Rahulgandhi, Charanjitsinghchanni, Punjabcm, Captainamarinder Singh, Punjab News, Punjab Today News, Punjab Latest Headlines, Punjab Chief Minister, Punjab Congress, Rahul Gandhi News, Congress President, Punjab Chief Minister Strategy

Rahulgandhi, Charanjitsinghchanni

चन्नी को पंजाब का कैप्टन बनाने के पीछे राहुल: 4 महीने पहले लिखी गई इस सियासी उलटफेर की कहानी, चुनावों से पहले राजनीति का मंझा हुआ खिलाड़ी साबित करने की कोशिश

चन्नी को पंजाब का कैप्टन बनाने के पीछे राहुल: 4 महीने पहले लिखी गई इस सियासी उलटफेर की कहानी, चुनावों से पहले राजनीति का मंझा हुआ खिलाड़ी साबित करने की कोशिश #RahulGandhi #CharanjitSinghChanni #PunjabCM @RahulGandhi @INCIndia @INCPunjab

20-09-2021 12:19:00

चन्नी को पंजाब का कैप्टन बनाने के पीछे राहुल: 4 महीने पहले लिखी गई इस सियासी उलटफेर की कहानी, चुनावों से पहले राजनीति का मंझा हुआ खिलाड़ी साबित करने की कोशिश RahulGandhi CharanjitSinghChanni PunjabCM RahulGandhi INCIndia INCPunjab

कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब के नए मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ले ली है। कांग्रेस आलाकमान ने रविवार को चन्नी को पंजाब का CM बनाने की घोषणा की थी। कांग्रेस के इस फैसले ने कई लोगों को हैरानी में डाल दिया। दरअसल, मुख्यमंत्री की रेस में सुनील जाखड़ का नाम सबसे आगे चल रहा था। माना जा रहा था कि कैप्टन की जगह जाखड़ ही लेंगे, लेकिन अंत में कहानी बदल गई। | Captain Amarinder Singh, Punjab News , Punjab Today News , Punjab Latest Headlines , Punjab Chief Minister , Punjab Congress , Rahul Gandhi News , Congress President , Punjab Chief Minister Strategy

चन्नी को पंजाब का कैप्टन बनाने के पीछे राहुल:4 महीने पहले लिखी गई इस सियासी उलटफेर की कहानी, चुनावों से पहले राजनीति का मंझा हुआ खिलाड़ी साबित करने की कोशिशनई दिल्ली12 मिनट पहलेकॉपी लिंककैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब के नए मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ले ली है। कांग्रेस आलाकमान ने रविवार को चन्नी को पंजाब का CM बनाने की घोषणा की थी। कांग्रेस के इस फैसले ने कई लोगों को हैरानी में डाल दिया। दरअसल, मुख्यमंत्री की रेस में सुनील जाखड़ का नाम सबसे आगे चल रहा था। माना जा रहा था कि कैप्टन की जगह जाखड़ ही लेंगे, लेकिन अंत में कहानी बदल गई।

महंगे पेट्रोल पर प्रियंका गांधी का तंज, हवाई चप्पल वालों का सड़क पर सफर भी मुश्किल पश्चिम बंगाल में बीजेपी नेता की गोली लगने से मौत, राजनीतिक विवाद तेज - BBC Hindi पाकिस्तान में महिला ने एक साथ सात बच्चों को दिया जन्म - BBC News हिंदी

पंजाब की इस सियासी उलटफेर के पीछे राहुल गांधी की अहम भूमिका मानी जा रही है। जानकारों का कहना है कि पंजाब में मुख्यमंत्री बदलने की रणनीति पर पिछले चार महीने से काम चल रहा था। वहीं, राज्य में सियासी हलचल बीते एक महीने से काफी तेज हो गई थी। नवजोत सिंह सिद्धू ने CM अमरिंदर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था।

सिद्धू को मिलता रहा राहुल का सपोर्टकैप्टन पर सिद्धू लगातार निशाना साधते रहे, लेकिन कांग्रेस आलाकमान ने उन पर कोई एक्शन नहीं लिया। इसके उलट सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बना दिया गया। इससे पता चलता है कि सिद्धू को राहुल और प्रियंका गांधी का पूरा सपोर्ट मिला है। पंजाब के लिए सिद्धू ही इनकी पहली पसंद माने जाते हैं। headtopics.com

पंजाब चुनाव सिद्धू की अगुआई में लड़ने की घोषणापंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत ने आगामी पंजाब विधानसभा चुनाव सिद्धू की अगुआई में लड़ने की घोषणा की है। रावत ने कहा कि इसे लेकर निर्णय कांग्रेस अध्‍यक्ष लेंगी, लेकिन मौजूदा स्थितियों में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के तहत CM कैबिनेट के साथ चुनाव लड़ा जाएगा, जिसके प्रमुख सिद्धू बेहद लोकप्रिय हैं।

राहुल गांधी पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए। उन्होंने चन्नी को बधाई दी।कलह के बीच शिमला में सोनिया-प्रियंकाकांग्रेस में मची कलह के बीच पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी शिमला में हैं। वहां उनकी बेटी प्रियंका गांधी पहले से मौजूद हैं। ऐसे में साफ हो जाता है कि पंजाब कांग्रेस की राजनीति में फिलहाल जो कुछ भी घट रहा है, उसके पीछे राहुल गांधी हैं।

मजबूत नेता के तौर पर पेश करने की कोशिशराहुल गांधी आज पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के शपथ ग्रहण समारोह में भी शामिल हुए। राजनीतिक जानकारों का कहना है कि राहुल फिर से कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं। लोकसभा चुनाव 2024 में नरेंद्र मोदी के खिलाफ राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने की भी चर्चा है। ऐसे में राहुल कुछ बड़े फैसले लेकर खुद को राजनीति का मंझा हुआ खिलाड़ी साबित करने की कोशिश में हैं।

गुटबाजी खत्म करने का प्रयासकैप्टन के खिलाफ सिद्धू की बगावत से पार्टी के भीतर गुटबाजी काफी तेज हो गई थी। खुद सिद्धू या जाखड़ को मुख्यमंत्री बनाने से इस गुटबाजी का खत्म होना मुश्किल लग रहा था। राहुल ने हाल ही में पार्टी चीफ सोनिया गांधी, सीनियर नेता अंबिका सोनी और अपने करीबियों के साथ बैठकें की थीं। साथ ही वह पिछले दो दिनों से चंडीगढ़ में केंद्रीय पर्यवेक्षकों के संपर्क में रहे और सभी पहलुओं को जानते-समझते रहे। headtopics.com

विभिन्न मानवाधिकार उल्लंघनों के बीच आयोग के अध्यक्ष द्वारा सरकार की तारीफ़ के क्या मायने हैं केरल में पिछले 24 घंटे में बारिश में आई कमी, मौसम विभाग का अब उत्‍तराखंड और वेस्‍ट यूपी को लेकर रेड अलर्ट चीन: विकास की रफ़्तार को अचानक 'ज़ोर का झटका' क्यों लगा? - BBC News हिंदी

चरणजीत सिंह चन्नी ने सोमवार को पंजाब के मुख्यमंत्री के रूप में कार्यभार संभाल लिया। इस मौके पर पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और पंजाब प्रभारी हरीश रावत मौजूद रहे।चन्नी को चुनकर राहुल ने दलित कार्ड खेलाCM चन्नी दलित नेता हैं। पंजाब में 32% दलित वोट बैंक है। इनमें सिख और हिंदू समाज के दलित शामिल हैं। राजनीतिक दलों ने इसे मुद्दा बनाना शुरू कर दिया। दलितों को बड़े पदों पर बैठाने की बात कहकर जातीय ध्रुवीकरण करने की कोशिश की गई।

इस तरह राहुल ने पंजाब की धरती से UP, राजस्थान और दूसरे राज्यों के लोगों को राजनीतिक संदेश देने की कोशिश की है। OBC पर डोरे डाल रही विरोधी पार्टियों के बीच राहुल गांधी और कांग्रेस ने यह फैसला लेकर दलित कार्ड खेला है।चुनाव में पार्टी को जीत दिलाने की चुनौती

पंजाब में अगले कुछ ही महीनों में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में पंजाब में हुए इस उलटफेर का कांग्रेस का फायदा हो या नुकसान, इसके लिए राहुल गांधी ही जिम्मेदार माने जाएंगे। 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का प्रदर्शन निराशाजनक रहा था। ऐसे में विधानसभा चुनाव में पार्टी को जीत दिलाना, राहुल के लिए आसान नहीं होगा।

और पढो: Dainik Bhaskar »

सियासी बवाल के बीच राहुल गांधी का दिल्ली से लखीमपुर का सफर, देखें टाइमलाइन

लखीमपुर खीरी में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के बाद का विवाद अबतक शांत नहीं हुआ है. लखनऊ एयरपोर्ट पर धरने के बाद आखिरकार राहुल गांधी को वहां से बाहर निकलने दिया गया है. एयरपोर्ट पर राहुल अपनी गाड़ी से जाएंगे या प्रशासन की गाड़ियों से इस पर विवाद हुआ था. अब राहुल गांधी और प्रियंका गांधी सीतापुर से लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुए और लखीमपुर में मृतक किसानों के परिवार से मिलने पहुंच चुके हैं. देखें राहुल गांधी के दिल्ली से लखीमपुर के सफर की पूरी टाइमलाइन.

RahulGandhi INCIndia INCPunjab खुद क्यों मुखयमंत्री नहींं बने,बेरोज़गारी खत्म होने का एक मौक़ा था

कैप्टन के इस्तीफे के बाद Punjab में कितनी बढ़ गईं Congress की मुश्किलें, समझिएकैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज अपने मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया. कैप्टन ने शाम को राज्यपाल के आवास पर जाकर अपना इस्तीफा थमा दिया. पंजाब की सियासत में सुबह से ही खलबली मची हुई थी. आज पंजाब में विधायक दल की एक बैठक होने वाली थी जिससे कैप्टन नाराज थे और इसके लिए उन्होंने सोनिया गांधी से भी बात की थी. इस्तीफा देने के बाद मीडिया से बात करते हुए कैप्टन ने कहा कि सोनिया गांधी जिसे चाहें उसे सीएम पद की कुर्सी सौंपे. अब तरह तरह के कयास लगाए जा रहे हैं कि पंजाब का अगला मुख्यमंत्री कौन बनेगा. लेकिन एक बात तो तय है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब में कांग्रेस के लिए मुश्किलें बढ़ जाएंगी. RPGAUTAMBSP कैप्टन साहब बोरी बिस्तर बांध लो बसपा आने वाली है

Punjab Congress LIVE: कैप्टन के इस्तीफे के बाद कांग्रेस किसे सौंपेगी पंजाब की कमान, विधायक दल की बैठक से पहले अंबिका सोनी के नाम की चर्चा तेजपंजाब की सियासत में पिछले कुछ महीनों से घमासान जारी है। शनिवार के दिन बड़ा सियासी घटनाक्रम देखने को मिला, जब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। प्रदेश कांग्रेस में गुटबाजी के बाद हुए इस फैसले में शीर्ष नेतृत्व की तरफ से भी सीधा संदेश भेजा गया। इस बीच आगामी विधानसभा चुनाव से पहले नए सीएम कैंडिडेट को लेकर मंथन भी शुरू हो गया है। पार्टी में बगावत और विरोध के सुरों के बीच आज 11 बजे विधायक दल की बैठक है। जानिए, हर अपडेट LIVE... राहुल गांधी को पंजाब का मुख्यमंत्री बन जाना चाहिए, वैसे भी प्रधानमंत्री बनने की संभावना दुर तक नहीं दिखाई देती हैं शिक्षक_ट्रांसफर_पोर्टल_चालू_करो ChouhanShivraj JM_Scindia Indersinghsjp माननीय चौराहों पर ये चर्चा ए आम है कि भाजपा शासन में सिर्फ आलपिन से काम है क्योंकि सच्चाई कभी दफन नहीं होती काला तो बहुत हो चुका, अब उस पर सफेद पोत दीजिये समदर्शी बनकर पोर्टल पुनः चालू कर दीजिये Replacing a 79yr old leader with a 78yr old won’t help the party in Punjab.

बिहार के पूर्व विधायक के खिलाफ ED की बड़ी कार्रवाई, 68 लाख की संपत्ति जब्तजानकारी के लिए बता दें कि ददन सिंह पर भी कई अपराधिक मामले दर्ज किए जा चुके हैं. यूपी और बिहार में अलग-अलग मामलों में उनके खिलाफ कई केस दर्ज हैं. इस बार ईडी ने अपनी कार्रवाई उन पांच FIR के आधार पर की है जो यूपी और बिहार में दर्ज की गई थीं.

रूस में पुतिन की पार्टी चुनावी धांधली के आरोपों के बीच जीत की ओर - BBC Hindiपुतिन की यूनाइटेड रशिया पार्टी ने मतदान के कुछ ही घंटों के बाद देश के संसदीय चुनाव में जीत की घोषणा की है. मोदी की पार्टी की तरह कौन रोके पथ .. कौन समझे सोच .. प्रयत्न में कितने लगे .. विरोध में कितने सजे.. भाव से अवगत कितने सच .. कहें कितनों में किनसे अब⚡ One of the corrupt politician in the world

कैप्टन के इस्तीफे के बाद खट्टर के मंत्री का सिद्धू पर तंजइस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि मेरा फैसला आज सुबह हो गया था, मैं बातचीत के लहजे से अपमानित महसूस करता था। बार बार विधायकों की बैठक होती थी। ऐसा माना गया कि मैं सरकार नहीं चला पा रहा हूं।

Punjab के CM पद की शपथ लेने से पहले गुरुद्वारे पहुंचे चरणजीत सिंह चन्नी, टेका मत्थाचरणजीत सिंह चन्नी आज पंजाब के नए सीएम की शपथ लेंगे. कैप्टन और सिद्धू की तनातनी के बीच कांग्रेस ने आखिरकार चन्नी को कमान देकर रास्ता निकाला है. चन्नी आज सुबह 11 बजे शपथ लेंगे और इससे पहले उन्होंने गुरुद्रवारे में मत्था टेका. कल दिन भर के मंथन के बाद शाम को चन्नी के नाम पर मुहर लग सकी. चन्नी के सरकार में दो डिप्टी सीएम का भी नाम तय कर लिया गया है. अरुणा चौधरी और भारत भूषण आशु पंजाब के उपमुख्यमंत्री होंगे. शनिवार की शाम को कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब की सियासत में बहुत उठापटक चल रही थी. पंजाब के सीएम पद के लिए आज 11 बजे चरणजीत सिंह चन्नी शपथ ग्रहण करेंगे.