Covıd 19, Coronavirus, Delhi, Manish Sisodia Announcement, Schools Not Open İn Delhi, Kejriwal Order, School Reopening, Kv Jnv Reopen From November 2, Maharashtra School Reopening, Maharashtra School Reopen Date, Education News, College Reopen, Punjab Schools, Punjab Schools Reopening, Amarinder Singh, Punjab Schools Students, Bihar Schools Reopening, Up Schools Reopening, Mp Schools Reopening, Tamilnadu Schools Reopening

Covıd 19, Coronavirus

कोरोना का कहर: मनीष सिसोदिया ने कहा, दिल्ली में अगले आदेश तक बंद रहेंगे सभी स्कूल

दिल्ली के शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को कहा कि दिल्ली के स्कूल अभी अगले आदेश तक बंद रहेंगे #COVID19 #Coronavirus #Delhi @PankajJainClick

28-10-2020 10:21:00

दिल्ली के शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को कहा कि दिल्ली के स्कूल अभी अगले आदेश तक बंद रहेंगे COVID19 Coronavirus Delhi PankajJainClick

दिल्ली के शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि मुझे बहुत सारे अभिभावक मिलते हैं, टीचर्स मिलते हैं जो यही सुझाव दे रहे हैं कि अभी स्कूल ओपन मत करिएगा.

पंकज जैन28 अक्टूबर 2020,(अपडेटेड 28 अक्टूबर 2020, 12:48 PM IST)दिल्ली के शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को कहा कि दिल्ली के स्कूल अभी अगले आदेश तक बंद रहेंगे. उन्होंने कहा कि मुझे बहुत सारे अभिभावक मिलते हैं, टीचर्स मिलते हैं जो यही सुझाव दे रहे हैं कि अभी स्कूल ओपन मत करिएगा. दुनिया में जहां भी स्कूल खुले हैं, वहां इस बात का डर रहा है. बच्चों के बीच कोरोना का डर बड़ा है

केंद्र सरकार ने आज किसानों को बातचीत के लिए बुलाया - आज की बड़ी ख़बरें - BBC Hindi Ravish Kumars prime time: why is the government adamant about agricultural laws? - रवीश कुमार का प्राइम टाइम : कृषि कानूनों को लेकर क्यों अड़ी है सरकार? वीडियो - हिन्दी न्यूज़ वीडियो एनडीटीवी ख़बर मैंने उस लड़की से कहा कि HIV ग्रस्त हूं तो उसका जवाब था... - BBC News हिंदी

अभिभावक के तौर पर भी मैं और मुख्यमंत्री सोचते हैं कि क्या हम अपने बच्चों को अभी स्कूल भेज पाएंगे या नहीं. अभी दिल्ली में स्कूल नहीं खुलेंगे. सरकारी, प्राइवेट और नगर निगम के सभी स्कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे. जब भी फैसला लिया जाएगा सूचित किया जाएगा.बता दें कि पिछले हफ्ते ही दिल्ली पेरेंट्स ऐसोसिएशन ने 2,498 पेरेंट्स से ली गई राय को एक पत्र के तौर पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को मेल भेजा था. इनमें से लगभग सभी अपने बच्चों को वर्तमान में स्कूलों में भेजने के लिए तैयार नहीं थे. दिल्ली के स्कूलों में पढ़ने वाले लगभग 2,500 बच्चों के माता-पिता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से अनुरोध किया था कि कोविड -19 महामारी के कारण स्कूलों को इस शैक्षणिक वर्ष में न खोला जाए.

देखें: आजतक LIVE TVइससे पहले दिल्ली सरकार ने दो नवंबर से स्कूल खोलने पर विचार किया था. लेकिन राजधानी में लगातार बढ़ते कोरोना संकट को देखते हुए सरकार ने स्कूलों को खोलने से मना कर दिया है. अनलॉक 5 की गाइडलाइन के तहत सरकार ने 30 सितंबर को राज्यों को कहा था कि वो 15 अक्टूबर से अपने राज्य की स्थ‍िति के अनुरूप फैसला लेकर स्कूल कॉलेज खोल सकते हैं. इसके बाद कई राज्यों ने अपने यहां स्कूल खोल दिए थे.

और पढो: आज तक »

खबरदार: किसानों का डेरा, दिल्ली पर चौतरफा घेरा

दिल्ली के चारों तरफ किसानों ने डेरा जमा दिया है. किसान संगठन टस से मस नहीं हो रहे. उन्होंने सरकार के ऑफर को भी रिजेक्ट कर दिया है. सरकार चाहती थी कि दिल्ली के बॉर्डर से हटकर किसान संगठन बुराड़ी के ग्राउंड में चले जाएं और वहां पर प्रदर्शन करें, फिर उनकी मांगों पर बातचीत होगी. लेकिन किसान संगठनों ने आज अपनी मीटिंग के बाद सरकार की कोई शर्त मानने से इनकार कर दिया. अगर बातचीत का कोई रास्ता नहीं निकला तो ये सरकार के लिए बड़ी परेशानी भी बन सकता है. देखें खबरदार.

PankajJainClick I see PankajJainClick mulk_azmiINC Follow back please Sir PankajJainClick PankajJainClick msisodia Closure of schools is resulting in permanent long term negative impact on children’s personality. I was in India for 3 weeks & everything seemed like working normally except educational institutions. It’s a joke. And children are anyway strong in their immunity

PankajJainClick Nobody thinking about School uniform shopkeeper We didn't earn single penny from March2020 All our Family depends on the shop

दिल्ली में अगले आदेश तक सभी स्कूल रहेंगे बंदः मनीष सिसोदियादिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि दिल्ली में अगले आदेश तक सभी स्कूल बंद रहेंगे। इस तरह से दिल्ली के Jagdees67898331 ArvindKejriwal msisodia और बाकी शिक्षण संसथान.. जैसे कॉलेज वगरा ArvindKejriwal msisodia बेहतर निर्णय, यूपी में आदेश कब? अभिभावकों की टिकी निगाहें myogiadityanath CMOfficeUP

KBC 12 के 22वें एपिसोड में पूछे गए हैं ये सवाल, क्या आपको पता हैं जवाब?KBC 12 Play Along 2020 Live Online on Sony Liv App Download: हॉटसीट पर आज डॉ श्रुति सिंह के साथ खेल की शुरुआत की जाएगी। Kaun Banega Crorepati का 22वें एपिसोड आज, घर बैठे आप भी खेलें प्ले अलॉन्ग।

किशोर बियानी की बेटियां भी हैं बिजनेस का हिस्सा, जानें संभालती हैं क्या जिम्मेदारीकिशोर बियानी ने बेटियों अशनि और अवनि को भी बिजनेस में शामिल किया है और उन्हें इसकी बारीकियां सिखाई हैं। यही नहीं किशोर बियानी कहते हैं कि उन्हें रिटेल सेक्टर की बारीकियां और ट्रेंड में चल रही चीजों की जानकारी अपनी बेटियों से ही मिलती रही है।

Madhubani: रविशंकर प्रसाद ने बताया क्यों आरजेडी के पोस्टर से गायब हैं लालू यादवरविशंकर प्रसाद ने कहा कि आज हर घर में बिजली है और सड़क बन चुकी है. पहले सड़क मार्ग से आने पर कमर टूट जाती थी. आज हमने हर तरफ तरक्की की है. आज आईटी का विकास हो रहा है. rsprasad rsprasad बिना मुख्यमंत्री बने जिसके समर्थक मुख्यमंत्री के सामने कदाचार कर सकते हैं, उसके मुख्यमंत्री बनने के बाद वैसे लोग महिलाओं, बेटियों और बहनों के साथ क्या क्या व्याभिचार कर सकते हैं इसका फैसला माताओं को करना है. rsprasad Nitish ji jo gyeb kr diye wo kiya

एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बताया, कैसे फिल्मों में सेलेक्ट करते हैं रोलकई सारी बायोपिक फिल्मों के लिए भी नवाज फिल्म निर्देशकों की पहली पसंद बनकर सामने आए हैं. इनदिनों वे सीरियस मैन फिल्म को लेकर सुर्खियों में हैं. उनकी इस फिल्म को भी काफी पसंद किया जा रहा है. welldoneFrance IAmWithFrance यह बयान भी एक पाकिस्तानी टी वी पर पाक नागरिक है जरा ऐसे भी देख और सुन ले आपकी महान कृपा होगी भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर भगवा_ट्विटर

'रिपब्लिक' का दावा- 130 करोड़ भारतीय हैं साथ, जज ने दागे चैनल की रिपोर्टिंग पर सवालअर्णब के मुताबिक, देश की जनता समझ चुकी है कि चैनल की आवाज, उनकी आवाज है। सच की जीत का इंतजार कर रही है। जान चुकी है कि महाराष्ट्र की दमनकारी सरकार का एकमात्र एजेंडा है- एक परिवार का बचाव। ओ एक सौ तीस करोड़ से मुझको पहलेनिकाल के बात करें जैसे साहेब के साथ हैं!!