Coronaupdate, Lockdown, Coronavirus, Coronahotspots, Coronavirusupdate, Coronaupdatesindia, Coronavirus News İn Hindi, Coronavirus İndia News İn Hindi, Coronavirus Update News İn Hindi, Coronavirus İn İndia News İn Hindi, Coronavirus Cases News İn Hindi, Lockdown İndia News İn Hindi, Central Government News İn Hindi, Coronavirus Pandemic News İn Hindi, New Patients News İn Hindi, District News İn Hindi, State News İn Hindi, Prime Minister Narendra Modi, Union Ministry Of Health And Family Welfare, Precautionary Measures, Officials, Staff, Video Conferences, Ministry Of Health, केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, स्वास्थ्य मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय, रक्षा सचिव, अजय कुमार, राजनाथ सिंह, Ministry Of Defense, Secretary Of Defense, Ajay Kumar, Rajnath Singh

Coronaupdate, Lockdown

केंद्र सरकार के अहम मंत्रालयों तक पहुंचा कोरोना, पांच लोगों के एक जगह एकत्र होने पर पाबंदी

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का प्रसार केंद्र सरकार के अहम मंत्रालयों तक हो गया है। यह मंत्रालय हैं स्वास्थ्य मंत्रालय,

04-06-2020 01:31:00

केंद्र सरकार के अहम मंत्रालयों तक पहुंचा कोरोना, पांच लोगों के एक जगह एकत्र होने पर पाबंदी CoronaUpdate Lockdown coronavirus CoronaHotSpots CoronaVirusUpdate coronaupdate sindia PMOIndia MoHFW_INDIA DrHVoffice

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का प्रसार केंद्र सरकार के अहम मंत्रालयों तक हो गया है। यह मंत्रालय हैं स्वास्थ्य मंत्रालय ,

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी परिपत्र में कहा गया है कि मंत्रालय के कई अधिकारी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। ऐसे में एहतियाती उपायों के तहत एक सूची जारी की गई है। इसमें कहा गया है कि अब से बैठकें वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से होंगी, ताकि कोरोना के प्रसार को रोका जा सके।

विकास दुबे: 'मुठभेड़' में इतने इत्तेफ़ाक़! ऐसा कैसे? राहुल गांधी की मांग, चीनी घुसपैठ की शिनाख्त के लिए स्वतंत्र फैक्ट-फाइंडिंग मिशन की अनुमति दी जाए बंटवारे के समय पाक में 428 मंदिर थे, उनमें से 408 दुकान या दफ्तर बन गए; हर साल हजार से ज्यादा लड़कियां इस्लाम कबूलने को मजबूर

मंत्रालय ने परिपत्र में कहा है कि ऐसा देखा गया है कि पिछले कुछ समय से कार्यालय परिसर (निर्माण भवन) में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन नहीं हो पा रहा है। मंत्रालय के कई अधिकारियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसलिए एहतियाती कदम उठाए जाने जरूरी हो गए हैं, जिनका सख्ती से पालन किया जाए।

परिपत्र में क्या हैं एहतियाती उपायपरिसर में मौजूद अधिकारियों और कर्मचारियों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा।ऐसे कर्मचारी जिनमें कोरोना की पुष्टि नहीं हुई है या फिर कुछ सामान्य लक्षण दिखाई दिए हैं सिर्फ वही कार्यालय में उपस्थित होंगे।सभी बैठक और कॉन्फ्रेंस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से होंगी। व्यवस्थागत तरीके से घर से काम करने की अनुमति दी जाएगी।

कनिष्ठ वर्ग के कर्मचारी और कार्यकारी अधिकारी जिन्हें कार्यालय आने की अनुमति है, वह विभाग की ओर से तय किए गए अलग-अलग समय पर उपस्थित होंगे।स्वास्थ्य मंत्रालय के शौचालय, सीढ़ियों समेत पूरे परिसर को छह और सात जून को सैनिटाइज किया जाएगा।मंत्रालय परिसर में आगंतुकों का प्रवेश निषेध रहेगा। साथ ही किसी अधिकारी—कर्मचारी के घर में ही क्वारंटीन रहने की जरूरत का आवेदन मिलने पर, अवकाश दिया जाएगा।

मंत्रालय परिसर में कहीं भी पांच या इससे अधिक लोगों के एक जगह एकत्र होने पर सख्त पाबंदी रहेगी। इसके साथ ही कर्मचारियों को चलते, बैठते या फिर कतार में खड़े होते समय एक—दूसरे से एक मीटर की दूरी भी बनाए रखनी होगी।सभी जितना हो सके सीढ़ियों का इस्तेमाल करेंगे। फाइल/दस्तावेज/कागज को यहां से वहां ले जाना भी निषेध रहेगा।

सभी अपनी सेहत का ध्यान रखें, स्वास्थ्य समस्या होने पर या कोरोना के लक्षण जैसे बुखार, सांस लेने में तकलीफ आदि के बढ़ने पर अपने वरिष्ठ अधिकारी को सूचना देकर तत्काल कार्यालय परिसर छोड़ना होगा।बता दें कि इससे पहले कानून मंत्रालय के विधायी विभाग में एक संयुक्त सचिव की जांच में बुधवार को कोविड-19 की पुष्टि हुई है। इसके बाद अधिकारियों ने शास्त्री भवन के चतुर्थ तल के कुछ हिस्सों को संक्रमणमुक्त करने का आदेश दिया है।

मंत्रालय की ओर से जारी एक परिपत्र में संयुक्त सचिव के सीधे संपर्क में आए अधिकारियों और अन्य कर्मचारियों को 12 जून तक खुद को पृथक-वास में रखने के लिए कहा गया है। भवन के चतुर्थ तल के 'ए' और 'डी' भाग को गुरुवार और शुक्रवार को स्वास्थ्य मंत्रालय के नियमों के अनुसार संक्रमण मुक्त किया जाएगा।

कोरोना वैक्सीन के लिए ज़िंदगी दांव पर लगाने वाला भारतीय पूरा बन जाने के बाद काशी विश्वनाथ धाम में 2 लाख लोग आसानी से आ सकेंगे, पहले सिर्फ 5 हजार की जगह थी कोरोना महामारी के बाद कैसा होगा प्यार, सेक्स, रोमांस?

बता दें कि पॉजिटिव मिले अधिकारी अंतिम बार 29 मई को कार्यालय में उपस्थित हुए थे। शास्त्री भवन के चतुर्थ तल पर कानून मंत्रालय के अलावा कुछ और मंत्रालयों के विभाग स्थित हैं। इससे पहले मई में कानून मंत्रालय के विधि कार्य विभाग में कार्यरत एक उप सचिव की जांच में कोविड-19 की पुष्टि हुई थी।

बुधवार को देश में कोरोना मरीजों की संख्या दो लाख के पार होने के बाद रक्षा मंत्रालय में भी मामला सामने आया। पीटीआई ने आधिकारिक सूत्रों के हवाले से रक्षा सचिव में कोरोना के लक्षण दिखने और उन्हें घर में ही क्वारंटीन किए जाने की खबर दी।जानकारी के अनुसार, बुधवार को रक्षा सचिव अजय कुमार में कोविड-19 संक्रमण के लक्षण दिखाई दिए, जिसके बाद रक्षा मंत्रालय ने उनके संपर्क में आए लोगों का पता लगाने को लेकर व्यापक अभियान चलाया। इस दौरान रायसीना हिल्स के साउथ ब्लॉक में मंत्रालय के मुख्यालय में कार्यरत कम से कम 35 अधिकारियों को घरों में ही पृथक-वास में भेज दिया गया। हालांकि, इस बारे में कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया कि रक्षा सचिव में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है अथवा नहीं?

कार्यालय नहीं आए राजनाथरक्षा सचिव अजय कुमार में कोरोना के लक्षण दिखाई देने के बाद एहतियातन रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बुधवार को कार्यालय नहीं आए। बता दें कि रक्षा मंत्री, रक्षा सचिव, सेना प्रमुख और नौसेना प्रमुख के कार्यालय साउथ ब्लॉक के प्रथम तल पर हैं।

न्याय मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को एक परिपत्र जारी कर पांच लोगों के एक जगह एकत्र होने पर पाबंदी लगा दी है। साथ ही एहतियातन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठकें करने के लिए कहा है।विज्ञापनस्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी परिपत्र में कहा गया है कि मंत्रालय के कई अधिकारी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। ऐसे में एहतियाती उपायों के तहत एक सूची जारी की गई है। इसमें कहा गया है कि अब से बैठकें वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से होंगी, ताकि कोरोना के प्रसार को रोका जा सके।

और पढो: Amar Ujala »

PMOIndia MoHFW_INDIA DrHVoffice लो ट्रेन, बस, टैक्सी फुल सवारी के साथ चल रहे हैं बाजार, फैक्ट्री आदि खोल दिए गए हैं इन सब स्थानों पर पढ़े लिखे लोग भी नहीं हैं सबसे अधिक पढ़े लिखे लोग मंत्रालयों में बैठे हैं। गाइडलाइन बनाए पड़े हैं। डरे सबसे ज्यादा हैं। आम आदमी और इन कर्मचारियों की जान की कीमत अलग अलग क्यों

PMOIndia MoHFW_INDIA DrHVoffice क्या बात है मंत्रालयों में पाँच लोग एकत्र होने पर पाबंदी । बाज़ारों का हाल देखा आपने आप खुद दुविधा में हो आप में निर्णय शक्ती का अभाव है

मूडीज के रेटिंग घटाने से सरकार के लिए पूंजी जुटाने में होगी दिक्कतअंतरराष्ट्रीय रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर्स में भारत की सॉवरेन रेटिंग को 22 साल में पहली बार सबसे निचली निवेश श्रेणी बेरोजगार फौज तैयार रहो, हम सभी देश के काम ही आने वाले हैं। हम सभी जानते हैं, देशद्रोहियों को ढोकने के लिए हम सभी बेरोजगार हैं। अरे ओए पप्पू एंड पार्टी हम सभी बेरोजगरों की फौज आ रही है। तेरा बंटाधार लिखने के लिए। भारत माता की जय

तिब्बत की निर्वासित सरकार के PM बोले- लद्दाख भारत का हिस्सा, सीमा पर शांति जरूरीतिब्बत की निर्वासित सरकार के पीएम ने अपने मौन को लेकर उठते सवालों पर कहा कि दलाई लामा पिछले 60 साल से लगातार अंतरराष्ट्रीय फोरम में चीन के खिलाफ बोलते आए हैं. चीन के तिब्बत पर कब्जा कर लेने के बाद हम भी कठिनाई में हैं. tsrawatbjp In 2016 NO PCS Recruitment in uttarakhand , In 2017 NO PCS Recruitment in uttarakhand In 2018 NO PCS Recruitment in uttarakhand In 2019 NO PCS Recruitment in uttarakhand More than 1/3th of 2020 has gone still no HOPE 2016सेPCSपरीक्षानहीं NeelenduT ये है प्रूफ ।

मोदी सरकार ने धान के एमएसपी में तीन फीसदी से भी कम की वृद्धि कीकेंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि एमएसपी में वृद्धि से किसानों को लागत पर 50 प्रतिशत लाभ सुनिश्चित होगा. लेकिन तोमर ने ये नहीं बताया कि उनका दावा फसलों की कम लागत के आधार पर किए गए आकलन पर आधारित है. But some media houses is showing as if the increases 50% to 80% which is found to be false. Jai jawan Jai kishan Jai vigan Jai doctor 🙏👋

सरकारी बैंकों के निजीकरण की तैयारी में मोदी सरकार, इनसे हो सकती है शुरुआतPrivatisation of Banks: पंजाब ऐंड सिंध बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र्र और इंडियन ओवरसीज बैंक के निजीकरण से इस प्रक्रिया की शुरुआत की जा सकती है। बीते कुछ सालों में कई सरकारी बैंकों का आपस में विलय हुआ था, जिनमें ये तीनों ही बैंक शामिल नहीं थे। जितनी जल्दी हो सकता है कर डालिये । राहुल भैया।

जुलाई के अंत तक स्कूलों को खोलने पर मंथन कर रही योगी सरकारकोरोना संक्रमण के चलते मार्च से बंद स्कूलों को खोलने के लिए यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार कई उपायों पर विचार कर रही है. पहले संसद खुले, बाद में स्कूल Nice जो कभी खुद स्कूल नहीं गया वो क्या उपाय करेगा बेटियां इज्जत लूटने वालो को सुरक्षा देने वाले के जुमलों को मीडिया ऐसे दिखाती है जैसे उसने 21 लाख लोगो को सच में हर दिन नौकरी देनी शुरू कर दी है

चीन पर चोट: 53 दवाओं के उत्पादन में आत्मनिर्भर बनेगा भारत, मोदी सरकार ने बनाया प्लानWow dont stop this time,reject china offers modi govt should even choose for war but in any way boarder issues with china should be solved for ever also it is right time to engage with china seeing its bad image in world community let us show pakistan that we can fight with its boss मोदी है इसिलिए मुमकिन है।

विकास दुबे की मुठभेड़ में मौत, कानपुर लाते समय गाड़ी पलटने पर की थी भागने की कोशिशः उत्तर प्रदेश पुलिस कानपुर में विकास की गाड़ी पलटी, पुलिस की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की; जवाबी कार्रवाई में सीने और कमर में गोली लगने से मौत विकास दुबे 'मुठभेड़': उत्तर प्रदेश पुलिस की 'ठोक देंगे' परंपरा में क़ानून की जगह कहाँ है? विकास दुबेः गिरफ्तारी हुई या आत्मसमर्पण, अखिलेश-प्रियंका ने पूछे सवाल विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले अखिलेश यादव- 'कार नहीं पलटी है, राज़ खुलने से सरकार पलटने से बचाई गई है' कार नहीं पलटी, सरकार पलटने से बचाई गयी है: अखिलेश न टायरों के निशान-न शीशों को नुकसान... कैसे पलटी विकास दुबे की गाड़ी? कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए UP में शुक्रवार रात से सोमवार सुबह तक लागू होगा लॉकडाउन जिस विकास दुबे को उज्जैन में निहत्थे गार्ड ने पकड़ा था, वह यूपी की हथियारबंद पुलिस से पिस्टल छीनकर कैसे भाग रहा था? राहुल गांधी का ट्वीट - 'कई जवाबों से अच्छी है ख़ामोशी उसकी', क्या विकास दुबे मुठभेड़ की ओर है इशारा...? मुठभेड़ स्थल से 5 किमी पहले मीडिया की गाड़ियों को रोका गया, 15 मिनट बाद पुलिस की गाड़ी पलटने की सूचना आई