Pchidambaram, P Chidambaram, Inx Media Case, P Chidambaram Plea, Supreme Court, Indrani Mukerjea, Inx Media Money Laundering Case - देश न्यूज़

Pchidambaram, P Chidambaram

चिदंबरम ईडी की हिरासत में जाना चाहते थे, कोर्ट ने उन्हें 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल भेज दिया

आईएनएक्स केस / चिदंबरम ईडी की हिरासत में जाना चाहते थे, कोर्ट ने उन्हें 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल भेज दिया #PChidambaram

06-09-2019 07:47:00

आईएनएक्स केस / चिदंबरम ईडी की हिरासत में जाना चाहते थे, कोर्ट ने उन्हें 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल भेज दिया PChidambaram

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम 15 दिन से सीबीआई की हिरासत में थे चिदंबरम ने कोर्ट से कहा- जब मैं ईडी के सामने सरेंडर को तैयार हूं तो मुझे जेल क्यों जाना चाहिए? विशेष जज ने कहा- चिदंबरम को जेड श्रेणी की सुरक्षा है, तिहाड़ में उन्हें अलग सेल में रखा जाए तिहाड़ भेजने के बारे में पूछे जाने पर चिदंबरम ने कहा- मुझे केवल इकोनॉमी की चिंता सुप्रीम कोर्ट ने चिदंबरम की जमानत अर्जी खारिज कर कहा- जांच करना पुलिस का विशेषाधिकार, अदालतों को उसमें दखल नहीं देना चाहिए | P Chidambaram , INX Media Case Update; Supreme Court refuses Arrest Bail to Chidambaram in ED Case

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम 15 दिन से सीबीआई की हिरासत में थेचिदंबरम ने कोर्ट से कहा- जब मैं ईडी के सामने सरेंडर को तैयार हूं तो मुझे जेल क्यों जाना चाहिए?विशेष जज ने कहा- चिदंबरम को जेड श्रेणी की सुरक्षा है, तिहाड़ में उन्हें अलग सेल में रखा जाएतिहाड़ भेजने के बारे में पूछे जाने पर चिदंबरम ने कहा- मुझे केवल इकोनॉमी की चिंता

इसराइल और यूएई की दोस्ती के मायने क्या हैं? ईरान की राह मुश्किल पाकिस्तान बोला- भारत पाँच रफ़ाल लाए या 500, हम तैयार हैं BJP के अविश्वास प्रस्ताव पर कांग्रेस का 'नहले पे दहला', CM अशोक गहलोत खुद लाएंगे विश्वास प्रस्ताव, 10 बड़ी बातें

सुप्रीम कोर्ट ने चिदंबरम की जमानत अर्जी खारिज कर कहा- जांच करना पुलिस का विशेषाधिकार, अदालतों को उसमें दखल नहीं देना चाहिएDainik BhaskarSep 05, 2019, 09:41 PM ISTनई दिल्ली. करीब 15 दिन सीबीआई हिरासत में रहे पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को विशेष अदालत ने 14 दिन के लिए तिहाड़ जेल भेज दिया। आईएनएक्स मीडिया केस में सीबीआई हिरासत की अवधि खत्म होने के बाद चिदंबरम को गुरुवार को कोर्ट में पेश किया गया था। उन्हें 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल में रहना होगा। न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के बारे में चिदंबरम से पूछा गया तो उन्होंने कहा- मुझे केवल इकोनॉमी की चिंता है। 

 राउस एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई के दौरान चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने कहा कि उनके मुवक्किल प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने सरेंडर करने के लिए तैयार हैं। वे ईडी के सामने सरेंडर करेंगे और ईडी उन्हें हिरासत में ले लेगा। चिदंबरम ने भी कहा कि मेरे खिलाफ कुछ नहीं मिला। जब मैं ईडी के सामने सरेंडर को तैयार हूं तो मुझे जेल क्यों जाना चाहिए? इस पर सीबीआई की तरफ से पेश सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भी हमारी दलील मानी है कि चिदंबरम सबूतों से छेड़छाड़ कर सकते हैं। 

 अलग सेल में रखे जाएंगे चिदंबरमविशेष जज अजय कुमार कुहार ने चिदंबरम को तिहाड़ भेजने के आदेश दिए। उन्होंने कहा कि चूंकि पूर्व वित्त मंत्री को जेड श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त है, इसलिए उन्हें तिहाड़ जेल में एक अलग सेल में रखा जाए। उन्हें अपने साथ दवाएं ले जाने की इजाजत रहेगी। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने भी आश्वासन दिया कि जेल में चिदंबरम को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी। 

 सुप्रीम कोर्ट भी ईडी के दावों से सहमत थीइससे पहले चिदंबरम ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से जुड़े मामले में दिल्ली हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत नहीं मिलने को शीर्ष अदालत में चुनौती दी थी। गुरुवार को शीर्ष अदालत ने अर्जी खारिज करते हुए कहा कि मनी ट्रेल को उजागर करना जरूरी है। सुप्रीम कोर्ट भी भी ईडी के उस दावे से सहमत थी कि आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ जरूरी है। जमानत देने से जांच पर असर पड़ सकता है। 

 सीबीआई की ओर से पेश हुए सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि चिदंबरम को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया जाना चाहिए। वे ताकतवर इंसान हैं, इसलिए उन्हें खुला नहीं छोड़ना चाहिए। इस पर चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने कहा कि हमने सबूतों से छेड़छाड़ की, इसका कोई सबूत नहीं है। 

 अग्रिम जमानत को अधिकार के तौर पर न देखें: सुप्रीम कोर्ट जस्टिस आर भानुमति और जस्टिस एएस बोपन्ना की बेंच ने कहा- आर्थिक अपराध से अलग तरीके से निपटा जाना चाहिए, क्योंकि यह देश की अर्थव्यवस्था को प्रभावित करता है। अग्रिम जमानत को किसी को उसके अधिकार के तौर पर नहीं दिया जा सकता। ये मामलों पर निर्भर करता है। इस केस में यह उचित नहीं है। एजेंसी को जांच के लिए पूरी स्वतंत्रता मिलनी चाहिए। इस स्थिति में जमानत देने से जांच प्रभावित हो सकती है।

'मोसाद और KGB को भी ले आओ': सुशांत केस में CBI जांच पर शिवसेना नेता संजय राउत का विवादित बयान शादी की उम्र 21 क्यों नहीं चाहतीं कुछ लड़कियाँ? प्रशांत भूषण केसः क्या आलोचना से सुप्रीम कोर्ट की प्रतिष्ठा कम होती है?

कोर्ट ने कहा कि अदालत का काम जांच प्रक्रिया की निगरानी करना है, ताकि कानूनी प्रावधानों का कोई उल्लंघन न करे। आरोपियों से पूछताछ और उससे पूछे जाने वाले प्रश्नों की प्रकृति का निर्णय जांच एजेंसी पर ही छोड़ देना चाहिए। जांच पुलिस का विशेषाधिकार है, अदालतों को उसमें दखल नहीं देना चाहिए।

बेंच ने कहा कि हमने प्रवर्तन निदेशालय की केस डायरी देखी है और मनी ट्रेल को उजागर करना जरूरी है। ईडी के दावे से सहमत हैं कि मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ जरूरी है। ईडी ने सीलबंद लिफाफे में कुछ दस्तावेज दिए थे। लेकिन हमने उन्हें नहीं देखा। इसके अलावा बेंच ने तीन तारीखों पर ईडी से हुई पूछताछ का ब्यौरा देने से जुड़ी अर्जी भी रद्द कर दी।

हाईकोर्ट ने 20 अगस्त को याचिका रद्द करते हुए कहा था- शुरुआती तौर पर चिदंबरम भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में किनपिंग लगते हैं। वे मौजूदा सांसद हैं, सिर्फ इसलिए अग्रिम जमानत नहीं दी जा सकती है। प्रभावी जांच के लिए हिरासत में लेकर पूछताछ जरूरी है। इस मामले में गिरफ्तारी से राहत देने से समाज में गलत संदेश जाएगा।

एयरसेल-मैक्सिस केस: चिदंबरम को अग्रिम जमानत मिलीसीबीआई अदालत ने एयरसेल-मैक्सिस केस में चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति को अग्रिम जमानत दे दी। कोर्ट ने यह फैसला ईडी और सीबीआई दोनों से जुड़े मामलों में दिया है। साथ ही अदालत ने चिदंबरम और कार्ति को निर्देश दिया है कि वे जांच एजेंसियों का सहयोग करें। जज ओपी सैनी ने ईडी से कहा कि 2018 में केस दर्ज करने के बाद आपने जांच के लिए कई बार तारीखें बढ़वाई। जांच में वैसे ही काफी देरी हो चुकी है और शुरुआत से ही सभी दस्तावेज आपके पास हैं। इसकी कोई संभावना नहीं है कि चिदंबरम ने ऐसा कोई अपराध किया है, जबकि वे सरकार में किसी पद पर नहीं हैं। उन पर 1.13 करोड़ रुपए की मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप गंभीर नहीं हैं। जबकि दयानिधि मारन के खिलाफ रिश्वत का आरोप है, लेकिन उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया।

 : वित्त मंत्री रहते हुए विदेशी निवेश की मंजूरी दी थी और पढो: Dainik Bhaskar »

चाणक्य नीति: हम स्वस्थ रहेंगे तब ही जीवन में सभी सुखों का लाभ उठा सकते हैं, इसीलिए जब तक शरीर स्वस्थ है, हम...

आचार्य चाणक्य की नीतियों का पालन करने पर हमारी कई समस्याएं दूर हो सकती हैं chanakya niti about good work, health is wealth, life management tips in hindi according to chanakya

he deserves

'गोल्डन गर्ल' सिंधु की तारीफ में कोरियाई कोच ने पढ़े कसीदे, बताई जीत की असली वजहभारत की विदेशी बैडमिंटन कोच किम जि हुन ने विश्व कप चैम्पियनशिप फाइनल में जापान की नोजोकी ओकुहारा की चुनौती को पस्त

ICICI बैंक ने सस्ता किया कर्ज, ब्याज दरों में की 0.10 फीसदी की कटौतीदेश में दूसरे नंबर के निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक आईसीआईसीआई बैंक ने लोन की ब्याज दरों में 0.10 फीसदी की कटौती कर दी

90 घंटे की पूछताछ में पी.चिदंबरम ने CBI को दिए 450 सवालों के जवाबजांच अधिकारियों ने उस दौरान उनसे लगभग 450 सवाल किए थे, जिनके पूर्व मंत्री ने जवाब भी दिए। सूत्रों के मुताबिक, ये प्रश्न फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) क्लियरेंस से जुड़े थे।

पी चिदंबरम की तिहाड़ जेल में गुजरी रातकांग्रेस के बड़े नेता में शुमार पी चिदंबरम तिहाड़ जेल में, कैसे गुजरी उनकी पहली रात. Bade log , kabhi bhi Ander bahar ho skte hai. बड़ी जल्दी ख़बर निकाल लाए हो बे .उसकी बग़ल में सोए थे क्या ? अब बड़े मगरमच्छों का नम्बर आएगा, इन लोगों ने भ्रष्टाचार करके देश की मूल आत्मा (पहचान) को भी हिला दिया था, चिदम्बरम पर और शक्ति होनी चाहिये,यह भाई100% फर्जी निकला ।

जेल नंबर 7-पोहा-चाय और एक तकिया: तिहाड़ में कुछ ऐसे बीती चिदंबरम की रातपूर्व वित्त मंत्री 19 सितंबर तक अब तिहाड़ जेल में ही न्यायिक हिरासत में रहेंगे. तिहाड़ जेल में पी. चिदंबरम की पहली रात एक सामान्य कैदी की तरह ही बीती. कोर्ट के आदेश पर उन्हें कुछ सुविधाएं जरूर मिली हैं, लेकिन अधिकतर सुविधाएं एक सामान्य कैदी की तरह ही मिल रही हैं. aviralhimanshu अच्छा चलता हूँ , गमलों मैं पानी देते रहना। aviralhimanshu Please मेरे कॉमेंट पर गौर करे । aviralhimanshu ABI E D KA KAM BAKI HE , NEXT LALU .🤪

विराट ने अपनी शर्टलेस फोटो शेयर की, यूजर्स ने कहा- चीकू का चालान कटा हैकोहली ने ट्वीट किया- जब हम अपने भीतर झांकते हैं तो बाहर तलाश करने की जरूरत नहीं होती नए ट्रैफिक नियम के तहत नियमों का उल्लंघन करने वालों पर पुलिस भारी जुर्माना लगा रही है | Virat Kohli: New Traffic Rule: Social Media Reaction On Virat Kohli Shirtless Picture Over Govt New Traffic Rule Challan kat gaya kya re tera ya bivi ne ghar se nikal diya