चीन के खिलाफ क्यों सड़क पर उतरे पाकिस्तानी? सवाल पर भड़का चीनी विदेश मंत्रालय

सीपीईसी योजना को लेकर भारतीय पत्रकार ने पूछा सवाल #China #Pakistan #RE

China, Pakistan

02-12-2021 02:30:00

सीपीईसी योजना को लेकर भारतीय पत्रकार ने पूछा सवाल China Pakistan RE

चीन के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट यानी चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर (सीपीईसी) को लेकर लगातार विवाद सामने आते रहे हैं. चीन के विदेश मंत्रालय ने हाल ही में इस प्रोजेक्ट से जुड़ी एक घटना को पूरी तरह से खारिज किया है. चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन का कहना है कि इस प्रोजेक्ट को लेकर मीडिया का एक धड़ा फेक न्यूज फैला रहा है जिसे चीन दृढ़ता से खारिज करता है.

स्टोरी हाइलाइट्ससीपीईसी योजना को लेकर भारतीय पत्रकार ने पूछा सवालचीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने दिया जवाबचीन के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट यानी चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर (सीपीईसी) को लेकर लगातार विवाद सामने आते रहे हैं. पिछले हफ्ते एक मीडिया रिपोर्ट सामने आई थी जिसमें कहा गया था कि पाकिस्तान के ग्वादर बंदरगाह के तट पर चीनी ट्रॉलरों को मछली पकड़ने के खास अधिकार दिए गए हैं जिसे लेकर स्थानीय निवासियों में रोष है. इसके चलते ग्वादर में चीन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी हो रहे हैं. जब इसी मुद्दे को लेकर MASTV चैनल के एक पत्रकार ने चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन से सवाल किया तो वो भड़क गए. उन्होंने कहा कि इस प्रोजेक्ट को लेकर मीडिया का एक धड़ा फेक न्यूज फैला रहा है जिसे चीन दृढ़ता से खारिज करता है.

यूपी चुनाव: नोएडा में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल के ख़िलाफ़ एफ़आईआर - BBC Hindi

ग्वादर में चीन के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन की खबर को किया खारिजबता दें कि कुछ मीडिया आउटलेट्स ने बीते सोमवार को रिपोर्ट किया था कि पाकिस्तान के ग्वादर क्षेत्र में कुछ प्रदर्शन हो रहे हैं. ये प्रदर्शन इस क्षेत्र में रहने वाले स्थानीय निवासी कर रहे थे. इन प्रदर्शनकारियों का कहना था कि चीन के ट्रॉलर्स को यहां मछली पकड़ने को लेकर ज्यादा अधिकार दिए जा रहे हैं. इसके चलते स्थानीय लोगों के हालात बिगड़ सकते हैं और उनकी आजीविका पर नकारात्मक असर पड़ सकता है.

झाओ लिजियन ने अपनी ब्रीफिंग के दौरान कहा कि चीन मीडिया के उन प्रयासों को पूरी तरह से खारिज करता है जिसके तहत सीपीईसी प्रोजेक्ट और चीन पाकिस्तान के रिश्तों को धूमिल करने की कोशिश की जा रही है. लिजियन ने इसके अलावा कहा कि चीन हमेशा आपसी सम्मान और आम सहमति के सिद्धांत का पालन करते हुए ही सहयोग को आगे बढ़ा रहा है. headtopics.com

लिजियन ने कहा कि पत्रकार जिन हालात के बारे में बात कर रहे हैं, उन्हें उसकी जानकारी नहीं है. लेकिन चीन ने इस मामले में वेरीफिकेशन की है और हम दावे के साथ कह सकते हैं कि मीडिया द्वारा फैलाई जा रही तथाकथित तनाव की खबर फर्जी है. झाओ लिजियन ने इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ये पूरी तरह से फेक न्यूज है. उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में वेरिफिकेशन किया गया है और वहां कोई चीनी ट्रॉलर नहीं था जो मछली पकड़ने या डॉकिंग के लिए ग्वादर पोर्ट क्षेत्र गया था. उन्होंने कहा कि ग्वादर पोर्ट सीपीईसी की एक प्रमुख परियोजना है. इस परियोजना का मुख्य मकसद पोर्ट का विकास और लोगों की आजीविका को बेहतर करना है.

चुनाव आयोग ने पत्रकारों को भी पोस्टल बैलट के जरिए वोट डालने की दी इजाजत - BBC Hindi

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

और पढो: AajTak »

यूपी चुनाव और आज का मुसलमान

यूपी चुनाव और आज का मुसलमान

JusticeForRailwayStudent railway_exam_calander railway_hay_hay JusticeForRailwayStudent JusticeForRailwayStudents JusticeForRailwayStudents JusticeForRailwayStudents

टेनिस: चीन में नहीं होगा कोई टूर्नामेंट, पेंग शुआई की सुरक्षा को लेकर लिया गया फैसलाटेनिस: चीन में नहीं होगा कोई टूर्नामेंट, पेंग शुआई की सुरक्षा को लेकर लिया गया फैसला WomenTennisAssociation China TennisTournament PengShuai

कोविड वैक्सीनः अमेरिका के कई सैनिकों ने नहीं लगवाया टीका, क्या हो सकती है कार्रवाई - BBC News हिंदीयूएस नेवी ने एक आदेश में कहा था कि जिन सैनिकों ने छूट न होने के बाद भी टीकाकरण नहीं करवाया है उन्हें बाहर किया जा सकता है. JusticeForRailwayStudents JusticeForRailwayStudents JusticeForRailwayStudents No jumalebaazi, बीके हुए मीडिया वालों तुम्हारी मरी हुई आत्मा को शांति PMOIndia ravishndtv AshwiniVaishnaw ndtvindia New world order is coming soon

4 दिसंबर को लगेगा साल का अंतिम सूर्य ग्रहण, ज्योतिष के अनुसार क्या करना चाहिए और क्या नहींSurya Grahan 2021: साल का अंतिम सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर को लगने जा रहा है। भारत में सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) नहीं दिखाई देगा, जिस वजह से सूतक काल मान्य नहीं ... Kyu ap koi jyotish hai jo bta rahe hai

देवास में अनोखी बकरी: दोपहर में एक आंख की बकरी ने लिया जन्म, देखने के लिए लगा हुजूम, शाम को दम तोड़ादेवास जिले के मोहसिन पुरा क्षेत्र में एक आंख वाली बकरी ने जन्म लिया। इस बकरी का जन्म अराफात खान के घर हुआ है। मामले की खबर फैलते ही अराफात के घर उसे देखने के लिए हुजूम लग गया। लोग इसे कुदरत का करिश्मा मान रहे थे। मंगलवार को इस अजूबा बकरी का जन्म हुआ था। हालांकि शाम काे उसकी मौत हो गई। | मंगलवार दोपहर एक आंख की बकरी ने लिया जन्म, बकरी देखने लगा हुजूम, शाम को तोड़ा दम Kudrat ka Karisma nahi BSDK...yea teri ya kisi aur ki kartut hai...wese jab tweet padha tab he pata lag gaya tha kiski bakri hai 😂😂😂 Unbelive😂👍 Kudarat ka karishama.

4 साल की 'मोगली गर्ल', जिसने खूंखार जानवरों के बीच जंगल में गुजारे दिनबच्ची जंगल में पालतू कुत्ते के साथ घास के बिस्तर पर सोती और जीवित रहने के लिए जंगली जामुन खाती थी. काफी खोजबीन के बाद उसे करीब दो हफ्ते के बाद जंगल से जिंदा बाहर निकालने में सफलता हासिल हुई. JusticeForRailwayStudent railway_exam_calander railway_hay_hay ❤️❤️❤️

रिटायरमेंट के दिन जूते की माला भेंट!: रीवा में यूनिवर्सिटी के डिप्टी रजिस्ट्रार से कर्मचारी यूनियन ने की हरकत; थैंक्यू कहकर दिया जवाबरीवा में अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय के डिप्टी रजिस्ट्रार लाल साहब सिंह से रिटायरमेंट के दिन विदाई समारोह में बदसलूकी का मामला सामने आया है। यूनिवर्सिटी के कर्मचारी यूनियन के पदाधिकारियों ने डिप्टी रजिस्ट्रार को जूते की माला भेंटकर मुर्दाबाद के नारे लगाए। जवाब में अफसर ने कहा-धन्यवाद, थैंक्यू। | Viral Video: Employees unions misbehaved with Deputy Registrar at Rewa APS University Creativity level ki tho daat deni padhegi 👏🏽👏🏽 Koon si baat thi Bhai Mahanata namarata se hi hashil hoti hai.