Coronavirus, Covidsecondwave, Re, Coronavirus İn İndia, How Dangerous İs Covid 19 Second Wave, First Wave, Coronavirus Second Wave, Covid 19, Covid

Coronavirus, Covidsecondwave

कोरोनाः दूसरी लहर के चार महीने, पहली के एक साल पर भारी, जानें कैसे मची तबाही

दूसरी लहर के चार महीनों में इतनी मौतें हुईं, जितनी सालभर में नहीं हुई थी | #Coronavirus #CovidSecondwave #RE

16-06-2021 23:30:00

दूसरी लहर के चार महीनों में इतनी मौतें हुईं, जितनी सालभर में नहीं हुई थी | Coronavirus CovidSecondwave RE

देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर अब कमजोर पड़ने लगी है. चार महीने पहले 17 फरवरी से संक्रमण के मामले बढ़ने शुरू हुए थे. पहली लहर के एक साल पर दूसरी लहर के चार महीने कितने भारी पड़े, आइए समझते हैं...

(सोर्सः WHO)जान और जहान, पढ़ें-देश में कोरोना की दूसरी लहर से कहां, कितना हुआ नुकसान?दूसरी लहर जितनी तेजी से बढ़ी, उतनी तेजी से गिरी भीकोरोना की दूसरी लहर में पहली लहर के पीक से भी 4 गुना ज्यादा मामले सामने आने लगे थे. दूसरी लहर का पीक 7 मई को आया. उस दिन 24 घंटे में 4.14 लाख केस मिले थे और उसके बाद अगले दिन से ही कोरोना के मामलों में कमी आने लगी.

टोक्यो ओलंपिक: बेलारूस की एथलीट का वापस जाने से इनकार - BBC News हिंदी तालिबान और अफ़ग़ान बलों में तेज़ हुई जंग, तीन शहरों में गहराया संकट - BBC News हिंदी सिंधु के पिता बोले- वो पीएम मोदी के साथ आइसक्रीम खाएगी - BBC Hindi

एक राहत की बात ये भी है कि दूसरी लहर जितनी तेजी से बढ़ी, उतनी ही तेजी से गिरी भी. इसको ऐसे समझते हैं कि पहली लहर में एक दिन में 50 हजार केस मिलने का आंकड़ा 30 जुलाई को पार कर गया था. उस दिन 52,123 केस आए थे. उसके बाद यहां से पीक तक यानी 17 सितंबर तक पहुंचने में 49 दिन का वक्त लगा. दोबारा 24 घंटे में 50 हजार से कम केस 26 अक्टूबर से आने शुरू हुए. यानी, पहली लहर में वापस से 30 जुलाई के स्तर पर पहुंचने में 88 दिन लग गए.

अब बात दूसरी लहर की. क्योंकि दूसरी लहर का पीक 4 लाख को पार कर गया. इसलिए यहां 50 हजार की जगह 1 लाख का आंकड़ा रखते हैं. दूसरी लहर में 5 अप्रैल को नए केस का आंकड़ा 1 लाख को पार कर गया था. उसके बाद पीक आया 7 मई को. उसके बाद 8 जून से हर दिन 1 लाख से कम केस आ रहे हैं. इस हिसाब से दूसरी लहर में 64 दिन में ही नए केस 1 लाख से कम आने लगे. इससे हम मान सकते हैं कि कोरोना की दूसरी लहर पहली लहर की तुलना में ज्यादा जल्दी कमजोर पड़ी. headtopics.com

Live TV और पढो: आज तक »

खबरदार: बढ़ती जा रही है Assam-Mizoram में तनातनी, एक-दूसरे के खिलाफ एक्शन मोड में दोनों राज्य

असम और मिजोरम बॉर्डर पर 26 जुलाई को हुई हिंसक झड़प अब दोनों राज्य सरकारों के बीच नाक की लड़ाई बन चुकी है. दोनों राज्यों की पुलिस अब एक-दूसरे के खिलाफ एक्शन मोड में हैं. असम पुलिस ने शुक्रवार को मिजोरम पुलिस के अधिकारियों को समन किया तो मिजोरम पुलिस ने असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा के खिलाफ FIR दर्ज कर ली. इस मामले में हिमंता सरमा के अलावा असम पुलिस के 4 वरिष्ठ अधिकारियों और दो ब्यूरोक्रेट्स को भी आरोपी बनाया गया है. FIR में असम पुलिस के 200 अज्ञात जवानो को भी आरोपी बनाया गया है. देकें वीडियो.

सही कहा दुनिया के अन्य देशों में 👇🏽👇🏽👇🏽👇🏽 Every thing is lie as per godi media, dalal and dadhi vale baba

कोरोना महामारी की दूसरी लहर में बच्चों और युवाओं के अधिक प्रभावित होने की धारणा गलततीसरी लहर आने पर बच्चों के ज्यादा प्रभावित होने की आशंका के बीच सरकार ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि बच्चों के बीच गंभीर संक्रमण होने का संकेत देने के लिए कोई ठोस सुबूत नहीं है लेकिन फिर भी सभी आयु वर्ग के लोगों को सतर्कता की आवश्यकता।

कोरोना के 75 दिन पहले जैसे हालात: दूसरी लहर के पीक से नए केस 85% कम हुए, पॉजिटिविटी रेट में भी लगातार कमीदेश में कोरोना के मामले लगातार कम हो रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, दूसरी लहर के पीक से अब तक रोज मिलने वाले मरीजों की संख्या में 85% कमी आई है। इन्फेक्शन रेट में भी लगातार कमी आई है। 75 दिनों बाद यह स्थिति बनी है। | Coronavirus Vaccination India Update; Health Ministry Joint Secretary Lav Agarwal Press Meet Today

ऑस्ट्रेलिया के लिए चुनौती बनी चार साल की शरणार्थी बच्ची | DW | 15.06.2021ऑस्ट्रेलिया के आप्रवासन मंत्री आलेक्स हॉक ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि परिवार को अस्थायी तौर पर रिहा किया गया है और इसका अर्थ यह कतई नहीं है कि इस परिवार को वीजा मिल जाएगा. Australia refugee

भारतीय मछुआरों की हत्या के आरोपी इतालवी नौसैनिकों के ख़िलाफ़ सुप्रीम कोर्ट ने केस बंद कियासाल 2012 में भारत ने इटली के दो नौसैनिकों पर दो भारतीय मछुआरों की हत्या का आरोप लगाया था. न्याय क्षेत्र के विवाद को लेकर इटली अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता अदालत चला गया था, जिसने दोनों इतालवी नौसैनिकों पर हत्या का मुक़दमा चलाने की भारत की दलील को ख़ारिज कर दिया था. हालांकि, अदालत ने कहा था कि भारत इस मामले में मुआवज़ा पाने का हक़दार है. ₹100000000 के मुआवजे में इटली के लोगों की हत्या संभव है क्या? वो जो मछुआरे मरे थे शायद मच्छर काटने से मर गए थे...?

हरियाणा: युवक की हिरासत में मौत के आरोप में 12 पुलिसकर्मियों के ख़िलाफ़ केस दर्जपरिजनों का आरोप है कि 24 वर्षीय जुनैद को ग़लत तरीके से बीते 31 मई को फ़रीदाबाद की साइबर पुलिस ने हिरासत में लिया गया था और इस दौरान उन्हें बुरी तरह से प्रताड़ित किया गया, जिससे उनकी मौत हो गई. हालांकि पुलिस ने आरोप से इनकार करते हुए कहा है कि जुनैद की मौत किडनी संबंधी दिक्कत की वजह से हुई. मगर अफसोस सब के सब छूट जायेंगें ,गवाही नही मिलेगी .

यूपी में क्लास 8 तक के स्कूल कुछ शर्तों के साथ एक जुलाई से खुलेंगेबेसिक शिक्षा परिषद ने 19 मई 2021 को एक पत्र के जरिये कक्षा 1 से 8 तक के विद्यालयों में पढ़ाई की गतिविधियां ई पाठशाला के माध्यम से संचालित करने का निर्देश दिया था. कोरोना को देखते हुए प्राथमिक विद्यालयों को 30 जून तक बंद रखने का भी निर्देश दिया गया था. Is bar Yogi UP ke baccho ka bhojan karenge Chalo aacha hai UP walo Ganga me apne bachho ko jal samadhi dene ko tayar raho Ye dress kis school ki h.... Because up govt k primary schools ki dress ye Nahi h... Wo pink and brown colour dress h.