Coronavirus, Covid 19, Corona Virus, Mutation, Corona New Strain, Viruses, Sars-Cov-2, Genetic Coding

Coronavirus, Covid 19

कई तरीकों से अपना रूप बदल कर और संक्रामक बन रहा कोरोना वायरस, रिसर्च में खुलासा

सभी विषाणुओं की तरह, SARS-CoV-2 भी अपने अस्तित्व को बचाए रखने के लिए लगातार खुद को बदल रहा है. #Coronavirus #Covid19

23-01-2021 09:34:00

सभी विषाणुओं की तरह, SARS-CoV-2 भी अपने अस्तित्व को बचाए रखने के लिए लगातार खुद को बदल रहा है. Coronavirus Covid19

जेनेटिक कोडिंग में ये कमी ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील में हाल ही में उभरे कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन में पाया गया है जिससे इन्हें और संक्रामक बनने में मदद मिली है.

बर्न यूनिवर्सिटी के महामारी वैज्ञानिक एम्मा होडक्रॉफ्ट ने कहा,"जब हम संक्रमण के अधिक केस देखते हैं तो हम इस परिस्थिति में आने के लिए वायरस के अवसरों को अधिकतम कर रहे होते हैं. उन्होंने कहा कि जितना ज्यादा केस उतना ही संकमण फैलाने का इस वायरस को मौका मिलता है. ये परिस्थिति उन्हें खुद में बदलाव कर संक्रमण की रफ्तार को बढ़ाने का अवसर देता है. यदि हम केस की संख्या को कम रखते हैं, तो हम अनिवार्य रूप से वायरस को सीमित क्षेत्र में प्रतिबंधित कर सकते हैं.''

उत्तराखंड: केजरीवाल ने की वादों की बौछार, 6 महीने में 1 लाख नौकरी और 5 हजार का भत्ता अंबिका सोनी ने ठुकराया CM पद का ऑफर, कहा-पंजाब का मुख्यमंत्री एक सिख ही हो अफगानिस्तान में इन्फ्रास्ट्रक्चर पर अब भी भारत करेगा निवेश? नितिन गडकरी ने दिया ये जवाब

4/6लंदन के इंपीरियल कॉलेज के एक वायरोलॉजिस्ट वेंडी बार्कले ने कहा कि कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन (उत्परिवर्तन) कई कारकों का परिणाम था. उन्होंने एक उदाहरण देते हुए बताया कि जैसे आप पासा फेंकते हैं और हर बार अलग नंबर आता है लेकिन पासा एक ही होता है ठीक वैसे ही"इस वायरस के अलग-अलग रूप हैं लेकिन संयोजन एक है. वायरस वर्तमान में जिस वातावरण में है, उस परिस्थिति से मिलकर वो नया रूप धारण कर लेता है.

5/6उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के फैलने के एक साल बाद नए स्ट्रैन का आना अप्रत्याशित नहीं था क्योंकि टीकाकरण और प्राकृतिक संक्रमण के माध्यम से वैश्विक प्रतिरक्षा का स्तर बढ़ गया है. हालांकि कोरोना वायरस आमतौर पर शरीर में बेअसर होने से पहले लगभग 10 दिनों के लिए लोगों को संक्रमित करता है, अध्ययनों से पता चला है कि कुछ मरीज़ों के शरीर में यह अधिक समय तक मौजूद रहता है जिससे इसे खुद में बदलाव करने के लिए समय और मौका दोनों मिल जाता है. headtopics.com

6/6 और पढो: आज तक »

Delhi में बड़े Terror Module का पर्दाफाश, जांच एजेंसियों ने 6 को दबोचा, देखें स्पेशल रिपोर्ट

दिल्ली में पाकिस्तान की बड़ी साजिश का खुलासा करते हुए एजेंसी ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक इस पाकिस्तानी आतंकी मॉड्यूल के लिए काम करने वाले 6 लोगों में से दो ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग हासिल की थी. जांच एजेंसियों ने पाकिस्तान द्वारा पोषित एक आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में जांच एजेंसियों ने 6 लोगों को गिरफ़्तार किया है. पकड़े गए संदिग्ध भारत में इस आतंकी मॉड्यूल को ऑपरेट कर रहे थे. इन सभी से लगातार पूछताछ की जा रही है. एजेंसी का दावा है कि पकड़े गए इन संदिग्ध आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियार और विस्फोटक बरामद हुए हैं. देखिए स्पेशल रिपोर्ट का ये एपिसोड.

🙄