चीन ने टेस्‍ट किया हाइपरसोनिक मिसाइल, चीन के मिसाइल टेस्‍ट पर ओवैसी का सवाल, चीन के टेस्‍ट पर ओवैसी ने पूछा सवाल, ओवैसी का सरकार से सवाल, What İs Hypersonic Missile, Owaisi Questions On China Missile Test, Owaisi Questions Government, Owaisi Attack On Government, Owaisi Asked Question On China Test, China Tested Hypersonic Missile, भारत Samachar

चीन ने टेस्‍ट किया हाइपरसोनिक मिसाइल, चीन के मिसाइल टेस्‍ट पर ओवैसी का सवाल

चीन या अमेरिका में कौन सुपरपावर? हाइपरसोनिक मिसाइल पर ओवैसी ने दागा सवाल

चीन या अमेरिका में कौन सुपरपावर? हाइपरसोनिक मिसाइल पर ओवैसी ने दागा सवाल via @NavbharatTimes

17-10-2021 19:10:00

चीन या अमेरिका में कौन सुपरपावर? हाइपरसोनिक मिसाइल पर ओवैसी ने दागा सवाल via NavbharatTimes

चीन ने अगस्‍त में साइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण किया था। इस तरह की खबरें आने के कुछ घंटे बाद ही ओवैसी ने सरकार से सवाल किया। उन्‍होंने कहा कि इस पर सरकार क्‍या प्रतिक्रिया देगी।

अगस्‍त में चीन के हाइपरसोनिक मिसाइल के परीक्षण की खबरें आने के कुछ घंटे बाद ही AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने सरकार पर हमला किया। उन्‍होंने विदेश मंत्रालय से इस पर प्रतिक्रिया मांगी।इस बारे में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (AIMIM) के चीफ ओवैसी ने एक ट्वीट किया। इसमें उन्‍होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को भी टैग किया। उन्‍होंने पूछा, 'चीन या अमेरिका में से कौन सुपरपावर (बढ़ता या घटता हुआ) है। क्‍या विदेश मंत्रालय इस पर रिऐक्‍ट करेगा। चीन ने हाइपरसोनिक मिसाइल के साथ नई अंतरिक्ष क्षमता का टेस्‍ट किया है।'

नारायण राणे का दावा, मार्च में महाराष्ट्र में बीजेपी सरकार बनाएगी - BBC Hindi चीन और ताइवान को लेकर सोलोमन द्वीप में हिंसा, बुलाई गई ऑस्ट्रेलियाई पुलिस - BBC Hindi BJP विधायक ने किया स्टिंग ऑपरेशन: रात के अंधेरे में पुलिसवाले कर रहे थे वसूली, ट्रक ड्राइवर बनकर MLA मंगेश चव्हाण ने पकड़ा

ब्रिट‍िश अखबार फाइनेंशियल टाइम्‍स की रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने अंतरिक्ष से हाइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण किया है। बताया जाता है कि यह टेस्‍ट अगस्‍त में किया गया था।परीक्षण पूरी तरह सफल नहीं रहासूत्रों के हवाले से फाइनेंशियल टाइम्‍स ने बताया कि चीनी मिसाइल का परीक्षण पूरी तरह से सफल नहीं रहा। यह अपने लक्ष्‍य से मात्र 32 किमी की दूरी पर गिरी। चीन ने अपने हाइपरसोनिक ग्‍लाइड वीइकल को लॉन्‍ग मार्च रॉकेट से भेजा था। चीन अपने टेस्‍ट की अक्‍सर घोषणा करता है। हालांकि, अगस्‍त में हुए परीक्षण की उसने घोषणा नहीं की थी। इसे बेहद गोपनीय रखा गया।

पाकिस्‍तान को चेतावनी तो ठीक, लेकिन असली खतरा चीन तो नहीं... जानिए क्‍या कह रहे हैं एक्‍सपर्ट्सपारंपरिक बैलिस्टिक मिसाइलों की तरह हाइपरसोनिक मिसाइलें परमाणु हथियार डिलीवर कर सकती हैं। ये ध्वनि की गति से पांच गुना से ज्‍यादा रफ्तार से उड़ने में सक्षम होती हैं। बैलिस्टिक मिसाइलों के मुकाबले हाइपरसोनिक मिसाइलें अपने लक्ष्‍य को ज्‍यादा जल्‍दी भेद सकती हैं। हाइपरसोनिक मिसाइल का सबसे महत्वपूर्ण पहलू इसकी पैंतरेबाजी है। इससे इसे ट्रैक करना और बचाव करना कठिन हो जाता है। headtopics.com

आर्म्‍स रेस में कई देशएएफपी की एक रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका जैसे देशों ने क्रूज और बैलिस्टिक मिसाइलों से बचाव के लिए सिस्‍टम विकसित कर लिए हैं। हालांकि, हाइपरसोनिक मिसाइल को ट्रैक करने और इसे मार गिराने की क्षमता पर सवाल हैं।यूएस कांग्रेसनल रिसर्च सर्विस (CRS) की एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार, हाइपरसोनिक और अन्य तकनीकों में अमेरिका की बढ़त को देखते हुए चीन ने आक्रामक तरीके से इस दिशा में काम करना शुरू किया है।

अब अंतरिक्ष से कहीं भी परमाणु बम‍ गिरा सकेगा चीन, जानें भारत के लिए कितना बड़ा खतराइस परीक्षण की रिपोर्ट ऐसे समय आई है जब अमेरिका-चीन के बीच तनाव बढ़ गया है। साथ ही बीजिंग ने ताइवान के नजदीक सैन्य गतिविधियां तेज कर दी हैं। हाल ही में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा था कि उनके देश की नई हाइपरसोनिक परमाणु मिसाइलें अमेरिकी शहरों को तबाह करने में सक्षम हैं।

और पढो: NBT Hindi News »

दंगल: क्या अब्बाजान और चिलमजीवी ही यूपी चुनाव के मुद्दे हैं?

उत्तर प्रदेश में चुनाव का माहौल जैसे-जैसे गर्माता जा रहा है, नेताओं की जुबान तीखी होती जा रही है. समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने योगी सरकार को एक बार फिर चिलमजीवी कह के घेरा है. अखिलेश अक्सर चिलम फूंकने का आरोप लगाकर योगी आदित्यनाथ को घेरते रहे हैं. लेकिन चिलम के नाम पर अखिलेश को जवाब संत समाज की ओर से मिला है. कुछ साधु संतों ने इसे संतों का अपमान बताकर अखिलेश से माफी की मांग की है. आज दंगल में देखें क्या चिलम वाले बयान पर अखिलेश ने संतों की नाराजगी मोल ले ली है? और क्या 2022 के चुनाव में इसका असर पड़ेगा? देखें वीडियो.

ओवेशी का भौंकना जारी है। UIGHIR KI HALAT KAHAN KHARAB HSI?

दहशत: चीन ने अंतरिक्ष से किया महाविनाशक मिसाइल का परीक्षण, डिफेंस सिस्‍टम होंगे बेकारChina Tested Nuclear Capable Hypersonic Missile: चीन ने दुनिया में हथियारों की एक नई रेस शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि दुनिया में पहली बार ड्रैगन ने अंतरिक्ष में अपनी एक मिसाइल को भेजा। इस मिसाइल ने धरती का चक्‍कर लगाया और फिर लक्ष्‍य पर हमला किया।

दहशत फैलाने की कोशिश: चीन ने अंतरिक्ष से किया महाविनाशक मिसाइल का परीक्षण, अमेरिका हैरानदुनिया में महाशक्तिशाली बनने के लिए चीन हमेशा कोई न कोई गुप्त परीक्षण करता आया है। लेकिन इस बार चीन अपने मिशन को छुपा aukat hai unki, hamare pm ji shabashi de ate hai isro ko अब अमेरिका का डरना ही रह गया क्योकि वहाँ की जनता अपना मुखिया डरपोक चुन लिया और जिस देश का मुकिया डरपोक होगा उससे दुनियाँ क्या उसका खुद का देश नही डरेगा! और जहाँ डर नही वहाँ शक्ती नही!

केरल में 8000 से ज्यादा Corona केस, पिछले 24 घंटों में 67 लोगों ने गंवाई जानतिरुवनंतपुरम/श्रीनगर। केरल में शुक्रवार को जहां कोरोनावायरस (Coronavirus) 67 मरीजों की मौत हो गई वहीं, जम्मू- कश्मीर में पिछले 24 घंटे में महामारी से किसी की मौत नहीं हुई।

ईरान ने अफ़ग़ानिस्तान में मस्जिद पर हमले में शिया-सुन्नी की बात उठाई - BBC News हिंदीईरान ने अफ़ग़ानिस्तान में मस्जिद पर हमले को लेकर बयान जारी करते हुए इसे सीधे-सीधे शिया मुसलमानों के ख़िलाफ़ हिंसा बताया है और अपील की है कि इसे रोका जाना चाहिए. They have got an easy way to send MUSLIM in paradise. Shameful. पाकिस्तान की बर्बादी अफगानिस्तान से ही होगी सर यह बात सत्य है गांठ बांध लो

UP: मेले में कंधा टकराने से हुई झड़प, शख्स ने घर में घुसकर किया कत्लउत्तर प्रदेश के गाजीपुर में विजयदशमी के मेले में कंधा टकराने से हुई मामूली झड़प बड़े बवाल में तबदील हो गई. यहां कुछ लड़को ने गैंग बनाकर एक युवक के घर में घुसकर मारपीट शुरू कर दी, बचाने आए वृद्ध पिता केदार यादव की इन सबने मारकर हत्या कर दी और फरार हो गए.

चीन ने उड़ाई अमेरिका की नींद: अंतरिक्ष से ही दागी परमाणु मिसाइल, क्या होता है हाइपरसोनिक मिसाइल? जानेंफाइनेंशियल टाइम्स सूत्रों ने कहा कि हाइपरसोनिक ग्लाइड वाहन को लॉन्ग मार्च रॉकेट द्वारा ले जाया गया था. रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि चीन आमतौर पर अपने परीक्षणों की घोषणा करता रहा है लेकिन अगस्त महीने में हुए इस हाइपरसोनिक परीक्षण को चीन ने गुप्त रखा है. फ़ाइनल उपयोग, तो मानव पर ही किया जाएगा,देखिये वह दिन कब आएगा, मानव के विनाश के खजाने में एक और हीरा जुड़ गया, बधाई !मानवता को ... Ha ha ha ha ha What about India? Are not Chinese army standing Indian land?