कोविड के बीच आज से ओलंपिक होगा शुरू, जापान ने क्या किए हैं उपाय? - BBC News हिंदी

कोविड के बीच आज से ओलंपिक होगा शुरू, जापान ने क्या किए हैं उपाय?

23-07-2021 05:36:00

कोविड के बीच आज से ओलंपिक होगा शुरू, जापान ने क्या किए हैं उपाय?

टोक्यो ओलंपिक खेल आज से शुरू हो रहे हैं. भारतीय समयानुसार शाम साढ़े चार बजे होगा उद्घाटन समारोह. कोविड से बचाव की क्या है तैयारी.

समाप्तप्रतियोगियों और अधिकारियों दोनों के लिए वेन्यू के भीतर सख़्त कोविड नियम हैं. इसके अलावा एथलीट्स और दूसरे लोगों की तो हर रोज़ जांच की जा रही है.क्या जापान में कोविड के मामले बढ़ रहे हैं?मई के मध्य में जापान में कोरोना मामले चरम पर थे और जून के आख़िरी दिनों से यहां संक्रमण के नए मामले एक बार फिर बढ़ रहे हैं.

राजस्व में कमी की भरपाई के लिए दूसरी छमाही में 5.03 लाख करोड़ रुपये का कर्ज लेगी सरकार यूपी : CM योगी ने नवनियुक्त मंत्रियों को बांटे विभाग, जानें- किसको क्या मिला? नए राजपथ पर होगी अगले साल गंणतंत्र दिवस की परेड, तैयारियां जोरों पर

21 जुलाई को जापान में स्वास्थ्य मंत्रालय ने 4,933 नए मामले दर्ज किए हैं. पिछले दिन की तुलना में 1,190 मामले ज़्यादा हैं. नए मामलों का साप्ताहिक औसत भी पिछले सप्ताह के औसत से अधिक है.हालांकि, हर रोज़ आने वाले संक्रमण के मामले अभी उस स्तर पर नहीं हैं जो मई में थे.

कोविड19 ओलंपिक को कैसे बदलेगा?मेज़बान शहर टोक्यो है और विशेषज्ञों का कहना है कि खेलों को सुरक्षित रूप से आयोजित करने के लिए ज़रूरी है कि हर रोज़ आने वाले संक्रमण के मामलों की दर 100 से कम ही रहे.मई के दूसरे हफ़्ते के बाद कोविड के मामलों में गिरावट आई और हर रोज़ 400 से कम मामले आने लगे. लेकिन संक्रमण के मामले एक बार फिर से बढ़ रहे हैं. headtopics.com

टोक्यो में आपातकाल लागू है. वहां और फ़ुकुशिमा में ओलंपिक कार्यक्रम दर्शकों के बिना हो रहे हैं.मियागी और शिज़ुओका प्रांत में सीमित संख्या में दर्शकों को जाने की अनुमति होगी.टोक्यो में बार और रेस्तरां के खुलने के लिए समय की सीमा तय होगी. इसके अलावा सर्विंग को लेकर भी नियम सख़्त होंगे.

राजधानी के निवासियों को भी ग़ैर-ज़रूरी यात्रा से बचने, मास्क पहनने और घर से ही काम करने की सलाह दी गई है.इमेज स्रोत,Getty Imagesजापान ने कितने लोगों को लगी है वैक्सीन?19 जुलाई तक, देश की 35% से अधिक आबादी को कम से कम एक ख़ुराक़ लग चुकी है. वहीं 23% को वैक्सीन की पूरी डोज़ मिल चुकी है.

अमेरिका, फ़्रांस और जर्मनी में उनकी आबादी के 40% से 50% लोगों को वैक्सीन की पूरी डोज़ मिल चुकी है. ब्रिटेन में तो 53% लोगों का फ़ुल वैक्सीनेशन हो चुका है.जापान ने अन्य विकसित देशों की तुलना में फ़रवरी में टीकाकरण अभियान शुरू किया था.कुछ महीनों तक तो यहां सिर्फ़ फ़ाइज़र वैक्सीन को ही मान्यता थी.

इस प्रक्रिया में अधिक समय लगा क्योंकि जापान ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किए गए परीक्षणों के साथ-साथ अपने परीक्षण करने पर जोर दिया.असाही शिंबन अख़बार के अनुसार, अधिकारियों का कहना है कि यह वैक्सीन में विश्वास पैदा करने के लिए किया गया था.इसके अलावा साइड इफ़ेक्ट की चिंता के कारण भी लोगों में झिझक बढ़ी. headtopics.com

दिल्ली पुलिस ने दबोचा शातिर अपराधी, नेशनल ताइक्वांडो में जीत चुका है गोल्ड मेडल भारत बंद की वजह से 50 ट्रेनों की सर्विस पर असर पड़ा: रेलवे - BBC Hindi केंद्र सरकार को 'सुप्रीम' फटकार, कहा- युवा डॉक्टरों के साथ फुटबॉल जैसा बर्ताव न करें

इंपीरियल कॉलेज लंदन ने 15 देशों पर अध्ययन किया जिसमें पाया गया कि जापान में कोरोना वायरस टीकों को लेकर लोगों में विश्वास की सबसे अधिक कमी थी.इसके अलावा आपूर्ति की कमी और लॉजिस्टिक्स की समस्याओं के कारण भी टीकाकरण के कार्यक्रम में रुकावट आई.जापानी क़ानून ने केवल डॉक्टरों और नर्सों को टीकाकरण करने की अनुमति दी गई थी, लेकिन बाद में नियमों में ढील दी गई.

हर रोज़ लगने वाली खुराक़ की संख्या मई और लगभग जून में बढ़ी, लेकिन हाल के समय में इसमें दोबारा गिरावट आ गई है.इमेज स्रोत,Getty Imagesजापान ने और क्या उपाय किए हैं?बीते साल जब महामारी ने दस्तक दी तो बहुत से देशों के विपरीत जापान ने ना तो अपने यहां सख़्त लॉकडाउन लागू किया और ना ही अपनी सीमाओं को पूरी तरह से बंद किया.

अप्रैल 2020 में सरकार ने आपातकाल की स्थिति की घोषणा की, हालांकि घर में रहने के दिशा-निर्देश स्वैच्छिक थे. गैर-आवश्यक व्यवसायों को बंद करने के लिए कहा गया था, लेकिन उसे नहीं मानने वालों के लिए दंड जैसा कुछ नहीं था.कुछ देशों से आने वालों के लिए प्रतिबंध लागू किए गए थे और कुछ देशों को बाद में भी प्रतिबंधित किया गया था. फ़िलहाल 159 देशों (विशेष परिस्थितियों को छोड़कर) से प्रवेश वर्जित है.

जापान में एक बड़ी बुजुर्ग आबादी है और शहरी क्षेत्र बेहद घनी आबादी वाले हैं. बावजूद इसके शुरुआती दौर में जापान वायरस को नियंत्रित करने और मृत्यु दर को नियंत्रित रखने में अपेक्षाकृत सफल साबित हुआ.ऐसा होने के पीछ कई तरह के सिद्धांत होने का दावा किया जा सकता है:- headtopics.com

मास्क पहनने जैसे सुरक्षा उपायों का सख़्ती से पालनगले लगने, किस करने या फिर निकट शारीरिक संपर्क से परहेज़ के नियम का पालनहृदय रोग, मोटापा और मधुमेह जैसी पुरानी बीमारी की कम दरहालाँकि, पूरे 2020 में वायरस का प्रकोप था. देश भर में संक्रमण के मामले भी बाद में बढ़े और चरम पर भी पहुंच गए.

उस समय, सरकार को अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए घरेलू यात्रा को प्रोत्साहित करने वाले अभियान के लिए आलोचना का सामना भी करना पड़ा था. और पढो: BBC News Hindi »

US दौरे पर PM मोदी, अब होगा आतंक पर वार! देखें हल्ला बोल

दो साल बाद अमेरिका के लिए पीएम मोदी की उड़ान तेजी से बदलती दुनिया में भारत की आन-बान और शान को दमदार अंदाज़ में दर्ज कराएगी. ये पहला मौका होगा जब प्रधानमंत्री मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर जो बाइडेन आमने सामने मुलाकात करेंगे. माना जा रहा है कि पीएम मोदी और जो बाइडेन की मुलाकात में अफगानिस्तान में तालिबान राज और उसके बाद के बढ़ते खतरे पर भी बात होगी. भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय रिश्तों को मजबूती देने के अलावा प्रधानमंत्री के एजेंडे में आतंकवाद पर दुनिया को कड़ा संदेश देना भी शामिल होगा. SCO की बैठक में पीएम मोदी आतंकवाद को लेकर चीन और पाकिस्तान के सामने खरी-खरी सुना चुके हैं. आज हल्ला बोल में देखें इसी मुद्दे पर चर्चा.

PMOIndia प्रिय नरेंद्र मोदी जी हमें भी सीबीएसई aur अन्य बोर्ड प्राइवेट बोर्ड के जैसे प्रमोट किया जाए हमारे साथ भेदभाव नही करे कोविद-19 को देखते हुए cbseindia29 dpradhanbjp IndiaToday rajeduofficial PromoteCBSEPrivateStudents WakeupCBSE PMOIndia प्रिय नरेंद्र मोदी जी हमें भी सीबीएसई aur अन्य बोर्ड प्राइवेट बोर्ड के जैसे प्रमोट किया जाए हमारे साथ भेदभाव नही करे कोविद-19 को देखते हुए cbseindia29 dpradhanbjp IndiaToday rajeduofficial PromoteCBSEPrivateStudents WakeupCBSE

टोक्यो ओलंपिक: उद्घाटन समारोह में कम से कम होगी भारतीय एथलीटों की भागीदारीटोक्यो ओलंपिक: उद्घाटन समारोह में कम से कम होगी भारतीय एथलीटों की भागीदारी Tokyo2020 TokyoOlympics Cheer4India TokyoOlympics2021 ianuragthakur Amar Ujala सोशल मीडिया के मेरे फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पेज को लाइक और फॉलो करे फेसबुक - इंस्टाग्राम - ट्विटर - व्हाट्सएप्प - समीर श्रीवास्तव ianuragthakur This is not perfect image but good for make again India brave rich country ianuragthakur माँ भारती की जय

इंश्योरेंस बिजनेस प्रभावित: कोविड क्लेम में आई जबरदस्त तेजी, कंपनियों के फायदे पर हुआ इसका असरHDFC लाइफ इंश्योरेंस ने 70 हजार दावों के लिए पेमेंट किया,ICICI प्रूडेंशियल लाइफ ने क्लेम के लिए 498 करोड़ अलग से रखा है | covid second wave, life insurance, HDFC life insurance, Covid-19 Insurance Policy, Coronavirus Term Insurance, Coverage Against Coronavirus

वापसी: टीम इंडिया में लौटे ऋषभ पंत, कोविड-19 का हुए थे शिकारवापसी: टीम इंडिया में लौटे ऋषभ पंत, कोविड-19 का हुए थे शिकार RishabhPant INDvsENG

बीते एक दिन में कोविड-19 संक्रमण के 41,383 नए मामले और 507 लोगों की मौतभारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 31,257,720 पर पहुंच गई है और यह महामारी अब तक 418,987 लोगों की जान ले चुकी है. विश्व में संक्रमण के मामले 19.20 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं और अब तक 41.27 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है. मैडम बोल रही थी औकात में रहो औकात में रहो तभी प्रवक्ता ने ऐसा रबड़ा कि मैडम औकात में आ गई। पूरी खबर के लिए वीडियो अंत तक देखे।

कोविड 19: कोरोना वायरस की चपेट में आईं जेनिफर विंगेट, तस्वीर साझा कर दिया हेल्थ अपडेटजानी-मानी टीवी एक्ट्रेस जेनिफर विंगेट कोरोना संक्रमित पाई गई हैं। इस बात की जानकारी अभिनेत्री ने खुद अपने सोशल मीडिया jenwinget तस्वीरों से तो लग रहा वैक्सीन लगवा कर आई है

Covid News Update: पोस्ट कोविड मरीज हो रहे टीबी का शिकार, स्टेरॉयड-डायबीटीज बड़ी वजहकोरोना वायरस से रिकवर हुए मरीजों में अलग-अलग तरह की परेशानियां देखी जा रही हैं। अभी तक पोस्ट कोविड मरीजों में लंग्स, हार्ट और किडनी की दिक्कत सामने आ रही थी लेकिन अब कई केस ऐसे मिले हैं जिनमें मरीजों में टीबी के लक्षण भी दिखाई दिए हैं। पिछले दिनों ऐसे कई केस सामने आए हैं।