Kulbhushanjadhav, Pakistan, Islamabadhighcourt, Kulbhushan Jadhav, İslamabad High Court, Pakistan, इस्लामाबाद हाईकोर्ट, कुलभूषण जाधव, पाकिस्तान, World News İn Hindi, World News İn Hindi, World Hindi News

Kulbhushanjadhav, Pakistan

कुलभूषण जाधव: इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने भारत को वकील नियुक्त करने को कहा

पाकिस्तान में कुलभूषण जाधव को वकील उपलब्ध कराए जाने की एक याचिका पर सुनवाई करते हुए इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने कहा है कि

03-08-2020 15:41:00

कुलभूषण जाधव : इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने भारत को वकील नियुक्त करने को कहा KulbhushanJadhav Pakistan IslamabadHighcourt

पाकिस्तान में कुलभूषण जाधव को वकील उपलब्ध कराए जाने की एक याचिका पर सुनवाई करते हुए इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने कहा है कि

जानकारी के अनुसार अदालत ने यह निर्देश भी दिया है कि जाधव को तीसरी बार कॉन्सुलर एक्सेस की सुविधा दी जाए। अदालत ने इसके लिए सरकार को भारतीय अधिकारियों से संपर्क करने को कहा है। बता दें कि भारतीय नागरिक और पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने जासूसी के आरोप में जेल में कैद कर रखा है।

'माल है क्या' वाली चैट पर दीपिका का कबूलनामा, बढ़ेंगी मुश्किलें? जरूरी मुद्दों पर बोलने वालीं दीपिका खुद पर लगे आरोपों पर क्यों हैं खामोश? बिहार चुनाव: किसानों की नाराज़गी क्या एनडीए पर भारी पड़ेगी - BBC News हिंदी

पिछले महीने दी थी नाम की राजनयिक पहुंचहालांकि, इससे पहले पाकिस्तान ने जाधव को पाकिस्तान ने 16 जुलाई को दूसरी बार राजनयिक पहुंच की मंजूरी दी थी। हालांकि, यह महज दिखावा भर था क्योंकि भारतीय अधिकारियों को कानूनी प्रतिनिधित्व की व्यवस्था के लिए जाधव की लिखित सहमति तक हासिल नहीं करने दी गई थी। पाक के इस रुख पर भारतीय अधिकारी विरोध जताने के बाद वहां से लौट गए थे।

इस मुलाकात को लेकर भारतीय विदेश मंत्रालय ने बताया था कि भारतीय अधिकारियों को जाधव से मिलने के लिए बिना शर्त प्रवेश नहीं दिया गया था। साथ ही, पाक अधिकारी जाधव और भारतीय अधिकारियों की मुलाकात के दौरान उनके काफी करीब मौजूद रहे था। भारतीय पक्ष की ओर से इस पर आपत्ति जताने के बाद भी पाकिस्तानी अधिकारी वहां से नहीं हटे थे।

बता दें कि 50 वर्षीय जाधव को जासूसी के आरोप में पाक की सैन्य अदालत ने अप्रैल 2017 में मौत की सजा सुनाई थी। भारत ने इस फैसले को चुनौती देने के लिए अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था। हेग स्थित आईसीजे ने पाक के फैसले को गलत करार दिया था और कहा था कि उसे जाधव को दोषी ठहराने और सजा की प्रभावी समीक्षा करनी चाहिए और बिना देरी भारत को राजनयिक पहुंच प्रदान करनी चाहिए।

भारतीय अधिकारियों को इस संबंध में अपना पक्ष रखने का मौका दिया जाना चाहिए। पाक मीडिया के अनुसार अदालत ने भारत से जाधव के लिए वकील नियुक्त करने को कहा है। मामले की सुनवाई तीन सितंबर तक के लिए स्थगित कर दी गई है।विज्ञापनजानकारी के अनुसार अदालत ने यह निर्देश भी दिया है कि जाधव को तीसरी बार कॉन्सुलर एक्सेस की सुविधा दी जाए। अदालत ने इसके लिए सरकार को भारतीय अधिकारियों से संपर्क करने को कहा है। बता दें कि भारतीय नागरिक और पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने जासूसी के आरोप में जेल में कैद कर रखा है।

पिछले महीने दी थी नाम की राजनयिक पहुंचहालांकि, इससे पहले पाकिस्तान ने जाधव को पाकिस्तान ने 16 जुलाई को दूसरी बार राजनयिक पहुंच की मंजूरी दी थी। हालांकि, यह महज दिखावा भर था क्योंकि भारतीय अधिकारियों को कानूनी प्रतिनिधित्व की व्यवस्था के लिए जाधव की लिखित सहमति तक हासिल नहीं करने दी गई थी। पाक के इस रुख पर भारतीय अधिकारी विरोध जताने के बाद वहां से लौट गए थे।

इस मुलाकात को लेकर भारतीय विदेश मंत्रालय ने बताया था कि भारतीय अधिकारियों को जाधव से मिलने के लिए बिना शर्त प्रवेश नहीं दिया गया था। साथ ही, पाक अधिकारी जाधव और भारतीय अधिकारियों की मुलाकात के दौरान उनके काफी करीब मौजूद रहे था। भारतीय पक्ष की ओर से इस पर आपत्ति जताने के बाद भी पाकिस्तानी अधिकारी वहां से नहीं हटे थे।

आज तक @aajtak राजकीय सम्मान के साथ दिग्गज सिंगर एस पी बालासुब्रमण्यम को दी गई अंतिम विदाई दीपिका पादुकोण से 3-4 राउंड में पूछताछ, एनसीबी ने जब्त किया फोन और पढो: Amar Ujala »

Delhi Riots 2020 में बड़े नामों पर शिकंजा, चार्जशीट में Yogendra Yadav और Yechury के नाम शामिल

दिल्ली दंगे से फरवरी के महीने में दहक उठी थी. दंगे में 53 लोगों की जान जली गई थी और 581 लोगों घायल हो गए. पीड़ितों के जिस्म से नासूर की तरह ये जख्म ताउम्र रिसता रहेगा. लेकिन इस जख्म पर अब दिल्ली पुलिस ने एडिशनल चार्जशीट का नमक छिड़का है. दिल्ली दंगे से अब जुड़े हैं कई सियासी दिग्गजों के नाम. दिल्ली दंगे में दिल्ली पुलिस के निशाने पर हैं सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी, स्वराज अभियान के कर्ताधर्ता योगेंद्र यादव और दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर अपूर्वानंद समेत कई दिग्गज. देखें वीडियो.

Rajasthan Judicial Services में MBC को 5% आरक्षण को नियमों में संशोधन को कैबिनेट से मंजूरीअति पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए इस संशोधन के जरिए राजस्थान न्यायिक सेवा में एक प्रतिशत के स्थान पर पांच प्रतिशत आरक्षण प्रस्तावित है।

आपदा को अवसर में बदलने वाले योद्धाओं को सलाम, दूसरों के लिए बने मिसालअमर उजाला अभियान: आपदा को अवसर में बदलने वाले योद्धाओं को सलाम amarujalafound UNICEFIndia WHO UN UNinIndia COVIDNewsByMIB MoHFW_INDIA AyushmanNHA DrHVoffice CoronavirusIndia COVID19updates CoronaVirusUpdates companiyo ne corona aapada ko ausaer bana se apne 25% employ kaam kar diya kya unko bhi amar ujala salam karta hai?..Main thhokta ho aaise patkarita ko

वेंटिलेटर को लेकर 'आत्मनिर्भर' भारत, हटा बैन, निर्यात को मंजूरी - Business AajTakसरकार को डर था कि देश में ज्यादा कोरोना फैलने पर वेंटिलेटर की कमी हो सकती है. लेकिन अब इसके निर्यात पर लगा बैन हट गया है. CoronavirusCrisis खुश खबरी है। इसका मतलब भारत में वेंटिलेटर पर्याप्त मात्रा में है यह देश की जनता के साथ खिलवाड़ है,अभी भी वेंटिलेटर की भारी कमी है और उस से भी अधिक वेंटिलेटर का ज्ञान रखने वाले डॉक्टर।जनता राम भरोसे छोड़ दी गई है।रिकवरी रहते को प्रचारित किया जा रहा है।

सोनिया गांधी को अस्पताल से मिली छुट्टी, गुरुवार को रुटीन चेकअप के लिए हुईं थी भर्तीकांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) रविवार को दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल से डिस्चार्ज हुईं. गुरुवार को वह रूटीन चेकअप के लिए भर्ती हुईं थीं. अस्पताल द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष 30 जुलाई को शाम 7 बजे अस्पताल में भर्ती हुईं थी. जिन्हें आज 1 बजे डिस्चार्ज कर दिया गया. बुलेटिन के अनुसार सोनिया गांधी का स्वास्थ्य फिलहाल स्थिर है. बडा आश्चर्य है जो केवल विदेशी इलाज से ठीक होने वाला रोगी देश के अस्पताल मे ठीक होगा विस्वास नही होता याने अब तक बिना वजह काग्रेंस ने विदेशो मे इलाज करवा के देश का पैसा बर्बाद किया चलो अब तो अकल आई गांधी परिवार का वफादार चेनल श्रीमती priyankagandhi जी पंजाब नहीं जाएँगी? और NDTV का माइक- कैमरा पंजाब नहीं जाता क्या?

नेताओं को हिरासत में लेने से लोकतंत्र को नुकसान, महबूबा मुफ्ती हों रिहा: राहुल गांधीराहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती की रिहाई की मांग की है. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के समय से महबूबा मुफ्ती हिरासत में हैं. इस चूतिये का न0 भी जल्द आने वाला है इस पप्पू को महबूबा पर बडा प्यार आ रहा है। कांग्रेश तो चाहती देश बरबाद हो

केंद्र का राज्यों को निर्देश, कोविड-19 मरीजों को दें फोन का इस्तेमाल करने की अनुमतिकेंद्र का राज्यों को निर्देश, कोविड-19 मरीजों को दें फोन का इस्तेमाल करने की अनुमति coronavirus corona healthministry MoHFW_INDIA MoHFW_INDIA यह ज़रूरी है क्योंकि ऐसे मरीज़ के साथ कोई परिवार का व्यक्ति नहीं होता है। ऐसी परिस्थिति, किसी को भी आज़ादी लेने का लालच देती है। PMOIndia narendramodi MoHFW_INDIA