China, Scientistdeath, Chinese Nuclear Scientist Death, Chinese Nuclear Scientist, Harbin Engineering University Vp, Zhang Zhijian, Nuclear Scientist Mysterious Death, China Top Nuclear Scientist Died, World News İn Hindi, World News İn Hindi, World Hindi News

China, Scientistdeath

चीन : रहस्यमयी परिस्थिति में शीर्ष एटमी वैज्ञानिक इमारत से गिरे, मौत

चीन : रहस्यमयी परिस्थिति में शीर्ष एटमी वैज्ञानिक इमारत से गिरे, मौत #China #ScientistDeath

19-06-2021 22:12:00

चीन : रहस्यमयी परिस्थिति में शीर्ष एटमी वैज्ञानिक इमारत से गिरे, मौत China ScientistDeath

चीन के शीर्ष परमाणु वैज्ञानिक और हार्बिन इंजीनियरिंग विश्वविद्यालय के उपाध्यक्ष झांग झिजियान की रहस्यमय हालात में

यूनिवर्सिटी ने एक बयान में कहा कि हार्बिन इंजीनियरिंग विवि को यह बताते हुए काफी दुख हो रहा है कि प्रोफेसर झांग झिजियान एक इमारत से गिर गए और 17 जून को उनकी मृत्यु हो गई। झांग की मौत के बारे में कोई अन्य आधिकारिक बयान नहीं आया और उनका नाम शुक्रवार तक विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर नेतृत्वकर्ता सूची में बना रहा।

भारत के विकास में कोरोना ने लगाया ब्रेक: GDP ग्रोथ का अनुमान घटाने पर IMF चीफ इकोनॉमिस्ट ने NDTV से कहा.. पुराने मोबाइल फोन और लैपटॉप से बने हैं Tokyo Olympics 2020 में मिलने वाले मेडल पेगासस जासूसी: ममता बनर्जी ने मोदी सरकार को दी चुनौती

झांग यहां कॉलेज ऑफ न्यूक्लियर साइंस एंड टेक्नोलॉजी में प्रोफेसर थे। वे विवि में कम्युनिस्ट पार्टी कमेटी की स्थायी समिति के सदस्य भी थे। उन्हें 2019 में परमाणु ऊर्जा सिमुलेशन और सुरक्षा अनुसंधान में उनके योगदान के लिए कियान सैनकियांग प्रौद्योगिकी पुरस्कार भी दिया गया था। झांग को पिछले साल मई में केंद्र सरकार से नवाचार में उत्कृष्टता के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला था।

दो दिन पूर्व ही विवि में हुई थी नई नियुक्तिशीर्ष परमाणु वैज्ञानिक झांग झिजियान की मृत्यु से दो दिन पहले विश्वविद्यालय ने कॉलेज ऑफ अंडरवॉटर एकोएस्टिक इंजिनियरिंग के पूर्व डीन 41 वर्षीय यिन जिंगवेई को एक नया उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया था। विश्वविद्यालय का सेना के साथ घनिष्ठ संबंध है। headtopics.com

विस्तार एक इमारत से गिरने से मौत हो गई है। वे चीन की एटमी सोसाइटी के उपाध्यक्ष भी रहे हैं। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की खबर के मुताबिक, विश्वविद्यालय ने कहा है कि पुलिस ने घटनास्थल पर जांच से बहुत ज्यादा जानकारी न मिलने के कारण हत्या होने से इनकार कर दिया है।

विज्ञापनयूनिवर्सिटी ने एक बयान में कहा कि हार्बिन इंजीनियरिंग विवि को यह बताते हुए काफी दुख हो रहा है कि प्रोफेसर झांग झिजियान एक इमारत से गिर गए और 17 जून को उनकी मृत्यु हो गई। झांग की मौत के बारे में कोई अन्य आधिकारिक बयान नहीं आया और उनका नाम शुक्रवार तक विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर नेतृत्वकर्ता सूची में बना रहा।

झांग यहां कॉलेज ऑफ न्यूक्लियर साइंस एंड टेक्नोलॉजी में प्रोफेसर थे। वे विवि में कम्युनिस्ट पार्टी कमेटी की स्थायी समिति के सदस्य भी थे। उन्हें 2019 में परमाणु ऊर्जा सिमुलेशन और सुरक्षा अनुसंधान में उनके योगदान के लिए कियान सैनकियांग प्रौद्योगिकी पुरस्कार भी दिया गया था। झांग को पिछले साल मई में केंद्र सरकार से नवाचार में उत्कृष्टता के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला था।

दो दिन पूर्व ही विवि में हुई थी नई नियुक्तिशीर्ष परमाणु वैज्ञानिक झांग झिजियान की मृत्यु से दो दिन पहले विश्वविद्यालय ने कॉलेज ऑफ अंडरवॉटर एकोएस्टिक इंजिनियरिंग के पूर्व डीन 41 वर्षीय यिन जिंगवेई को एक नया उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया था। विश्वविद्यालय का सेना के साथ घनिष्ठ संबंध है। headtopics.com

IPS राकेश अस्थाना की नियुक्ति पर हंगामा, AAP विधायक दिल्ली विधानसभा में उठाएंगे मुद्दा महाराष्ट्र : कोरोना से जान गंवाने वालों में 95% ने नहीं लगावाया था टीका, चिकित्सा शिक्षा विभाग का अध्ययन महाराष्ट्र कैबिनेट का बड़ा फैसला, छात्रों को राहत, निजी स्कूलों को करनी होगी फीस में 15% कटौती

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

10तक: किसानों की औसत आय इंटरनेट बिल के बराबर! क्या है कृषि कानूनों का सच

लोकसभा में चुनकर आने वाले 39 सांसद अपना पेशा खेती-बाड़ी बताते हैं. संसद में 206 सांसद अपना पेशा कृषि बताते हैं. यानी लोकसभा में कुल 245 सांसदों का प्रोफेशन खेती-किसानी है. वहां किसानों के साथ ऐसा सलूक? खुद को किसान बताने वाले लोकसभा सांसदों की औसत संपत्ति जहां 18 करोड़ रुपए है. वहीं देश में किसानों की महीने की आय शहरों के कई परिवारों के महीने के मोबाइल, लैंडलाइन, इंटरनेट बिल के बराबर है यानी 30 दिन की कमाई औसत 8931 रुपए. देखें 10तक.

'चीन बना रहा सैन्य हवाई अड्डा और कुंभकर्ण मोड में मोदी सरकार'भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी अपने ट्वीट के जरिए आंतरिक सुरक्षा और विदेश संबंधों को लेकर केंद्र सरकार को घेरते रहते हैं। राफेल के आते ही चीन और पाकिस्तान दोनों कांपने लगे थे!आप को नहीं पता क्या!पक्का आप पर देशद्रोह का मुक़दमा दर्ज होना चाहिये।

म्यांमार के सैन्य शासक को लेकर UN में चीन और भारत रहे साथ - BBC Hindiम्यांमार में सैन्य तख़्तापलट के बाद उसे हथियार ख़रीदने से रोकने के एक प्रस्ताव पर संयुक्त राष्ट्र ने मुहर लगा दी है. लेकिन इस प्रस्ताव पर मतदान के दौरान उसके पड़ोसी भारत और चीन समेत 36 देश अनुपस्थित रहे. समजें.. म्यांमार के सबसे बड़े हथियार निर्यातक देश हैं, रूस और चीन उनका तो रुख स्पष्ट है। बात रही भारत की तो विदेशनीति यो भारत का रुख कभी स्पष्ट रहा ही नही.!

डोनाल्ड ट्रंप बोले- कोरोना से भारत हुआ तबाह, चीन दे मुआवजापूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गुरुवार को कहा कि भारत कोरोना वायरस महामारी से तबाह हो गया है. ट्रंप ने यह भी कहा कि चीन को विश्व स्तर पर कोरोना वायरस फैलाने के लिए कथित तौर पर जिम्मेदार होने के लिए अमेरिका को 10 ट्रिलियन अमरीकी डॉलर का भुगतान करना चाहिए. Right india govt two act bana de tho shamshaya hamesh ke ley dur ho jaye ge1borrowers protection Act 2 customer and borrowers central inform ( As a cibil) es me borrowers and customer banks and NBFCs ki feed back kare jase cibil customer ke rating kar te hey wase he bank or NBFCs

फैसला: जनसंख्या नीति में बदलाव करेगा चीन, बच्चे पैदा करने वाले प्रतिबंध 2025 तक हटा लेगी सरकारफैसला: जनसंख्या नीति में बदलाव करेगा चीन, बच्चे पैदा करने वाले प्रतिबंध 2025 तक हटा लेगी सरकार China Population 2025 शांति प्रिय जमात के लिए सुनहरा मौका, चाइना जा कर बस जाए, और रोज बच्चे पैदा करे।

बाज नहीं आ रहा चीन, ताइवान के हवाई क्षेत्र में फिर घुसे उसके लड़ाकू विमान, छठी बार की घुसपैठचीन द्वीपीय क्षेत्र ताइवान को डराने की करतूत से बाज नहीं आ रहा है। उसके लड़ाकू विमानों ने गुरुवार को फिर इसके हवाई क्षेत्र का उल्लंघन किया। इस महीने छठी बार चीनी लड़ाकू विमानों ने इस स्वायत्त क्षेत्र में घुसपैठ की है।

जानें- तियांहे के निर्माण के लिए अंतरिक्ष में भेजे गए चीन के मानव मिशन पर नासा की प्रतिक्रियाचीन के अंतरिक्ष में मानव मिशन भेजे जाने पर नासा ने बेहद सधी हुई प्रतिक्रिया दी है। नासा ने चीन को इसके लिए बधाई दी है साथ ही कहा है कि वो इससे होने वाली खोजों का इंतजार करेगा।