कोरोना की गंभीर स्थिति के बीच अदालतों के निशाने पर केंद्र और राज्य - BBC News हिंदी

कोरोना की गंभीर स्थिति के बीच अदालतों के निशाने पर केंद्र और राज्य

04-05-2021 18:54:00

कोरोना की गंभीर स्थिति के बीच अदालतों के निशाने पर केंद्र और राज्य

सुप्रीम कोर्ट से लेकर कई हाईकोर्ट ने कोरोना के मामले में सख़्त रवैया अपनाते हुए सरकारों को फटकार लगाई है.

समाप्तहाईकोर्ट ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का आदेश तो है ही लेकिन अब हम भी कह रहें हैं कि चाहे जैसे भी हो केंद्र सरकार फ़ौरन दिल्ली को 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मुहैया कराए.गुजरातगुजरात हाईकोर्ट ने तो यहाँ तक कह दिया कि वो इस बात से बहुत व्यथित है कि कोरोना के मामले में सरकार उसके आदेशों की पूरी तरह अनदेखी कर रही है.

क्रिकेटर शमी के खिलाफ अपशब्दों को हटाने के लिए कदम उठाए गए हैं: फेसबुक क्रूज पर जाने से पहले गोसावी ने भेजी थी तस्वीरें, कहा था नजर रखना : NCB के गवाह नंबर-1 ने NDTV से कहा Petrol, Diesel Price Today : कहीं 116 तो कहीं 113 रुपये बिक रहा पेट्रोल, चेक कर लें आपके शहर में क्या है रेट

क़ानूनी मामलों की जानकारी देने वाली वेबसाइट लाइव लॉ के अनुसार मंगलवार को गुजरात हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस विक्रम नाथ और जस्टिस भार्गव डी कारिया की खंडपीठ ने कहा, "हम राज्य सरकार और निगम के रवैए से बहुत व्यथित हैं. इस न्यायालय द्वारा पारित आदेशों की पूरी तरह से अनदेखी की जा रही है. पिछले तीन आदेशों से, हम रियल टाइम अपडेट के मुद्दे का उल्लेख कर रहे हैं, लेकिन आज तक, राज्य या निगम द्वारा कुछ भी नहीं किया गया है."

इमेज स्रोत,Getty Imagesअदालत ने अहमदाबाद नगर निगम को आदेश दिया है कि वह COVID-19 अस्पतालों में विभिन्न श्रेण‌ियों के बेड की उपलब्धता का रियल टाइम अपडेट प्रदान करने के लिए एक ऑनलाइन डैशबोर्ड पेश करे.पटनाइमेज स्रोत,Neeraj Sahay/BBCबिहार में हर दिन बढ़ते कोरोना संक्रमण और उस पर राज्य सरकार की कार्यशैली को लेकर पटना उच्च न्यायालय ने कड़ी आपत्ति जताई है. शिवानी कौशिक की ओर से दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायालय ने अपनी नाराज़गी जताई और कहा कि कोरोना से निपटने में बिहार सरकार पूरी तरह नाकाम हो रही है, पूरी व्यवस्था ही ढेर हो चुकी है. headtopics.com

जानकारों का मानना है कि सोमवार को प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर पटना उच्च न्यायालय की फटकार के बाद ही मंगलवार को राज्य भर में 15 मई तक के लिए लॉकडाउन लगाया गया है.बिहार में कोरोना के हर दिन बढ़ते संक्रमण को लेकर चरमराई स्वास्थ्य व्यवस्था पर कोर्ट की नाराज़गी इस बात को लेकर थी कि राज्य के विभिन्न अस्पतालों में निरंतर ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर अब तक कोई ठोस एक्शन प्लान क्यों नहीं दिया गया है.

अस्पतालों में बिस्तर और वेंटीलेटर की कमी है. वहीं केंद्रीय कोटा से हर दिन मिलने वाले 194 मीट्रिक टन की जगह 160 मीट्रिक टन ही क्यों आपूर्ति की जा रही है. कोर्ट के निर्देश के बावजूद इएसआई अस्पताल, बिहटा पूरी क्षमता के साथ नहीं चालू किया जा सका है.पटना से

वरिष्ठ पत्रकार नीरज सहाएके अनुसार मंगलवार को सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने कहा कि सरकार के पास डॉक्टर, वैज्ञानिक, अधिकारियों की कोई सलाहकार समिति तक नहीं है जो अपने अनुभवी विचार इस महामारी से निपटने के लिए दे सके.ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर बार- बार निर्देश देने के बावजूद अब तक कोई ठोस नतीजा नहीं निकल सका है.

कोर्ट के आदेश की अवहेलना और हर दिन औसत 12 हज़ार एक्टिव केस मिलने पर नाराज़ खंडपीठ ने यहाँ तक कह दिया कि या तो सरकार बेहतर निर्णय ले या फिर कोर्ट कोई बड़ा निर्णय लेने को बाध्य होगा.कोर्ट की नाराज़गी भरे निर्देश के बाद राज्य सरकार ने आनन-फ़ानन में पाँच सदस्यों वाली एक्सपर्ट एडवाइज़री कमेटी गठित करने का निर्णय लिया है. इसके सदस्यों के नाम सोमवार को ही सौंप दिए गए हैं. headtopics.com

यूपी पुलिस ने कट्टर हिंदुत्ववादी नेता यति नरसिंहानंद पर ग़ुंडा एक्ट लगाने की प्रक्रिया शुरू की प्रकाश झा और 'आश्रम' वेब सिरीज़ को लेकर एमपी में गरमाई सियासत - BBC News हिंदी आर्यन खान होंगे रिहा या जेल में ही रहेंगे? जमानत अर्जी पर आज हाईकोर्ट में सुनवाई

इसपर कोर्ट ने अपनी सहमति देते हुए सरकार को आदेश दिया कि इन विशिष्ट जनों की सलाह को व्यावहारिक रूप से ज़मीन पर उतारने के लिए एक तेज़-तर्रार लोकसेवकों को भी कमेटी में शामिल किया जाना चाहिए. कोर्ट ने इसके लिए भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी संदीप पौंड्रिक का नाम भी सुझाया.

राजस्थानराजस्थान हाईकोर्ट ने भी मंगलवार को राज्य सरकार को निर्देश दिया कि वो अस्पतालों में बेड की उपलब्धता की जानकारी रियल टाइम में करे.अदालत ने कहा कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों को निर्देश दे दिए गए हैं कि वो अस्पतालों को ऑक्सीजन और दूसरी ज़रूरी दवाएँ युद्ध स्तर पर मुहैया कराएं. अदालत ने राज्य सरकार से भी कहा कि वो ऐसे प्लांट से ऑक्सीजन जेनेरेट करने के बारे में सोचें जो प्लांट फ़िलहाल बंद पड़े हैं लेकिन उन्हें चालू किया जा सकता है.

और पढो: BBC News Hindi »

Ind Vs Pak: पाक की जीत पर भारत में पटाखे जलाने वाले कौन? देखें खबरदार

कल जब पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ जीत हासिल की तो भारत में मौजूद पाकिस्तान प्रेमियों के दिल ज़ोर ज़ोर से धड़कने लगे. पाकिस्तान परस्तों के चेहरे पर खुशी की लहर दौड़ गई. जम्मू कश्मीर में भारत की हार और पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाया गया. रविवार को पाकिस्तान की जीत का जश्न तो कराची, रावलपिंडी, लाहौर या इस्लामाबाद में हुआ होगा लेकिन कड़वा सत्य ये है पाकिस्तान की जीत का जश्न भारत के जम्मू कश्मीर में श्रीनगर के अलग अलग हिस्सों में देखने को मिला. जिस समय भारत के करोड़ो लोग टी-20 वर्ल्ड कप में भारत की हार पर हताश थे, दुखी थे उसी वक्त श्रीनगर में पाकिस्तान प्रेमी आतिशबाजी कर रहे थे. टीवी पर पाकिस्तानी खिलाड़ियों को देखकर उन पर पुष्प वर्षा कर रहे थे. जिस समय पूरे देश की एक जैसी खेल भावना का वक्त था. उस समय कुछ लोग भारत की हार पर खुश हो रहे थे, सड़कों पर उछल रहे थे,नाच रहे थे और कई घंटो तक पटाखे जला रहे थे. ये वही सोच है जिसके तहत भारत में पाकिस्तान ज़िंदाबाद के नारे लगते हैं. देखें खबरदार का ये एपिसोड.

आदरणीय देश के पहले हिन्दू प्रधानमंत्री और भीख मांग कर विश्व गुरु बनने वाले भक्तों के चौकीदार को अंतरात्मा के आवाज़ और जनता की मन की चाहत पर खुद ही इस्तीफा दे कर एक बार राजनाथ सिंह या अमित शाह, या योगी जी को देश चलाने का मौका देना चाहिए बीबीसी तुम कोई दुसरे देश का कोर्ट का example दे । कोरोना हर देश में है ।

मुस्लिम आज भी 8 या 10 बच्चे पैदा करते है इन के बारे में भी बोलना चाहिए कोर्ट को .1.50 करोड़ आबादी को कहा से सब सुविधा मिलेगी कुछ बीबीसी को भी समझाना चाहिए मुलो को. मेरी भारत मुख्य न्यायधी पति जी से फिर निवेदन है कृपया करके कोर्टो को कहें की अभी संकट घड़ी में ऑफिसर का ड्रॉक्टरो का पुलिस को तंग न करे समनंतर सरकार न चलाएं । हां कमी है लेकिन अगर किसी गृह के अंदर कोई लड़का नालायक होता तो उसको प्रेम से ही काम लिया जाता न की डांट डपट कर । सोचे

CancelExamsSaveStudents cancel12thboardexams2021 सही

कोरोना: धर्मा कॉर्नरस्टोन एजेंसी के सीओओ राजीव मसंद हुए कोरोना संक्रमित, आईसीयू में भर्तीकोरोना: धर्मा‌ कॉर्नरस्टोन एजेंसी के सीओओ राजीव मसंद हुए कोरोना संक्रमित, आईसीयू में भर्ती RajeevMasand DharmaCornerstoneAgency Covid19 अमर उजाला तत्काल मदद अभियान चलाने की इच्छा प्रकट करे

कोरोना LIVE : केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत की बेटी योगिता सोलंकी का कोरोना से निधनदेश में कोविड-19 महामारी का कहर जारी है। इस पर काबू पाने के लिए कई राज्य संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान भी करने लगे हैं। ओडिशा ने 14 दिनों का तो हरियाणा ने सात दिनों का लॉकडाउन लगाया है। हालांकि, केंद्र सरकार अब भी राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन नहीं लगाने के पक्ष में है। वह ऑक्सिजन के साथ-साथ अस्पतालों की बुनियादी जरूरतों को पूरा करने में जरूर जुटी है। इस बीच आंकड़े बता रहे हैं कि कोरोना वायरस के लिहाज से पिछला हफ्ता भारत के लिए सबसे ज्यादा घातक रहा है। 26 अप्रैल से 2 मई के बीच देश में 26 लाख नए कोरोना केस सामने आए जबकि 23,800 मरीजों की मौत हो गई। बहरहाल, कोरोना से जुड़े हर अपडेट के लिए हमसे यहां जुड़े रहें... Rip

कोरोना: भारत में लगातार दूसरे दिन कोरोना के नए केसों का रिकॉर्ड, 3915 मौतेंCoronavirus Lockdown India News Live updates, Covid-19 Cases and Lockdown in Delhi, UP, Bihar, Punjab Today News: Coronavirus (Covid-19) India Lockdown News Live Updates: राजधानी दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 19,133 नए मामलों की पुष्टि हुई है और 335 मरीजों की मौत हुई है। इतने ही समय में 20,028 मरीज ठीक हुए हैं।

कोरोना का असर : सेना और वायुसेना के जवानों की मूवमेंट बंद, डबल मास्क पहनने के आदेशकोरोना का असर : सेना और वायुसेना के जवानों की मूवमेंट बंद, डबल मास्क पहनने के आदेश CoronaUpdate Coronavirus Covid19 Coronavaccine drharshvardhan MoHFW_INDIA

शेयर बाजार: कोरोना के मामले, कंपनियों के नतीजे, आर्थिक आंकड़ों से तय होगी बाजार की चालशेयर बाजार: कोरोना के मामले, कंपनियों के नतीजे, आर्थिक आंकड़ों से तय होगी बाजार की चाल sharemarket StockMarket coronavirus BSE