केरल: सीएम विजयन का दावा- केरल में घटे महिलाओं के खिलाफ यौन अपराध, यूडीएफ ने दावे को झूठा बताया

केरल: सीएम विजयन का दावा- केरल में घटे महिलाओं के खिलाफ यौन अपराध, यूडीएफ ने दावे को झूठा बताया #KeralaNews #UDF

Keralanews, Udf

28-10-2021 20:57:00

केरल: सीएम विजयन का दावा- केरल में घटे महिलाओं के खिलाफ यौन अपराध, यूडीएफ ने दावे को झूठा बताया KeralaNews UDF

केरल में महिलाओं के खिलाफ यौन अपराध क्या सचमुच में घट गए हैं? मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने गुरुवार को राज्य विधानसभा

केरल विधानसभा में शून्यकाल के दौरान विजयन ने कहा कि केरल में महिलाओं के खिलाफ यौन उत्पीड़न और संबंधित अपराधों की घटनाएं घट रही हैं। उनकी सरकार का उद्देश्य एक ऐसा समाज बनाना है जहां किसी भी महिला का उत्पीड़न न हो। वहीं यूडीएफ नेताओं ने राज्य में महिलाओं के खिलाफ हिंसा और दुष्कर्म की ताजा घटनाओं को लेकर विजयन सरकार को घेरा।

विजयन ने आंकड़ों देते हुए कहा कि 2016 में महिलाओं के खिलाफ हिंसा के 15,114 मामले दर्ज किए गए थे, जबकि 2020 में यह संख्या घटकर 12,659 हो गई। 2017 में 2,003 से 2020 में दुष्कर्म के मामलों की संख्या घटकर 1,880 हो गई है। उन्होंने कहा कि 2020 में केवल 3,890 हमले के मामले दर्ज किए गए थे, जबकि 2017 में 4,413 मामले दर्ज किए गए।

उन्होंने कहा कि दहेज से संबंधित उत्पीड़न के बाद होने वाली मौतों की संख्या 2020 में घटकर सिर्फ छह रह गई, जो 2017 में 12 थी। विजयन ने कहा, 'तथ्य यह है कि वर्ष 2016 और 2021 के बीच यौन उत्पीड़न और संबंधित अपराधों की संख्या में कमी दिखाई दे रही है। राज्य में महिलाओं के खिलाफ हिंसा में कमी आती हो रही है। लेकिन, सरकार इससे संतुष्ट नहीं है। हमारा उद्देश्य एक ऐसे समाज का निर्माण करना है जहां किसी भी महिला को परेशान न किया जाए।' इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए कई कार्यक्रम शुरू किए गए। headtopics.com

इस पॉप स्टार से खफा हैं तुर्की के राष्ट्रपति, बोले- जीभ काट दूंगा; जानें क्या है मामला?

सीएम विजयन ने कांग्रेस विधायक रोजी एम जान द्वारा लगाए गए आरोपों पर भी सवाल उठाया, जिन्होंने इस मुद्दे पर स्थगन प्रस्ताव के लिए नोटिस दिया था कि महिलाओं के खिलाफ हमलों के मामले में दक्षिणी राज्य की स्थिति उत्तर भारत से भी बदतर हो रही। उन्होंने आरोप लगाया कि पिछले तीन महीनों में केरल में सामूहिक दुष्कर्म की तीन घटनाएं हुईं और पुलिस और गृह विभाग महिलाओं के खिलाफ हमलों की जांच करने में विफल रहे। कुट्टियाडी में एक नाबालिग अजा लड़की सहित राज्य भर में महिलाओं के खिलाफ दुष्कर्म और अन्य अपराधों के हालिया मामलों को जोड़ते हुए कहा, वे सदन में इस मामले पर चर्चा करना चाहते थे।

स्पीकर एम बी राजेश ने मुख्यमंत्री विजयन के जवाब के बाद विपक्ष को बोलने का मौका नहीं दिया। इससे नाराज विपक्ष ने बहिर्गमन कर दिया।विस्तार में यह दावा किया तो कांग्रेस नीत विपक्षी गठबंधन यूडीएफ ने उसे झूठा बता दिया।विज्ञापनकेरल विधानसभा में शून्यकाल के दौरान विजयन ने कहा कि केरल में महिलाओं के खिलाफ यौन उत्पीड़न और संबंधित अपराधों की घटनाएं घट रही हैं। उनकी सरकार का उद्देश्य एक ऐसा समाज बनाना है जहां किसी भी महिला का उत्पीड़न न हो। वहीं यूडीएफ नेताओं ने राज्य में महिलाओं के खिलाफ हिंसा और दुष्कर्म की ताजा घटनाओं को लेकर विजयन सरकार को घेरा।

विजयन ने आंकड़ों देते हुए कहा कि 2016 में महिलाओं के खिलाफ हिंसा के 15,114 मामले दर्ज किए गए थे, जबकि 2020 में यह संख्या घटकर 12,659 हो गई। 2017 में 2,003 से 2020 में दुष्कर्म के मामलों की संख्या घटकर 1,880 हो गई है। उन्होंने कहा कि 2020 में केवल 3,890 हमले के मामले दर्ज किए गए थे, जबकि 2017 में 4,413 मामले दर्ज किए गए।

राजपथ पर 'सशक्त भारत' की झांकी, राजपथ के ऊपर वायुसेना का फ्लाई पास्ट

उन्होंने कहा कि दहेज से संबंधित उत्पीड़न के बाद होने वाली मौतों की संख्या 2020 में घटकर सिर्फ छह रह गई, जो 2017 में 12 थी। विजयन ने कहा, 'तथ्य यह है कि वर्ष 2016 और 2021 के बीच यौन उत्पीड़न और संबंधित अपराधों की संख्या में कमी दिखाई दे रही है। राज्य में महिलाओं के खिलाफ हिंसा में कमी आती हो रही है। लेकिन, सरकार इससे संतुष्ट नहीं है। हमारा उद्देश्य एक ऐसे समाज का निर्माण करना है जहां किसी भी महिला को परेशान न किया जाए।' इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए कई कार्यक्रम शुरू किए गए। headtopics.com

सीएम विजयन ने कांग्रेस विधायक रोजी एम जान द्वारा लगाए गए आरोपों पर भी सवाल उठाया, जिन्होंने इस मुद्दे पर स्थगन प्रस्ताव के लिए नोटिस दिया था कि महिलाओं के खिलाफ हमलों के मामले में दक्षिणी राज्य की स्थिति उत्तर भारत से भी बदतर हो रही। उन्होंने आरोप लगाया कि पिछले तीन महीनों में केरल में सामूहिक दुष्कर्म की तीन घटनाएं हुईं और पुलिस और गृह विभाग महिलाओं के खिलाफ हमलों की जांच करने में विफल रहे। कुट्टियाडी में एक नाबालिग अजा लड़की सहित राज्य भर में महिलाओं के खिलाफ दुष्कर्म और अन्य अपराधों के हालिया मामलों को जोड़ते हुए कहा, वे सदन में इस मामले पर चर्चा करना चाहते थे।

स्पीकर एम बी राजेश ने मुख्यमंत्री विजयन के जवाब के बाद विपक्ष को बोलने का मौका नहीं दिया। इससे नाराज विपक्ष ने बहिर्गमन कर दिया।आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

Republic Day Parade 2022: राजपथ पर भव्य काशी विश्वनाथ धाम की झांकी देख लोग हुए अभिभूत, यहां जानें सब कुछ

हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »

भारत में #Omicron वैरिएंट का कम्युनिटी स्प्रेड शुरू.

और पढो >>

तेल लगेगा सरसों का और हिसाब होगा बरसों का 🤪🤪

Coronavirus LIVE News : दिल्ली में बीते 24 घंटे में 41 नए कोरोना केस, कोई मौत नहींचीन में कोरोना वायरस के मामले फिर से बढ़ रहे हैं। चीनी अधिकारी इसके पीछे डेल्टा के नए वैरिएंट को वजह बता रहे हैं। वहीं भारत में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट एवाई.4 से अभी कोई खतरा नहीं है। कोशिकीय एवं आणविक जीव विज्ञान केंद्र (सीसीएमबी) के पूर्व निदेशक राकेश मिश्रा ने सोमवार को कहा कि कोरोना वायरस के डेल्टा प्रकार के ‘सब-लिनियेज’ एवाई.4 की संक्रामक दर डेल्टा से अधिक होने का कोई साक्ष्य मौजूद नहीं है। उन्होंने कहा कि यह उक्त वायरस का कोई नया प्रकार नहीं है। मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में छह लोग एवाई.4 से संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना से जुड़े पल-पल के अपडेट के लिए बने रहिए नवभारतटाइम्स ऑनलाइन के साथ source? official statement?

चीन में बढ़े कोरोना के मामले, सीमावर्ती शहरों में तेज किया गया टेस्ट, लगाया गया लाकडाउनचीन ने 10 दिन पहले मौजूदा प्रकोप की शुरुआत के बाद से कोविड ​​-19 के लगभग 250 स्थानीय रूपों के प्रसारण की सूचना दी है। चीन के उत्तर-पश्चिम में दूरदराज के शहरों में संक्रमण फैला हुआ है। चीन में 26 अक्टूबर को 50 नए स्थानीय मामले सामने आए।

Breaking News : उत्तराखंड: बागेश्वर में भीषण सड़क दुर्घटना में पांच पर्यटकों की मौत, 15 घायलबिहार की सिसासत में लालू पुराने तेवरों के साथ लौट आए हैं। तारापुर की चुनावी रैली में अरसे बाद लालू के वह पुराने तेवर दिखे, जिसके लिए वह जाने जाते हैं। कभी चिर परिचित अंदाज में भीड़ को डांटा। कभी अपने लिए नारे लगवाए। ठेठ बिहारी अंदाज में लालू अपने भाषण से अपने समर्थकों और आरजेडी कार्यकर्ताओं को यह संदेश देते दिखे कि वह चुके नहीं है। उनके अंदर बाजी पलटने का दम बाकी है। वह करिश्मा है जिसके दम पर वह दो दशक तक बिहार से लेकर दिल्ली तक सत्ता की छुरी बन रहे। हालांकि इस बार उनकी इस आवाज पर उम्र का असर साफ दिख रहा था। उधर, सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पेगासस जासूसी केस की जांच तीन सदस्यीय समिति करेगी। कमेटी को जांच करने के लिए 8 सप्ताह का समय दिया है। देश दुनिया की ब्रेकिंग न्यूज (Breaking News) और लेटेस्ट न्यूज (Latest News in Hindi) के लिए बने रहिए नवभारतटाइम्स ऑनलाइन के साथ

भारत में पिछले 24 घंटे में 13,451 नए COVID-19 केस, कल से 8.2 प्रतिशत ज़्यादापिछले 24 घंटे में 14,021 लोग कोरोना से ठीक हुए. वहीं अब तक कुल 3,35,97,339 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं. वहीं देश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 1,62,661 है. आर्यन खान की ड्रग्स रैकेट की बात भी कर लिया करो,एनडीटीवी बिल्कुल गायनेक तरह है पूरी दुनिया जो मजा ले रही हो उसमे तुम खामियां ही ढूंढते हो😀😀 60 = 200 के बाद खुश हैं ढोंगी उर्फ झोलाछाप 😝😜😁😂🤪🤪😆😆🤑🤑😅😅😄😄🤣🤣 ढोंगी के चेले बहुत खुश हैं क्युकी 60 = 200 😝😜😂😂😂

हताशा में डूबते-उतराते मोदी विरोधियों को उत्तर प्रदेश में लगने वाला है एक बड़ा झटकामोदी विरोधियों को संवैधानिक मर्यादा में होने वाला कोई काम तभी स्वीकार होता है जब वह उनके मन मुताबिक हो। शाह रुख खान के बेटे आर्यन खान की गिरफ्तारी क्या हुई अचानक नशेड़ी युवाओं के प्रति सहानुभूति की बाढ़ आ गई। 23pradeepsingh BJP4India INCIndia

आर्यन खान को मिली बेल, लेकिन जारी रहेगा मन्नत में इंतजार, जेल में कटेगी रातशाहरुख खान के बेटे आर्यन खान मुंबई द्रुज के ड्रग्स केस में फंसे हुए थे. आज सुनवाई के बाद आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा को हाई कोर्ट ने जमानत दे दी है. आर्यन खान के वकील सतीश मानशिंदे ने बताया कि अभी कोर्ट से जमानत की डिटेल्स कॉपी नहीं मिली है. इसलिए आर्यन, अरबाज और मुनमुन को आज की रात जेल में ही बितानी होगी.