Gujarat, Gujarat, Hardik Patel, Attack On Government, Coronavirus, Nyay Yatra, Congress, Vijay Rupani

Gujarat, Gujarat

गुजरात: सीएम बदलाव पर हार्दिक पटेल का हमला- चेहरे बदलने से नहीं धुलेंगे सरकार के पाप

आगे नहीं बढ़ेगी दिल्ली से गुजरात चलाने वाली सरकार- हार्दिक पटेल #Gujarat | @gopimaniar

21-09-2021 16:16:00

आगे नहीं बढ़ेगी दिल्ली से गुजरात चलाने वाली सरकार- हार्दिक पटेल Gujarat | gopimaniar

हार्दिक पटेल ने आगे कहा कि नई सरकार से कोई उम्मीद नहीं है. नई सरकार के मंत्रियों में शिक्षा का अभाव है. उत्तराखंड जैसे हालात पैदा हों तो हैरान होने वाली बात बिल्कुल भी नहीं.

स्टोरी हाइलाइट्सआगे नहीं बढ़ेगी दिल्ली से गुजरात चलाने वाली सरकार- हार्दिक पटेलकहा- उत्तराखंड की तरह एक महीने में सीएम बदलें तो आश्चर्य नहींगुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल चुनावी मोड में आते दिख रहे हैं. हार्दिक जनता के बीच जा रहे हैं साथ ही सरकार पर हमले भी बोल रहे हैं. हार्दिक पटेल कोरोना न्याय यात्रा के लिए मंगलवार को गुजरात के राजकोट पहुंचे थे. राजकोट से हार्दिक पटेल ने सरकार को आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा कि कोरोना के समय विजय रुपाणी और उनका पूरा मंत्रिमंडल विफल हुआ. इसी वजह से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को चेहरे बदलने की जरूरत पड़ गई. चेहरे बदलने से पाप नहीं धुलेंगे.

निहंग बाबाओं की पुलिस को चुनौती: अब किसी और की गिरफ्तारी मांगी तो सरेंडर कर चुके हमारे चारों साथियों को छुड़वा लाएंगे Sharad Purnima 2021: कब है शरद पूर्णिमा? व्रत करने से घर में कभी नहीं होगी धन की कमी Modi 2.0: राष्ट्र की सुरक्षा में अनवरत अडिग योद्धा के रूप में उभरे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

हार्दिक पटेल ने कहा कि हमारे अध्यक्ष और नेता ने इस्तीफा दे दिया है. हालांकि हाईकमान ने अभी तक दोनों का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है. हार्दिक ने आगे कहा कि नई सरकार से कोई उम्मीद नहीं है. नई सरकार के मंत्रियों में शिक्षा का अभाव है. उत्तराखंड जैसे हालात पैदा हों तो हैरान होने वाली बात बिल्कुल भी नहीं हैं. शायद एक महीने बाद भूपेंद्र पटेल मुख्यमंत्री नहीं होंगे. उन्होंने ये भी कहा कि कांग्रेस पार्टी जल्द ही गुजरात के लिए नए प्रभारी की नियुक्ति करेगी. ये प्रभारी विधानसभा 2022 में जीत के लक्ष्य के साथ जमीनी स्तर पर लोगों के बीच काम करेगा ओर संपर्क करेगा. हमारी पार्टी ने कोरोना महामारी के चलते कोई बदलाव नहीं किया है.

हार्दिक ने आरोप लगाया कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान सरकार अस्पतालों में पर्याप्त बेड और रेमडेसिविर इंजेक्शन उपलब्ध करा पाने में विफल रही जिसके कारण कई लोगों की जान चली गई. इसके चलते गुजरात के मुख्यमंत्री और मंत्रियों को बदलने की जरूरत पड़ी. दिल्ली से गुजरात चलाने वाली सरकार आगे नहीं बढ़ेगी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस मुद्दों पर चुनाव लड़ती है और बीजेपी जाति पर चुनाव लड़ती है. headtopics.com

16 अगस्त को शुरू हुई थी न्याय यात्रागुजरात में कांग्रेस की ये न्याय यात्रा 16 अगस्त से शुरू हुई थी. पार्टी की ओर से दो हफ्ते में 22 हजार से अधिक परिवारों से मुलाकात कर सहानुभूति प्रकट किया गया. पार्टी कोरोना के कारण अपनों को खो चुके लोगों की बात सरकार तक पहुंचाने के लिए अब तक 31 हजार 850 मृतकों के परिजनों से फार्म भी एकत्रित किए हैं. कांग्रेस का कहना है कि सरकारी आंकड़ों के मुताबिक कोरोना के कारण गुजरात में 10081 लोगों की मौत हुई. वास्तविक मौत की संख्या सरकारी आंकड़ों से तीन गुना अधिक है.

Live TV और पढो: आज तक »

सियासी बवाल के बीच राहुल गांधी का दिल्ली से लखीमपुर का सफर, देखें टाइमलाइन

लखीमपुर खीरी में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के बाद का विवाद अबतक शांत नहीं हुआ है. लखनऊ एयरपोर्ट पर धरने के बाद आखिरकार राहुल गांधी को वहां से बाहर निकलने दिया गया है. एयरपोर्ट पर राहुल अपनी गाड़ी से जाएंगे या प्रशासन की गाड़ियों से इस पर विवाद हुआ था. अब राहुल गांधी और प्रियंका गांधी सीतापुर से लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुए और लखीमपुर में मृतक किसानों के परिवार से मिलने पहुंच चुके हैं. देखें राहुल गांधी के दिल्ली से लखीमपुर के सफर की पूरी टाइमलाइन.

gopimaniar Kutta congres ke dalal gopimaniar Aap to Channi ji ko dekho pehle 😂 gopimaniar Now a days even insane people also join politics and start talking rubbish on any issue without any knowledge of the subject or any proof. gopimaniar सुधीर,रुबिका लियाकत,अंजना ओम कश्यप व अमिश देवगन तुम कहा हो? गुजरात के मुद्रा पोर्ट की खबर पर अपने मुँह से कुछ तो बोलो🙄 2ग्राम ड्रग्स पर अर्नब भांगड़ा डांस🕺 कर रहा था मगर अब सभी मुँह में दही जमाये हुए है,🤦चुप क्यों हो?

gopimaniar रोजगार,, स्वास्थ्य ,, शिक्षा व्यवस्था पर भी डिबेट करा दीजिए।। gopimaniar ये गद्दार आपने समाज के साथ गद्दारी की वो सरकार कैसे चलाना यह सिखायेगा। gopimaniar Bsdk papu wala Tu bhi fukne laga 😀 gopimaniar आदरणीय हार्दिक पटेल साहब आप गुजरात की जनता को भलीभांति जानते हो गुजरात की जनता का इतिहास रहा है कि वह वाहियात की बात करने वाले को कभी वोट नहीं देती चाहे उसमें किसी भी पार्टी का नेता हो गुजरात की जनता एक बहुत ही समझदार जनता आपने तो चुनाव लड़के देख भी लिय है

gopimaniar 😂😂😂😂😂😂😂 gopimaniar Toh beta Punjab mein kya hua phir gopimaniar हार्पिक पटेल को पूरा नहलाएगा तो भी पाटीदार युवा के मौत का कलंक नही उतरेगा

कनाडा: कामयाब नहीं हुआ ट्रूडो का दांव, चुनाव से सियासी सूरत नहीं बदलीओटावा कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो का मध्यावधि चुनाव कराने का दांव कामयाब नहीं हुआ। उनके लिए राहत की बात सिर्फ

मणिपुर की भाजपा सरकार के ख़िलाफ़ प्रदर्शन के लिए 11 विपक्षी दल साथ आएकेंद्र में भाजपा सरकार की नीतियों के ख़िलाफ़ 19 विपक्षी दलों द्वारा बुलाए गए राष्ट्रव्यापी आंदोलन के समर्थन में मणिपुर के विपक्षी दलों ने 11 दिवसीय विरोध प्रदर्शन की शुरुआत की है. विरोध में शामिल माकपा, भाकपा, कांग्रेस, टीएमसी आदि दलों ने आरोप लगाया है कि भाजपा सरकार कॉरपोरेट समर्थक है, जो आम लोगों की कम परवाह करती है.

भोपाल में गड्ढे में 'सरकार' का आदेश, प्रदेश की सबसे महंगी सड़क भी खस्ताहाल!मध्यप्रदेश में बारिश के चलते सड़कों की हालात खराब हो गई है। जिलों और ग्रामीण इलाकों की बात तो दूर राजधानी भोपाल में मुख्य सड़कों में गड्ढे ही गड्ढे नजर आ रहे है। यह हालात तब है कि जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद सड़कों में गड्ढों पर नाराजगी जताते हुए तत्काल गड्ढों को भरने के निर्देश दिए थे।

भोपाल गैस त्रासदी के कैंसर पीड़ितों को सरकार मुफ़्त में इलाज दे: मध्य प्रदेश हाईकोर्टमध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने उस मॉनिटरिंग कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर ये निर्देश दिया, जिसमें कहा गया है कि गैस त्रासदी के कैसर पीड़ितों को प्राइवेट अस्पताल में भेजा जा रहा है और वहां उन्हें मुफ़्त इलाज नहीं मिल रहा है. रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि किसी मरीज़ को इलाज से इनकार नहीं किया जा सकता है और राज्य सरकार सभी को मुफ़्त इलाज मुहैया कराए. यदि नहीं तो मुआवजा कैसा?

किसानों को मिलेगी 12 डिजिट की यूनिक आईडी, जानें केंद्र सरकार का क्या है प्लानशुरुआती जानकारियों के हिसाब से सरकार किसानों को 12 अंकों की यूनिक आईडी जारी करेगी. इसके लिए किसानों का डेटाबेस तैयार किया जाएगा, इस आईडी के माध्यम से किसानों के लिए केंद्र और राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठाना और आसान हो जाएगा. Good

सीबीआइ की समस्या, केंद्र सरकार करे विसंगति को दूरविभिन्न मामलों की जांच में सीबीआइ का रिकार्ड भी कोई बहुत अच्छा नहीं है और शायद इसी कारण पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि वह उसके कामकाज की समीक्षा करेगा। पता नहीं ऐसा कब होगा और उससे हालात सुधरेंगे या नहीं।