Coronavirus, India, World, Deaths, Infection, Covid 19, कोरोनावायरस, कोविड19, विश्व, संक्रमण, मौत

Coronavirus, India

कोविड-19: एक दिन में संक्रमण के 343,144 नए मामले दर्ज और 4,000 लोगों की मौत

कोविड-19: एक दिन में संक्रमण के 343,144 नए मामले दर्ज और 4,000 लोगों की मौत #Coronavirus #India #World #Deaths #Infection #Covid19 #कोरोनावायरस #कोविड19 #भारत #विश्व #संक्रमण #मौत

14-05-2021 22:30:00

कोविड-19: एक दिन में संक्रमण के 343,144 नए मामले दर्ज और 4,000 लोगों की मौत Coronavirus India World Deaths Infection Covid19 कोरोनावायरस कोविड19 भारत विश्व संक्रमण मौत

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की आंकड़ा बढ़कर 24,046,809 हो गया हैं, जबकि मृतक संख्या बढ़कर 262,317 हो गई है. ये लगातार 22वां दिन है, जब देश में बीते एक दिन में तीन लाख से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं. विश्व में संक्रमण के 16.11 करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आए हैं, जबकि 33.44 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

नई दिल्ली:देश में एक दिन में 343,144 नए लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के बाद कोविड-19 के मामले बढ़कर 24,046,809 हो गए हैं, जबकि 4,000 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या बढ़कर 262,317 हो गई है.28 अप्रैल के बाद से यह लगातार 17वां दिन है, जब एक दिन में तीन हजार से अधिक लोगों की मौत हुई है. साथ ही 21 अप्रैल के बाद से लगातार 23वां दिन है, जब एक दिन में मरने वालों की संख्या दो हजार का आंकड़ा पार गई.

नाकाबिल नवजोत सिंह सिद्धू को बतौर CM नहीं करूंगा कबूल : अमरिंदर सिंह कैप्टन अमरिंदर सिंह ने NDTV से कहा- सिद्धू पाकिस्तान समर्थक, उन पर भरोसा नहीं किया जा सकता कानूनी ढांचे पर छलका CJI का दर्द: चीफ जस्टिस रमना बोले- देश में अब भी गुलामी के दौर की न्याय व्यवस्था, यह भारत के हिसाब से ठीक नहीं

आंकड़ों पर गौर करें तो देश में 23 अप्रैल के बाद से ये लगातार 22वां दिन है, जब तीन लाख से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं. 15 अप्रैल से लगातार 30वें दिन संक्रमण के दो लाख से अधिक नए दैनिक मामले सामने आए हैं.केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 3,704,893 हो गई है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 15.41 प्रतिशत है, जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 83.50 प्रतिशत हो गई है.

आंकड़ों के मुताबिक, बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 20,079,599 हो गई है, जबकि संक्रमण से मृत्यु दर 1.09 फीसदी दर्ज की गई है.भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक, 13 मई तक 311,324,100 नमूनों की जांच की गई है जिनमें से 1,875,515 नमूनों की बृहस्पतिवार को जांच की गई. headtopics.com

बीते 24 घंटे के दौरान जिन 4,000 लोगों की मौत हुई है उनमें सर्वाधिक 850 मौत महाराष्ट्र में हुई है. इसके बाद कर्नाटक में 344, दिल्ली में 308, तमिलनाडु में 297, उत्तर प्रदेश में 277, पंजाब में 186, छत्तीसगढ़ में 195, हरियाणा में 163, राजस्थान में 159, पश्चिम बंगाल में 129, उत्तराखंड में 122 और गुजरात में 109 लोगों की मौत हुई.

देश में अब तक 262,317 लोगों की मौत हुई है, जिसमें से 78,857 मरीजों की मौत महाराष्ट्र में, कर्नाटक में 20,712, दिल्ली में 20,618, तमिलनाडु में 16,768, उत्तर प्रदेश में 16,646, पश्चिम बंगाल में 12,857, पंजाब में 11,297 और छत्तीसगढ़ में 11,289 लोगों की मौत हुई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 70 प्रतिशत से अधिक मौत अन्य गंभीर बीमारियों के चलते हुई हैं.आंकड़ों के मुताबिक, देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख (7 अगस्त 2020 को) तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख (23 अगस्त 2020) की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख (5 सितंबर 2020) तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है.

वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख (16 सितंबर 2020) की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे. मामलों की संख्या 50 लाख से 60 लाख (28 सितंबर 2020 को) होने में 12 दिन लगे थे. 60 से 70 लाख (11 अक्टूबर 2020) होने में इसे 13 दिन लगे. 70 से 80 लाख (29 अक्टूबर को 2020) होने में 19 दिन लगे और 80 से 90 लाख (20 नवंबर 2020 को) होने में 13 दिन लगे. 90 लाख से एक करोड़ (19 दिसंबर 2020 को) होने में 29 दिन लगे. headtopics.com

कैप्टन के इस्तीफे के बाद Punjab में कितनी बढ़ गईं Congress की मुश्किलें, समझिए नोटबंदी का नहीं हुआ असर: NCRB की रिपोर्ट में खुलासा, महाराष्ट्र में एक साल में 83.61 करोड़ रुपए के फर्जी नोट बरामद हुए, देश में नकली करेंसी बरामदगी 190 प्रतिशत बढ़ी सोनू सूद ने 20 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी की: आयकर विभाग - BBC News हिंदी

इसके 107 दिन बाद यानी पांच अप्रैल को मामले सवा करोड़ से अधिक हो गए, लेकिन संक्रमण के मामले डेढ़ करोड़ से अधिक होने में महज 15 दिन (19 अप्रैल को) का वक्त लगा और फिर सिर्फ 15 दिनों बाद चार मई को गंभीर स्थिति में पहुंचते हुए आंकड़ा 1.5 करोड़ से दो करोड़ के पार चला गया.

अप्रैल अब तक सर्वाधिक घातक महीनाकोरोना वायरस संक्रमण के लिहाज से बात करें तो देश मेंअप्रैल का महीना अब तक सबसे घातकसाबित हुआ है. इस महीने में संक्रमण के नए मामलों ने सिर्फ एक या दो दिन ही गिरावट दर्ज की, वरना लगभग हर दिन रिकॉर्ड मामले दर्ज किए गए.बीते 24 घंटे के दौरान नए मामलों की सर्वाधिक संख्या बीते 30 अप्रैल को 386,452 दर्ज की गई और इस अवधि में जान गंवाने वालों की सर्वाधिक 3,645 संख्या 29 अप्रैल को रही है.

इस महीने में 22 अप्रैल से 30 अप्रैल तक एक दिन में संक्रमण के तीन लाख से अधिक मामले दर्ज किए गए. 15 अप्रैल से लेकर 21 अप्रैल के बीच हर दिन दो लाख से अधिक मामले दर्ज किए गए और पांच अप्रैल से 14 अप्रैल तक (सिर्फ छह अप्रैल को 96,982 मामले आए थे) एक लाख से अधिक मामले दर्ज किए.

अप्रैल में एक दिन में मरने वालों की संख्या की बात करें तो 28 से 30 अप्रैल तक हर दिन 3,000 से अधिक लोगों की जान गई. 21 से 27 अप्रैल के बीच हर दिन 2,000 से अधिक लोगों की मौत हुई और 12 से 20 अप्रैल तक हर दिन 1,000 से अधिक लोगों ने दम तोड़ा था.वायरस के मामले और मौतें headtopics.com

और पढो: द वायर हिंदी »

भास्कर एक्सप्लेनर: जानिए उन चेहरों के बारे में जो बने जेट 2.0 के पंख; पर पिक्चर अभी बाकी है क्योंकि न तो स्लॉट्स हैं और न ही प्लेन, पार्किंग स्पेस भी बड़ी समस्या

अप्रैल 2019 से बंद पड़ी जेट एयरवेज फिर से उड़ने की तैयारी कर रही है। एयरलाइन के नए मैनेजमेंट ने दावा किया है कि 2022 की पहली तिमाही में इसकी घरेलू उड़ान शुरू हो जाएगी। वहीं, 2022 की तीसरी या चौथी तिमाही में इंटरनेशनल ऑपरेशन्स भी शुरू हो जाएंगे। | Jet Airways To Resume Domestic operations, starting with service In first quarter of 2022 2019 and How Many Employees Are There In Jet Airways Now? में नरेश गोयल की जेट एयरवेज का ऑपरेशन बंद कर दिया गया था। कंपनी दिवालिया होने के कगार पर थी। लेकिन, अब इसे दोबारा शुरू करने की बात कही जा रही है। दरअसल, इसी साल जून में नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT)

यह पिक्चर तो reuter ने अपनी एक पोस्ट में लगाई थी। ठीक 4000 !!?