मुलाकातसेना प्रमुख जनरल मनोज मुकंद नरवणे आज पुंछ जिले में लाइन ऑफ कंट्रोल के पास फॉरवर्ड एरिया में जाकर जवानों से मिले. इस दौरान अधिकारियों ने उन्हें सुरक्षा की स्थिति और काउंटर टेरर ऑपरेशन्स की जानकारी दी. पिछले कुछ दिनों से बढ़ रही आतंकी घटनाओं को देखते हुए उनका यह दो दिन का दौरा काफी अहम माना जा रहा है. बता दें कि पुंछ और राजौरी में सेना आतंकियों के खात्मे के लिए बड़े पैमाने पर एंटी टेरर अभियान चला रही है. ज्यादा जानकारी के लिए देखें वीडियो.