Coronavirus, India, Coviddeaths, कोरोनावायरस, कोविडसेमौत

Coronavirus, India

कोविड-19: संक्रमण के 366,161 नए मामले आए सामने और 3,754 लोगों की मौत

कोविड-19: संक्रमण के 366,161 नए मामले आए सामने औ 3,754 लोगों की मौत #CoronaVirus #India #CovidDeaths #कोरोनावायरस #भारत #कोविडसेमौत

10-05-2021 23:30:00

कोविड-19: संक्रमण के 366,161 नए मामले आए सामने औ 3,754 लोगों की मौत CoronaVirus India CovidDeaths कोरोनावायरस भारत कोविडसेमौत

भारत में कोरोना वायरस के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 22,662,575 हो गए और इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या 246,116 हो गई है. विश्व में संक्रमण के मामले 15.83 करोड़ से ज़्यादा हैं, जबकि 32.93 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है.

नई दिल्ली:लगातार चार दिन कोरोना वायरस संक्रमण के चार लाख से अधिक नए मामले सामने आने के बाद भारत में सोमवार को एक दिन में कोविड-19 के 366,161 मामले सामने आए और इसी के साथ देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 22,662,575 हो गए.स्वास्थ्य मंत्रालय के सोमवार को सुबह आठ बजे तक अद्यतन किए गए आंकड़ों के अनुसार, 3,754 और लोगों की संक्रमण के कारण मौत होने के बाद कुल मृतक संख्या बढ़कर 246,116 हो गई.

नाकाबिल नवजोत सिंह सिद्धू को बतौर CM नहीं करूंगा कबूल : अमरिंदर सिंह सोनू सूद ने 20 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी की: आयकर विभाग - BBC News हिंदी कैप्टन अमरिंदर सिंह ने NDTV से कहा- सिद्धू पाकिस्तान समर्थक, उन पर भरोसा नहीं किया जा सकता

28 अप्रैल के बाद से यह लगातार 13वां दिन है, जब एक दिन में तीन हजार से अधिक लोगों की मौत हुई है. साथ ही 21 अप्रैल के बाद से लगातार 20वां दिन है, जब एक दिन में मरने वालों की संख्या दो हजार का आंकड़ा पार गई.आंकड़ों पर गौर करें तो देश में 23 अप्रैल के बाद से ये लगातार 18वां दिन है, जब देश में तीन लाख से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं. 15 अप्रैल से लगातार 26वें दिन संक्रमण के दो लाख से अधिक दैनिक मामले सामने आए हैं.

देश में उपचाराधीन मामलों यानी सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 3,745,237 हो गई, जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.53 प्रतिशत है, जबकि संक्रमित लोगों के स्वस्थ होने की दर 82.39 प्रतिशत है.आंकड़ों के अनुसार, अब तक 18,671,222 लोग संक्रमित होने के बाद ठीक हो चुके हैं, जबकि मृत्युदर 1.09 प्रतिशत है. headtopics.com

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक, अब तक 303,750,077 नमूनों की जांच की गई, जिनमें से 1,474,606 नमूनों की जांच रविवार को की गई.संक्रमण से पिछले 24 घंटे में जिन 3,754 और लोगों की मौत हुई है, उनमें से महाराष्ट्र में 572, कर्नाटक में 490, उत्तर प्रदेश में 294, दिल्ली में 273, तमिलनाडु में 236, पंजाब में 191, छत्तीसगढ़ में 189, उत्तराखंड में 180, राजस्थान में 159, हरियाणा में 151, पश्चिम बंगाल में 124 और गुजरात में 121 लोगों की मौत हुई है.

देश में अब तक 246,116 लोगों की मौत संक्रमण से हुई है, जिनमें से महाराष्ट्र में 75,849, दिल्ली में 19,344, कर्नाटक में 18,776, तमिलनाडु में 15,648, उत्तर प्रदेश में 15,464, पश्चिम बंगाल में 12,327, छत्तीसगढ़ में 10,570 और पंजाब में 10,506 लोगों की मौत हुई.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि जिन मरीजों की मौत हुई है, उनमें से 70 प्रतिशत से अधिक मरीज अन्य बीमारियों से भी पीड़ित थे.आंकड़ों के मुताबिक, देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख (7 अगस्त 2020 को) तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख (23 अगस्त 2020) की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख (5 सितंबर 2020) तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है.

वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख (16 सितंबर 2020) की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे. मामलों की संख्या 50 लाख से 60 लाख (28 सितंबर 2020 को) होने में 12 दिन लगे थे. 60 से 70 लाख (11 अक्टूबर 2020) होने में इसे 13 दिन लगे. 70 से 80 लाख (29 अक्टूबर को 2020) होने में 19 दिन लगे और 80 से 90 लाख (20 नवंबर 2020 को) होने में 13 दिन लगे. 90 लाख से एक करोड़ (19 दिसंबर 2020 को) होने में 29 दिन लगे. headtopics.com

कैप्टन अमरिंदर सिंह क्या पंजाब कांग्रेस के लिए सबसे बड़ी चुनौती बन सकते हैं - BBC News हिंदी कानूनी ढांचे पर छलका CJI का दर्द: चीफ जस्टिस रमना बोले- देश में अब भी गुलामी के दौर की न्याय व्यवस्था, यह भारत के हिसाब से ठीक नहीं कैप्टन के इस्तीफे के बाद Punjab में कितनी बढ़ गईं Congress की मुश्किलें, समझिए

इसके 107 दिन बाद यानी पांच अप्रैल को मामले सवा करोड़ से अधिक हो गए, लेकिन संक्रमण के मामले डेढ़ करोड़ से अधिक होने में महज 15 दिन (19 अप्रैल को) का वक्त लगा और फिर सिर्फ 15 दिनों बाद चार मई को गंभीर स्थिति में पहुंचते हुए आंकड़ा 1.5 करोड़ से दो करोड़ के पार चला गया.

अप्रैल अब तक सर्वाधिक घातक महीनाकोरोना वायरस संक्रमण के लिहाज से बात करें तो देश मेंअप्रैल का महीना अब तक सबसे घातकसाबित हुआ है. इस महीने में संक्रमण के नए मामलों ने सिर्फ एक या दो दिन ही गिरावट दर्ज की, वरना लगभग हर दिन रिकॉर्ड मामले दर्ज किए गए.बीते 24 घंटे के दौरान नए मामलों की सर्वाधिक संख्या बीते 30 अप्रैल को 386,452 दर्ज की गई और इस अवधि में जान गंवाने वालों की सर्वाधिक 3,645 संख्या 29 अप्रैल को रही है.

इस महीने में 22 अप्रैल से 30 अप्रैल तक एक दिन में संक्रमण के तीन लाख से अधिक मामले दर्ज किए गए. 15 अप्रैल से लेकर 21 अप्रैल के बीच हर दिन दो लाख से अधिक मामले दर्ज किए गए और पांच अप्रैल से 14 अप्रैल तक (सिर्फ छह अप्रैल को 96,982 मामले आए थे) एक लाख से अधिक मामले दर्ज किए.

अप्रैल में एक दिन में मरने वालों की संख्या की बात करें तो 28 से 30 अप्रैल तक हर दिन 3,000 से अधिक लोगों की जान गई. 21 से 27 अप्रैल के बीच हर दिन 2,000 से अधिक लोगों की मौत हुई और 12 से 20 अप्रैल तक हर दिन 1,000 से अधिक लोगों ने दम तोड़ा था.वायरस के मामले और मौतें headtopics.com

और पढो: द वायर हिंदी »

Breaking News Live Updates: देश-दुनिया की ब्रेकिंग न्यूज

छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को गिरफ्तार किया गया है। रायपुर पुलिस ने विवादित बयान देने के सिलसिले में यह गिरफ्तारी की है। उधर उत्तर प्रदेश में आज बड़ी सियासी हलचल हो रही है। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath), बीएसपी सुप्रीम मायावती (Mayawati) और AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) एक साथ ऐक्टिव हैं। आज हरियाणा के करनाल में किसानों की महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) है। इसको देखते हुए प्रशासन ने करनाल समेत 5 जिलों में इंटरनेट सेवा को बंद (Internet Ban) कर दिया और करनाल में धारा-144 लागू कर दिया है। अफगानिस्तान (Afghanistan) में सरकार बनाने जा रहे तालिबान ने चीन और पाकिस्तान के साथ CPEC परियोजना (CPEC Project) में शामिल होने की इच्छा जताई है। तमाम ब्रेकिंग न्यूज (Breaking News) और ताजा खबरें (Latest News in Hindi) आपको सबसे पहले नवभारत टाइम्स ऑनलाइन पर मिलेंगी। तो बने रहिए हमारे साथ...

शेयर बाजार: कोरोना के मामले, कंपनियों के नतीजे, आर्थिक आंकड़ों से तय होगी बाजार की चालशेयर बाजार: कोरोना के मामले, कंपनियों के नतीजे, आर्थिक आंकड़ों से तय होगी बाजार की चाल sharemarket StockMarket coronavirus BSE

IIT कानपुर के सब रजिस्ट्रार ने खुदकुशी की, बेटे के कोरोना संक्रमित होने से थे परेशानआईआईटी कानपुर के सब रजिस्ट्रार सुरजीत दास ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. वो कुछ दिनों से बेटे के कोरोना संक्रमित होने से परेशान चल रहे थे. हालांकि, उनकी आत्महत्या करने का कोई कारण अभी तक सामने नहीं आया है. Probelm har place pe hai but probelms ko khud pe havi na hone de. Khud ki positivity banye rakhe Situation jaldii thik hogi. jaan dena se sab thik ho jye to aj hamri country🇮🇳 itni badi problem se lad rahii hoti.🙏🙏🙏. Jai hind🇮🇳

ऑस्ट्रेलिया: अदालत ने खारिज की भारत से लोगों के आने पर लगी रोक के खिलाफ याचिकाऑस्ट्रेलिया: अदालत ने खारिज की भारत से लोगों के आने पर लगी रोक के खिलाफ याचिका LadengeCoronaSe Coronavirus Covid19 CoronaVaccine OxygenCrisis OxygenShortage PMO India MoHFW_INDIA ICMRDELHI australia

थाईलैंड की महिला की लखनऊ में कोरोना से मौत, कमिश्नर ने दिए जांच के आदेशपुलिस कमिश्नरेट लखनऊ ने ट्वीट करते हुए जानकारी दी कि थाईलैंड की युवती की लखनऊ में कोरोना संक्रमण से मृत्यु के प्रकरण में पुलिस आयुक्त कमिश्नरेट लखनऊ के आदेशानुसार डीसीपी पूर्वी के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा जांच प्रारंभ कर दी गयी है.

कोरोना के इलाज की दवाओं और डिवाइस पर टैक्स छूट मिले, ममता की PM से मांगWestBengal की CM MamataBanerjee ने PMModi को चिट्ठी लिखकर कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाओं और मेडिकल डिवाइस पर टैक्स में छूट देने की मांग की है. (Suryavachan ) RE Suryavachan मोदी जी फ्री में दवाई दे , मोदी जी वेक्सीन दे , मोदी जी ऑक्सीजन दे तो तुम्हे क्या रोहिंग्या और बांग्लादेशी को बसाने के लिए बैठाया है Suryavachan And most of these items have already been exempted from tax or reduced taxes which begum has not seen before shooting the letter Suryavachan बंग्लादेशी रोहिंज्ञा को बैठके खिलाने को पैसा हे जिहादिन के पास

UP के गांवों से Ground Report : आगरा के दो गांवों में 64 मौतों से मचा हड़कंपउत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना ने अपना रौद्ररूप दिखाना शुरू कर दिया है। ग्रामीण इलाकों में कोविड 19 की दस्तक होने के बाद चिंता की लकीरें उभरने लगी है। ताजा मामला ताजनगरी आगरा के दो गांवों का है, जहां पिछले कुछ दिनों में 64 मौतें होने से प्रशासन में हड़कंप मच गया है।