कोरोना वायरस: चीन के ख़िलाफ़ अमरीका करने जा रहा है एक और बड़ी कार्रवाई - BBC Hindi

ALERT- कोरोना वायरस: चीन पर अमरीका करने जा रहा है एक और बड़ी कार्रवाई

23-05-2020 08:49:00

ALERT- कोरोना वायरस: चीन पर अमरीका करने जा रहा है एक और बड़ी कार्रवाई

राष्ट्रपति ट्रंप कहते रहे हैं कि कोरोना वायरस चीनी लैब में पैदा हुआ है. कोरोना वायरस की महामारी के बीच दोनों देशों में तनाव चरम पर है. यहां तक कि अमरीका चीन से हर तरह के संबंध ख़त्म करने पर भी विचार कर रहा है.

2:04कोरोना वायरस महामारी: देश-दुनिया में अब तक जो कुछ हुआVirendra Singh Gosain/Hindustan Times via Getty ImagesCopyright: Virendra Singh Gosain/Hindustan Times via Getty Imagesएक साल से कम उम्र के बच्चों को नियमित रूप से दिए जाने वाले टीकों का काम कम से कम 68 देशों में प्रभावित हुआ है

नेपाल ने कहा, भारत के सेना प्रमुख ने हमारे इतिहास का अपमान किया दिल्ली के तुगलकाबाद में भीषण आग से 1500 झुग्गियां जलकर राख, सैकड़ों लोग बेघर प्रियंका गांधी ने CM योगी आदित्यनाथ का Video शेयर कर पूछा- क्या यूपी में कोरोना वायरस के 10 लाख से ज्यादा मरीज हैं

Image caption: एक साल से कम उम्र के बच्चों को नियमित रूप से दिए जाने वाले टीकों का काम कम से कम 68 देशों में प्रभावित हुआ हैदुनिया भर में अब तक 336,404 लोगों की मौतजॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के अनुसार दुनिया भर में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या कम से कम 51,80,982 हो गई है.

साथ ही कोविड-19 की महामारी के कारण अब तक 336,404 लोगो की जान भी जा चुकी है. ये आँकड़े सरकारी जानकारी और मीडिया रिपोर्टों पर आधारित हैं और माना जाता है कि इस महामारी से वास्तविक रूप से प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या कहीं ज़्यादा भी हो सकती है.वैक्सीन से महरूम रह सकते हैं आठ करोड़ नवजात

विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि कोविड-19 की महामारी के कारण आठ करोड़ नवजात बच्चों को समय पर वैक्सीन मिलने में दिक्क़त हो सकती है.डब्ल्यूएचओ के मुताबिक़ महामारी के कारण दुनिया की स्वास्थ्य व्यवस्थाएं जिस तरह से प्रभावित हुई हैं, उनसे बच्चों को डिफ्थेरिया, मीज़ल्स और पोलियो जैसी बीमारियों के टीकों की खुराक का रूटीन गड़बड़ा सकता है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन और सहयोगी संगठनों द्वारा जुटाए गए आँकड़ों के अनुसार एक साल से कम उम्र के बच्चों को नियमित रूप से दिए जाने वाले टीकों का काम कम से कम 68 देशों में प्रभावित हुआ है.साल 1970 से ये टीकाकरण कार्यक्रम दुनिया भर में चलाए जा रहे हैं. कोरोना महामारी के कारण ऐसा पहली बार देखा गया है कि टीकाकरण का काम प्रभावित हुआ है.

REUTERS/Hannah McKayCopyright: REUTERS/Hannah McKayकोरोना वायरस से संक्रमण के लक्षण होने के बावजूद डोमिनिक लंदन से 264 किलोमीटर दूर डरहम में देखे गए थेImage caption: कोरोना वायरस से संक्रमण के लक्षण होने के बावजूद डोमिनिक लंदन से 264 किलोमीटर दूर डरहम में देखे गए थे

ब्रिटेन मे प्रधानमंत्री के सलाहकार से पूछताछब्रिटेन में प्रधानमंत्री के मुख्य सलाहकार डोमिनिक क्युमिंग्स विवादों में घिर गए हैं. लॉकडाउन के उल्लंघन को लेकर डोमिनिक क्युमिंग्स से पुलिस ने बातचीत की है.कोरोना वायरस से संक्रमण के लक्षण होने के बावजूद डोमिनिक लंदन से 264 किलोमीटर दूर डरहम में देखे गए थे.ऐसी चर्चा है कि डोमिनिक क्युमिंग्स मार्च के आख़िर में प्रधानमंत्री से डॉउनिंग स्ट्रीट में मिले थे. उस समय बोरिस जॉनसन कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे.

'पाकिस्तान हमारी प्रिय मातृभूमि है'..कहने वाली शिक्षिका ने मांगी माफी Jammu Kashmir ceasefire: पाकिस्तान ने बालाकोट सेक्टर में एलओसी पर किया संघर्ष विराम उल्लंघन, सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब Ravish Kumars prime time: How much attention does the minister have on facilities in trains? - रवीश कुमार का प्राइम टाइम: ट्रेनों में सुविधाओं पर मंत्रीजी का कितना ध्यान? वीडियो - हिन्दी न्यूज़ वीडियो एनडीटीवी ख़बर

दक्षिण अमरीका महामारी का नया केंद्रविश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि दक्षिण अमरीका कोरोना वायरस से फैली महामारी का नया केंद्र बन गया है. दक्षिण अमरीकी देश ब्राज़ील कोविड-19 की महामारी से सबसे ज़्यादा चपेट में है.डब्ल्यूएचओ के मुताबिक़ अफ्रीका के उन देशों में भी संक्रमण के मामले अब तेज़ी से बढ़ रहे हैं, जहां तुलनात्मक रूप से महामारी का असर कम था.

डब्ल्यूएचओ के आपातकालीन विशेषज्ञ डॉक्टर माइक रेयान ने बताया,"एक तरह से दक्षिण अमरीका इस महामारी का नया केंद्र बन गया है और ब्राज़ील यक़ीनन वहां सबसे ज़्यादा प्रभावित है."REUTERS/David MercadoCopyright: REUTERS/David Mercadoपेरू में आपातकाल बढ़ा

पेरू में दो महीने से लागू लॉकडाउन के बावजूद कोरोना संक्रमण के मामले कम होते हुए नहीं दिख रहे हैं. हालांकि इस बीच वहां लॉकडाउन की शर्तों में कुछ ढील दी गई थी.अब सरकार ने कहा है कि पेरू में आपातकाल के प्रावधान जून के आख़िर तक लागू रहेंगे.पेरू लातिन अमरीका में कोविड-19 की महामारी से दूसरा सबसे ज़्यादा प्रभावित देश है.

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार पेरू में 111,000 से ज़्यादा संक्रमण के मामले दर्ज किए गए हैं और वहां 3148 लोगों की मौत हो चुकी है.आइसलैंड में आपातकाल में ढीलसोमवार से आइसलैंड में आपातकालीन प्रावधानों में कुछ ढील दिए जाने का फ़ैसला किया गया है. सरकार का कहना है कि आइसलैंड में अब केवल दो लोग आइसोलेशन में हैं.

आइसलैंड में कोरोना संक्रमण के 1803 मामलों की अभी तक पुष्टि हुई है और वहां 1791 लोग संक्रमण के बाद ठीक भी हो गए हैं. आइसलैंड में कोविड-19 की बीमारी के कारण दस लोगों की मौत भी हुई है.Ilyas Tayfun Salci/Anadolu Agency via Getty ImagesCopyright: Ilyas Tayfun Salci/Anadolu Agency via Getty Images

ब्रिटेन आने वाले लोगों के लिए क्वारंटीन का आदेशब्रिटेन आने वाले लोगों को अब दो हफ़्तों के लिए अनिवार्य रूप से क्वारंटीन में रहना होगा. नए आदेश के तहत आठ जून से जो लोग ब्रिटेन में आएंगे, उन पर ये नियम लागू होगा और इसका उल्लंघन करने की सूरत में एक हज़ार पाउंड का जुर्माना लगाया जाएगा.

प्रोत्साहन पैकेज: बीस लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज अपने उद्देश्यों को प्राप्त करने में सफल होगा कोरोना वायरस: डॉक्टरों को कोविड-19 के इलाज से जुड़ा अहम सुराग मिला कोरोना अपटडेटः मक्का को छोड़कर पूरे सऊदी अरब में लॉकडाउन से राहत - BBC Hindi

ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल ने कहा है कि अनिवार्य क्वारंटीन का ये नियम आयरलैंड से आने वाले लोगों पर लागू नहीं होगा. साथ ही कोविड-19 की महामारी से जूझ रहे स्वास्थ्य कर्मियों और खेती-किसानी से जुड़े लोगों को भी छूट रहेगी.जंग के कारण 660,000 लोग हुए बेघर

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव ने कोविड-19 की महामारी के मद्देनज़र दुनिया भर में हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में संघर्ष विराम की अपील की थी ताकि इस बीमारी पर ध्यान दिया जा सके.एक ग़ैर सरकारी संगठन का कहना है कि संयुक्त राष्ट्र महासचिव की इस अपील के बाद दुनिया भर में हिंसा प्रभावित क्षेत्रों से 660,000 लोग अपना घर-बार छोड़ने के लिए मजबूर हुए हैं.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो ग्वेटेरेस ने इस हफ़्ते एक बार फिर संघर्ष प्रभावित क्षेत्रों में शांति स्थापित करने की अपील की.लेकिन नॉर्वे के शरणार्थी परिषद का कहा है कि सुरक्षा परिषद महामारी के दौरान संघर्ष विराम, शांति वार्ता और नागरिकों की सुरक्षा जैसे मुद्दों पर अगुवाई करने में नाकाम रहा है.

और पढो: BBC News Hindi »

Putin is doing very wrong to coperat China against America on the issue of CORONA.Putin ,please help huminity not the enimy of humanity. Dono mile huve hai world ko ghuma rahe He Seriously china should apologise for the corona pandemic 😬 Bbc पूरा बरबाद हो गया हैं।लिंक खोलो तो और कुछ समाचार बताता हैं।बंद करो bBc.

Kuch nahi hone wala dono ek hi hai Excellent President Trump. कृप्या आजतक और ABP न्यूज चैनल ना देखे. ये दोनों चैनल सुडो सेकुलरिज्म की पत्रकारिता करता है. इन दोनों ने लुटियन् गैंग का खूब मज़े लिए हैं. narendramodi PMOIndia sir please help us for redevelop as divyangjan person in atmanirbhar bharat there is nothing for divyangjan Person. Life is so painful due to COVID 19 till date no benefits is given by government as ration or any other things . 2 month no payment received

ypstomer तो हम क्या करें? इकनोमिक का गेम था और खेल लिया यह दोनों ने। चाहे कार्रवाई करें या घंटा बजाए। Agar bta sko to ye btao ki China pe Hatoda kb bjega.. faltu ki karywahi na failao.. बिलकुल करना चाहिए पर जल्दी जिससे उसे सम्भलने का मोका ना मिले। वाज़िब और ज़रूरी👏 वक्त की मांग है, इस हरामी देश,चीन को सबक सिखाना।

Good अमेरिका और चीन को और है भी क्या करने के लिए😏😏 मेरी फेसबुक आईडी है किसी को कोई दिक्कत हो तो आप संपर्क कर सकते हो उसपे तो करना कौन रोका है

कोरोना वायरस के टीके के मामले में आगे रहना चाहता है भारत | DW | 20.05.2020ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की एक संभावित वैक्सीन का भारतीय कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया बड़े स्तर पर निर्माण शुरु कर चुकी है. आखिर कितनी जल्दी कोविड-19 का टीका तैयार होने की उम्मीद है. CoronavirusPandemic coronavaccines COVID19 great👍

'कोरोना वायरस के खिलाफ हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के इस्तेमाल से हो सकती है मरीजों की मौत'क्या मलेरिया की दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन या क्लोरोक्वीन कोरोना वायरस को रोक सकती है? WHO CoronavirusPandemic COVID19Pandemic hydroxychloroquine WHO Ban tik TOk

कोरोना: मैप में देखिए कहाँ-कहाँ फैल रहा है वायरस और क्या है मौत का आँकड़ानक्शे में देखिए दुनियाभर में कोहराम मचाने वाले कोरोना वायरस के मरीज़ कहाँ-कहाँ कितनी संख्या में हैं. Yahi post kr deta map 😏 ab map dekhne ke liye tumhare site pe jaaye

कोरोना वायरस के चलते दुनिया के सामने वे पाँच मुद्दे जो दब गएकोविड-19 महामारी ने शायद दुनिया की कई बड़ी ख़बरों को न्यूज़ एजेंडे से ग़ायब कर दिया है. लाखों जमीन के अंदर दब गए। मुद्दे क्या है!

कोरोना वायरस से बचाने वाले 'हर्ड इम्यूनिटी' में लग सकता है लंबा वक्त : रिपोर्टएक रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस को रोकने में मदद करने वाले 'हर्ड इम्यूनिटी' के बढ़ने की दर दुनियाभर में अभी बहुत धीमी WHO बार बाला की पचास साल की बेटी होंठों पर लिपस्टिक थोप कर राजनीति कर रही है उसकी दादी सर पर पल्लू रख कर राजनीति करती थी जबकि उसका दादा मुस्लिम समाज से था

कोरोना वायरस: टॉप के HIV वैज्ञानिक ने वैक्सीन को लेकर कही निराशा वाली बात - BBC Hindiकोरोना वायरस: एचआईवी पर शोध करने वाले जाने-माने वैज्ञानिक ने कहा है कि कोविड-19 के टीके के इंतज़ार में बैठे रहना ठीक नहीं, ये जल्दी नहीं आने वाला. लाइव अपडेट्स: तस्वीर: रॉयटर्स Dilshadmtc Good Are you working on data_manipulation_of_Covid_19_deaths as we all know govts are trying to hide real statistics.

कोरोना संक्रमण: तब्लीग़ी जमात से जुड़े सवाल पर डॉ. हर्षवर्धन ने कहा- ''बहुत हुआ'' योगी आदित्यनाथ का वो बयान जिस पर मच रहा है सियासी घमासान कोरोना वायरस: दिल्ली के सभी निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम्स में 20 प्रतिशत बेड कोविड-19 के लिए - BBC Hindi गाजियाबाद-दिल्ली बॉर्डर आज आधी रात से दोबारा होगा सील, इन लोगों को मिलेगी छूट OIC में पाकिस्तान को सऊदी और UAE से भी झटका, भारत को मिला समर्थन मजदूरों की मदद के नाम पर पब्लिस्टी स्टंट के आरोप, सोनू सूद ने द‍िया जवाब अपने लोगों को ही राज्य में घुसने नहीं दे रही योगी सरकार, संजय राउत का बीजेपी पर हमला ईद के दिन फिर दिल्ली की सड़कों पर निकले राहुल, टैक्सी ड्राइवर से जाना हाल अभिजीत बनर्जी की सलाह- प्रत्येक भारतीय को 1000 रुपये हर महीने दे सरकार बलबीर सिंह सीनियर का 95 की उम्र में निधन, भारत को दिलाए थे 3 ओलंपिक स्वर्ण कोरोना वायरस: दुनिया के 10 सबसे अधिक संक्रमित देशों में भारत शामिल - BBC Hindi