Dudhwanationalpark, Lucknow-City-Jagran-Special, Dudhwa National Park, Lakhimpur Kher, Tourism, Tourism İn Lucknow, Dudhwa National Park, Best Views İn Lakhimpu, Tourism İn Up, Up Top, दुधवा नेशनल पार्क, लखीमपुर, Uttar Pradesh News

Dudhwanationalpark, Lucknow-City-Jagran-Special

कम बजट में पर्यटन का बेहतरीन व‍िकल्‍प है दुधवा नेशनल पार्क, एक नवंबर से होगा ओपन; जान‍िए पूरी ड‍िटेल

कम बजट में पर्यटन का बेहतरीन व‍िकल्‍प है दुधवा नेशनल पार्क, एक नवंबर से होगा ओपन; जान‍िए पूरी ड‍िटेल #DudhwaNationalPark

19-10-2021 19:00:00

कम बजट में पर्यटन का बेहतरीन व‍िकल्‍प है दुधवा नेशनल पार्क , एक नवंबर से होगा ओपन; जान‍िए पूरी ड‍िटेल DudhwaNationalPark

प्रकृति के बीच रहने और घने जंगल की सुंदरता का आनंद उठाने का समय 13 दिन बाद से शुरू होने जा रहा है। दुधवा टाइगर रिजर्व के पर्यटन सत्र का शुभारंभ पहली नवंबर को हो जाएगा। सुबह सात बजे विधि विधान से पर्यटन सत्र प्रारंभ किया जाएगा।

साल के घने जंगलों के बीच दुर्लभ प्रजाति के वन्यजीवों को देखने का अनुभव अगर आप लेना चाहते हैैं तो उसका मौका आप के सामने है। प्रकृति के बीच रहने और घने जंगल की सुंदरता का आनंद उठाने का समय 13 दिन बाद से शुरू होने जा रहा है। दुधवा टाइगर रिजर्व के पर्यटन सत्र का शुभारंभ पहली नवंबर को हो जाएगा। सुबह सात बजे विधि विधान से पर्यटन सत्र प्रारंभ किया जाएगा, जिसके बाद सैलानियों को जंगल में प्रवेश मिलेगा। पहले दिन जंगल भ्रमण नि:शुल्क रहता है। बंगाल टाइगर, गैैंडा, पांच तरह के हिरन व 450 से अधिक प्रजाति के पक्षियों को करीब से देखने की उम्मीद यहां पूरी हो सकती है। इसके अलावा साइबेरियन पक्षी, भालू, जंगली हाथियों के झुंड भी देखने को मिल सकते हैं।

यूपी: प्रैक्टिकल परीक्षा के नाम पर दूसरे स्कूल ले जाकर 17 छात्राओं का शोषण - BBC News हिंदी तस्लीम को ज़मानत, इंदौर में चूड़ी बेचते हुए की गई थी पिटाई, बच्ची से छेड़छाड़ का था आरोप '30 दिनों के अंदर दोषी आर्मी मैन को करें अरेस्ट, AFSPA तुरंत हटाएं', नगा जनजाति समूह ने सौंपे 5 सूत्रीय ज्ञापन

यह भी पढ़ेंदुधवा में ठहरने को हैं 14 हट : दुधवा टाइगर रिजर्व में स्टे के लिए 14 बेहतरीन हट मौजूद हैं। पक्के हट गीजर, एसी आदि से परिपूर्ण हैं। इसके अलावा चार रेस्टहाउस भी हैं। यहां आने वाले सैलानियों को कैंटीन का बढिय़ा खाना भी परोसा जाता है। ठहरने के लिए 10 बेड की डोरमेट्री भी है।

कैसे करें आनलाइन बुकि‍ंग : दुधवा की हट की बुकि‍ंग पूर्ण रूप से आनलाइन की जाती है। इसके लिए यूपीइकोटूरिज्म की आफिशियल वेबसाइट पर आपको एक लि‍ंक मिल जाएगा। इसके अलावा आप दुधवा टाइगर रिजर्व की वेबसाइट का भी प्रयोग कर सकते हैं। आफिशियल वेबसाइट पर जाकर हट की बुकि‍ंग कराई जा सकती है। थारू हट दो व्यक्तियों के लिए तीन हजार रुपये व डोरमेट्री दस बेड की दस हजार रुपये का शुल्क है।(शुल्क में बढ़ोत्तरी का प्रस्ताव है)।  headtopics.com

यह भी पढ़ेंजंगल भ्रमण के लिए ये है शुल्क : जंगल भ्रमण के लिए प्रति व्यक्ति 100 रुपये का फिक्स चार्ज है। रोड टैक्स 300 रुपये है। जिप्सी के 1450 रुपये और नेचर गाइड के 450 रुपये अलग से हैं। गैंडा पुनर्वास फेज में एक हाथी पर बैठकर जाने के लिए 600 रुपये हैं। हाथी पर अधिकतम चार लोग बैठ सकते हैं।

जिम्मेदार की सुनिए : दुधवा के नए पर्यटन सत्र का शुभारंभ पहली नवंबर को किया जाएगा। इसकी तैयारियां तेजी से चल रही हैं। बीच-बीच में बारिश होने से तैयारियों में दिक्कत आ रही है। पर्यटकों को पार्क के तीन टूरिस्ट जोन में भ्रमण कराया जाएगा। जिसमें सठियाना, सलूकापुर व किशनपुर शामिल है।

- कैलाश प्रकाश, डिप्टी डायरेक्टर, दुधवा टाइगर रिजर्व  और पढो: Dainik jagran »

शंखनाद: Samajwadi Party की साइकिल पर बैठेंगी कितनी सवारी?

जैसे जैसे दिन बीत रहे हैं, उत्तर प्रदेश का रण धारदार होता जा रहा है, सत्ता पक्ष और विपक्ष अपने-अपने दल को बढ़ाने में लगे हुए हैं, गठबंधनों का दौर चल रहा है. इसी कड़ी में आज कांग्रेस की बागी नेता अदिति सिंह आज बीजेपी में शामिल हुईं तो दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने अखिलेश यादव से मुलाकात की. साथ ही कृष्णा पटेल वाली अपना दल पार्टी ने भी समाजवादी का दामन थाम लिया. यूं समझिए कि गठबंधन वाली राजनीति बहुत तेजी से विस्तारित हो गई है, ताकि पार्टियां अपने विरोधियों को मात दे सकें. देखिए शंखनाद का ये एपिसोड.

Minority vs Majority: लकीर का फकीर बनने से बचने में ही राष्ट्र का कल्याणMinority vs Majority अल्पसंख्यक और बहुसंख्यक शब्द अब गैरजरूरी हो चले हैं। इन शब्दों के अस्तित्व को आक्सीजन देने वाली संस्थाओं और विभागों को खत्म किए जाने की जरूरत है क्योंकि ये शब्द देश को पीछे धकेलने में कोई कसर नहीं छोड़ते।

किताबों से ओझल भारत का स्वर्णिम इतिहास, जानिए- क्‍या रही इसके पीछे वजहइतिहास की पाठ्य पुस्तकें पढ़कर आज यही धारणा बनती है कि भारत का अतीत तो केवल पराजय की गाथा है। स्वतंत्र भारत में भी राष्ट्र के स्व एवं स्वाभिमान की रक्षा में सहायक इतिहास लेखन की दिशा में कोई विशेष प्रयत्न नहीं किया गया।

Gurdaspur Assembly Seat: कांग्रेस का अकाली से होगा मुकाबला, किसकी होगी जीत?2012 के पंजाब चुनाव में शिरोमणि अकाली दल उम्मीदवार गुरबचन सिंह बब्बेहली को भारी बहुमत मिली थी. उन्हें कुल 21,570 वोटों के अंतर से जीत मिली थी. गुरबचन सिंह बब्बेहली को कुल 59,905 वोट मिले थे. जबकि दूसरे नंबर पर रहे कांग्रेस उम्मीदवार रमन बहल को 38,335 वोट मिले थे. 2012 में यहां 74.80 % मतदान हुआ.

कश्मीर में टारगेट किलिंग के बाद भय का माहौल, घाटी से पलायन कर रहे हैं प्रवासीजम्मू-कश्मीर में आतंकी आम नागरिकों को निशाना बना रहे हैं. उनका मुख्य निशाना जम्मू से बाहर के रहने वाले लोग बन रहे हैं. अभी तक 11 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. उत्तरप्रदेश चुनाव तक ऐसा ही चलेगा । You have difficulty concealing your delight. केन्द्र में बीजेपी की सरकार रहती हैं तब ही क्यों कश्मीर से हिन्दुओं को भगाया जाता हैं

नीरव को जमानत नहीं: तीन अमेरिकी कंपनियों से धोखाधड़ी का मामला, आरोप खारिज करने से कोर्ट का इनकारनीरव को जमानत नहीं: तीन अमेरिकी कंपनियों से धोखाधड़ी का मामला, आरोप खारिज करने से कोर्ट का इनकार NiravModi UScourt Scam

Weather Updates: दिल्ली-NCR में रात से भारी बारिश, बदले मौसम ने कराया ठंड का एहसासWeather Forecast Today: दिल्ली के अधिकांश इलाकों में सोमवार सुबह से तेज बारिश देखने को मिली. मौसम विभाग के मुताबिक, यह बारिश आगे भी जारी रह सकती है. इसके अलावा, दिल्ली से सटे नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम और फरीदाबाद में भी भारी बारिश हो रही है. Bijnor me bhi continue ho rahi hai barish