Coronaupdate, Coronavirus

कोरोना का कहर: महाराष्ट्र, यूपी-दिल्ली में राहत, पर एमपी-कर्नाटक के हालात बिगड़े

खासतौर पर मध्यप्रदेश और कर्नाटक में अब हालात बिगड रहे हैं। मध्यप्रदेश में इस समय 45 जिले ऐसे हैं जहां कोरोना की संक्रमण

14-05-2021 05:38:00
Coronaupdate, Coronavirus, Covid 19, Coronavaccine, Coronavirus İn Madhya Pradesh, Coronavirus İn Karnataka, Coronavirus, Corona Cases İn İndia, Corona News, Coronavirus İndia, Coronavirus Vaccine, Coronavirus News İndia, Coronavirus Cases, Corona Vaccine, Corona İn İndia, Corona Cases İn İndia Today, Ladengecoronase

कोरोना का कहर: महाराष्ट्र, यूपी-दिल्ली में राहत, पर एमपी-कर्नाटक के हालात बिगड़े CoronaUpdate Coronavirus Covid19 Coronavaccine drharshvardhan MoHFW_INDIA PMOIndia ICMRDELHI

खासतौर पर मध्यप्रदेश और कर्नाटक में अब हालात बिगड रहे हैं। मध्यप्रदेश में इस समय 45 जिले ऐसे हैं जहां कोरोना की संक्रमण

Published by:Updated Fri, 14 May 2021 05:56 AM ISTसारमहामारी का प्रकोप अब कम प्रभावित राज्यों की ओरहरियाणा में गंभीर हो रहा संक्रमण22 जिलों में 10 फीसदी से ज्यादा मिले संक्रमितविज्ञापनकोरोना वायरस से मौत...- फोटो : PTIपढ़ें अमर उजाला ई-पेपरकहीं भी, कभी भी।

कश्मीरी नेता पीएम मोदी के साथ बैठक के न्योते पर बोले- विचार करेंगे: आज की बड़ी ख़बरें - BBC Hindi कोरोना की दूसरी लहर के दौरान बिहार में 75 हजार मौतों की नहीं पता वजह, आंकड़ों से हुआ खुलासा कोरोना की तीसरी लहर की आशंका, केंद्र सरकार ने राज्यों को दी चेतावनी: आज की बड़ी ख़बरें - BBC Hindi

ख़बर सुनेंख़बर सुनेंमहामारी की मार अलग अलग राज्यों में अलग-अलग समय पर नजर आ रही है। अभी तक महाराष्ट्र, दिल्ली, उत्तर प्रदेश में हालात गंभीर थे, लेकिन अब राज्यों में महामारी का असर बदल रहा है। जिन राज्यों में संक्रमण का असर ज्यादा था, वहां नए मामले कम हो रहे हैं लेकिन जहां पहले कम थे वहां बढ़ने लगे हैं।

खासतौर पर मध्यप्रदेश और कर्नाटक में अब हालात बिगड़ रहे हैं। मध्यप्रदेश में इस समय 45 जिले ऐसे हैं जहां कोरोना की संक्रमण दर 10 फीसदी और 28 जिलों में यह 20 फीसदी से काफी ज्यादा है।हालात यह हैं कि वहां सक्रिय मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है और इसके चलते अस्पतालों पर भार भी बढ़ रहा है। वहीं, कर्नाटक की बात करें तो यहां 29 जिलों में संक्रमण की दर 10 फीसदी से अधिक है। headtopics.com

लेकिन गौर करने वाली बात है कि 29 में से 26 जिले में यह दर 20 फीसदी से ज्यादा है। इसी तरह देश की राजधानी दिल्ली से सटे हरियाणा में अब हालात गंभीर हो रहे हैं। हरियाणा के 22 जिलों में 10 फीसदी से ज्यादा संक्रमित मिल रहे हैं।महाराष्ट्र के 22 जिलों में अधिक संक्रमण बढ़ा

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार महाराष्ट्र में अभी 22 जिलों में सबसे ज्यादा नए मामले मिल रहे हैं . जो अगले एक से दो सप्ताह में कम होने की उम्मीद है। राजस्थान , हरियाणा , मध्यप्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, ओडिशा, केरल और छत्तीसगढ़ में एक एक दर्जन से ज्यादा जिले संक्रमण के अत्यधिक भार का सामना कर रहे हैं।

दूसरी लहर एकदम से शांत नहीं होने वाली: डॉ. गुलेरियानई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा था कि देश में महामारी की दूसरी लहर एकदम से शांत नहीं होने वाली है। इसका अलग-अलग राज्य में अलग ही स्थिति हो सकती है। कहीं लहर कम होने लगेगी तो कहीं यह बढ़ेगी।

हालांकि, बीते फरवरी माह की स्थिति में आने के लिए लंबा समय लग सकता है। इसी तरह का अनुमान पूर्व महामारी विशेषज्ञ डॉ. रमन आर गंगाखेड़कर ने भी लगाया था। यह किस देश या राज्य में किस तरह मौसम, भीड़, लापरवाहियों के साथ स्थिति को गंभीर कर रहा है।दो दिन बाद फिर बढ़ी संक्रमण दर चार हजार से ज्यादा मरीजों की मौत headtopics.com

48 घंटे में दूसरी बार अमित शाह से मिले बंगाल के गवर्नर, फिर चुनाव बाद हिंसा पर की कड़ी टिप्पणी कोरोनावायरस का डेल्टा वैरिएंट पहली बार उत्तर पूर्व के 2 राज्यों में मिला : सूत्र पंचतत्व में विलीन हुए 'फ्लाइंग सिख', राजकीय सम्मान के साथ दी गई मिल्खा सिंह को अंतिम विदाई

देश में कोरोना को संक्रमण दर एक बार फिर बड़ी है। बीते दो दिन में यह दर 18 फीसदी से भी नीचे आ गई थी, पर बुधवार को फिर से यह 19.45 फीसदी तक पहुंच गई। वहीं, संक्रमण से होने वाली मौतों में भी कमी नहीं आई है।पिछले एक दिन में चार हजार से ज्यादा मौतें हुई हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, बृहस्पतिवार सुबह तक बीते 24 घंटों में 3,62,727 नए संक्रमित मिले हैं, जबकि 4,120 लोगों की मौत हुई।

इस दौरान 3,52,181 लोग ठीक भी हुए। बीते छह सप्ताह से रिकवरी की स्थिति लगातार बेहतर हो रही है। महाराष्ट्र में संक्रमण के मामले अब कम होने लगे हैं लेकिन कर्नाटक में सक्रिय मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है।528 जिलों में संक्रमण 10 % से अधिकदेश के 528 जिलों में कोरोना की संक्रमण दर अब भी 10 फीसदी से अधिक है। इनमें से 298 जिले ऐसे हैं जहां कोरोना की संक्रमण दर 20% से ज्यादा है।

जब तक यह दर 5% या उससे कम नहीं होती है तब तक हालात नियंत्रण में आने का दावा नहीं किया जा सकता।विस्तारमहामारी की मार अलग अलग राज्यों में अलग-अलग समय पर नजर आ रही है। अभी तक महाराष्ट्र, दिल्ली, उत्तर प्रदेश में हालात गंभीर थे, लेकिन अब राज्यों में महामारी का असर बदल रहा है। जिन राज्यों में संक्रमण का असर ज्यादा था, वहां नए मामले कम हो रहे हैं लेकिन जहां पहले कम थे वहां बढ़ने लगे हैं।

विज्ञापनखासतौर पर मध्यप्रदेश और कर्नाटक में अब हालात बिगड़ रहे हैं। मध्यप्रदेश में इस समय 45 जिले ऐसे हैं जहां कोरोना की संक्रमण दर 10 फीसदी और 28 जिलों में यह 20 फीसदी से काफी ज्यादा है।हालात यह हैं कि वहां सक्रिय मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है और इसके चलते अस्पतालों पर भार भी बढ़ रहा है। वहीं, कर्नाटक की बात करें तो यहां 29 जिलों में संक्रमण की दर 10 फीसदी से अधिक है। headtopics.com

लेकिन गौर करने वाली बात है कि 29 में से 26 जिले में यह दर 20 फीसदी से ज्यादा है। इसी तरह देश की राजधानी दिल्ली से सटे हरियाणा में अब हालात गंभीर हो रहे हैं। हरियाणा के 22 जिलों में 10 फीसदी से ज्यादा संक्रमित मिल रहे हैं।महाराष्ट्र के 22 जिलों में अधिक संक्रमण बढ़ा

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार महाराष्ट्र में अभी 22 जिलों में सबसे ज्यादा नए मामले मिल रहे हैं . जो अगले एक से दो सप्ताह में कम होने की उम्मीद है। राजस्थान , हरियाणा , मध्यप्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, ओडिशा, केरल और छत्तीसगढ़ में एक एक दर्जन से ज्यादा जिले संक्रमण के अत्यधिक भार का सामना कर रहे हैं।

झारखंडः आदिवासियों का दावा, युवक को माओवादी समझ पुलिस ने 'मारी गोली' - BBC News हिंदी कोरोना से अपनों की मौत के बाद ख़ुद को संभालने के लिए क्या करें? - BBC News हिंदी 'बीजेपी के साथ कांग्रेस भी माफी मांगे,' दिल्ली हिंसा मामले में युवाओं की रिहाई पर बोले असदुद्दीन ओवैसी

दूसरी लहर एकदम से शांत नहीं होने वाली: डॉ. गुलेरियानई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा था कि देश में महामारी की दूसरी लहर एकदम से शांत नहीं होने वाली है। इसका अलग-अलग राज्य में अलग ही स्थिति हो सकती है। कहीं लहर कम होने लगेगी तो कहीं यह बढ़ेगी।

हालांकि, बीते फरवरी माह की स्थिति में आने के लिए लंबा समय लग सकता है। इसी तरह का अनुमान पूर्व महामारी विशेषज्ञ डॉ. रमन आर गंगाखेड़कर ने भी लगाया था। यह किस देश या राज्य में किस तरह मौसम, भीड़, लापरवाहियों के साथ स्थिति को गंभीर कर रहा है।दो दिन बाद फिर बढ़ी संक्रमण दर चार हजार से ज्यादा मरीजों की मौत

देश में कोरोना को संक्रमण दर एक बार फिर बड़ी है। बीते दो दिन में यह दर 18 फीसदी से भी नीचे आ गई थी, पर बुधवार को फिर से यह 19.45 फीसदी तक पहुंच गई। वहीं, संक्रमण से होने वाली मौतों में भी कमी नहीं आई है।पिछले एक दिन में चार हजार से ज्यादा मौतें हुई हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, बृहस्पतिवार सुबह तक बीते 24 घंटों में 3,62,727 नए संक्रमित मिले हैं, जबकि 4,120 लोगों की मौत हुई।

इस दौरान 3,52,181 लोग ठीक भी हुए। बीते छह सप्ताह से रिकवरी की स्थिति लगातार बेहतर हो रही है। महाराष्ट्र में संक्रमण के मामले अब कम होने लगे हैं लेकिन कर्नाटक में सक्रिय मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है।528 जिलों में संक्रमण 10 % से अधिकदेश के 528 जिलों में कोरोना की संक्रमण दर अब भी 10 फीसदी से अधिक है। इनमें से 298 जिले ऐसे हैं जहां कोरोना की संक्रमण दर 20% से ज्यादा है।

जब तक यह दर 5% या उससे कम नहीं होती है तब तक हालात नियंत्रण में आने का दावा नहीं किया जा सकता।आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?

हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

द ग्रेट इंडियन पॉलिटिकल ड्रामा: स्पेशल रिपोर्ट में देखें कैसे पूरे दिन रही सियासी गलियारों में हलचल

आज स्पेशल रिपोर्ट में बात करेंगे द ग्रेट इंडियन पॉलिटिकल ड्रामे की. पूरे दिन सियासी गलियारे में हाइवोल्टेड ड्रामा चलता है, दिल्ली में दो फ्रंट पर सियासी बैटिंग होती रही, एक फ्रंट पर योगी और मोदी की चर्चा तो दूसरी तरफ बीजेपी बनाम आम आदमी पार्टी में तू-तू मैं-मैं. वहीं बंगाल में बीजेपी को ममता ने जोर का झटका जोर से दिया. मुकुल रॉय ने बीजेपी को टाटा बाय-बाय कह दिया, राजस्थान में सचिन पायलट कांग्रेस को थैंक्यू ना कह दे इस लिए दिनभर रूठने और मनाने का खेल चलता रहा. पंजाब में कांग्रेस किचकिच में परेशान है तो अकाली दल ने मैदान मारने के लिए हाथी की सवारी को हरी झंडी दे दी. ज्यादा जानकारी के लिए देखें वीडियो.

drharshvardhan MoHFW_INDIA PMOIndia ICMRDELHI UP me kaise rahat ki baat kar rahe. Udher ke gaov ka haal nahi malum yeh masum ko. Bhakti me kami nahi aana chahiye bas

आजतक इम्पैक्ट: बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा- महाराष्ट्र के गांवों में सबको मिले कोरोना का इलाजएक सुनवाई के दौरान बॉम्बे हाईकोर्ट ने आजतक की पालघर में की गई एक ग्राउंड रिपोर्ट का जिक्र किया. कोर्ट ने कहा ''इंडिया टुडे से पंकज कुमार नाम के रिपोर्टर ने पालघर से रिपोर्ट की है. वहां न बिस्तर हैं, न कोई सुविधा हैं, मरीज जमीन पर लेट रहे हैं. उस रिपोर्ट में परिजनों और मरीजों के साथ जो इंटरव्यू थे, वो आंख खोल देने वाले थे.'' pankajcreates journovidya आज तक का कैमरा हाथरस तो खूब दौड़ा,रोज दौड़ा,पर टिकरी बार्डर बलात्कार की शिकार बंगाली महिला के पास कितना दौड़ा। Sarm karo nalayko tumhe jo pese de sirf vahi news dikhate ho Shame on u aaj tak

कोरोना टीका: सीरम और भारत बायोटेक का हर महीने 17.8 करोड़ खुराकें बनाने का वादाकोरोना टीका: सीरम इंस्टीट्यूट का अगस्त तक हर महीने 10 करोड़ खुराकें बनाने का वादा Coronavirus SerumInstitute BharatBiotech PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI This company ran away with the money of all people. Scam 2021 PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI PM care fund से आए UP में बिजनौर के सरकारी अस्पतालों में 24 और फीरोजाबाद में 67 ventilator ट्रैनेड मैडिकल स्ताफ्फ़ के ना होने से धूल चाट रहें हैं और मरीज़ बेहाल हैं।

AMU में कोरोना का कहर, VC ने की शिक्षा मंत्री से बात, CM योगी का हरसंभव मदद का वादाAMU में कोरोना का कहर जारी है. 20-22 दिनों में स्टाफ के 40 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है, जिनमें 18 मौजूदा प्रोफेसर भी शामिल हैं. अभी भी कई ऐसे प्रोफेसर और स्टाफ हैं, जो कोरोना संक्रमित हैं. Bahut dukh hua🤓 FarahKhanAli ki dua kabool hui

कोरोना का टीका लगाने पर 'दावत' | DW | 12.05.2021वैक्सीनेशन को बढ़ावा देने के लिए सर्बिया के क्रागुएवात्स शहर में रेस्तरां मालिक स्ताव्रो रासकोविच ने उन लोगों को मुफ्त में स्थानीय व्यंजन खाने का मौका दिया जिन लोगों ने कोरोना की वैक्सीन लगवा ली. COVID19Vaccination Covid_19 Corona Serbia eh Great

पूर्व तेज गेंदबाज RP सिंह के पिता का निधन, कोरोना वायरस से थे संक्रमितपूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह के पिता का निधन हो गया है. उनके पिता शिव प्रसाद सिंह पिछले महीने कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे.

Hrithik Roshan ने कोरोना काल में आगे बढ़ाया मदद का हाथ, Twinkle Khanna ने की तारीफकोरोना महामारी के इस दौर में कई बॉलीवुड सेलेब्स मदद के लिए हाथ आगे बढ़ा रहे हैं। बॉलीवुड एक्टर रितिक रोशन भी कोविड रिलीफ में मदद करने की हर संभव कोशिश कर रहे हैं। अब, ट्विंकल खन्ना ने ऋतिक रोशन इस संकट के दौरान आगे आने और मदद करने के लिए उनकी प्रशंसा करते हुए अपने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट साझा किया है।