चीन ने सीमा विवाद पर भारत से की शांतिपूर्ण समाधान की पेशकश, कहा- मुद्दों को विवाद नहीं बनने देना चाहिए - BBC Hindi

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में टॉपर बने बिहार के शुभम लाइव अपडेट:

24-09-2021 19:26:00

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में टॉपर बने बिहार के शुभम लाइव अपडेट:

भारत में चीन के राजदूत सन वीडॉन्ग ने एक समारोह में भारत-चीन संबंधों में जहां सहयोग और समन्वय की बात की वहीं, पश्चिमी देशों से सहयोग को लेकर चेताया भी.

उन्होंने भारत-चीन सीमा विवाद को परस्पर सहयोग और संवाद से हल करने की बात कही, साथ ही सीमा विवाद को अन्य द्विपक्षीय संबंधों जैसे आर्थिक संबंधों से अलग रखने की सलाह दी और पश्चिमी देशों से भारत की नज़दीकी को लेकर भी चेतावनी दी.SOPA IMAGESCopyright: SOPA IMAGES

समीर वानखेड़े के पिता दलित थे और मां मुस्लिम, फर्जी सर्टिफिकेट से पाई नौकरी : नवाब मलिक जनता से जुड़े मुद्दों पर कांग्रेस के रुख को जमीनी स्तर तक पहुंचाएं पार्टी नेता : सोनिया गांधी Petrol, Diesel Price Today : कहीं 116 तो कहीं 113 रुपये बिक रहा पेट्रोल, चेक कर लें आपके शहर में क्या है रेट

सन वीडॉन्ग ने कहा, “पिछले साल भारत-चीन संबंधों में ऐसी परेशानियां आईं जो पिछले कई सालों में नहीं देखी गई थीं. दोनों के संबंध बेहद निचले स्तर पर आ गए.”“वर्तमान में एक तरफ दुनिया अशांति और परिवर्तन के दौर में प्रवेश कर रही है, तो दूसरी तरफ कोविड महामारी अब भी फैल रही है और वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुस्ती बनी हुई है. अफ़ग़ानिस्तान में हुए बदलाव ने क्षेत्रीय स्थिति पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाला है. दो सबसे बड़े विकासशील देशों और उभरती अर्थव्यवस्थाओं के रूप में, चीन और भारत को समन्वय और सहयोग को मजबूत करना चाहिए.”

उन्होंने कहा, “चीन और भारत को अपने मतभेदों को ठीक से संभालना चाहिए और उन्हें विवाद नहीं बनने देना चाहिए. हमें द्विपक्षीय संबंधों में सीमा मुद्दे को उचित स्थान पर रखना चाहिए और बातचीत व परामर्श के ज़रिए एक निष्पक्ष और स्वीकार्य समाधान की तलाश करनी चाहिए. चीन भारत-चीन सीमा मुद्दे का उचित समाधान निकालने के लिए हमेशा सकारात्मक रहा है. headtopics.com

GETTY IMAGESCopyright: GETTY IMAGESकारोबार को सीमा विवाद से अलग रखने की सलाहसन वीडॉन्ग ने कहा, “हमें द्विपक्षीय संबंधों को एकतरफा न होकर व्यापक दृष्टिकोण से देखना चाहिए. उदाहरण के लिए, सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति महत्वपूर्ण है, लेकिन यह द्विपक्षीय संबंधों की पूरी कहानी नहीं है.”

“दोनों देशों के बीच आर्थिक और व्यापारिक सहयोग की अपार संभावनाएं हैं.हालांकि, इसे पिछले साल से भारत के जानबूझकर लगाए गए प्रतिबंधों का सामना करना पड़ा है. हमें दीवारों के बजाय पुलों का निर्माण करना चाहिए. यह आशा की जाती है कि भारत चीनी कंपनियों को भारत में निवेश और संचालन के लिए एक निष्पक्ष, न्यायसंगत और गैर-भेदभावपूर्ण कारोबारी माहौल प्रदान करेगा.

REUTERSCopyrightCopyright: REUTERSCopyrightपश्चिमी देशों पर निशानासन वीडॉन्ग ने पश्चिमी देशों के साथ भारत के संबंधों से कोई फायदा ना होने की बात कही.वर्तमान में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी क्वाड की बैठक के लिए अमेरिकी दौरे पर हैं. यहां वो क्वाड के सदस्य देश अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के प्रमुखों से मुलाक़ात करने वाले हैं.

चीन कहता रहा है कि क्वाड के ज़रिए उसकी बढ़ती ताकत को रोकने की कोशिश की जा रही है.पश्चिमी देशों से भारत के संबंधों को लेकर सन वीडॉन्ग ने कहा, “दो प्रमुख पूर्वी देशों के तौर पर चीन और भारत को पुरानी पश्चिमी सोच के जाल में फंसने से बचना चाहिए. दोनों पक्षों की पहली ज़िम्मेदारी विकास लाना और अपने मामलों पर ध्यान केंद्रित करना है.” headtopics.com

'हज़ारों किसान मौजूद थे, सिर्फ 23 चश्मदीद गवाह मिले...?' : लखीमपुर हिंसा पर SC का सवाल आर्यन खान होंगे रिहा या जेल में ही रहेंगे? जमानत अर्जी पर आज हाईकोर्ट में सुनवाई मध्य प्रदेश : रेप के मामले में 6 महीने से फरार चल रहा कांग्रेस विधायक का बेटा अरेस्ट

“कुछ देशअपने वैचारिक पूर्वाग्रह और शीत युद्ध की मानसिकता के साथ तीसरे पक्ष को निशाना बनाने के लिए छोटे गुट बनाने में जुटे हैं ताकि टकराव बढ़ सके और भू-राजनीतिक खेल खेले जा सकें. गुट बनाने से किसी देश के विकास में फायदा नहीं होगा और ना ही कोई ज़्यादा सुरक्षित हो जाएगा.”

और पढो: BBC News Hindi »

आज की पॉजिटिव खबर: पारंपरिक खेती छोड़ नीरव ने 3 साल पहले मोतियों की खेती शुरू की, अब सालाना 5 लाख रुपए कमा रहे हैं मुनाफा

सूरत के रहने वाले नीरव पटेल एक किसान परिवार से ताल्लुक रखते हैं। उनके पिता पारंपरिक खेती करते थे, लेकिन कमाई उतनी नहीं होती थी। कभी मौसम की मार तो कभी मार्केट में सही कीमत नहीं मिलने से वे परेशान रहते थे। इसके बाद 2018 में नीरव ने मोतियों की खेती करना शुरू किया। इसका उन्हें फायदा भी मिला और पहले ही साल अच्छी आमदनी हुई। फिलहाल वे 5 तालाबों में मोतियों की खेती कर रहे हैं और सालाना 5 लाख रुपए का मुना... | Aaj Ki Positive Story : Know all about pearl Farming, It's Cultivation and Marketing Process

Armies 9cla

iQoo Z5: चीन में लॉन्च हुआ यह नया स्मार्टफोन, 27 सितंबर को है भारत में लॉन्चिंगIQoo ने अपने इस स्मार्टफोन में ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिया है। इसके अलावा इसके साथ 120Hz रिफ्रेश रेट वाली डिस्प्ले मिलती

भारत में COVID-19 के एक्टिव केसों की तादाद 188 दिन में सबसे कम हुईभारत में COVID-19 के एक्टिव केसों की तादाद 188 दिन में सबसे कम हुई CoronavirusUpdates अभी कम तो होगा ही मोडई उड़न छू जो हो गया है अभी मोडई जी विदेश गए है ,,हक़ीक़त को छुपाना ज़रूरी है,,बात में फिर बढ़ा देना Very good news

भारत में लगातार दूसरे दिन 30,000 से ज्यादा मामले, 24 घंटे में 318 की मौतस्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,35,94,803 हुई coronavirus Corona CoronavirusUpdates COVID19 CoronaVaccine coronaupdate

इंदौर: कपड़े की दुकानों में भीषण आग, शॉर्ट सर्किट की आशंका, काबू पाने की कोशिश जारीसेंट्रल कोतवाली थाना क्षेत्र रिव्हर साइड रोड पर भीषण आग लग गई है। घटना के बाद फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर मौजूद है।

भारत की ‘अग्नि’ से जला चीन- Talking Point with Kishore Ajwani |भारत की नई AGNI V इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (Intercontinental-Range Ballistic Missile, ICBM ) का Launch Test चीन (China)और पाकिस्तान (Pakistan)के लिए... KishoreAjwani एडिट प्लीज ..भारत की अग्नि से चीन के साथ जले मोदीविरोधी भारतीय। KishoreAjwani Testing report abhi tak koi newschannel nahi diya

भारत की महामिसाइल Agni-5 से डरे चीन और पाकिस्तान, 8वां परीक्षण अभी नहीं...भारत अपनी सामरिक शक्ति में लगातार बढ़ोतरी कर रहा है। अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-5 भी जल्द ही भारत के बेड़े में शामिल होने जा रही है। DRDO अब तक परमाणु मिसाइल अग्नि-5 के 7 परीक्षण कर चुका है, लेकिन जंगी बेड़े में शामिल होने के बाद यह पहला परीक्षण है।