Canada, Starvation, Canada Medical Association, Starvation In Canada, Starvation Deaths In Canada, कनाडा में भुखमरी, World News In Hindi, World Hindi News

Canada, Starvation

कनाडा जैसे अमीर देश भी भुखमरी का शिकार, समय पूर्व मौत के शिकार हो रहे पीड़ित

कनाडा जैसे अमीर देश भी भुखमरी का शिकार, समय पूर्व मौत के शिकार हो रहे पीड़ित #Canada

23.1.2020

कनाडा जैसे अमीर देश भी भुखमरी का शिकार, समय पूर्व मौत के शिकार हो रहे पीड़ित Canada

आमतौर पर भुखमरी को लेकर भारत या अफ्रीका जैसे देशों को लेकर सर्वे होते रहे हैं। लेकिन ताजा अध्ययन कनाडा में पांच लाख

से ज्यादा वयस्कों पर हुआ है जिसमें पाया गया है कि कैंसर को छोड़कर देश में होने वाली अधिकांश मौतों का बड़ा कारण भूख से जुड़ा हुआ है। शोध के मुताबिक, अमीर देशों में जिन लोगों को नियमित भोजन नहीं मिल पाता है, उनके जल्द मरने की संभावना अधिक रहती है। कनाडा मेडिकल एसोसिएशन की पत्रिका में छपा यह अध्ययन बताता है कि अमीर देशों में भी लोग भुखमरी के चलते जान दे रहे हैं। शोध के मुताबिक संक्रामक रोग, अनजाने में लगी चोट और खुदकुशी के बजाय पर्याप्त भोजन न मिलने से कनाडा में मौत की संभावना दोगुनी है। शोध के मुख्य लेखक और यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो के फेई मेन कहते हैं, ये हालात अमूमन तीसरी दुनिया के देशों में पाए जाते हैं। फेई मेन ने बताया कि कनाडा में भोजन के प्रति असुरक्षित लोग संक्रमण और नशीली दवाओं की समस्याओं का सामना ठीक वैसे ही कर रहे हैं जैसे हम विकासशील देशों के लोगों में अपेक्षा करते हैं। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक कनाडा जैसे अमीर देश में 40 लाख से ज्यादा लोग पर्याप्त भोजन के लिए संघर्ष करते हैं। इसमें किसी एक वक्त का भोजन छोड़ना या भोजन की मात्रा अथवा गुणवत्ता से समझौता करना भी शामिल है। कनाडा जैसे अमीर देश में भूख और उससे प्रभावितों पर शोध करने वाले अध्ययनकर्ता भी नतीजों से हैरान हैं। क्योंकि कनाडा जैसे सुविधा संपन्न देश में भी खाद्य असुरक्षा की वजह से मौतें हो रही हैं। अध्ययन में पाया गया कि पांच लाख वयस्कों में से 25,000 से ज्यादा लोग 82 वर्ष की औसत उम्र से पहले ही मौत का शिकार हो गए। विश्व में 80 करोड़ लोग भूखे, दो करोड़ कर रहे ज्यादा भोजन कनाडा में हुआ शोध कहता है कि दुनिया के सभी उम्र के लोगों में 80 करोड़ लोग लगातार भूख का सामना कर रहे हैं जबकि दो करोड़ लोग जरूरत से ज्यादा भोजन कर रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक दुनियाभर में दो अरब लोगों के पास पर्याप्त स्वस्थ भोजन नहीं है जिससे उन्हें सेहत का खतरा बना रहता है। वर्ष 2019 में एक ऐसा ही एक शोध अमेरिका में हुआ था जिसमें पर्याप्त भोजन न मिलने को मृत्यु से जोड़ा गया था। सार कनाडा जैसे अमीर देश में 40 लाख से ज्यादा लोग पर्याप्त भोजन के लिए संघर्ष करते हैं कैंसर को छोड़कर कनाडा में होने वाली अधिकांश मौतों का बड़ा कारण भूख से जुड़ा हुआ संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक दुनियाभर में दो अरब लोगों के पास पर्याप्त स्वस्थ भोजन नहीं विस्तार से ज्यादा वयस्कों पर हुआ है जिसमें पाया गया है कि कैंसर को छोड़कर देश में होने वाली अधिकांश मौतों का बड़ा कारण भूख से जुड़ा हुआ है। शोध के मुताबिक, अमीर देशों में जिन लोगों को नियमित भोजन नहीं मिल पाता है, उनके जल्द मरने की संभावना अधिक रहती है। विज्ञापन कनाडा मेडिकल एसोसिएशन की पत्रिका में छपा यह अध्ययन बताता है कि अमीर देशों में भी लोग भुखमरी के चलते जान दे रहे हैं। शोध के मुताबिक संक्रामक रोग, अनजाने में लगी चोट और खुदकुशी के बजाय पर्याप्त भोजन न मिलने से कनाडा में मौत की संभावना दोगुनी है। शोध के मुख्य लेखक और यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो के फेई मेन कहते हैं, ये हालात अमूमन तीसरी दुनिया के देशों में पाए जाते हैं। फेई मेन ने बताया कि कनाडा में भोजन के प्रति असुरक्षित लोग संक्रमण और नशीली दवाओं की समस्याओं का सामना ठीक वैसे ही कर रहे हैं जैसे हम विकासशील देशों के लोगों में अपेक्षा करते हैं। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक कनाडा जैसे अमीर देश में 40 लाख से ज्यादा लोग पर्याप्त भोजन के लिए संघर्ष करते हैं। इसमें किसी एक वक्त का भोजन छोड़ना या भोजन की मात्रा अथवा गुणवत्ता से समझौता करना भी शामिल है। 25,000 से ज्यादा लोग मौत का शिकार कनाडा जैसे अमीर देश में भूख और उससे प्रभावितों पर शोध करने वाले अध्ययनकर्ता भी नतीजों से हैरान हैं। क्योंकि कनाडा जैसे सुविधा संपन्न देश में भी खाद्य असुरक्षा की वजह से मौतें हो रही हैं। अध्ययन में पाया गया कि पांच लाख वयस्कों में से 25,000 से ज्यादा लोग 82 वर्ष की औसत उम्र से पहले ही मौत का शिकार हो गए। विश्व में 80 करोड़ लोग भूखे, दो करोड़ कर रहे ज्यादा भोजन कनाडा में हुआ शोध कहता है कि दुनिया के सभी उम्र के लोगों में 80 करोड़ लोग लगातार भूख का सामना कर रहे हैं जबकि दो करोड़ लोग जरूरत से ज्यादा भोजन कर रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक दुनियाभर में दो अरब लोगों के पास पर्याप्त स्वस्थ भोजन नहीं है जिससे उन्हें सेहत का खतरा बना रहता है। वर्ष 2019 में एक ऐसा ही एक शोध अमेरिका में हुआ था जिसमें पर्याप्त भोजन न मिलने को मृत्यु से जोड़ा गया था। और पढो: Amar Ujala

बवाल बढ़ने पर बोले AIMIM के वारिस पठान, वापस लेता हूं अपनी बात



नेहरू के बहाने बीजेपी पर तंज, मनमोहन सिंह बोले- राष्‍ट्रवाद के नाम पर उग्रवाद फैला रहे

LIVE: प्रमोशन में आरक्षण पर भीम आर्मी का आज भारत बंद, दरभंगा में रोकी ट्रेन



भीम आर्मी का भारत बंद: कई दलों का समर्थन, बिहार-यूपी में अलर्ट

एक और शाहीन बाग बनता जाफराबाद, CAA के खिलाफ सड़क रोककर धरने पर बैठीं महिलाएं



पटना: नीतीश कुमार से मिले जेपी नड्डा, चुनावी तैयारियों पर हुई बात

अयोध्या में आज सीएम योगी, राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत गोपालदास से करेंगे मुलाकात



चिंता ना करो यहां भी कोई कमी नहीं है बस अंधों को दिखाई नहीं दे रहा है।

पत्नी मेगन और बेटे आर्ची के साथ समय बिताने के लिए कनाडा रवाना हुए प्रिंस हैरीपत्नी मेगन और बेटे आर्ची के साथ समय बिताने के लिए कनाडा रवाना हुए प्रिंस हैरी PrinceHarry Britain RoyalFamily PrinceHarryAndMeghan Family ko time dena bhi zarore hai

मणिशंकर अय्यर बोले- जैसे ही लगा राज्यसभा में बहुमत है एंटी मुस्लिम बिल लाने लगी BJPमणिशंकर अय्यर ने बीजेपी नेताओं को डरपोक और विश्वासघाती करार दिया. उन्होंने कहा कि हम लोग जैसे विश्वासघाती आज देख रहे हैं वैसे लोग समाज में हमेशा से रहे हैं, लेकिन ये जनता के प्रतिनिधि नहीं है. अगर ये जनप्रतिनिधि होते तो बहुत पहले चुने जा चुके होते. पाकिस्तान का पालतू कुत्ता अंधविश्वासी तो सभी पार्टी के नेता होते हैं Ye bat bolne ke liye inhe Pakistan Jane ki jarurat padti hai..ab kon Kya hai ye to hi batayega

‘इंसानी शक्ल में तेंदुए जैसे मुलायम दिल वाले भाई साब..!’कभी-कभी सोचता हूं, यदि न्यूज चैनल की डिबेट में शोले फिल्म का जय पहुंच जाए तो अपनी ही पार्टी के नेताओं की तारीफ़ किन शब्दों में करेगा। | surkhiyon se aage article by anuj khare on news channel debate: कभी-कभी सोचता हूं, यदि न्यूज चैनल की डिबेट में शोले फिल्म का जय पहुंच जाए तो अपनी ही पार्टी के नेताओं की तारीफ़ किन शब्दों में करेगा। मुलाहिज़ा फ़रमाइए… बस मौसी से वीरू के लिए बसंती का हाथ मांगने वाला सीन याद रखिए। khare_anuj

भरी जवानी में भी हड्डियों पर लटकी खाल जैसे दिख रहे इन शेरों की यह हालत हुई कैसे? African Lions SudanLions AfricanLions SudanLions Pictures of 'malnourished and sick' African lions from a park in Sudan's capital have gone viral on the internet. There has ...

NDTV Exclusive: भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर का BJP पर हमला, कहा- जैसे हालात हैं उसमें हर बाग शाहीन बाग बन सकता हैहमनें जामा मस्जिद पर शांति के साथ प्रदर्शन किया. दिल्ली पुलिस ने मेरे ऊपर जो भी आरोप लगाए उसे साबित नहीं कर पाई. आपको यह समझना होगा कि पुलिस किसके अंदर काम कर रही है. यूपी में पुलिस यूपी सरकार की सुनती है और वैसे ही दिल्ली में दिल्ली पुलिस केंद्र सरकार की सुनती है. मैंने जामा मस्जिद में प्रदर्शन के दौरान कोई अपराध नहीं किया है. Hi kaise ho Haaa haaa. Ravan tere lanka mae aag lagae gaa Right khab22 sahab ne. Love u sir g... Love u indian army..

अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस ने देखी काशी, कारोबारी संभावनाओं पर भी टीम संग किया मंथनअमेजन के सीईओ जेफ बेजोस ने देखी काशी, कारोबारी संभावनाओं पर भी टीम संग किया मंथन Amazon amazonceojeffbezos jeffbezosibvaranasi Tata,mahindra kyo nahi isko challenge dete hai Our Minister has given a very candid assertion emitting a business like signal thereby Re-living proverb Call spade ,a spade and move onto Professional Commitments...Welcome to Amazon Chief for infusing Investment in a potential Economy.. एक तरफ देश में एफडीआई लाने को कहते हैं, दूसरी और फिर उन्हें भगाते हैं।



नागपुर में चंद्रशेखर बोले- RSS पर लगना चाहिए बैन, तभी खत्म होगा मनुवाद

डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा के खर्च पर विवाद, प्रियंका गांधी ने पूछा- सरकार ने कितना पैसा दिया?

चौतरफा विरोध के बाद झुके वारिस पठान, 15 करोड़ मुसलमान वाले बयान पर मांगी माफी

सोनभद्र में सोने का भंडार मिलने पर बोले यूपी के डिप्टी CM- ये राम जी की कृपा

ट्रंप की भारत यात्रा पर कांग्रेस ने पूछा- आयोजन का पैसा कहां से आया?

#IndiaKaArth: गृह मंत्री अमित शाह ने की ZEE NEWS के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी की तारीफ

मुस्लिम संगठन का ऐलान- वारिस पठान का सिर कलम करने पर 11 लाख का इनाम

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

23 जनवरी 2020, गुरुवार समाचार

पिछली खबर

कोर्ट ने कहा- सज्जन होते हैं हाथी, इंसानों को उन्हें रास्ता देना होगा, परेशानी खड़ी करने नहीं देंगे

अगली खबर

गर्भवती महिलाओं के लिए वीजा पर पाबंदी लगाएगा अमेरिका
बवाल बढ़ने पर बोले AIMIM के वारिस पठान, वापस लेता हूं अपनी बात नेहरू के बहाने बीजेपी पर तंज, मनमोहन सिंह बोले- राष्‍ट्रवाद के नाम पर उग्रवाद फैला रहे LIVE: प्रमोशन में आरक्षण पर भीम आर्मी का आज भारत बंद, दरभंगा में रोकी ट्रेन भीम आर्मी का भारत बंद: कई दलों का समर्थन, बिहार-यूपी में अलर्ट एक और शाहीन बाग बनता जाफराबाद, CAA के खिलाफ सड़क रोककर धरने पर बैठीं महिलाएं पटना: नीतीश कुमार से मिले जेपी नड्डा, चुनावी तैयारियों पर हुई बात अयोध्या में आज सीएम योगी, राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत गोपालदास से करेंगे मुलाकात दौरे से पहले डोनाल्ड ट्रंप का बाहुबली अवतार, कहा- भारत में दोस्तों से मिलने के लिए बेकरार रेसलिंग चैम्पियनशिप खेलने भारत आए पाकिस्तान खिलाड़ी, अमेरिका ने कहा- सुधरेंगे संबंध रिकॉर्डतोड़ 48 ENBA अवॉर्ड्स जीतकर इंडिया टुडे ग्रुप ने रचा इतिहास अहमदाबाद में PM मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप के रोड शो से पहले काफिले की मॉक ड्रिल Coronavirus: चीन के बाहर ईरान में क्यों हो रही हैं कोरोना वायरस से इतनी मौतें?
नागपुर में चंद्रशेखर बोले- RSS पर लगना चाहिए बैन, तभी खत्म होगा मनुवाद डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा के खर्च पर विवाद, प्रियंका गांधी ने पूछा- सरकार ने कितना पैसा दिया? चौतरफा विरोध के बाद झुके वारिस पठान, 15 करोड़ मुसलमान वाले बयान पर मांगी माफी सोनभद्र में सोने का भंडार मिलने पर बोले यूपी के डिप्टी CM- ये राम जी की कृपा ट्रंप की भारत यात्रा पर कांग्रेस ने पूछा- आयोजन का पैसा कहां से आया? #IndiaKaArth: गृह मंत्री अमित शाह ने की ZEE NEWS के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी की तारीफ मुस्लिम संगठन का ऐलान- वारिस पठान का सिर कलम करने पर 11 लाख का इनाम 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे लगाने वाली अमूल्या के पिता ने कहा- 'उसके खिलाफ कार्रवाई करें' सोनभद्र: सोने के खजाने पर जहरीले सांपों की फौज का पहरा,कैसे होगी खुदाई - trending clicks AajTak सोनभद्र: सोने की खदान में 3000 हजार टन नहीं, सिर्फ 160 किलो है सोना! - trending clicks AajTak शाहीन बाग: प्रदर्शनकारी जिद छोड़ने को तैयार नहीं, तीसरे दिन वार्ताकार पहुंचे लेकिन नतीजा सिफर US राष्ट्रपति ट्रंप के सम्मान में आयोजित डिनर में नहीं शामिल होंगे कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी