Gujarat, Covıd 19, Atcard, Gujarat, Dead Body, Bill, Private Hospital, Dead Body Bill

Gujarat, Covıd 19

गुजरात: मरीज की मौत के बाद रिश्तेदार नहीं चुका पाए बिल, कार गिरवी रखी तब मिला शव

गुजरात: मरीज़ की मौत के बाद रिश्तेदार नहीं चुका पाए बिल, कार गिरवी रखी तब मिला शव पढ़ें पूरी खबर: #Gujarat #COVID19 #ATCard | @gopimaniar

15-04-2021 06:46:00

गुजरात: मरीज़ की मौत के बाद रिश्तेदार नहीं चुका पाए बिल, कार गिरवी रखी तब मिला शव पढ़ें पूरी खबर: Gujarat COVID19 ATCard | gopimaniar

गुजरात के वलसाड़ में एक अस्पताल ने एक मरीज की मौत के बाद उसके शव को परिजनों को सौंपने से इसलिए मना कर दिया, क्योंकि वो बिल नहीं चुका पाए थे. इसके बाद परिजनों ने कार गिरवी रखी, तब जाकर अस्पताल ने उन्हें शव लौटाया.

स्टोरी हाइलाइट्सगुजरात के वलसाड़ का मामलाबिल नहीं देने पर शव नहीं सौंपाकार गिरवी रखी, तब मिला शवकोरोना की इस महामारी के वक्त में लोग एक दूसरे की मदद कर इंसानियत की मिसाल पेश कर रहे हैं. तो दूसरी ओर कुछ ऐसे भी नफाखोर अस्पताल हैं जो खुद के फायदे के लिए मरीज के रिश्तेदारों तक को नहीं छोड़ रहे. ऐसा ही वाकया गुजरात के वलसाड़ जिले में सामने आया है. यहां रिश्तेदारों ने आरोप लगाया है कि एक प्राइवेट अस्पताल के डॉक्टर ने उनके रिश्तेदार की मौत के बाद डेड बॉडी देने से इनकार कर दिया. अस्पताल की मांग थी कि पहले अस्पताल का पूरा बिल दें, उसके बाद ही उनको डेड बॉडी दी जाएगी.

मोदी विरोधी पोस्टर विवाद पर राहुल गांधी बोले- मुझे भी गिरफ़्तार करो - BBC Hindi मोदी विरोधी वही पोस्टर शेयर कर राहुल गांधी बोले- मुझे भी गिरफ़्तार करो - BBC Hindi इसराइली हमले में अपने ऑफिस ध्वस्त होने पर बोले एपी और अल-जज़ीरा - BBC News हिंदी

मामला वापी के एक जाने-माने अस्पताल 21 सेंचुरी का है. यहां एक हफ्ते पहले सरी गांव के एक व्यक्ति को कोविड की आशंका के बाद अस्पताल में भर्ती किया गया था. जिसकी मंगलवार को इलाज के दौरान मौत हो गई.मरीज की मौत के बाद अंतिम संस्कार के लिए अस्पताल वालों ने डेड बॉडी देने से इनकार कर दिया. रिश्तेदारों का आरोप है कि अस्पताल वालों ने उनसे पहले पूरे पैसे देने को कहा. लेकिन परिवार वालों के पास उस वक्त उनकी कार के अलावा कुछ नहीं था. तो अस्पताल वालों ने डेड बॉडी देने के लिए उनकी कार को गिरवी रखवा लिया. इसके बाद ही परिजनों को डेड बॉडी सौंपी गई. इसके बाद परिवार वाले शिकायत लेकर पुलिस थाने पहुंचे.

पुलिस जब वहां पहुंची, तो अस्पताल वालों ने दबाव में आकर परिजनों को उनकी कार लौटा दी. अस्पताल के एमडी डॉ. अक्षय नाडकर्णी का कहना है कि अस्पताल की तरफ से बिल में पैसे कम भी किए गए थे, लेकिन परिजनों ने बिल नहीं चुकाया.Live TV और पढो: आज तक »

राजस्थान में सख्ती से भी नहीं संभल रहा कोरोना: टोटल लॉकडाउन के 5 दिनों में 7 शहरों में पॉजिटिविटी रेट 30% से ऊपर; छोटे शहरों में भी संक्रमण बढ़ा

राजस्थान में कोरोना की रफ्तार कम होने का नाम नहीं ले रही। गहलोत सरकार ने इसे कम करने के लिए पिछले डेढ़ महीने में चार तरह के प्रयोग (नाइट कर्फ्यू, वीकेंड लॉकडाउन, जनसुरक्षा पखवाड़ा और अब टोटल लॉकडाउन) करके देख लिए। लेकिन इन सबके बाद भी कोरोना के केस कम नहीं हो रहे। | Rajasthan Coronavirus Latest Update: Jaipur Kota Situation District Wise Report राजस्थान में कोरोना की रफ्तार कम होने का नाम नहीं ले रही। गहलोत सरकार ने इसे कम करने के लिए पिछले डेढ़ महीने में चार तरह के प्रयोग (नाइट कर्फ्यू, वीकेंड लॉकडाउन, जनसुरक्षा पखवाड़ा और अब टोटल लॉकडाउन) करके देख लिए। लेकिन इन सबके बाद भी कोरोना के केस कम नहीं हो रहे।

gopimaniar Same on the doctors... gopimaniar हर नेता को पता है कि अगले चुनाव तक लोग सब भूल जाएँगे।वे फिर जाति-धर्म-मुफ़्तख़ोरी और झूठे वादों पर वोट देंगे।दवाई,वेंटिलेटर,ऑक्सीजन कोई विधायक तो नहीं हैं ना जिसे ख़रीद कर सरकारें बचायी जा सके।आप सब ख़ुद जागिए।ख़ुद को इस प्रकोप से भरसक दूर रखिए।आप सब के लिए प्रार्थना,हे ईश्वर😢🙏

gopimaniar ab bhi sawal vipach se hi hoga ya fir nehru ji jimmedar hain gopimaniar गुजरात मॉडल 👌 gopimaniar Isko kahte hai. Mazboori. Bhagwaan unke pariwar ko sukh samridhi aur dhan pradan kre. gopimaniar जिंदा इंसान यानी मरीज की भर्ती लेता है और अस्पतालों की जिम्मेदारी है कि अगर किसी को भर्ती किया जाता है तो वह मरीज की जिंदगी और बेहतर बना दें।अगर मरीज मर ही गया तो फिर बिल किस बात का मांग रहे हैं बिल जिंदगी देने के लिए होता है मारने के लिए नहीं।

gopimaniar 😔😔😔😡😡😡 gopimaniar R they told Jai Shree Ram and Bharat Mata ki Jai gopimaniar वाह system👏👏 gopimaniar गुजरात माडल gopimaniar ढोंगी को चुना अब सजा भुगत रहे है गुजरात वाले ...

पुणे: कोविड-19 से मरीज़ की मौत, भीड़ ने अस्पताल में तोड़फोड़ की, कर्मचारियों को पीटामहाराष्ट्र में पुणे शहर के पिम्परी चिंचवाड इलाके का मामला. पुलिस ने बताया कि इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और हमलावर भीड़ में से छह लोगों की पहचान कर ली गई है. अभी तक कोई गिरफ़्तारी नहीं हुई है. Civil War. Kisi bhi health workers ko peetna bevaqufi hai

gopimaniar कोरोना महासंकट में इंसानियत ने तोड़ा दम, प्राइवेट अस्पताल में मरीज की मौत, कार गिरवी रखी, तब मिला शव gopimaniar इन्दौर शहर में इससे बदतर हालात हैं,प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल एमवाय में एक परिवार के सदस्य की कोरोना से मौत हो गई और उन्हें मात्र दो किलोमीटर जाना था और उनसे एंबुलेंस वालें ने 3 हजार रुपये मांगें व अस्पताल वालों ने भी कोई मदद् नहीं करी, पुलिस-प्रशासन भी मूक-बधिर बन गए।

gopimaniar Sabka sath sabka Vikas 🙏🙏 gopimaniar Is new india ki kalpna kisne ki thi gopimaniar New India great India aap jaise logo ki wajhh se aaj sach nhi aa raha hai subke samne kab tak gire rahoge inke kadmo me

कोविड मरीज की मौत, भड़के परिजनों ने की मारपीट, कमरे में बंद हो गए डॉक्टरजूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. रामचंद्र ने बताया कि भोर में चार बजे सर्जिकल वार्ड में एक मरीज की मौत हो गई। इसके बाद परिजनों ने तोड़फोड़ शुरू कर दी।

पंजाब में कोरोना : 4673 नए संक्रमित, 61 और की मौत, 480 मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट परपंजाब में कोरोना : 4673 नए संक्रमित, 61 और की मौत, 480 मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट पर Punjab covid19 CoronaInPunjab capt_amarinder INCIndia drharshvardhan capt_amarinder INCIndia drharshvardhan Lockdown 🔒

डॉक्टर की टेबल पर रख दिया कोरोना मरीज का शव, कहा- लापरवाही से हुई मौतमरीज को हैलट अस्पताल में भरती कराया गया था। उसकी गुरुवार सुबह मौत हो गई। परिजनों का कहना था कि अस्पताल में ऑक्सीजन जैसी सुविधा भी उपलब्ध नहीं है। दवाएं भी नहीं मिल पा रही हैं। उनका आरोप था कि डॉक्टरों की लापरवाही की वजह से ही उनके मरीज ने उपचार के दौरान दम तोड़ा।

कोरोनाः नहीं रूक रही रफ़्तार, भारत में 3.68 लाख नए मरीज़, 3,417 की मौत - BBC Hindiरविवार को देशभर में कोरोना के 3,68,147 नए मामले सामने आए हैं और 24 घंटे में 3,417 लोगों की संक्रमण से मौत हुई है. भाजपा की सरकार अगर बंगाल में बनी तो बंगाल को यूपी बना देंगे -- यूपी सीएम !!! 😀😁😁😀😁😁😁😁😁😂😂 Arora should be tried for ordering this election post mid- April when Corona spread was at its height The_Sanjeevani_Mantra guru_siyag_mantra_helps

ऑक्सीजन संकट: मरीज की मौत हुई तो भड़का इलाहाबाद हाईकोर्ट, कहा- यह नरसंहार से कम नहीं...ऑक्सीजन संकट: मरीज की मौत हुई तो भड़का इलाहाबाद हाईकोर्ट, कहा- यह नरसंहार से कम नहीं... AllahabadHighCourt OxygenCrisis OxygenShortage OxygenEmergency UttarPradesh myogiadityanath or narendramodi Narshaghar kar rahe hai desh me... कहने को कहां जाता है भारत आक्सीजन उत्पादन का सबसे बड़ा देश है पर भारत में आक्सीजन जीवन रक्षक दवाओं की कमी नहीं होती है कालाबाजारी जमाखोरी जिस कारण लोगों की जान चली जाती पर कालाबाजारी जमाखोरी करने वाले पकड़े जाते क्यों नहीं सरकार आजीवन कारावास सज़ा का प्रावधान करती पर न्याय देर