Chandrayaan2, Vikramlander, İsro Cheif Kv Sivan, Vikram Lander, Chandrayaan 2

Chandrayaan2, Vikramlander

चांद पर विक्रम लैंडर का पता चला, ऑर्बिटर ने भेजी पहली तस्वीर- ISRO चीफ सिवन

चांद पर विक्रम लैंडर के लोकेशन का पता चला- इसरो चीफ के. शिवन #Chandrayaan2 #VikramLander

08-09-2019 11:27:00

चांद पर विक्रम लैंडर के लोकेशन का पता चला- इसरो चीफ के. शिवन Chandrayaan2 VikramLander

Chandrayaan 2 से जुड़ी एक बड़ी जानकारी ISRO प्रमुख के. सिवन ने दी है. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

Updated:September 8, 2019, 2:02 PM ISTChandrayaan 2 से जुड़ी एक बड़ी जानकारी ISRO प्रमुख के. सिवन ने दी है.Updated:September 8, 2019, 2:02 PM ISTISRO चीफ के. सिवन ने चंद्रयान 2 (Chandrayaan 2) के बारे में बड़ी जानकारी दी है. News18 से के. सिवन ने कहा है कि हमने विक्रम लैंडर को चंद्रमा की सतह पर देखा है और ऑर्बिटर ने लैंडर की एक थर्मल तस्वीर क्लिक की. बता दें कि चंद्रमा की सतह से 2.1 किलोमीटर पहले ही विक्रम लैंडर से संपर्क टूट गया था.

महात्मा गांधी अब ब्रिटेन के सिक्कों पर भी नज़र आएंगे अमेरिका कोविड-19 के ख़िलाफ़ बहुत अच्छा कर रहा है, भारत में बेहद समस्या: ट्रंप अयोध्या में मंदिर शिलान्यास: पीएम मोदी के लाइव प्रसारण का विरोध क्यों?

हालांकि सिवन ने यह स्पष्ट किया है कि लैंडर विक्रम से अभी तक संपर्क स्थापित नहीं हो सका है. इसकी कोशिशें लगातार जारी हैं.News18 से बात करते हुए सिवन ने कहा कि तस्वीरों के जरिए Vikram Lander का पता लगा लिया गया है.शुक्रवार-शनिवार की रात होना था लैंडLander Vikram को 6-7 सितंबर की दरम्यानी रात चांद की सतह (Lunar Surface) पर लैंड होना था हालांकि 2.1 किलोमीटर रहते ही धरती के स्टेशन से उसका संपर्क टूट गया.

और पढो: News18 India »

राम का नाम लेकर बीजेपी ही नहीं, कांग्रेस का भी बनेगा काम? देखें दंगल

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का वो मौका आ गया है, जिसका इंतजार सभी को था. बीजेपी ने तो राम मंदिर के लिए अपना राजनीतिक आंदोलन चलाया लेकिन अब कांग्रेस के नेता भी खुलकर राम नाम ले रहे हैं. प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि राम सबके हैं और मंदिर निर्माण राष्ट्रीय एकता का मौका बने. कमलनाथ तो कांग्रेस की ओर से 11 चांदी की ईंटें भिजवा रहे हैं. हालांकि, जब राम नाम की ये धुन बज रही है तो भी राजनीति नहीं थम रही. इसलि‍ए आज हम पूछ रहे हैं सबके राम फिर क्यों संग्राम.

चाँद ने विक्रम की अगुवाई में 2 किलोमीटर जाकर अपने आलिंगन में लगाया जैसे कोई मित्र अपने मित्र को लेने घर से स्टेशन पहुचता है। ईश्वर का पूण आशीर्वाद हैं आप पर anilKum99516813 Congratulations sir Very Good... पिक्चर अभी बाकी हैं दोस्तों .... Badhaai ho This is what i'm waiting for,best of luck team isro ...yes we trust u,we r with u...go ahed✌

सम्पर्क टूट गया तो क्या हुआ वेद मंत्रों से कार्य सफल कर लो ये चन्द्र क्या चीज़ है पंडित लोग तो शनि की दशा तक बदल देते हैं अब करो साबित। 😆😆😆 Very Very Congrats to ISRO Chief Shri K Shivan Some Miracle is going to happen VikramLander IsroPerGarvHai Chandrayan2 Achii kbhar h भारतीय वैज्ञानिक है तो भारतीय झंडा बहुत जल्द चांद पर भी दिखाई देगा। विश्वास के साथ चलिए सफलता भी जरूर मिलेगी। सभी भारतीयों का प्यार इसरो टीम के साथ है। जय भारत, जय किसान जय विज्ञान।

करोड़ों हिन्दुस्तानी की दुआ isro के साथ है और narendramodi जी का विश्वास भी है. Aआज VikramLander की ऑर्बिटर से Locatio और तस्वीर मिली है. दृढ़ संकल्प से पता चला है और संपर्क भी होगा कोशिश भी कर उमीद भी रख रास्ता भी चुन, फिर इसके बाद थोड़ा सा मुक़द्दर तलाश कर. PROUDTOISRO मजा आ गया जी THE LOCAYION OF VIKRAM LANDER ON THE MOON WAS FOUND ISRO CHIEF K.K. SHIVAN CHANDRAYAAN2 VIKRAMLANDER

Thoda sa congrats annupatel77 😊 jai ho 🇮🇳🇮🇳🇮🇳 Ramsukh02930006 Good news 👏 Jay Sr. RAM

Chandrayaan-2 की ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ से पहले ISRO चीफ सिवन ने कहा All is wellबेंगलुरु। पूरी दुनिया के साथ ही साथ भारत के करोड़ों लोगों की निगाहें भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान एजेंसी इसरो (ISRO) पर टिकीं हुई हैं। ‘चंद्रयान 2’ के लैंडर ‘विक्रम’ की शुक्रवार और शनिवार की दरमियानी रात को चांद पर प्रस्तावित ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ से कुछ घंटों पहले इसरो अध्यक्ष के़ सिवन ने बताया कि इस बहुप्रतीक्षित लैंडिंग के लिए चीजें योजना के अनुसार आगे बढ़ रही हैं।

इसरो चीफ को गले लगाकर क्या बोले पीएम नरेंद्र मोदी, के सिवन ने बतायाisro nagarjund isro nagarjund We also with you ...ISRO... isro nagarjund चन्द्रयान2 इसरो के मेरे एक साथी बताते हैं कि मिशन की असफलता वैज्ञानिक कम प्रबंधकीय ज्यादा है। उनसे हुई बातों से कुछ नई चीजें पता लगी हैं जिससे रात 4 बजे लगे स्टेटस को मोडिफाई करके लगा रहा हूँ। इन चीजों का इन्वेस्टिगेशन जर्नलिस्ट्स को भी करना चाहिए। कृपया ध्यान दे दोषी_कौन_है

ISRO ने जारी किया बयान, कहा- मिशन 95% सफल, ऑर्बिटर 7 साल तक करेगा कामइसरो ने कहा है कि चंद्रयान-2 के साथ गया ऑर्बिटर अपनी कक्षा में स्थापित हो चुका है और ये अगले 7 साल तक काम कर सकता है. पहले एक साल तक ही इसके काम करने की गुंजाइश थी. इसरो ने कहा कि चंद्रयान-2 बेहद जटिल मिशन था, जो कि इसरो के पिछले मिशन की तुलना में तकनीकी रूप से बेहद उच्च कोटि का था. इस मिशन में ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर को एक साथ चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव की जानकारी लेने के लिए भेजा गया था. Good mr ISRO chief . A big thank from whole nation. चाँद पर मोदी मोदी होने ही वाला था 🚀🚀🚀🛸🛸 अचानक ही नेहरू जी बीच में आ गये 🤣🤣🤣🤣

ISRO ने कहा, 'मिशन चंद्रयान-2 बहुत जटिल, यह मिशन 95 फीसदी सफल रहा'भारतीय अनुसंधान संगठन (इसरो) ने मिशन 'चंद्रयान-2' को लेकर ट्वीट किया है जिसमें इस मिशन को बहुत जटिल बताया. isro हम होंगे कामयाब एक दिन मन में हैं विश्वास पूरा हैं विश्वास isro मिशन चंद्रयान 2 काफी जटिल था पर इसरो के वैज्ञानिकों ने पूरे दिल से लगन से मेहनत से इसे अंजाम दिया राष्ट्र आपके साथ है isro संपर्क टूटा है हौसला नहीं। विक्रम रूका हैं इसरो नहीं। मंज़िलें भी ज़िद्दी हैं, रास्ते भी ज़िद्दी हैं, कल वापस कोशिश करेंगे, क्योकि यहाँ हौंसले भी ज़िद्दी हैं ।। चांद्रयान की कामगिरी पर, आज भारतीय वैज्ञानिकों पर हमे गर्व है। सभी वैज्ञानिकोंका हार्दिक अभिनंदन । ।। जय हिंद ।।

दुनिया ने माना ISRO का लोहा, मॉरिशस बोला- विश्व लेगा भारत से प्रेरणालैंडर विक्रम से शनिवार को मिले झटके के बावजूद भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के चंद्रमा की ओर बढ़ने के प्रयास पर पूरी दुनिया ने गर्व व्यक्त किया है. कई देशों के प्रमुखों ने ISRO के प्रयासों को सराहा है. isro Failure is The Road To Success 😇🙏 isro बस मोदी जी .. isro Jaihind

कांग्रेस के इस नेता ने चंद्रयान-2 को लेकर ISRO के वैज्ञानिकों पर दिया बेतुका बयानउदित ने कहां हमारे इसरो वैज्ञानिकों ने अगर नारियल फोड़ने और पूजा पाठ के विश्वास के बजाय वैज्ञानिक शक्ति और आधार पर विश्वास करते तो अब तक मिली आंशिक असफलता का मुंह ना देखना पड़ता। नासा 10 और रशियन 11 बार, चीन और इस्राइल के भी चंद्र मिशन फेल हुए लेकिन इन देशों के नागरिकों ने कभी अपने देश का उपहास नहीं उड़ाया है लेकिन भारत में सालों सब्सिडी का उर्वरक देकर देशद्रोहियों और गद्दारों की ऐसी फसल तैयार की जो ऐसे मौके की तलाश में रहते हैं जब देश का उपहास उड़ा सके दलितों को सबसे ज्यादा बर्बाद करने वाले यही लोग हैं। जब सारा देश अपने वैज्ञानिकों को हिम्मत दे रहा है तो यह साहब अलग बनने की चक्कर में अलग ही दिखना चाहते हैं। Please ignore him.