Up Election, Up Election Rld, Rashtriya Lok Dal, Up Vidhan Sabha Chunav 2022, Jayant Chaudhary, यूपी विधानसभा चुनाव, आरएलडी

Up Election, Up Election Rld

किसानों को हर साल 15 हजार, HC की नई बेंच...यूपी चुनाव के लिए ऐसा हो सकता है RLD का मेनिफेस्टो

यूपी चुनाव के लिए ऐसा हो सकता है RLD का मेनिफेस्टो (@Milan_reports)

17-10-2021 09:20:00

यूपी चुनाव के लिए ऐसा हो सकता है RLD का मेनिफेस्टो (Milan_reports)

आरएलडी यूपी में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले अपने घोषणा पत्र के लिए आशीर्वाद अभियान पर 22 प्रस्तावों की घोषणा करने जा रही है.

उन्होंने कहा कि आरएलडी आशीर्वाद अभियान पर 22 प्रस्तावों की घोषणा करने जा रही है. चौधरी चरण सिंह किसान सम्मान निधि के तहत किसानों को 12 हजार-15 हजार रुपये हर साल एक बार में दिए जाएंगे. इसके अलावा, शहरी क्षेत्र में रहने वाले श्रमिकों को गारंटीकृत रोजगार भी दिया जाएगा. इसके अलावा, जो कपल इंटर-कास्ट शादी करेगा, उसे एक लाख रुपये बतौर इनाम दिए जाएंगे. इसके अलावा, प्राइवेट स्कूल की फीस को भी रेग्युलेट किया जाएगा. वहीं, 50 हजार नई बसों का संचालन होगा.

'30 दिनों के अंदर दोषी आर्मी मैन को करें अरेस्ट, AFSPA तुरंत हटाएं', नगा जनजाति समूह ने सौंपे 5 सूत्रीय ज्ञापन यूपी: प्रैक्टिकल परीक्षा के नाम पर दूसरे स्कूल ले जाकर 17 छात्राओं का शोषण - BBC News हिंदी Katrina Kaif Vicky Kaushal Wedding: सलमान खान के बॉडीगार्ड शेरा देंगे कटरीना-विक्की की शादी में सिक्योरिटी, फोन ले जाने पर भी लगाई गई है पाबंदी

आरएलडी पश्चिमी यूपी, पूर्वांचल और बुंदेलखंड में हाई कोर्ट की बेंच बनवाने का भी वादा करने जा रही है. इसके अलावा, आलू के उत्पादन को डेढ़ गुना बढ़ाने और आलू अनुसंधान केंद्र और जोन केंद्र के निर्माण का भी वादा किया जाएगा. इसके अलावा पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि पुलिस के लिए आठ घंटे का समय निर्धारित होगा. यूपी में पुलिस के ग्रेड पे और भत्तों में बढ़ोतरी की जाएगी. साथ ही महिला कर्मियों के लिए 50 फीसदी पद होंगे.

बता दें कि किसान आंदोलन की वजह से आरएलडी के लिए पश्चिमी यूपी काफी अहम माना जा रहा है. दशकों से पश्चिमी यूपी में पार्टी की मजबूत पकड़ रही है, लेकिन पिछले कुछ सालों में पार्टी ने प्रदर्शन अच्छा नहीं किया है. अब किसान आंदोलन के बाद आरएलडी फिर से बेहतर प्रदर्शन करने की उम्मीद जता रही है. headtopics.com

Live TV और पढो: आज तक »

रिटायरमेंट के दिन जूते की माला भेंट!: रीवा में यूनिवर्सिटी के डिप्टी रजिस्ट्रार से कर्मचारी यूनियन ने की हरकत; थैंक्यू कहकर दिया जवाब

रीवा में अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय के डिप्टी रजिस्ट्रार लाल साहब सिंह से रिटायरमेंट के दिन विदाई समारोह में बदसलूकी का मामला सामने आया है। यूनिवर्सिटी के कर्मचारी यूनियन के पदाधिकारियों ने डिप्टी रजिस्ट्रार को जूते की माला भेंटकर मुर्दाबाद के नारे लगाए। जवाब में अफसर ने कहा-धन्यवाद, थैंक्यू। | Viral Video: Employees unions misbehaved with Deputy Registrar at Rewa APS University

यूपी चुनाव : आरएलडी का घोषणा पत्र, भूमिहीन किसानों को सालाना 15000 रुपये दिए जाएंगेउत्तर प्रदेश में चुनाव अब कुछ ही महीने दूर हैं. तमाम राजनीतिक दल मैदान में हैं. नेता एक पार्टी छोड़कर दूसरी पार्टी ज्वाइन कर रहे हैं. इस बीच राष्ट्रीय लोकदल (RLD) सबसे पहले अपना मेनिफेस्टो लेकर जनता के सामने आया है. राष्ट्रीय लोकदल के प्रवक्ता शाहिद सिद्दीकी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि 7 अक्टूबर से हमारी जन आशीर्वाद यात्रा चल रही है. जमीन पर बहुत भारी परिवर्तन चल रहा है. मीडिया को अभी अहसास नहीं हो रहा है. जयंत चौधरी हर रोज़ दो या तीन सभाएं कर रहे हैं. लोग अपना पैसा लगाकर हमारी सभाओं में आ रहे हैं. हमने सामाजिक परिवर्तन के बारे में सोचा हैं. Paise dekar vote नाय योजना जो भूमी हिन है बह किसान कैसा पार्टी के लेटर पैड पर लिख कर दे पार्टी अध्यक्ष और उस की फोटो कोंपी कर के जनता में बाटी जाऐ

यूपी चुनाव 2022: BSP चीफ Mayawati को क्यों करना पड़ा ब्राह्मण वोट वाला प्रयोग?2014 के बाद से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विरोधी दलों के लिए उत्तर प्रदेश एक प्रयोगशाला बन गया है. जहां सबसे ज्यादा प्रयोग करने की जरूरत बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) को पड़ रही है. पहले मायावती ने 2007 के फॉर्मूले को दोहराना शुरु किया. ब्राह्मण सम्मेलन करने लगे. जिन हिंदू प्रतीकों के विरोध के साथ बहुजन की राजनीति शुरु की उन्हीं प्रतीकों को हाथ में लेकर ब्राह्मणों को आगे बढ़ाने की बात मायावती को कहनी पड़ी. ब्राह्मण वोट वाला प्रयोग क्यों करना पड़ा, इसकी वजह में समझें. देखें वीडियो.

कश्मीर में फिर बाहरी आम लोग बने आतंकियों का निशाना, यूपी-बिहार के दो की हत्यासुरक्षाबलों के ताबड़तोड़ एनकाउंटर से बौखलाए आतंकियों ने फिर आम कश्मीरियों को अपना निशाना बनाया है. पुलवामा और श्रीनगर में दो आम नागरिकों की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. बताया गया है कि श्रीनगर में अरविंद कुमार की हत्या की गई है, वहीं पुलवामा में यूपी के निवासी सजीर को दहशतगर्दों ने मार दिया है. ashraf_wani क्या देश में चुनाव आते ही आतंकवादी घटनाएँ बढ़ जाती है.? हिन्दुओं की हत्याएं शुरू हो जाती है.? क्या इन सब के पीछे राजनैतिक नफ़े नुक़सान का खेल भी हो सकता है….,,,,,?

राजभर की BJP के साथ आने की अटकलें, यूपी में 'ब्रेकअप' की तैयारी में AIMIMभारतीय सुहेलदेव समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर के अगुवाई में बने भागीदारी संकल्प मोर्चा 2022 के चुनावी मैदान में उतरने से पहले ही दरार पड़ती दिख रही है. बीजेपी के साथ राजभर के जाने के आसार के साथ ही असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने भागीदारी मोर्चा से अलग होने की धमकी दे दी है.

आधे पंजाब पर बिना चुनाव केंद्र का 'राज': 7 जिले BSF के कंट्रोल में; चुनाव से पहले ड्रग का बड़ा मुद्दा सेंटर की मुट्‌ठी में; चन्नी के कमजोर होने से कैप्टन खुशकेंद्र सरकार बिना चुनाव जीते ही आधे पंजाब पर राज करना चाहती है, यह चर्चा इसलिए है क्योंकि सीमा सुरक्षा बल (BSF) का अधिकार क्षेत्र बॉर्डर से 50 KM तक बढ़ा दिया गया है। पंजाब के लिहाज से ये बात सिर्फ सियासी चर्चा भर नहीं है, क्योंकि भौगोलिक आंकड़े भी इसे सही ठहराते हैं। सीधे तौर पर पाकिस्तान बॉर्डर से सटे 7 जिले केंद्र के कंट्रोल में आ गए। वहीं, पंजाब विधानसभा चुनाव की घोषणा से 3 महीने पहले नशे का सबस... | केंद्र सरकार बिना चुनाव जीते ही आधे पंजाब पर राज करना चाहती है, यह चर्चा इसलिए क्योंकि सीमा सुरक्षा बल (BSF) का अधिकार क्षेत्र बॉर्डर से 50 KM तक बढ़ा दिया गया। पंजाब के लिहाज से यह बात सिर्फ सियासी चर्चा भर नहीं है, क्योंकि भौगोलिक आंकड़े भी इसे सही ठहराते हैं। गजब का राजनीतिक विश्लेषण है । प्रमुख अखबार मे छपा है । burnol movement for gaddar यह अधिकार तो bsf को सभी सीमावर्ती राज्यों में मिलेगा टी चर्चा बस पंजाब की क्यो?

दिल्ली: सितंबर 2022 में हो सकता है कांग्रेस के नए अध्यक्ष का चुनावकांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के बाद एक बड़ी खबर सामने आ रही है। समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से जानकारी दी Rahul Gandhi hoga president