Covid 19, Coronavirus, United Kingdom, Statins, Risk Of Death From Covid 19, Research On Coronavirus, Coronavirus, Coronavirus News, Statin, Statin Use İn Covid 19 Treatments, Statin Treatment On Covid-19, Statin Treatment, स्टैटिन, स्टैटिन ट्रीटमेंट, United Kingdom

Covid 19, Coronavirus

कोविड से मौत के खतरे को कम कर सकती है स्टैटिन, जानिए और क्या कहता है यह शोध

कोविड से मौत के खतरे को कम कर सकती है स्टैटिन, जानिए और क्या कहता है यह शोध #Covid19 #CoronaVirus

17-10-2021 18:50:00

कोविड से मौत के खतरे को कम कर सकती है स्टैटिन , जानिए और क्या कहता है यह शोध Covid19 CoronaVirus

कोविड-19 पर स्टैटिन ट्रीटमेंट के प्रभाव को समझने के लिए स्वीडन के कारोलिंस्का इंस्टीट्यूट के शोधकर्ताओं ने मार्च से नवंबर 2020 के बीच स्टाकहोम में रहने वाले 45 वर्ष से अधिक उम्र के 963876 लोगों पर एक अध्ययन किया।

सामान्य तौर पर कोलेस्ट्राल को कम करने के लिए प्रयोग में लाई जाने वाली स्टैटिन उपचार पद्धति कोविड-19 से मौत के खतरे को कम करने में मददगार साबित हो सकती है। स्टैटिन दवाओं का एक समूह है, जिनका सामान्य रूप से दिल की बीमारियों से बचाव तथा रक्त में लिपोप्रोटीन के स्तर को कम करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

रोहित शर्मा बने वनडे टीम के कप्तान, विराट करेंगे केवल टेस्ट में कप्तानी - BBC News हिंदी जनरल रावत की पत्नी मधुलिका की भी हेलिकॉप्टर हादसे में मौत, क्या थी शख़्सियत - BBC News हिंदी जनरल बिपिन रावत: हेलिकॉप्टर हादसे के चश्मदीद ने क्या-क्या देखा - BBC News हिंदी

कोविड-19 पर स्टैटिन ट्रीटमेंट के प्रभाव को समझने के लिए स्वीडन के कारोलिंस्का इंस्टीट्यूट के शोधकर्ताओं ने मार्च से नवंबर 2020 के बीच स्टाकहोम में रहने वाले 45 वर्ष से अधिक उम्र के 9,63,876 लोगों पर एक अध्ययन किया।यह भी पढ़ेंपीएलओएस मेडिसिन में प्रकाशित अध्ययन निष्कर्ष में बताया गया है कि स्टैटिन ट्रीटमेंट की वजह से कोविड-19 से मौत का खतरा मामूली रूप से कम हो जाता है। हालांकि, यह ट्रीटमेंट कोरोना के गंभीर मरीजों के लिए उपयोगी नहीं है।

कारोलिंस्का इंस्टीट्यूट की मेडिकल छात्रा रीटा बर्गक्विस्ट ने कहा, 'हमारा शोध निष्कर्ष सलाह देता है कि स्टैटिन ट्रीटमेंट से कोविड-19 से मौत का खतरा मामूली रूप से कम हो जाता है।'संस्थान के वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग के शोध छात्र विक्टर अलक्विस्ट के अनुसार, 'हमारे निष्कर्ष कोविड-19 महामारी के दौरान वर्तमान सुझावों के अनुरूप दिल के मरीजों व रक्त में लिपिड को कम करने के लिए स्टैटिन का इस्तेमाल जारी रखने का समर्थन करते हैं।' हालांकि, शोधकर्ताओं का मानना है कि इस विषय पर अभी और अनुसंधान की जरूरत है। headtopics.com

और पढो: Dainik jagran »

शंखनाद: Samajwadi Party की साइकिल पर बैठेंगी कितनी सवारी?

जैसे जैसे दिन बीत रहे हैं, उत्तर प्रदेश का रण धारदार होता जा रहा है, सत्ता पक्ष और विपक्ष अपने-अपने दल को बढ़ाने में लगे हुए हैं, गठबंधनों का दौर चल रहा है. इसी कड़ी में आज कांग्रेस की बागी नेता अदिति सिंह आज बीजेपी में शामिल हुईं तो दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने अखिलेश यादव से मुलाकात की. साथ ही कृष्णा पटेल वाली अपना दल पार्टी ने भी समाजवादी का दामन थाम लिया. यूं समझिए कि गठबंधन वाली राजनीति बहुत तेजी से विस्तारित हो गई है, ताकि पार्टियां अपने विरोधियों को मात दे सकें. देखिए शंखनाद का ये एपिसोड.

कोविड-19: एक दिन में संक्रमण के 15,981 नए मामले, 166 लोगों की जान गईभारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 3,40,53,573 हो गई है और मृतक संख्या 4,51,980 है. विश्व में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 24 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं और अब तक 48.89 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है.

चीन और बाकी दुनिया से कितना पीछे है भारत बच्चों के कोरोना टीकाकरण में?भारत में बच्चों के लिए कोरोना टीके की दौड़ में फाइज़र- बायोएनटेक , कोवीशील्ड, और स्पुतनिक वी भी मौजूद हैं . रूस की स्पुतनिक-वी बच्चों के लिए नाक से सूंघी जा सकने वाली वैक्सीन के ट्रायल भी कर रही है. ऐसी उम्मीद की जा रही है कि अब अनुमतियां मिलने के बाद भारत में 2-18 साल के बच्चों की कोरोना वैक्सीन जल्द ही मिलने लगेगी. जानते हैं कि भारत से बाहर की दुनिया में बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन का कार्यक्रम कहां तक पहुंचा है और किन देशों में प्रमुखता से बच्चों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा रही है.

कोरोना के अन्य प्रकारों से भी बचा सकती है वैक्सीन, इम्युनिटी रिस्पांस का किया गया मूल्यांकनइस पूरे अध्ययन से जुड़े अमेरिका की नार्थ-वेस्टर्न यूनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफेसर पाब्लो पेनालोजा-मैकमास्टर ने कहा हमने इन लोगों में इस तरह का एंटीबाडी रिस्पांस पाया जिससे सर्दी-जुकाम का कारण बनने वाला कोरोना वायरस भी बेअसर हो गया।

Dogecoin के बाद मीमकॉइन्स की है बाढ़, जानें कौन से नए कॉइन्स हैं शामिलDOGE की सफलता से प्रेरित होकर अब क्रिप्टो जगत में बहुत सारे ऐसे ही मीम कॉइन आ गए हैं जो निवेशकों का ध्यान अपनी ओर खींच रहे हैं। Stop_Communal_Attack Save_Bangladeshi_Hindus BangladeshiHinduWantSafety SaveBangladeshiHindus WeDemandSafety WeDemandJustice SaveHindus BewareHindu SaveHinduBoys SaveHinduGirls SanatanaDharma BlackdayDurgaPuja2021 PleaseStandWithHindus

इलाज के नाम पर मासूम बच्चे को गर्म सलाखों से दागा, न‍िमोन‍िया से बीमार था बच्चाराजस्थान में निमोनिया के इलाज के नाम पर मासूम बच्‍चों को गर्म सलाखों से दागने के दर्जनों मामले सामने आ चुके हैं. ऐसा ही एक मामला फ‍िर भीलवाड़ा जिले में सामने आया है.

कर्नाटकः 'जबरन धर्म परिवर्तन' का पता लगाने के लिए चर्चों के सर्वेक्षण कराने के आदेशहोसदुर्ग से भाजपा विधायक गुलहट्टी शेखर ने 13 अक्टूबर को पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक कल्याण पर विधायी समिति की बैठक की अध्यक्षता करने के बाद कहा कि इस सर्वे का उद्देश्य कर्नाटक के कुछ हिस्सों में बड़े पैमाने पर हो रहे 'जबरन धर्म परिवर्तन' की जांच करना है.