Supreme Court, Sc Bench, Justice Dy Chandrachud, Justice Sanjay K Kaul, Justice S Ravindra Bhat, Justice Hrishikesh Roy, Classroom To Courtrooms, 1982 Batch, Campus Law Centre, Clc, University Of Delhi, Du, Alumni, Judges, Supreme Court, Sc, India News, Breaking News, Latest News, National News

Supreme Court, Sc Bench

कॉलेज में संग पढ़ते थे ये 4 जज, अब SC में 37 साल बाद हुए साथ

क्लासरूम-टू-कोर्टरूम: कॉलेज में संग पढ़ते थे ये 4 जज, अब सुप्रीम कोर्ट में 37 साल बाद हुए साथ -

20-09-2019 17:11:00

क्लासरूम-टू-कोर्टरूम: कॉलेज में संग पढ़ते थे ये 4 जज, अब सुप्रीम कोर्ट में 37 साल बाद हुए साथ -

इन चार जजों के नाम इस प्रकार हैं- जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस संजय के.कौल, जस्टिस एस.रविंद्र भट्ट और जस्टिस ऋषिकेश रॉय।

शुक्रवार (20 सितंबर, 2019) को यह जानकारी ‘सीएनएन न्यूज 18’ के लीगल एडिटर उत्कर्ष आनंद ने ट्वीट कर दी। उन्होंने इसमें लिखा, “क्लासरूम से लेकर कोर्टरूम तकः दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) के कैंपस लॉ सेंटर (CLC) में साल 1982 बैच के चार अल्युमनाई अब सुप्रीम कोर्ट में एक साथ जज होंगे। जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस संजय के.कौल, जस्टिस एस.रविंद्र भट्ट और जस्टिस ऋषिकेश रॉय।”

MOTN: 2014 के बाद PM मोदी ने बदली इकोनॉमी की तस्वीर, जानें सर्वे में क्या बोले लोग दिल्ली पुलिस के पास ताहिर हुसैन को दंगों से जोड़ने का कोई सबूत नहीं: वकील रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट से 'चीनी घुसपैठ' संबंधी जानकारी गायब

‘बार एंड बेंच’ के मुताबिक, 23 सितंबर को चारों नए जजों का शपथ ग्रहण समारोह भी है, जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट में जजों की संख्या बढ़कर 34 हो जाएगी। दरअसल, केंद्र सरकार ने हाल ही में सुप्रीम कोर्ट में पद बढ़ाने के साथ जजों के रिटायरमेंट के बाद खाली हुए पदों पर इन चार जजों को नियुक्त किया है। इससे पहले, सुप्रीम कोर्ट में जजों की संख्या 31 थी, जिसे मोदी सरकार ने बढ़ाकर 34 किया है और इसमें सीजेआई भी शामिल हैं।

कौन हैं ये चार जज, जो क्लासरूम के बाद अब कोर्टरूम में भी हुए साथ?:Also Read 1- Justice DY Chandrachud का जन्म 1959 में हुआ था। 1982 में ग्रैजुएशन के बाद उन्होंने Harvard से 1983 में एलएलएम किया। फिर 29 मार्च 2000 को वह Bombay High Court में एडिश्नल जज नियुक्त किए गए, जबकि 31 अक्टूबर 2013 को उन्हें Allahabad High Court का चीफ जस्टिस बनाया गया।

2- Justice Shripathi Ravindra Bhat भी कैंपस लॉ सेंटर से 1982 में ग्रैजुएट हुए थे। उसी साल उन्होंने Delhi Bar Council में खुद को एनरॉल करा दिया। उन्होंने Delhi High Court, Supreme Court और बाकी न्यायिक मंचों पर प्रैक्टिस की। बाद में उन्हें 2004 में दिल्ली हाईकोर्ट का एडिश्नल जज बनाया गया और 2006 में वह परमानेंट जज बनाए गए।

3- 1960 में जन्में Justice Hrishikesh Roy 2006 में गुवाहाटी हाईकोर्ट में एडिश्नल जज नियुक्त हुए थे। दो साल बाद वह वहां पर्मानेंट जज बन गए। जस्टिस रॉय इसके बाद केरल हाईकोर्ट ट्रांसफर कर दिए गए, जहां उन्होंने एक्टिंग चीफ जस्टिस के तौर पर काम किया। आगे अगस्त, 2018 में उन्हें केरल हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस बना दिया गया था।

4- Justice Sanjay Kishan Kaul ने 1982 में दिल्ली बार काउंसिल ज्वॉइन किया और बाद में वह दिल्ली हाईकोर्ट के एडिश्नल जज (2001 में) बन गए। वह 2013 में पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस भी बन गए, जबकि आगे मद्रास हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस के तौर पर उनका ट्रांसफर हो गया था। 17 फरवरी, 2017 को वह सुप्रीम कोर्ट के जज के तौर पर नियुक्त किए गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App और पढो: Jansatta »

मुंबई की मल्टी टैलेंटेड वुमन: 28 कैंसर पेशेंट बच्चों का सहारा बनीं गीता श्रीधर, दिन-रात इनकी सेवा में समर्प...

गीता ने टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल के कैंसर पेशेंट्स के लिए खाने का भी प्रबंध किया।,पिछले कुछ सालों से गीता ने अपने कुछ वॉलंटियर्स की मदद से फूड बैंक की शुरुआत की है। Geeta Sridhar became the support of 28 cancer patients, dedicated to her day and night and said 'Geetu Maa'

रात में मंदिरों के बाहर लगे दिग्विजय सिंह के विरोध में पोस्टर, हिंदू विरोधी बतायामंदिरों के बाहर यह पोस्टर किसने, कब और क्यों चस्पा करवाए इसका खुलासा नहीं हो पाया मंगलवार को दिग्विजय सिंह ने कहा था- भगवा पहने लोग बलात्कार कर रहे हैं, मंदिरों तक में दुराचार हो रहे हैं | Posters protesting against Digvijay Singh outside the city\'s temples digvijaya_28 Is dog दिग्विजय को समाज से निष्कासित करना चाहिए digvijaya_28 😂😂 digvijaya_28

UP: वाराणसी में गंगा खतरे के निशान से ऊपर, कई इलाकों में बाढ़ के हालातवाराणसी में गंगा के जलस्तर में बढ़ोतरी जारी है. गंगा का जलस्तर प्रतिघंटा एक सेंटीमीटर की रफ्तार से बढ़ रहा है. बुधवार को दोपहर एक बजे तक की रीडिंग के मुताबिक गंगा का जलस्तर 71.26 मीटर खतरे के निशान को पार करके 71.31 मीटर तक आ पहुंचा था. abhishek6164 दिल्ली को मोड़ने को कहो सरकार से आधी बाढ़, यहॉ पै उत्पात मचाना है बहुत सारा... मुझ अकेले से ना ही होगा ?😣😉😡 abhishek6164 Theek hua KYO hua We have to think We should not play with nature Kya hame nature KO ....... To bhugtan to Karna parega. Logo Ka bas chale to wo to Ganga KO hata ke Ghar Bana de.........

मध्‍य प्रदेश में मंदिरों के बाहर लगाए गए दिग्विजय सिंह के खिलाफ 'नो एंट्री' के पोस्‍टरमध्‍य प्रदेश में मंदिरों के बाहर लगाए गए दिग्विजय सिंह के खिलाफ 'नो एंट्री' के पोस्‍टर DigVijaySingh INCIndia BJP4India INCIndia BJP4India हां तो सही तो है दिग्विजय सिंह हिंदुओं के खिलाफ बोलते हैं हिंदुओं को कभी आतंकवादी बोलते हैं कभी बोलते हैं राम काल्पनिक है हमें कभी भगवान पर विश्वास नहीं तो ऐसे लोगों को मंदिर में क्यों आने दे हम INCIndia BJP4India सही कदम ये मंदिरों में नारियो को निहारने ही जाता है। इसका चरित्र ही ऐसा है। INCIndia BJP4India अवश्य,,ये हिन्दू तो क्या इन्सान भी कहलाने के लायक नहीं

ह्यूस्टन में Howdy Modi इवेंट से पहले भारी बारिश, स्कूल-कॉलेज बंदहाउडी मोदी (Howdy modi) कार्यक्रम से पहले ही ह्यूस्टन में एक उष्णकटिबंधीय तूफान ने भारी तबाही मचाई. इसके कारण टेक्सास के कई हिस्सों में गवर्नर को आपातकाल घोषित करना पड़ा है. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी जिस देश में आप कदम रखते हो उस देश का दुर्गति हो जाता है। अभी कुछ नालायक आएंगे ट्विटर पर और इसको HowdyModi के कार्यक्रम से जोड़ देंगे। जहां जहां पैर पडे संतन् के, वहां वहां बन्टा ढार😃

भारी चालान के विरोध में यूनियन की हड़ताल कल, थमेंगे ओला-ऊबर के भी पहिएDelhi-NCR Transport Strike: नए मोटर व्हीकल एक्ट-2019 के तहत बढ़ी बीमा की राशि व आरएफआइडी टैग की अनिवार्यता समेत अन्य मुद्​दों को लेकर ट्रक, टेंपों, बस, आटो, कैब, टैक्सी समेत अन्य सार्वजनिक व व्यवसायिक वाहन संगठनों ने गुरुवार यानी 19 सितंबर को एकदिवसीय हड़ताल की घोषणा की है।

शाहजहांपुर: यौन शोषण के आरोपी स्वामी चिन्मयानंद गिरफ्तार, थोड़ी देर में कोर्ट में पेशीखबरों के मुताबिक थोड़ी देर में ही चिन्मयानंद को कोर्ट में पेश किया जाएगा। Chinmayanandcase ChinmayanandArrested Uppolice