कोरोना वायरस: पान मसाला और गुटखा की लत वालों का क्या हाल है?

कोरोना वायरस: बैन के बावजूद कैसे मिल रहा है पान मसाला और गुटखा?

10-04-2020 09:57:00

कोरोना वायरस: बैन के बावजूद कैसे मिल रहा है पान मसाला और गुटखा?

पान मसाला खाकर थूंकने से भी कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका है, इसलिए उनकी बिक्री पर फिलहाल रोक है.

12: 11 IST को अपडेट किया गयाकानपुर में एक वरिष्ठ पत्रकार नाम न छापने की शर्त पर कहते हैं,"मैं 28 साल से पान मसाला खा रहा हूं. कॉलेज के दिनों में ही लत लग गई थी जो आज भी क़ायम है. लॉकडाउन में भी अभी तक मिल ही रहा है, आगे की देखी जाएगी."कानपुर को पान मसालों का गढ़ माना जाता है. न सिर्फ़ उत्पादन में यह शहर अग्रणी है बल्कि पान मसाला के जो तमाम बड़े ब्रांड्स हैं, उनमें से कई यहीं पर हैं. इसके अलावा छोटे-मोटे स्तर पर भी कई पान मसाले का उत्पादन होता है.

News18 इंडिया LIVE TV - हिंदी न्यूज़ लाइव टीवी | Hindi News Live Watch Live TV Online on Hindi News Channel News18 India. लॉकडाउन: राम माधव के अनुसार 90 फ़ीसदी प्रवासी मज़दूर अपने काम की जगह पर टिके हैं कोरोना वायरस: राज्यों को सौंपी कमान, क्या मोदी सरकार ने मान ली हार?

पान मसाले के व्यवसाय से जुड़े राम नरेश बताते हैं कि अकेले कानपुर में क़रीब साठ लाख पाउच (छोटे पैकेट) मसाला लोग खाकर थूंक देते हैं. उनके मुताबिक़, सरकार को इससे हर महीने क़रीब 130 करोड़ के राजस्व की प्राप्ति होती है. एक अध्ययन के मुताबिक, भारत में पान मसाले का व्यवसाय क़रीब 42 हज़ार करोड़ रुपये का है और इसमें ज़्यादातर हिस्सा उत्तर प्रदेश का है.

लेकिन सवाल उठता है कि यदि पान मसाले के उत्पादन, बिक्री और सेवन पर सरकार ने प्रतिबंध लगा रखा है तो यह लोगों को मिल कैसे रहा है?कानपुर में पान मसाले के एक बड़े ब्रांड से जुड़े रहे व्यवसायी विक्रम कोठारी कहते हैं कि उत्पादन तो बंद है लेकिन यदि लोगों को मिल रहा है तो जो पहले का स्टॉक रखा है, वही मिल रहा होगा. हालांकि पिछले दो हफ़्तों में कई दुकानों में छापेमारी हुई है और लाखों रुपये के पान मसाले ज़ब्त भी किए जा चुके हैं.

इमेज कॉपीरइटImage captionलॉकडाउन के पहले की एक पान की दुकानपान मसालों की खपत न सिर्फ़ लखनऊ, कानपुर जैसे बड़े शहरों में है बल्कि गांवों और क़स्बों में भी इसके शौक़ीन लोगों की कमी नहीं है.कानपुर में स्थानीय पत्रकार प्रवीण मोहता कहते हैं,"आमतौर पर पान मसाला पान की दुकानों पर मिलता है. ये दुकानें भले ही बंद हो गई हों लेकिन कुछ किराने की दुकानों पर भी लोग-चोरी छिपे बेच रहे हैं और पान की जो छोटी-मोटी दुकानें बंद हो गई हैं, वो दुकानदार भी छिटपुट तौर पर अपना वो स्टॉक बेच रहे हैं जो उनके पास रखा हुआ था. यही नहीं, ये सारी चीजें महंगे दामों पर बिक रही हैं और खाने वाले शौक़ से ख़रीद रहे हैं."

उत्तर प्रदेश में गुटखे पर पहले से ही प्रतिबंध लगा हुआ है और साल 2017 में बीजेपी सरकार बनने के बाद सरकारी दफ़्तरों में पान या पान मसाला खाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. बहुत से लोग ऐसे हैं जो पान मसाला तो नहीं खाते लेकिन पान खाने का शौक़ रखते हैं. उनके सामने दिक़्क़त ये है कि पान की सप्लाई बंद है और पान ऐसी चीज़ भी नहीं है जिसे स्टोर करके रखा जा सके.

अभय अवस्थी कहते हैं,"इलाहाबाद में तो पान के शौक़ीन लोग हर साल नौ अप्रैल को तांबूल दिवस मनाते हैं. यह पहली बार है कि तांबूल के अभाव में हम लोग तांबूल दिवस मना रहे हैं. हालांकि पान की दुकान वाले अपने ग्राहकों की विवशता समझ रहे हैं और कहीं न कहीं से पान की ज़रूरत पूरी कर रहे हैं. अब कैसे कर रहे हैं, ये वही बता सकते हैं."

लखनऊ के अलावा नोएडा और ग़ाज़ियाबाद में भी पान मसाले के अभाव में कुछ लोगों को दिक़्क़तों का सामना करना पड़ रहा है. हालांकि ये चीज़ें यहां भी लोगों को वैसे ही मिल रही हैं जैसे अन्य जगहों पर. ये अलग बात है कि दाम ज़्यादा देना पड़ रहा है.इमेज कॉपीरइटGetty Images

पुलिस की गोली से मरे 7000 से अधिक अश्वेत, अमेरिका के इन तीन प्रांतों में सबसे खराब स्थिति ट्रेनें चालू होते ही सिर्फ टिकट लिए लाइन में खड़े नजर आए प्रवासी मजदूर लद्दाख एलएसी पर तनाव: भारत-चीन की तनातनी में लड़ाकू विमानों की एंट्री

उत्तर प्रदेश में फ़ूड सेफ़्टी एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन विभाग के उपायुक्त वीके वर्मा ने बीबीसी को बताया,"सरकार पूरी तरह से निगरानी कर रही है. कई जगह छापेमारी भी हुई है और इनकी बिक्री करते हुए लोग पकड़े गए हैं. पुराने स्टॉक की लोग अवैध बिक्री भले ही कर ले रहे हों लेकिन उत्पादन पर पूरी तरह से रोक है."

पान मसाले पर प्रतिबंध की घोषणा करते वक़्त राज्य के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा था कि सरकार उन विकल्पों की भी तलाश कर रही है कि कैसे इन चीज़ों पर स्थाई प्रतिबंध लगाया जा सकता है. लेकिन नोएडा में एक टीवी चैनल में काम करने वाले वरिष्ठ पत्रकार कहते हैं,"इन पर स्थाई प्रतिबंध लगाना बड़ा मुश्किल है. पान मसाले पर प्रतिबंध लग जाएगा तो उसकी जगह पर वैसी ही कोई और चीज़ आ जाएगी. और पान पर तो प्रतिबंध लगा भी नहीं सकते हैं क्योंकि वो तो सांस्कृतिक अस्मिता से जुड़ी हुई चीज़ है. सबसे बड़ी बात ये कि प्रतिबंध लगाकर लोगों को इनके सेवन से रोक पाना असंभव सा है."

और पढो: BBC News Hindi »

चुप चोरी से होल सेलर लोग बेच रहें है Kyo na mile.... Lots of pakistani in india Maje aa rahe hai inke to khub mil raha hai. Kyo hai yeh log ghar se nikalne ko majboor jab serkaar maddat ker rhi hai kyo toda jaa rha hai Lockdown Change the Title Mote ke khatre ke chalte kese mil rhi hai mote ki dawai H kyu mil rha h

Aap se aacha kisko pta..... Sab kuch mil raha sir yahan....jo log iska sewan krte hen un logo sb kuch mil raha h wo bhi bht aram se... हिंदुत्व के घृणित विचारधारा से संक्रमित हिंदुओं और मीडिया से सावधान रहें क्योंकि ये लोग क्रोन वायरस से भी अधिक घातक हैं। ये लोग भारत को सांप्रदायिकता की आग में झोंकने के लिए घात लगाए बैठे हुए हैं।

उनकी हालत बहुत खराब हैं। जो जर्दे का पैकेट 10 में मिलता था अब वो 30 में मिलता है और वो भी बड़ी मुश्किल से मिलता हैं। अब तो ना के बराबर मिलता हैं।। UmmedMaloo09 सबको आराम से दुगुना भाव में मिल रहा है और पान गुटखा वाले जल्द ही पैसे वाले होंगे। Aise mil raha hai Is there any benefit to swing gutkha... My point of view definitely No.... Why not govt not taken any steps to stop gutkha..

जैसे इतना संक्रमण और कार्यवाही के बाद भी जमाती छुपे हुये हैं ! That’s normal and the worst it all happens with Govt officials being hand in gloves with those illegal traders. माल 😂😂😂😂😂 किंगफिशर 180 at the ठेका सब मिल रहा है अब बराए मेहरबानी ऐसे मसले न उठाएं जिससे गरीब और ज्यादा परेशान हो। 😈😂 और दारू भी मिल रही है 600 रू पऊआ

बीबीसी को हर उस चीज की चिंता है जो मानवता या समाज के लिए खतरा है बीबीसी हिंदी हमारे जनपद बलरामपुर के उतरौला तहसील(उत्तर प्रदेश) के अधिकांश दुकानदार गुटखे पर प्रतिबंध होने के बावजूद भी एक पाउच गुटखा 2 से 3 गुना दामों पर बेच रहे हैं हम नहीं सुधरेंगे Tripolia Hospital Patna k pass bikta hai.Police khada rehti hai.

Ye india hai jaanta hai Pr Maanta nhi गुटखा खाने वालों से निवेदन है की यहाँ वहाँ न थूके .. 'हिन्दु मुस्लिम' में दरार डालने वाली 'दलाल मीडिया' के मुंह पर थूके ।। धन्यवाद 🙏🤣🤣 GodiMedia ठीक वैसे जैसे तुम को केवल दुखी,परेशान और सताए हुए सिर्फ मुसलमान ही नज़र आते है भारत में। Bahut bura hall h 25 रुपये का रजनीगंधा 30रु में मिल रहा है।

Kya chahate ho yar grib logo ko khana na mile kya tora to bardash kar lo पान मसाला गुटखा पर प्रभावी रोक के लिए उत्तर प्रदेश में स्थानीय निकायों में कार्यरत सफाई में खाद्य निरीक्षकों को भी खाद्य सुरक्षा अधिकारी के रूप में तत्काल प्रभाव से अधिसूचित कर देना चाहिए क्योंकि इस वक्त वह सभी फील्ड में हैं मे भी यही सोच रहा था कि जब देश में लोकडाउन है तो रविवार को आतिशबाजी के लिए पटाखे कहा से आए

पटाखे फुलझड़ी मिल सकती हैं तो गुटका क्या है ये इंडिया है मेरी जान जैसे गुजरात में शराब मिलती हैं वैसे ही और अपने अब्बा जमतीयो के बारे में कभी नहीं पूछ रहे हो.... खाने वालो के लिए कही भी कमी नहीं है बस रेट जरूर बड़ा दिया है थोड़ा। 5 बाली विमल 8 की ,और 10बाली 13 की सब कुछ ब्लैक से बिक रहा है यह भारत है यहां ईमान भी बिकता है

जैसे जमाती मिल रहे है.....😎 Gutkha or HCQ ki trah h agar nhi mili ...to ap smajh skte ho ....🤣 Are Bhai Jamati ko khojo, Tum to Keechad me bhi gandgi khoj rahe ho, kya ho Gaya tumko. Daaru to mil nhi raha hai, gutkha mil raha hai😂 Sab stock hai bhaiya ...khambha bhi mil Raha hai bas rokda hona chahiye

lockdown भी लगा दिया गया,परन्तु इसका सख्ती से पालन न होने के कारण देश की अर्थव्यवस्था को भी नुकसान हो रहा है ओर कोरोना मरीज भी बढ़ते जा रहे हैं| इसकी सख्ती पर ध्यान दिया ताकि lockdown बढ़ाने की आवश्यकता न पङे| Setting honi chahiye be😎 बैन केवल कागजों में रहता है। बाकी भारत में मिलता सबकुछ है। मिल तो दारू भी रही है गुटका मसाला क्या चीज है।

Gutkha k peeche kala bazari chalrahi hai BC Tumhe badi fikr mc जरा मुझे भी बता कमिने बीबीसी कहा मिलरहा है । 23तारीख के बाद अभी तक मैंने देखा तक नहीं और तुझे मिलभी जारहा है। हद है चुती यापा की Very Wrong. Emmissary of Death itself. Tobacco products should be completely banned. GUTKHA KEY SATH PAN KYUN?HAM JAANTEY HAIN...

ये हिंदुस्तान है साहिब यहां कायदे कानून लोकल पुलिस की मर्ज़ी से चलते है

कोरोना वायरस: एक संक्रमित व्यक्ति कितने लोगों को दे सकता है ये वायरस?कोरोना वायरस: लॉकडाउन नहीं हो तो एक आदमी से हो सकते हैं 406 लोग संक्रमित- प्रेस रिव्यू Jamat wale bol rahen hain lockdown ho tab bhi ho sakte hain केंद्र सरकार को लॉक डाउन की पहल करनी चाहिए, लॉक डाउन होना अनिवार्य है तभी सभी की सुरक्षा की जा सकती है मैं आपकी सभी बातों से सहमत हू पर एक बात आपको मेरी मानी होगी मुसलमान समाज हिंदुस्तान के लिए वह कीड़ा है जो कि लकड़ी में लगी दीमक की तरह देश को खाने में लगाएं कृपया इन कीड़ों को मारते रहिए देश की जनता और देश दोनों के हित की बात है इन्होंने तो हिंदुस्तानी पैसे को हराम का माल समझाएं

आखिर क्यों है कोरोना वायरस का निमोनिया ज्यादा खतरनाक, जानें एक्सपर्ट्स की रायआखिर क्यों है कोरोना वायरस का निमोनिया ज्यादा खतरनाक, जानें एक्सपर्ट्स की राय pneumonia Coronavirus CoronavirusinIndia COVID2019india CoronavirusDeath

कोरोना वायरस से संक्रमित होने पर बचने की संभावना कितनी है?यह जानना जरूरी है कि कोरोना वायरस से सबसे अधिक खतरा किसको है, किस उम्र वर्ग के लोगों को ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है

कोरोना वायरस: इस बार कैसे गुज़रेगा रमज़ान, दुनिया भर के धर्म प्रभावितकोरोना वायरस के कारण दुनिया भर की धार्मिक गतिविधियां प्रभावित हो रही हैं. Allah bhot bara h fikr na kare Allah jo karta hai accha karta hai मानवता संकट के मुहाने पर है। जेहादियों को रमजान की फिक्र हो रही है पर

कोरोना वायरस: क्या सरकार फ्री करेगी कोविड-19 टेस्ट?कोर्ट ने कहा कि सरकार को एक ऐसा ढांचा तैयार करना चाहिए जिससे प्राइवेट लैब टेस्ट को लेकर मनमानी ना कर सकें. सरकार को कोरोना टेस्टिंग फ्री करनी चाहिए Bhaut sarahniya karya Free COVID-19 test 🇮🇳

कोरोना वायरस: मिस इंग्लैंड ने ताज उतारा, डॉक्टरी के पेशे में लौटींभारतीय मूल की भाषा मुखर्जी ब्रिटिश नागरिक हैं और उनका बचपन कोलकाता में बीता है. और हमारे यहां सीनियर डॉक्टर ने मंत्री का ताज पहन लिया है डॉक्टरी छोड़कर क्या मिलना ऐसे लोगों से जिनकी फितरत छुपी रहे। नकली चेहरा सामने आये असली सूरत छिपी रहे ।। Now Britain need India and Indian Origin to run their Nation. Give back to colonialism!

संजय राउत ने देश में कोरोना फैलने ने लिए 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम को ठहराया जिम्मेदार, कहा... कोरोना अपडेटः दुनिया का 7वां सबसे अधिक कोरोना प्रभावित देश बना भारत - BBC Hindi केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर बोले- हमारे श्रमिक भाई थोड़े अधीर हो गए थे जॉर्ज फ़्लॉयड के साथ आख़िरी 30 मिनट में क्या क्या हुआ था? US में हो रहे प्रदर्शनों के बीच BJP नेता कपिल मिश्रा ने वहां के नागरिकों को दी सलाह, कही ये बात कोरोना अपडेट: 'भारत बिना सोची समझी नीति की क़ीमत चुका रहा है' भारतीय सेना ने भारत-चीन सीमा पर झड़प वाले वीडियो को प्रमाणिक नहीं माना PM Modi Speech Live: पीएम बोले- देश अब खुल गया है, हमें और ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत दिल्ली के अस्पतालों में सिर्फ दिल्लीवालों का हो इलाज? केजरीवाल ने पब्लिक से मांगे सुझाव दिल्ली हिंसा : अदालत ने कांग्रेस की पूर्व पार्षद इशरत को शादी के लिए अंतरिम जमानत दी कर्मचारियों की सैलरी के पैसे नहीं, दिल्ली सरकार ने केंद्र से मांगे 5 हजार करोड़ रुपये