Globalwarming, Us, America, India, Climatechange, India, Us, Climate, Global Warming, Country Of Concern, Climate Change, Us Categorised İndia As Country Of Concern, American İntelligence Community, World News İn Hindi, World News İn Hindi, World Hindi News

Globalwarming, Us

ग्लोबल वार्मिंग: अमेरिका ने 10 अन्य देशों के साथ भारत को 'चिंता के देश' की सूची में शामिल किया

अमेरिका ने भारत और 10 अन्य देशों को जलवायु परिवर्तन से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला देश करार दिया है।

22-10-2021 04:55:00

ग्लोबल वार्मिंग: अमेरिका ने 10 अन्य देशों के साथ भारत को 'चिंता के देश' की सूची में शामिल किया GlobalWarming US America India ClimateChange

अमेरिका ने भारत और 10 अन्य देशों को जलवायु परिवर्तन से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला देश करार दिया है।

अमेरिकी खुफिया समुदाय के आकलन के अनुसार, ग्लोबल वार्मिंग का सबसे ज्यादा खामियाजा इन देशों को भुगतना पड़ेगा। इन देशों में लगातार गर्म हवाओं की तीव्र लहरें चल सकती है, यहां के लोगों को सूखा और पानी-बिजली की कमी का सामना करना पड़ सकता है।10 अन्य देशों में शामिल हैं ये देश

हिंदू जहां कमज़ोर वहां भारत की अखंडता ख़तरे में: आरएसएस प्रमुख - BBC News हिंदी 'PM 8000 करोड़ के जहाज से आते हैं, लेकिन किसानों का कर्ज माफ नहीं कर पाते', प्रतिज्ञा रैली में बोलीं प्रियंका गांधी पाकिस्तान की हिंदू महिला सोनारी बागड़ी जिन्होंने मंदिर को ही स्कूल बना दिया - BBC News हिंदी

भारत के अलावा सूची में शामिल अन्य देश अफगानिस्तान, ग्वाटेमाला, हैती, होंडुरास, इराक, पाकिस्तान, निकारागुआ, कोलंबिया, म्यांमार और उत्तर कोरिया हैं। अमेरिकी रिपोर्ट में कहा गया है कि खुफिया समुदाय ने आकलन किया है कि 11 देशों को 'गर्म तापमान, मौसम में ज्यादा परिवर्तन और समुद्र के पैटर्न में व्यवधान का सामना करना पड़ सकता है जिससे उनकी ऊर्जा, भोजन, पानी और स्वास्थ्य सुरक्षा को खतरा होगा।'

जलवायु पर पहली बार राष्ट्रीय खुफिया अनुमान (एनआईई) को राष्ट्रीय खुफिया निदेशक के अमेरिकी कार्यालय द्वारा एक साथ रखा गया, जो 16 खुफिया एजेंसियों की देखरेख करता है। इस रिपोर्ट को गुरुवार को जारी किया गया, जिसने जलवायु को लेकर चिंता के दो क्षेत्रों की भी पहचान की है और अफ्रीकी महाद्वीप के देशों का भी नाम दिया है। headtopics.com

रिपोर्ट में कहा गया है, 'खुफिया समुदाय ने 11 देशों और दो क्षेत्रों की पहचान की है जो जलवायु परिवर्तन के खतरे से चिंतित हैं।' रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि 'इन देशों और क्षेत्रों में कठिनाइयों से जल्दी उबरने की क्षमता बढ़ने से संभवतः अमेरिकी हितों के लिए भविष्य के जोखिमों को कम करने में विशेष रूप से सहायक होगा।'

जलवायु परिवर्तन से बड़े स्तर पर बीमारी फैलने की आशंकारिपोर्ट में कहा गया है कि ज्यादा गर्मी पड़ने और तीव्र चक्रवातों से जल स्रोतों के दूषित होने की संभावना है। ऐसे में बीमारी से ग्रसित आबादी में बढ़ोतरी होगी, और वे लोग दूसरे लोगों में भी बीमारी फैलाएंगे। आगे कहा गया है कि प्रोजेक्शन मॉडल बताते हैं कि भारत, अफगानिस्तान, ग्वाटेमाला, हैती, होंडुरास, इराक और पाकिस्तान में डेंगू की घटनाओं में वृद्धि होगी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत सहित इन 11 देशों में जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के अनुकूल होने के लिए वित्तीय संसाधनों या शासन क्षमता की कमी है, इससे अस्थिरता-प्रेरित प्रवास और विस्थापन प्रवाह के जोखिम बढ़ेंगे। यह अमेरिका की दक्षिणी सीमा को भी प्रभावित कर सकता है इसलिए उन्हें पहले से ही उच्च स्तर की विदेशी सहायता और मानवीय सहयोग पहुंचाने की जरूरत है।

विस्तार अमेरिका ने एक सूची बनाई है जिसमें भारत और 10 अन्य देशों को 'चिंता के देश' के रूप में वर्गीकृत किया है।विज्ञापनअमेरिकी खुफिया समुदाय के आकलन के अनुसार, ग्लोबल वार्मिंग का सबसे ज्यादा खामियाजा इन देशों को भुगतना पड़ेगा। इन देशों में लगातार गर्म हवाओं की तीव्र लहरें चल सकती है, यहां के लोगों को सूखा और पानी-बिजली की कमी का सामना करना पड़ सकता है। headtopics.com

अनुराग ठाकुर का अखिलेश पर निशाना, बोले- जिसकी सरकार में दंगे होते थे, वो दंगल का विरोध कर रहे देश का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर दिल्‍ली, टॉप-10 में हरियाणा और उत्तर प्रदेश के आठ शहर US ने Omicron की पहचान करने पर की दक्षिण अफ्रीका की तारीफ, चीन को परोक्ष तमाचा

10 अन्य देशों में शामिल हैं ये देशभारत के अलावा सूची में शामिल अन्य देश अफगानिस्तान, ग्वाटेमाला, हैती, होंडुरास, इराक, पाकिस्तान, निकारागुआ, कोलंबिया, म्यांमार और उत्तर कोरिया हैं। अमेरिकी रिपोर्ट में कहा गया है कि खुफिया समुदाय ने आकलन किया है कि 11 देशों को 'गर्म तापमान, मौसम में ज्यादा परिवर्तन और समुद्र के पैटर्न में व्यवधान का सामना करना पड़ सकता है जिससे उनकी ऊर्जा, भोजन, पानी और स्वास्थ्य सुरक्षा को खतरा होगा।'

जलवायु पर पहली बार राष्ट्रीय खुफिया अनुमान (एनआईई) को राष्ट्रीय खुफिया निदेशक के अमेरिकी कार्यालय द्वारा एक साथ रखा गया, जो 16 खुफिया एजेंसियों की देखरेख करता है। इस रिपोर्ट को गुरुवार को जारी किया गया, जिसने जलवायु को लेकर चिंता के दो क्षेत्रों की भी पहचान की है और अफ्रीकी महाद्वीप के देशों का भी नाम दिया है।

रिपोर्ट में कहा गया है, 'खुफिया समुदाय ने 11 देशों और दो क्षेत्रों की पहचान की है जो जलवायु परिवर्तन के खतरे से चिंतित हैं।' रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि 'इन देशों और क्षेत्रों में कठिनाइयों से जल्दी उबरने की क्षमता बढ़ने से संभवतः अमेरिकी हितों के लिए भविष्य के जोखिमों को कम करने में विशेष रूप से सहायक होगा।'

जलवायु परिवर्तन से बड़े स्तर पर बीमारी फैलने की आशंकारिपोर्ट में कहा गया है कि ज्यादा गर्मी पड़ने और तीव्र चक्रवातों से जल स्रोतों के दूषित होने की संभावना है। ऐसे में बीमारी से ग्रसित आबादी में बढ़ोतरी होगी, और वे लोग दूसरे लोगों में भी बीमारी फैलाएंगे। आगे कहा गया है कि प्रोजेक्शन मॉडल बताते हैं कि भारत, अफगानिस्तान, ग्वाटेमाला, हैती, होंडुरास, इराक और पाकिस्तान में डेंगू की घटनाओं में वृद्धि होगी। headtopics.com

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत सहित इन 11 देशों में जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के अनुकूल होने के लिए वित्तीय संसाधनों या शासन क्षमता की कमी है, इससे अस्थिरता-प्रेरित प्रवास और विस्थापन प्रवाह के जोखिम बढ़ेंगे। यह अमेरिका की दक्षिणी सीमा को भी प्रभावित कर सकता है इसलिए उन्हें पहले से ही उच्च स्तर की विदेशी सहायता और मानवीय सहयोग पहुंचाने की जरूरत है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

क्या तीसरी लहर का सबब बनेगा Omicron वेरियेंट? खबरदार में देखें पूरा विश्लेषण

कोरोना है कि दुनिया का पीछा छोड़ने का नाम ही नहीं ले रहा. अभी कोरोना वायरस के डेल्टा वेरियेंट से दुनिया निपट भी नहीं पाई है कि कोरोना का नया वेरियेंट पैदा हो गया है. जिसका नाम है - ओमिक्रॉन. वैज्ञानिक कह रहे हैं कि ये नया वेरियेंट डेल्टा से भी ज्यादा संक्रामक है यानी तेजी से फैलता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी इसे वेरियेंट ऑफ कंसर्न घोषित कर दिया है. ऐसे में आपको कोरोना के इस नये वेरियेंट से खबरदार रहना जरूरी है और इसके लिए जरूरी है कि आपको इस नये ओमिक्रॉन वेरियेंट के बारे में कोई गलतफहमी ना रहे. इसलिए हम आपको इस नये वेरियेंट से जुड़े हर सवाल का जवाब देंगे. देखिए खबरदार का ये एपिसोड.

Kulgam Encounter: कुलगाम मुठभेड़ 10 मिनट में खत्म, लश्कर के जिला कमांडर सहित दो आतंकी ढेरशाम सात बजे शोपियां के साथ सटे जिला कुलगाम के सोपट इलाके में एक अभियान चलाया। जवानों ने जैसे ही आतंकियों के ठिकाने की तरफ कदम बढ़ाया आतंकियों ने उन्हें देख वहां से भागने का प्रयास करते हुए गोली चलाई। DeshNahinJhukneDenge ❤️❤️❤️

दिल्ली: 7 साल के बच्चे का किडनैप...दशहत के 3 घंटे, पुलिस ने ऐसे किया रेस्क्यूदिल्ली के शाहदरा इलाके से एक 7 साल के बच्चे को किडनैप करके 1 करोड़ 10 लाख की फिरौती मांगी गई थी. शाहदरा पुलिस ने 3 घंटे के अंदर केस को सुलझा बच्चे को सुरक्षित रीकवर कर लिया. पुलिस ने आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है.

ओवैसी के साथ नजर आने के बाद अब ओपी राजभर ने अखिलेश यादव से मिलाया हाथबुधवार को सपा प्रमुख अखिलेश यादव से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया ओपी राजभर ने मुलाकात की। जिसके बाद दोनों ने यूपी चुनाव को साथ में लड़ने की घोषणा कर दी है।

अपनी पार्टी बनाएंगे, भाजपा के साथ सीटों के बंटवारे के लिए बातचीत को तैयार: अमरिंदर सिंहकांग्रेस नेता और पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने अमरिंदर सिंह के एक नई राजनीतिक पार्टी बनाने और भाजपा से साथ सीट बंटवारे को लेकर तैयार होने की बात पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि अगर कैप्टन भाजपा के साथ जाना चाहते हैं तो ऐसा कर सकते हैं. उन्हें ‘सर्वधर्म सम्भाव’ का प्रतीक माना जाता था. ऐसा लगता है कि उन्होंने अपने अंदर के ‘धर्मनिरपेक्ष अमरिंदर’ को मार दिया है. इनसे कहो G 23 के बूढों को भी अपने साथ ले लें। 80 साल की उम्र में भी संतोष नहीं। घटिया आदमी निकला ये राजा 70 साल तक कांग्रेस ने सब दिया। एक कुर्सी मांग ली तो राजा की तिवरी चढ़ गई अब समय अमरेन्द्र साहब सत नाम वाये गुरु जपने का है न की पार्टी बनाने का ।

IRCTC के इस Flight Package के तहत कर सकते हैं Tirupati Devasthanam के दर्शनपैकेज के जरिये आप Lord Balaji Temple Padmavathi Temple Sri Kalahasti की यात्रा कर सकते हैं। यह यात्रा 1 रात और 2 दिन के लिए होगा। टूर की तारीख 23 अक्टूबर 2021 और 19 नवंबर और 20 नवंबर 2021 है।

अपना सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म TRUTH Social लॉन्च करेंगे अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ट्रंपअमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपना सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लॉन्च करने का ऐलान किया है. इस प्लेटफॉर्म का नाम होगा TRUTH Social. ATCard DonaldTrump SocialMedia TRUTHSocial यहाँ पढ़ें: भारत के दलाल पत्रकारों को एंकर रख लेना अमेरिका में झूट नही बिकेगा doland अब फूफा की भी चाकरी करनी पडेगी 🤣🤣🤣 बिलोम शब्द!