कोरोना अपडेट: 'भारत बिना सोची समझी नीति की क़ीमत चुका रहा है'

कोरोना अपडेट: 'भारत बिना सोची समझी नीति की क़ीमत चुका रहा है'

01-06-2020 08:44:00

कोरोना अपडेट: 'भारत बिना सोची समझी नीति की क़ीमत चुका रहा है'

डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों की तीन संस्थाओं ने कहा है कि सरकार ने बिना प्लानिंग के लॉकडाउन की घोषणा की.

शेयर पैनल को बंद करेंइमेज कॉपीरइटANIचिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों की तीन जानी-मानी संस्थाओं ने कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए सरकार के क़दमों की कड़ी आलोचना की है.इन संस्थाओं का कहना है कि बिना सोची-समझी लागू की कई नीतियों के कारण देश मानवीय त्रासदी और महामारी के फैलाव के मामले में भारी क़ीमत अदा कर रहा है.

सचिन पायलट डिप्टी सीएम और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से बर्खास्त कोरोनाः सिंगापुर जैसे अमीर मुल्क को वायरस ने मंदी में धकेला - BBC Hindi 'पायलट के लिए BJP के दरवाजे खुले', ओम माथुर ने और क्या कहा, देखें VIDEO

संस्थाओं ने कहा है कि बेहद सख़्त तालाबंदी के बावजूद न सिर्फ़ कोरोना के मामले दो महीने में 606 से बढ़कर एक लाख अड़तीस हज़ार से अधिक (मई 24 तक) हो गए हैं बल्कि अब ये 'कम्युनिटी ट्रांसमिशन' के स्टेज पर है.संक्रमण की हालत जानने के लिए ज़िले का नाम अंग्रेज़ी में लिखें

भारत सरकार महामारी के कम्युनिटी ट्रांसमिशन के स्टेज पर पहुंचने की बात से इनकार करती रही है.रविवार को जारी बयान में हस्ताक्षरकर्ताओं में सरकार की कोविड-19 नेशनल टास्क फोर्स के महामारी विशेषज्ञ समूह के प्रमुख डॉक्टर डीसीएस रेड्डी और एक अन्य सदस्य डॉक्टर शशि कांत भी शामिल हैं.

इसके अलावा एम्स, बीएचयू और चंडीगढ़ स्थित पीजीआईएमईआर के कई पूर्व और वर्तमान प्रोफ़ेसर और स्वास्थ्य के क्षेत्र की जानी मानी हस्तियों ने भी इस बयान पर अपनी मुहर लगाई है.कोविड-19 से निपटने के लिए राष्ट्रीय टास्क फ़ोर्स के गठन का ऐलान अप्रैल के दूसरे सप्ताह में किया गया था.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहालॉकडाउन 5 : 1 जून से क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा?प्रवासी मज़दूरों और ग़रीबों पर असरसरकार ने जिस तरह सिर्फ़ चार घंटे की मोहलत में पहले लॉकडाउन की घोषणा की थी, उसकी आलोचना होती रही है. इसकी भी आलोचना होती रहै है कि इस कारण प्रवासी मज़दूरों और ग़रीबों को काफ़ी तकलीफ़ उठानी पड़ी.

इस बयान में कहा गया है कि लॉकडाउन ने कम से कम 90 लाख दिहाड़ी मज़दूरों के पेट पर लात मारी है.भोजन के अधिकारों के लिए काम करनेवाली संस्था - राइट टू फ़ूड के मुताबिक़ तालाबंदी के चलते 22 मई तक देश भर में भूख, दुर्घटना और इस तरह के कई कारणों से 667 मौतें (कोरोना बीमारी से अलग) हो चुकी हैं.

राइट टू फ़ूड ने ग़रीबों पर आई आपदा और सरकार के कथित 'संवेदनाहीन' रवैए के विरोध में एक जून यानी सोमवार को शोक दिवस के रूप में मनाने का आह्वान किया है.इंडियन पब्लिक हेल्थ एसोसिएशन की जनरल सेक्रेटरी डॉक्टर संघमित्रा घोष ने बीबीसी से कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चिकित्सकों और स्वास्थ्य क्षेत्र के विशेषज्ञों की एक टीम को कोविड-19 पर विचारों के आदान-प्रदान के लिए 24 मार्च को बुलाया था लेकिन लगता है कि लॉकडाउन को लेकर फ़ैसला पहले ही हो चुका था.

न पार्टी के मुखिया रहे, न सरकार के डिप्टी, बगावत से सचिन पायलट ने क्या-क्या खोया? सचिन पायलट: अब तक का सियासी सफ़र कैसा रहा है कोरोना के कारण लाल किले के स्‍वतंत्रता दिवस के समारोह को छोटा किया गया, कोई छात्र भाग नहीं लेगा

डॉक्टर संघमित्रा घोष ने कहा कि लॉकडाउन आख़िरी रास्ता होना चाहिए था लेकिन सरकार अपना मन बना चुकी थी.इमेज कॉपीरइटGetty Imagesबयान में भी लॉकडाउन को 'निष्ठुर' बताया गया है और कहा गया है कि 'इसका फ़ैसला शायद उस बहुत ही रसूख़ रखनेवाली उस संस्था के प्रभाव में लिया गया जिसने कोरोना से दुनियां भर में 22 लाख मौतों का दावा किया था लेकिन धीरे-धीरे साबित हो गया है कि ये अनुमान ग़लत था' और अगर सरकार ने महामारी विशेषज्ञों की राय ली होती तो शायद इस मामले में बेहतर प्लानिंग की जा सकती थी.

कहा गया है कि अगर प्रवासी मज़दूरों को शुरू में जाने दिया गया होता जब बीमारी का फैलाव कम था तो बेहतर होता लेकिन अब ये लोग इसे वैसी जगहों पर भी ले जा सकते हैं जहाँ ये पहले मौजूद नहीं था.इंडियन पब्लिक हेल्थ एसोसिएशन के अलावा इंडियन एसोसिएशन ऑफ़ प्रिवेंटिव एंड सोशल मेडिसिंस और इंडिन एसोसिएशन ऑफ एपिडेमिओलॉजिस्ट के इस बयान को प्रधानमंत्री नेरंद्र मोदी, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डाक्टर हर्षवर्धन के साथ-साथ तमाम राज्य सरकारों को भेजा गया है.

इमेज कॉपीरइटEPAसुझावइन स्वास्थ्य संस्थाओं ने सरकार को कई सुझाव दिए हैं, जिनमें केंद्र, राज्य और ज़िला स्तर पर स्वास्थ्य क्षेत्र के विशेषज्ञों और समाजशास्त्रियों की टीम का गठन करने, कोविड से जुड़े डेटा तक आसानी से पहुँच, लॉकडाउन ख़त्म करने और क्लस्टर बंदी लागू किए जाने और अस्पतालों को आम लोगों के लिए खोले जाने जैसी बातें शामिल हैं.

और पढो: BBC News Hindi »

Sahi baat hai BBC is a biased channel, I don't trust anymore. India still have lowest infection rate compared to UK where most of the Corona deaths were Asians and black communities. Being a highly populated country Corona deaths in India are very less. Ye BBC Hindi nahi BBC Gandi hai No stadard parameters can be applicable in all countries while facing pandemic. India adopted right precautions.

तुम्हारे ही साब से क्या करना चाहिए था। Right अमेरिका और इटली को नीति समझा देते । Or America . England .span .Brazil. chaina . Rashiya etc kuch bhi likh dete ho नीति निर्धारित करने में वक्त लगता है साहब , मैं तो फरमान में विश्वास करता हूं , तभी तो जनता का ख्याल रखता हूं । You will never see anything positive but every true Indian will prove you wrong in the days to come It is in fact Bina sochi samji and gairjimedar reporting

जरा इंग्लैंड और us की सोची समझी रणनीति भी बता दे चाटुकार Absolutely right 💯 Then what about USA UK Italy France And Spain. Don't be bias fucking BBC urging Govt of India to Ban the news channel and all subsidiary they are always spreading falsehood and negativity about India around the world. The truth they share from China north korea.are they showing

सही हैं नया इंडिया बना रहे हैं चोर चैनल छूटी खबरें फैला कर देश में माहोल ख़राब करने की कोशिश कर रहा है Right Is tarah ka news Dena India me allow nahi h.... 👏👏👏👏👏 विदेशी फंडिंग से चलनेवाली मीडिया भारत की नीतियों पर ज्ञान बांच रही है। बीबीसी न्यूज़ हिंदी अपनी दुर्भाग्यपूर्ण नीति को ठीक करे पहले फिर ज्ञान दे।

This is paid news by anti nationals If these intellectuals had better policy why they were keeping quiet till now Better keep knowledge to yourself क्षमा करना बंधु, आपकी हिंदी और जानकारी थोड़ी कमजोर है, भारत कीमत नहीं चुका रहा है, बल्कि मोदी जी की दूरदर्शिता और सूझ बूझ से कम संसाधनों के बावजूद हम अपनी और अपनों की जान इस महामारी से बचाने में सक्षम हो सके।

Yadi lockdown nahi hota..aur yaha USA jaisi halat hoti... to yahi log kahte ki Ambani aur aadani ke business band n ho jaye.... isliye govt ne lockdown nahi kiya.... Sochne samajhne ke liye Dimag istamal karna hota hai Aap to sach bol denge Lekin humare desh ke netao ko ye baat samjh nh aati. Modi sarkar jo bhi qadam uthhaati hai...finally rakhti ghareebon ke seene par hi hai...💡📉💩💡💩💩💩💩🕳🕶☣📉

बिल्कुल इसका असर भारत बहुत बड़ी क़ीमत चुका रहा है Aur bbc apna propaganda chala raha hai. मुझको नही लगता कि आप बहुत काबिल है आप की बाते भारत के लिये ज्यादातर बकवास होती है Right ये भारतीय दलाल मीडिया कभी कहने की हिम्मत नही करेंगी। दलाल मीडिया को देखे तो मोदी दुनिया को राह दिखाने वाले नेता दिखेंगे। ModiMadeDisaster ModiFailsIndia

Tu kya ma****chu** raha h Totally failure of government हां सूतिये इंग्लैंड तो बडा सोच समझ कर हजारों गढ्ढे खोद रहा है Saला बात करता है अदूरदर्शिता की हद है । सोचा इस बार भी जुमले से काम चल जाएगा, पर है तो ये कोरोना न, सब की बजाएगा । Apna kaam kar ja ke aaya bada gyan pelne चुका रहा औऱ अभी और चुकायेगा। एक साथ पूरे देश में लॉक डाउन करने की बजाए केवल हॉटस्पॉट पर कड़ी पाबंदियां लगाने एवं वर्तमान में होने वाली टेस्टिंग उसी समय से शुरू कर देने से कोरोना का प्रभाव रुक सकता था

Isme koi shak nhi BBC का बड़ा बकवास, पूरी दुनिया की न्यूज़ नही सुनते, कर रही मोदी की तारीफ बनते है दुनिया वाले... शर्म करो wo to h Correct Aur bhosdi k bbc America itly UK me tere baap ne kon se niti soch samajh k apney wha kya ho raha hai bhadey bbc apna gaand me dekho phele bhi walo BBC पहले England के बारे में क्या ख्याल है

100% sahi Jab se e Sarkar aai h Desh ki janta ka sukun chain sab khatam h Yes Right ziaahmedkhan Pakistan Murdabaad ...sab is ki wajah SE hota hai..aur is sab k zimmedaar Nehru ji Hain...wahi ye sab ghalat nitiyaa'n bana Kar Gaye hai Sare momina hi bhare hai bbc me . Ye article bhi usi ne likha hoga British logone kis ki keemat chukai h

बिलकुल सही कहा है। एक सनकी इंसान देश को बरबाद करने पे तुला है। और मीडिया उसी को सही ठहराने में शामिल हैं। और लोन्दन BBC why you always show single side of the coin. Our government is doing whatever needed.can you tell me what BBC done in India for saving poor. And the world is paying for their planed policies and politics by its suffering from china virus.

मोदीजी जब जब सरप्राइजिंग न्यूज के लिए 8 PM चुनते हैं देश को नुकसान ही होता है। I_am_Anil_Tyagi इसके खिलाफ आवाज उठाये 🙏🙏अमेठी अपराधी का गढ हो चुका है एैसे पोस्ट दिनभर किये जाते है. और पुलिस खामोश है This is fact that India doesn't have any proper plan to tackle this.most of the steps has been taken by our responsible person is without any plan,because of this now we r cumpail to suffer. Lead krne wale hi murkh ho to destination is being like a delhi abhi dur hai bhai

Aur jinhone sochi samajhi neeti ke tahat Kadam uthye the o Bharat se jyada badi kimat chuka rahe hain. Jaise BBC ka Deshmukh. Dear BBC ye bhi batao logo ko Tu jaiso ki wajah se bharat ka image kharab hota hai.. Tu apni dukaan band kar do ab..jayda din nahi chalne wala...jhut ki dukan.. ये एक ही न्यूज़ चैनल है जो देश की असलियत सामने लाती है गोदी मीडिया

We lucky that we have this govt. If the pm would rahul , we were count scam and dead body. Nahi bharat gaddar secular aur tukre gang baampanth ke sazis ka sikar ho raha hai barna hamara halat better hi tha. बीबीसी तुम इतना ज्ञान इंग्लैंड ओर अमरीका को देता तो वाकई समाज का भला होता अब तुम अल जजीरा वाला न्यूज चैनल बैन गए हो और मोदी से ना जाने क्यों तुम सब की फटती है

Bhadwa ye corona kal me pure duniya sochi samjhi niti bana nehi paya. India agar tera malik sarkar Congress sarkar rehete bhi kya jhat ukhad leta. Bolne ke liye kuch to saram kar Leading from the front ka kamaal h....raat 8 baje ..... Kya baat krrhe ho BBC ek insaan ne itna socha itna socha fir 21 march se aaj tak k sare plan ek ke bad ek bnata arha hai tmhari report galat hai thoda home work kra kro

Bhai sochne samajhne wala koi hea gov me आप कौन से ज्ञानी हो ? चश्मा उतारो फिर देखो , नया हिन्दुस्तान दिखेगा । यहां चोरों की जगह नहीं है । Please stop focusing India..mind your own business in uk That’s true now also govt have time allows limited activities like take away in restaurant Dine-in should be stopped,mall should be closed, religious activity has to be suspended for 3 months and increase testing movement of villagers to city should be restricted

BBC always talks negative about india Structure has collapsed Anti india bbc Yes 👍👍👍👍👍 बिल्कुल सही कहा दिशा विहिन लॉक डाउन का परिणाम Carrot एक तो BBC और ऊपर से मोहम्मद अली की रिपोर्ट, अब इसमे कोई तारीफ की उम्मीद कर रहा है तो आपकी बुद्धि को 21 तोपों की सलामी l😂😂😂 Sarkar ki niti achi nahi hoti to aj desh me 1000000 corona case ho jate...niti ap ki sahi honi jaruri h

Agr ye sb galat hi hua to sbko hospital ya upr jahan me hona chaiye yha twitter pe kaise dikh rhe hai sb mtlb kuch bhi bbc....this is old tectics cum on और ब्रिटेन सोच समझ कर बनायी गयी रणनीति के कारण फल फूल रहा है l Dragon made the virus & took it out on a walk. Virus gave it a slip, climbed up the beanstalk, & went for a moonwalk. John hid the truth, did a catwalk, & thought deceiving will be a cakewalk. The world took stock, woke up 'United', & pinned the Dragon to a sidewalk.

AUR BRITISH JAANBUJ KAR MAAR RAHE APNE HI NAGRIKO Jhooth यहां पे अभी वो लोग हुकूमत कर रहे है जिनको ज्ञान ब्रह्मा ने दिया है और उनके लिए हुए कामों को लोग बिना सोचे समझे मास्टर स्ट्रोक बताते है। जहा दुनिया में ये वायरस लॉक डाउन की वजह से कम हो रहा है वहीं भारत में इसकी संख्या में तेजी आ रही है। StepDownModi अंधविश्वास_मुक्त_भारत

StepDownModi भारत और इंग्लैंड के आंकड़े भी दे दिया करो। Koi nahi bola tha how you know we’re u there and agar yeh 1947 main hia tha toh ab jo ho raha woh thik hai wah wah kab tak apni galtiyon ka dhikra histroy par phodo ge andh bhakti jai ho और अमेरिका, स्पेन, इटली आदि ने सोची समझी कीमत चुकाई क्या 😂😂😂😂😂😂 लगे रहो B BC

मैं इनसे खुली बहस की चुनौती देता हूं। सामने आओ। ब्रिटेन ने बहुत सोच समझ कर व विचार करके लाक डाउन लगाया था तो फिर ब्रिटेन में मुर्गियों की तरह क्यो मर रहे है लोग कोई जवाब है BBC. 😂😂 Bharat gandi rajneeti ki Kimat chuka rha.kuch log sirf rajneeti fyde ke liye aesa krwaye. Agenda chlane ki koyi jarurat Nahi.

BBC ki news dekhkar ek vakya aata hai dimag m k in ulllu ke charkho ko kabhi santusht nhi kia ja sakta. मोजूदा आंकड़ों से तो ऐसा नहीं लगता। हमें विरोध की नियत से ही बात करनी है तो फिर कुछ नहीं कहना। वो तो है ही, बहुत ही बुरी तरह से बर्बाद कर दिया देश को। बहुत ही वक़्त लगेगा संभलने में वो भी अगर आगे ऐसे विवेकहीन निर्णय नहीं लिए तो

BBC kuch bhi सिर्फ दैनिक कामगार कीमत चुका रहा .जो किसी के सामने हाथ नहीं फैलाता . व्यपारी भाव बढ़ा कर औऱ सरकारी टैक्स बढ़ा कर पुरा कर रहे है न्यूज़ चैनल हो या फिर एक विचारधारा को समर्थन करते हो BBC ke Kaminapan Aur ek vishes Samaj kuch log itna pagal ho chuke hai aur Modi fobia se itna dare hue ghabraye hue hai ki hamesha gaddari dekha rahe hai. Aise gaddar ko khatam hona hi parega.

हम तुम बीबीसी वालो से सीखने की जरूरत नहीं है कि भारत कैसे चलेगा समझे Or USA, Etly , France and Tere country UK ka kya hal hai dekha hai kabhi Britain apni maa chu*a rha h लाकडाऊन ही नही देश के हर बडे़ फैसलों को बिना सोचे, समझे एकाएक र्निणय लेना गलत साबित हुये हैं जिसका खमियाजा पूरा देश भुगत रहा है। I think we lost from COVID.

Khulgayi pole ... Aap apne desh ko sambhalie hamare yaha apni commentry deni ki zarurat nahi. We Indians know what is good and bad for us and the worst thing is you leftists in whole world. or America ?Jha lakh sey jyada log mar gye .. to aap hi suggest kr do koi nittii govt. ko StepDownModi 😂 बेटा साथ में यह भी बता ना कि UK 🇬🇧 ka kya hal hai

kuch logo ki galti bharat ke gareebo per aafat ban ker toot rahi hain Chor BBC बीबीसी समाचार बांचने वाले ज्ञानी नही होते यही सत्य है यह सोचते हैं कि जिस प्रकार भारतियों को बेवकूफ़ बना रहे हैं, तो उसी प्रकार दुनिया को भी बना देगें। अब नतीजा सामने है। और अमेरिका, रूस, इटली, फ्रांस, इंग्लैंड आदि सब सोची समझी नीति की कीमत चुका रहे हैं.. हद है मानसिक दिवालियेपन की 😜😂😂

बीबीसी दलाल हमे और हमारे देश को ये मत बताओ नीति और नियत की बात तुमसे सिखने की जरूरत नही है देश के प्रधानमंत्री को तुम्हारे जैसे अरबी गुलाम अपनी औकात में रहे तो ही ठीक है If China NITI apply you satisfy? ये इनके बाप जो लंदन मे है वह बोल रहे है । banbbc जो लोग मज़दूरों के पलायन और श्रमिक ट्रेनों पर मोदी सरकार पर घटिया टिप्पणियाँ कर रहे हैं उन्हें याद दिला दूंँ : 1947 में भी पलायन हुआ था जो एक आदमी के प्रधानमंत्री बनने की भूख की वजह से हुआ था. तब लाशों से भरी ट्रेनें आई थी और कोई नहीं भौंका था!

Haan bhayaa, Sochi samjhi ranniti toh sirf Italy, Australia, USA, Spain main hi dikhai deti hai. तु कौन सी सोची समझी नीती के तहत पैदा हुआ था चीन के एजेंट फुल एक्टिव है । अमरीका जा भाई भारत में क्यों झक मार रहा है,वहां तुझे ज्यादा खबर मिलेगी । यहां सबको पता है कि तू फर्जी खबरे देता है। अपने देश मे झान्को भारत में हम देख लेंगे

लिखने वाले को तो ओला उबेर ने बता दिया होगा चूतिया को सर हम राजस्थान यूपी पंजाब दिल्ली उत्तराखंड एमपी के हजारों कामगार टूरिस्ट लोग पिछले 3 महीनों से श्रीलंका में फंसे हुए हैं हम सभी के लिए एक दो विमान कोलंबो टू जयपुर या दिल्ली के लिए भी तैयार किए जाएं हम बहुत ही मानसिक तनाव में हैं और इंग्लैंड? Garib log hee kimat chuka raha....🙏

जबकि मौलाना साद और केजरीवाल ने जो किया, प्लानिंग से किया। 😡😡😡 बीबीसी के ऐ ज्ञानचंद महाराज क्या पाकिस्तान के आएसआई दप्तर से डाइरेक्ट ब्लाग लिखते है ना, थोड़ा अपने गंदे ज्ञान की रोशनी से पाकिस्तान को भी प्रकाशित करते जहाँ कोरोना के तैयारी के नाम पर बस दफनाने का इंतजाम किया गया. भारत बड़ा ही अच्छा से मुकाबला कर रहा है, चिंता छोड़िएँ

135 crore people of India are paying the price of BJP's stupidity,Public is paying the price for BJP's administrative failure. क्या करे चीन और नेहरू की तरह हम भी कर्फ्यू लगा सकते थे पर रावण रूपी कांग्रेस देश का भला नहीं होने दे सकते. Bharat me Sab taklife jamaat ke markat logo ka kiya dhara h And your father Britain has give how many life............................................................ say something about faliors of entire Europe No cant say but you are paid from Ford Foundation

भारत बिना सोचे समझे नीति पर चला पर भारत की स्थिति पश्चिमी देशों से काफी बेहतर है भारत की स्थिति इतनी अच्छी है कोरोना महामारी आर्थिक परेशानी की स्थिति में भी भारत की आर्थिक स्थिति मजबूत हुई है विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ा चीन जैसे दुश्मन को मुंहतोड़ जवाब देने की ताकत आज भी रखता है। Right कीमत सिर्फ गरीब आदमी को चुकानी पड़ रही है

Boris Johnson paid the price.... BBCNews And UK ,US me lackho log kafi soch smjh k mar rhe hqi ! Wah re wah C ...यानी पूरा विश्व, कोरोना पर सोची-समझी नीति/रणनीति अपनाकर भी, भारत से ज़्यादा कीमत चुका भी चुका है और चुका भी रहा है. आप मियाँ फ़ज़ीहत, औरों को नसीहत. चुका दी। जो होना था वोह सब कुछ हो गया। और ताऊ सोची-समझी रणनीति की। हा!हा! पहले भारत जितना विशाल होना मुश्किल है।दूसरा इतना विविध! वो भी सिर्फ भाषा और संस्कृति के मुआमलों में ही नहीं बल्कि समस्यायों के मुआमले में भी।

आप सही कह रहें हैं तो बस इतना ओर बता दो की किस किस ने कीमत नही चुकाई! ऐसे परिस्थितियों में जैसे कि हमारे देश मे रही हैं। अभी तो बहुत कम कीमत चुकाई है 4 साल बच्चे है आगे आगे देखो होता है क्या। अमेरिका ने कौन सी योजना बनाई Koi is andhi bheri gov se bhi achhe se question kare तो क्या युरोप-अमेरिका सोच समझकर किमत चुका रहे है 🤔

Tu ku bhok raha hai....... Chal nikal agey bad

Ayushman Bharat Yojana में है पोर्टेबिलिटी की सुविधा, पीएम मोदी ने बताई खासियतइस योजना की वजह से किसी भी क्षेत्र में जहां स्वास्थ्य की व्यवस्था कमजोर है। वहां के गरीब के देश के किसी भी कोने में बेहतर narendramodi PMOIndia Idhar Modi ji Ka bhoot logon par Sahar hai. udhar China, Nepal, Pakistan dhire dhire hamare jamin ko kabja kar raha hai. Minister log bolta hai sab thik hai lekin kuchh bhi thik Nahi hai.ABPNews aajtak ANI htTweets narendramodi the_hindu TimesNow JagranNews PTI_News

जल्द बदल सकता है आपके नंबर डायल करने का तरीका, TRAI ने की तैयारीलैंडलाइन से लैंडलाइन, मोबाइल से लैंडलाइन और मोबाइल से मोबाइल नंबर पर कॉलिंग के लिए ट्राई की तरफ से किसी तरह के बदलाव की सिफारिश नहीं की गई है।

मुझे सरकार गिरने की नहीं, महाराष्ट्र और इसके लोगों की चिंता है: उद्धव ठाकरेMumbai Political News: उद्धव ठाकरे ने रविवार को अपने संबोधन में लोगों से कहा कि उन्हें महाराष्ट्र में अपनी सरकार गिरने की नहीं, बल्कि महाराष्ट्र और यहां के निवासियों की चिंता है। बड़ी मुद्दतों के बाद तो सीएम बने होl Kaam dal gaya matlab क्या मस्त जोक मारा है 😂😂😂😂

Coronavirus Lockdown खोलने को तैयार ब्रिटेन, भारत के काम की है एक्सपर्ट्स की सीखब्रिटेन न्यूज़: Britain में Coronavirus Lockdown को खोले जाने की तैयारी पूरी कर ली गई है। सोमवार 1 जून से स्कूल खोले जाएंगे और धीरे-धीरे लॉकडाउन को खत्म कर दिया जाएगा। हालांकि, एक्सपर्ट्स का कहना है कि यह एक बड़ा रिस्क है क्योंकि अभी भी देश में Coronavirus Cases बड़ी संख्या में सामने आ रहे हैं।

गुटखा खाकर दरोगा ने थूका, वीडियो वायरल होने के बाद एसपी ने की कार्रवाई, चालानगुटखा खाकर दरोगा ने थूका, वीडियो वायरल होने के बाद एसपी ने की कार्रवाई, चालान UttarPradesh myogioffice Uppolice dgpup myogioffice Uppolice dgpup See the attitude in India, everybody is waiting for video to get viral first. When this attitude in India will change!!! myogioffice Uppolice dgpup sspnoida ChiefSecyUP CMOfficeUP PMOIndia public servants have higher responsibility to show the path to junta....wo hi thook rahe hein , arajkta faila rahe hein to kya msg jayega samaj mein....please make strict guidelines for them first

अब आईएमडी ने अरब सागर के ऊपर तूफान की चेतावनी जारी की, केरल नहीं पहुंचा मानसूनभारत के मौसम विभाग-आईएमडी ने अरब सागर के लिए दोहरे दबाव का अलर्ट जारी किया है। क्योंकि केरल के ऊपर मानसून की शुरुआत के IMDWeather SkymetWeather

कांग्रेस के सचिन अब क्या बीजेपी के लिए 'बल्लेबाज़ी' करेंगे? WHO ने कहा- कोरोना अभी बद से बदतर होगा, वैक्सीन और इम्युनिटी से भी निराशा नेपाल के पीएम ओली अयोध्या और राम पर अपने ही देश में घिरे Kanpur Encounter Case : 50 हजार का इनामी शशिकांत गिरफ्तार, विकास दुबे के घर से एके-47 राइफल बरामद राजस्थान: सचिन पायलट को कांग्रेस ने उपमुख्यमंत्री पद से हटाया योगी सरकार की 'ठोंको नीति' से इंसाफ़ मिलेगा या अपराध बढ़ेगा? कोरोना वायरस: रूस का दावा, उसने कोरोना की वैक्सीन का सफल परीक्षण किया - BBC Hindi कोरोना वायरस: महामारी रोकने के लिए दक्षिण अफ्रीका ने लगाई शराब पर पाबंदी - BBC Hindi कोरोना वायरस: अमरीका में एक दिन में 66,281 नए मामले, अकेले फ्लोरिडा में 15,300 पॉज़िटिव - BBC Hindi नेपाल के प्रधानमंत्री ओली का बेतुका बयान, बोले- भारत ने बनाई नकली अयोध्या सचिन पायलट BJP के संपर्क में, 30 MLA भी छोड़ सकते हैं कांग्रेस का दामन