किसान सोमवार को नहीं करेंगे 'संसद मार्च', संयुक्त किसान मोर्चा का फैसला

किसान सोमवार को नहीं करेंगे 'संसद मार्च', संयुक्त किसान मोर्चा का फैसला

Farmer Sansad March, Sanyukt Kisan Morcha Meeting

27-11-2021 12:13:00

किसान सोमवार को नहीं करेंगे 'संसद मार्च', संयुक्त किसान मोर्चा का फैसला

संयुक्त किसान मोर्चा की शनिवार को हुई बैठक में 29 नवंबर को होने वाले संसद मार्च स्थगित करने का फैसला किया है.

नई दिल्ली : 29 नवंबर को होने वाले 'संसद मार्च' को किसानों ने स्थगित कर दिया है. यह फैसला शनिवार को हुई संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में लिया गया है. किसान नेता दर्शनपाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा, 'हम अगली बैठक 4 दिसंबर को करेंगे. सरकार ने हमसे वादा किया है कि 29 नवंबर को कानून संसद में रद्द होंगे. हमने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा था, जिसमें हमनें कई मांगे रखी थीं. हमने मांग की थी किसानों के ऊपर जो मुक़दमे दर्ज हुए थे, उन्हें रद्द किया जाए. MSP की गारंटी दी जाए. जो किसान इस आंदोलन में शहीद हुए हैं उनको मुआवजा दिया जाए. पराली और बिजली बिल भी रद्द किया जाए.'

यह भी पढ़ेंसाथ ही उन्होंने कहा, हम 4 दिसंबर तक प्रधानमंत्री की चिट्ठी का इंतजार करेंगे. इसके बाद हम अगले एक्शन का ऐलान करेंगे.वहीं, सरकार की ओर से कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए संसद में सोमवार को बिल पेश किया जाएगा. वहीं, केंद्र सरकार ने किसानों की एक और मांग मान ली है. केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने शनिवार को बताया कि किसानों द्वारा पराली जलाने अपराध नहीं माना जाएगा. कृषि मंत्री तोमर ने साथ ही किसानों से अपील की है कि अब उनकी लगभग सभी मांगें मान ली गई है, ऐसे में उन्हें आंदोलन खत्म करके घर की ओर लौट जाना चाहिए. 

किसानों की एक और मांग के सामने झुकी सरकार, अब पराली जलाना क्राइम नहीं, मंत्री बोले- 'घर लौटें किसान'बताया जा रहा है कि सोमवार से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र के पहले ही दिन सरकार कृषि कानून वापसी बिल पेश कर सकती है. बीजेपी ने अपने सभी सांसदों को तीन लाइन का व्हिप जारी कर उस दिन सदन में मौजूद रहने को कहा है.  headtopics.com

दुनिया में 22.27 लाख नए मामले दर्ज : अमेरिका और फ्रांस में दैनिक मामले घटे, ब्रुसेल्स में हिंसक प्रदर्शन, 15 घायल

रवीश का ब्लॉग : किसान आंदोलन का एक साल, कहीं चुनाव राजनीति या वर्चस्व की लड़ाई में न बिखर जाएबता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 नवंबर को तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान किया था. बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट ने इस प्रस्ताव पर मुहर लगाई थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.comठंड-बारिश-गर्मी की परवाह किए बिना दिल्ली की सीमाओं पर डटे रहे किसानFarmer sansad marchFarmers Protestटिप्पणियां पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News) | कोरोनावायरस के लाइव अपडेट के लिए हमें फॉलो करें |

लाइव खबर देखें:

और पढो: NDTV India »

ShortURL - URL Shortener

ShortURL is a url shortener to reduce a long link. Use our tool to shorten links and then share them, in addition you can monitor traffic statistics. और पढो >>

किसान सोमवार को नहीं करेंगे टैक्टर मार्च संयुक्त किसान मोर्चा का सही निर्णय सरकार ने भी पराली जलाने पर जुर्माना का निर्णय वापस लिया संयुक्त किसान मोर्चा व सरकार को धन्यवाद बात चीत से सब हल हो जायेगा अगर करते तो लट्ठ पड़ते अब तो बहुत हुआ झू टे किसान का नाटक

Kisan Andolan: संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक आज, कुंडली बार्डर पर जमा होंगे किसान नेतागुरनाम सिंह चढ़ूनी ने कहा कि सरकार एमएसपी पर गारंटी आंदोलन में जान गंवाने वालों को मुआवजा और 48 हजार लोगों पर दर्ज मुकदमे रद करे। पंजाब के लोगों ने यह आंदोलन शुरू किया था लेकिन हरियाणा के लोगों का योगदान भी कम नहीं है। सुव्यवस्थित ढंग से आंदोलन की पुर्ण करें_ किसानों_के_श्वयंभू__नेता ।। देश _मे_पारा अपने निम्नस्तर पर भी (dec_Ahed) जा सकता है, मजदूर & किसान अपने परिवार के साथ मौसम से सुरक्षित रहें!! Sarkar se chhattisgarh ke Ek Yuva_kisan ka vinmra anurod. Kisano ke liye best dijiye. S

Farmer protest LIVE: किसान आंदोलन के 1 साल, देशभर से दिल्ली कूच कर रहे किसानआज की ताजा खबर ( Aaj Ki Taza Khabar), 26 नवंबर 2021 की खबरें और समाचार: आंदोलन के एक साल पूरे होने पर दिल्ली की सीमा पर बड़ी तादाद में किसान पहुंचे हैं. मुंबई में 26/11 के आतंकी हमले की आज 13वीं वर्षगांठ है. देश आज संविधान दिवस भी मना रहा है. पढ़ें आज की सभी बड़ी खबरें... 🙏 ! किसान!

एमएसपी को क़ानूनी रूप से लागू करना चाहिए: किसान नेता जोगिंदर सिंह उगराहांवीडियो: किसान नेता जोगिंदर सिंह उगराहां का कहना है कि जब तक एमएसपी क़ानून पूरी तरह से लागू नहीं हो जाता तब तक किसानों की मांगें पूरा नहीं हो सकती हैं. उन्होंने कहा कि एमएसपी की गारंटी मिलने तक आंदोलन जारी रहेगा.

कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन का एक साल पूरा, 29 को संसद तक निकालेंगे ट्रैक्‍टर रैलीकृषि कानूनों के रद्द होने की घोषणा के बाद भी किसानों का आंदोलन अभी भी जारी है. 29 नवंबर को किसान संसद की तरफ ट्रैक्टर रैली निकालने वाले हैं, जिसे देखते हुए गाजीपुर बार्डर में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. सरकार को किसानों संगठनों के साथ बैठ सोहार्दपूर्ण वातावरण मैं खेती बाडी से जूडी हर समस्या पर बात कर हल निकालना चाहिए ओर एक प्रगतिशील खेती बाड़ी का रास्ता तैयार हो। किसान समस्या में है और उसका खोया भरोसा वापस लाना आवश्यक है। जय किसान

संसद कूच करेंगे या घर वापसी: शनिवार को सिंघु बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में फैसला; मोदी सरकार से चौकन्ना रहने की जरूरतनए खेती कानूनों को वापसी के बाद किसान 29 को संसद कूच करेंगे या फिर घर वापसी, इसका फैसला शनिवार को सिंघु बॉर्डर पर होने वाली संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) की बैठक में होगा। आंदोलन के लिए अहम मानी जा रही बैठक में तमाम बड़े किसान नेता जुटेंगे। इसकी जानकारी शुक्रवार शाम कानून वापसी के जश्न में शरीक होने टीकरी बॉर्डर पहुंचे किसान नेता बलबीर राजेवाल ने दी। | 3 नए खेती कानूनी की वापसी के बाद किसान 29 को संसद कूच करेंगे या फिर घर वापसी, इसका फैसला कल यानि शनिवार को सिंघु बॉर्डर पर होने वाली संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) की बैठक में हो जाएगा। बगैर MSP के वापस गये तो यह किसानों की सबसे बड़ी हार होगी और फिर कभी कोई सरकार msp लागू नहीं करेगी ।

Congress News : किसान आंदोलन, महंगाई, चीन, पेगासस...संसद सत्र में सरकार को घेरने का कांग्रेस ने बनाया प्लानकांग्रेस पार्टी के संसदीय मामलों से संबंधित रणनीतिक समूह की बैठक में सरकार को संसद सत्र में घेरने की रणनीति बनी है। किसान आंदोलन पर सरकार ने बैकफुट पर आते ही तीनों कानूनों को वापस लेने की घोषणा की है, पर कांग्रेस इस मुद्दे को छोड़ने वाली नहीं है। बिना समझौता तयता🤔 मोदी बने चौधरी - सरकार भी मै! किसान का मुखिया भी मै!!