Kappa 1seti, Youngersun, Biggeststar, Sun, New Sun, Young Sun, Kappa1 Seti, सूर्य, कप्पा1 सेटी, World News İn Hindi, World News İn Hindi, World Hindi News

Kappa 1seti, Youngersun

कप्पा1 सेटी: वैज्ञानिकों ने खोजा ‘युवा सूर्य’ जैसा तारा, उजागर करेगा कई रहस्य

कप्पा1 सेटी: वैज्ञानिकों ने खोजा ‘युवा सूर्य’ जैसा तारा #Kappa1Seti #YoungerSun #BiggestStar

06-08-2021 04:32:00

कप्पा1 सेटी : वैज्ञानिकों ने खोजा ‘युवा सूर्य ’ जैसा तारा Kappa1Seti YoungerSun BiggestStar

हमने पृथ्वी की उत्पत्ति के बारे में तो काफी जानकारी हासिल कर ली है लेकिन इस पर जीवन संभव करने वाले सूर्य के शुरुआती दिनों

यही वजह है कि अब अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक ऐसा नजदीकी तारा खोज निकाला है, जो सूर्य की जवानी के रहस्य उजागर कर सकता है। साथ ही इससे सूर्य द्वारा धरती के वायुमंडल को आकार देने और यहां जीवन विकसित करने का खुलासा भी हो पाएगा।युवा काल जानने को लालायित वैज्ञानिक

महिलाओं के अधिकार के लिए आज भी डटे हैं : UP में 40% टिकट महिलाओं को देने पर राहुल गांधी बड़े लोगों पर कीचड़ उछालने में सबको मजा आता है...आर्यन के समर्थन में जावेद अख्‍तर आर्यन खान के सपोर्ट में आए जावेद अख्तर, कहा- 'फिल्म इंडस्ट्री हाई प्रोफाइल होने की सजा भुगत रही'

शोधकर्ताओं का कहना है, 4.65 अरब साल पुराना सूर्य एक अधेड़ तारा है पर वह यह जानने को लालायित रहे हैं कि सूर्य अपने युवा काल में किन गुणों के कारण पृथ्वी पर जीवन मुमकिन करने में सफल रहा। लिहाजा, आकाशगंगा में सूर्य के समान दिखने वाले तारे की खोज की जा रही थी, जो इसके शुरुआती दिनों के रहस्य से पर्दा उठा सके।

कप्पा1 सेटी उठाएगा सूर्य के रहस्य से पर्दावैज्ञानिकों के मुताबिक, कप्पा1 सेटी ऐसा ही एक तारा है, जो हमसे 30 प्रकाश वर्ष दूर है और अनुमानित रूप से 60 से 75 करोड़ साल पुराना है। यह सूर्य की उस उम्र के बराबर है, जब धरती पर जीवन विकास आरंभ हुआ था।अध्ययन के सह लेखक मेंग जिन का कहना है, नजदीकी तारा होने के कारण यह हमारे उस पड़ोसी की तरह है, जो अगली गली में रहता है। इसका भार और सतही तापमान हमारे सूर्य के समान है। यही बात इसे युवा सूर्य का जुड़वा बनाती है। headtopics.com

तीन गुना तेज घूमता था सूरजवैज्ञानिकों का अनुमान है कि अपनी जवानी में सूर्य आज जैसा नहीं था। यह तीन गुना ज्यादा तेजी से घूमता था, इसका मजबूत चुंबकीय क्षेत्र था और अधिक तीव्र उच्च ऊर्जा कण-विकिरणें बाहर फेंकता था। लेकिन लाखों-करोड़ों वर्षों बाद इसका यह प्रभाव ध्रुवों तक ज्यादा सीमित हो गया।

पृथ्वी पर पहुंची संतुलित ऊर्जाशोधकर्ताओं का कहना है, सूर्य का अस्तित्व बनने पर इसमें हुई अत्यधिक गतिविधियों ने पृथ्वी के सुरक्षात्मक चुंबकीय मंडल को पीछे धकेला होगा और यहां पहुंची संतुलित ऊर्जा के चलते जैविक अणुओं के निर्माण के लिए सही वायुमंडल का निर्माण हुआ।

विस्तार के बारे में बहुत कम मालूम है।विज्ञापनयही वजह है कि अब अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक ऐसा नजदीकी तारा खोज निकाला है, जो सूर्य की जवानी के रहस्य उजागर कर सकता है। साथ ही इससे सूर्य द्वारा धरती के वायुमंडल को आकार देने और यहां जीवन विकसित करने का खुलासा भी हो पाएगा।

युवा काल जानने को लालायित वैज्ञानिकशोधकर्ताओं का कहना है, 4.65 अरब साल पुराना सूर्य एक अधेड़ तारा है पर वह यह जानने को लालायित रहे हैं कि सूर्य अपने युवा काल में किन गुणों के कारण पृथ्वी पर जीवन मुमकिन करने में सफल रहा। लिहाजा, आकाशगंगा में सूर्य के समान दिखने वाले तारे की खोज की जा रही थी, जो इसके शुरुआती दिनों के रहस्य से पर्दा उठा सके। headtopics.com

अमरिंदर स‍िंह बनाएंगे नई पार्टी, कहा - पंजाब चुनाव में बीजेपी से सीटों के समझौते को तैयार चेतावनी: पाकिस्तान नहीं माना तो आर-पार की लड़ाई, अठावले बोले- मैच नहीं खेलना चाहिए, जय शाह से करूंगा बात प्रियंका लड़की हैं, लड़ सकती हैं

कप्पा1 सेटी उठाएगा सूर्य के रहस्य से पर्दावैज्ञानिकों के मुताबिक, कप्पा1 सेटी ऐसा ही एक तारा है, जो हमसे 30 प्रकाश वर्ष दूर है और अनुमानित रूप से 60 से 75 करोड़ साल पुराना है। यह सूर्य की उस उम्र के बराबर है, जब धरती पर जीवन विकास आरंभ हुआ था।अध्ययन के सह लेखक मेंग जिन का कहना है, नजदीकी तारा होने के कारण यह हमारे उस पड़ोसी की तरह है, जो अगली गली में रहता है। इसका भार और सतही तापमान हमारे सूर्य के समान है। यही बात इसे युवा सूर्य का जुड़वा बनाती है।

तीन गुना तेज घूमता था सूरजवैज्ञानिकों का अनुमान है कि अपनी जवानी में सूर्य आज जैसा नहीं था। यह तीन गुना ज्यादा तेजी से घूमता था, इसका मजबूत चुंबकीय क्षेत्र था और अधिक तीव्र उच्च ऊर्जा कण-विकिरणें बाहर फेंकता था। लेकिन लाखों-करोड़ों वर्षों बाद इसका यह प्रभाव ध्रुवों तक ज्यादा सीमित हो गया।

पृथ्वी पर पहुंची संतुलित ऊर्जाशोधकर्ताओं का कहना है, सूर्य का अस्तित्व बनने पर इसमें हुई अत्यधिक गतिविधियों ने पृथ्वी के सुरक्षात्मक चुंबकीय मंडल को पीछे धकेला होगा और यहां पहुंची संतुलित ऊर्जा के चलते जैविक अणुओं के निर्माण के लिए सही वायुमंडल का निर्माण हुआ।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

सियासी बवाल के बीच राहुल गांधी का दिल्ली से लखीमपुर का सफर, देखें टाइमलाइन

लखीमपुर खीरी में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के बाद का विवाद अबतक शांत नहीं हुआ है. लखनऊ एयरपोर्ट पर धरने के बाद आखिरकार राहुल गांधी को वहां से बाहर निकलने दिया गया है. एयरपोर्ट पर राहुल अपनी गाड़ी से जाएंगे या प्रशासन की गाड़ियों से इस पर विवाद हुआ था. अब राहुल गांधी और प्रियंका गांधी सीतापुर से लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुए और लखीमपुर में मृतक किसानों के परिवार से मिलने पहुंच चुके हैं. देखें राहुल गांधी के दिल्ली से लखीमपुर के सफर की पूरी टाइमलाइन.

मोबाइल से हुई बात तो मनप्रीत सिंह ने PM मोदी से कहा, 'आपके मोटिवेशन ने मदद की' (वीडियो)टोक्यो रवाना होने से पहले ही मोदी ने कई युवा और अनुभवी खिलाड़ियों से लगातार बातचीत की Tokyo2020 CheerForIndia cheer4india BronzeHockey After41 Hockey Olympics BronzeMedal ChakDeIndia हॉकीटीम ManpreetSingh धन्यवाद_मोदीजी Tokyo2020 NBCOlympics

जम्मू-कश्मीर में आतंकी फिर नाकाम: सोपोर में मुख्य चौक पर आतंकियों ने की अंधाधुंध फायरिंगआतंकी हमला: सोपोर में मुख्य चौक पर आतंकियों ने की अंधाधुंध फायरिंग JammuAndKashmir sopore

ब्रॉन्ज नहीं मुझे गोल्ड दिख रहा है- हॉकी टीम की जीत पर बोले आनंद महिंद्राबिजनेसमैन आनंद महिंद्रा ने भारतीय पुरुष हॉकी टीम की जीत पर ट्वीट करते हुए लिखा, 'मैं अचानक से कलर ब्लाइंड हो गया हूं। यह ब्रॉन्ज मुझे गोल्ड जैसा दिख रहा है।'

बढ़ रहे कोरोना के मामले लेकिन तीसरी लहर घोषित करना होगी जल्दबाजी, वैज्ञानिकों ने दी यह सलाहकुछ राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं और आर फैक्टर में वृद्धि हो रही है लेकिन इसे तीसरी लहर की शुरुआत घोषित करना बहुत जल्दबाजी होगी। विज्ञानियों का यह भी कहना है कि इससे घबराने की जरूरत नहीं... PromoteCBSEPrivateStudents cbseindia29 AllCBSENews dpradhanbjp DrAsh_Mahendra narendramodi vani_mehrotra 🙏 आज reet 2018 के चयनितों द्वारा निदेशालय के सामने चयनित बेरोजगारों द्वारा बेरोजगार मार्केट लगाकर अपनी जोइनिंग की मांग की गई। ashokgehlot51 GovindDotasra Sos_Sourabh RajCMO REET2018_धरनाप्रदर्शन_बीकानेर REET2018_JOINING_DO

यूएनएससी: भारत ने 9 अगस्त को बुलाई वर्चुअल डिबेट, पहली बार कोई भारतीय पीएम करेगा अध्यक्षताभारत अगस्त 2021 के दौरान संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता कर रहा है। ऐसे में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम MEAIndia PMOIndia सोशल मीडिया पर एक इन्फ़ोग्राफ़िक शेयर करते हुए दावा किया गया है कि भारत पहली बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता करेगा. ये दावा पूरी तरह से ग़लत है. 1950 से लेकर अबतक कई बार भारत इस परिषद् का अध्यक्ष रह चुका है. AltNewsFactCheck | Priyankajha0

न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू कुओमो ने कई महिलाओं का यौन उत्पीड़न किया: अटॉर्नी जनरलअमेरिकी राज्य न्यूयॉर्क के अटॉर्नी जनरल लेतीतिया जेम्स द्वारा नियुक्त स्वतंत्र जांचकर्ताओं ने करीब पांच महीने जांच की और 179 लोगों से बातचीत की, जिसमें उन्होंने पाया कि न्यूयॉर्क के गवर्नर और डेमोक्रेट एंड्रयू कुओमो के प्रशासन में कामकाज का ख़राब माहौल है और यह भय पर आधारित है.