Corona, Uttrakhand, Industry, Tourism, Business, Economy, Effect, Pandemic, Unemployment, Crisis

Corona, Uttrakhand

कोरोना की मार से चरमरा गया पर्यटन कारोबार

कोरोना की मार से चरमरा गया पर्यटन कारोबार

03-08-2021 21:22:00

कोरोना की मार से चरमरा गया पर्यटन कारोबार

कोरोना महामारी के कारण उत्तराखंड में औद्योगिक तथा पर्यटन व्यवसाय बुरी तरह से प्रभावित हुआ है जिसका असर राज्य की आर्थिक स्थिति पर बहुत ज्यादा पड़ा है।

और पढो: Jansatta »

भास्कर एक्सप्लेनर: जानिए उन चेहरों के बारे में जो बने जेट 2.0 के पंख; पर पिक्चर अभी बाकी है क्योंकि न तो स्लॉट्स हैं और न ही प्लेन, पार्किंग स्पेस भी बड़ी समस्या

अप्रैल 2019 से बंद पड़ी जेट एयरवेज फिर से उड़ने की तैयारी कर रही है। एयरलाइन के नए मैनेजमेंट ने दावा किया है कि 2022 की पहली तिमाही में इसकी घरेलू उड़ान शुरू हो जाएगी। वहीं, 2022 की तीसरी या चौथी तिमाही में इंटरनेशनल ऑपरेशन्स भी शुरू हो जाएंगे। | Jet Airways To Resume Domestic operations, starting with service In first quarter of 2022 2019 and How Many Employees Are There In Jet Airways Now? में नरेश गोयल की जेट एयरवेज का ऑपरेशन बंद कर दिया गया था। कंपनी दिवालिया होने के कगार पर थी। लेकिन, अब इसे दोबारा शुरू करने की बात कही जा रही है। दरअसल, इसी साल जून में नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT)

इलाहाबाद विश्वविद्यालय की लैब में बना कोरोना से लड़ने वाला 'अस्त्र', जानें कैसे होगा कारगरकोरोना वायरस के खिलाफ चल रही जंग के बीच इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) में रसायन विज्ञान विभाग के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है। प्रोफेसर रमेंद्र कुमार सिंह के निर्देशन में आठ ऐसे रासायनिक यौगिकों को खोज निकाला गया है जो वायरस के संक्रमण से लड़ने में कारगर साबित होंगे। जीवनदायिनी मां गंगा यमुना सरस्वती के संगम प्रयागराज विश्वविद्यालय में वैश्विक महामारी कोविड-19 के संक्रमण को समाप्त करने के लिए हुए समुद्र मंथन में रासायनिक गुणोंका अन्वेषण भारत ही नहीं दुनियाके लिए एक वरदान है गंगा यमुना सरस्वती का संगम प्रयागराज धरतीपर सबसे महानहै dpradhanbjp

IND vs ENG: सूर्यकुमार यादव और शॉ की आई कोरोना रिपोर्ट, जानिए कब रवाना होंगे इंग्लैंडइंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले टीम इंडिया के लिए एक खुशखबरी ये आई है कि टीम के दो रिप्लेसमेंट खिलाड़ी पृथ्वी शॉ और सूर्यकुमार यादव की आखिरी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है।

टीकाकरण: आईसीएमआर का दावा- कोरोना की वैक्सीन 'कोवाक्सिन' डेल्टा प्लस वेरिएंट के खिलाफ प्रभावीटीकाकरण: आईसीएमआर का दावा- कोरोना की वैक्सीन 'कोवाक्सिन' डेल्टा प्लस वेरिएंट के खिलाफ प्रभावी CovidVaccine deltaplus icmr मोटा पैसा मिल गया क्या। WHO को बोलिये मान्यता देगा।

दिल्ली में फिर खुले चिड़ियाघर के दरवाजे, कोरोना की दूसरी लहर के बाद लोगों में उत्साहकोरोना की भयानक लहर से जूझने के बाद रविवार को चिड़ियाघर के दरवाज़े लोगों के लिए फिर खोल दिए गए हैं. रविवार की सुबह रिमझिम बारिश, सुहावने मौसम के बीच पेरेंट्स और बच्चों के चेहरे पर अद्भुत मुस्कान देखने को मिली. PankajJainClick AajTak सोशल मीडिया के मेरे फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पेज को लाइक और फॉलो करे फेसबुक - इंस्टाग्राम - ट्विटर - व्हाट्सएप्प - समीर श्रीवास्तव PankajJainClick Reservations system must be removed for India Constitution...Its injustice to general category people and students..Those who are really capable for that position but unable to get it.... dpradhanbjp narendramodi RahulGandhi AdvMamtaSharma हम_आरक्षण_के_ख़िलाफ़_है PankajJainClick ससूरी स्कूलों को कोरोना छोड़ती ही नहीं.. अनपढ़ रहेगा इंडिया तभी मोदी की सल्तनत सुरक्षित हैं पढेंगे तो पैट्रोल डीजल की कीमतों पर सवाल उठायेंगे, पेगासस का हिसाब मांगेगा इंडिया तो बंद करो शूद्रों को ज्ञान देना

शतक: 24 घंटे में 30 हजार 549 नए कोरोना केस, 422 की गई जानदेश में पिछले 24 घंटे में 30 हजार 549 नए कोरोना केस सामने आए. देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 422 लोगों की गई जान. देश में अब तक 4 लाख 25 हजार 155 लोगों की कोरोना से जा चुकी है जान. देश में अभी कोरोना के कुल 4 लाख 4 हजार 958 एक्टिव केस. देश में अब तक 47 करोड़ 85 लाख से ज्यादा लोगों का हुआ वैक्सीनेशन. कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच सोलापुर से बुरी खबर, 10 दिनों में 613 बच्चे हुए कोरोना संक्रमित. सोलापुर में कोरोना पीड़ित 613 बच्चों में ज्यादातर ग्रामीण अंचल के. ओडिशा के भुवनेश्वर ने पेश की नजीर, 100 फीसदी वैक्सीनेशन का लक्ष्य किया हासिल. कोरोना संकट के बीच पूर्वी चंपराण का बनकटवा प्रखंड बना मिसाल, 100 फीसदी वैक्सीनेशन की हर ओर है चर्चा. देखें शतक आजतक.

'नेहरू सरकार ने बिन तैयारी, बेमन से चीन से शुरू की थी बात'उनके मुताबिक, दूसरी ओर चीन की मोल-तोल की रणनीति बेहद प्रैक्टिकल और व्यवस्थित थी। चीनियों ने भारत को ग्यांत्से और यादोंग से अपने सैन्य अनुरक्षकों को वापस लेने के लिए 'मनाया'।