Malnourished, Vulnerable, Children, Come Under, Guise, Unknown Disease, Research

Malnourished, Vulnerable

एसबेस्टस की छत के नीचे रहने वाले ज्यादातर बच्चे अज्ञात बीमारी की चपेट में आए: रिपोर्ट

बिहार /एसबेस्टस की छत के नीचे रहने वाले ज्यादातर बच्चे अज्ञात बीमारी की चपेट में आए: रिपोर्ट

29.6.2019

बिहार /एसबेस्टस की छत के नीचे रहने वाले ज्यादातर बच्चे अज्ञात बीमारी की चपेट में आए: रिपोर्ट

7 डाॅक्टरों की टीम ने मुजफ्फरपुर के प्रभावित इलाकों का दौरा कर रिपोर्ट बनाई एसबेस्टस की छत के नीचे रहने वाले ज्यादातर बच्चे उमस भरी गर्मी की चपेट में आने के बाद बीमार पड़े बिहार में चमकी बुखार या इंसेफेलाइटिस से एक महीने में 178 से ज्यादा बच्चों की मौत | Malnourished and vulnerable children only come under the guise of unknown disease , this will be done on the research

7 डाॅक्टरों की टीम ने मुजफ्फरपुर के प्रभावित इलाकों का दौरा कर रिपोर्ट बनाई

बच्चे उमस भरी गर्मी की चपेट में आने के बाद बीमार पड़े

टीम ने कहा कि पेयजल से लेकर सफाई व्यवस्था पूरी तरह से बदहाल है। इस संदर्भ में फाेरम राज्य सरकार, स्वास्थ्य विभाग के साथ प्रधानमंत्री तक काे रिपाेर्ट करेगा। डाॅक्टर कम संसाधनाें में कड़ी मेहनत कर रहे हैं। लेकिन, संसाधनाें की कमी और उचित प्राेटाेकाॅल नहीं हाेने से कुछ मामलाें में यह नाेट किया गया है कि हाइपाेग्लाइसीमिया का इलाज हाेने के बाद भी घर जाने के कुछ घंटाें बाद बच्चे की माैत हाे गई है।

डाॅक्टराें ने बताया कि जागरूकता के अभाव में इस साल ज्यादा बच्चाें की माैत हुई। यह स्थानीय प्रशासन की विफलता है। फाेरम के नेशनल कन्वेनर डाॅ. हरजीत सिंह भट्टी ने जानकारी दी कि मुशहरी, मणिका, खाेरपट्टी विशुनपुर चांद गांव में मृत बच्चाें के माता-पिता से बात की। इनके पास राशन कार्ड नहीं है। ज्यादातर बच्चे कुपाेषित थे।

और पढो: Dainik Bhaskar
ताज़ा खबर
अभी नवीनतम समाचार

बिहार: डॉक्टरों की रिपोर्ट में दावा- सरकार की उदासीनता की वजह से गई बच्चों की जानेंबिहार में एक्यूट इंसेफ्लाइटिस की वजह से अब तक 150 से अधिक बच्चों की जानें जा चुकी हैं. इसमें सबसे अधिक संख्या मुजफ्फरपुर से है. इन बच्चों की मौत पर डॉक्टरों की एक स्वतंत्र ने जांच रिपोर्ट तैयार की है. इसमें प्रशासन की विफलता और राज्य सरकार की उदासीनता को मौत का कारण माना गया है. सरकार को गिरना होगा गिरी हुई सरकार को गिराना होगा।। अब जनता को भी उदासीन होजाना चाहिए ताकि सरकार की भी जान चली जाए !! बीजेपी को समर्थन वापस लेना चाहिए

दिल्ली में सशस्त्र लूट की वारदात विफल, पुलिस ने एक को दबोचादिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी में लूट की वारदातों को विफल करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है. दिल्ली ने अक्षरधाम के खेलगांव रेजिडेंसियल कॉम्प्लेक्स इलाके से पुलिस ने हथियार के साथ लूट की वारदातों को अंजाम देने की फिराक में बैठे मोहम्मद रेहान को गिरफ्तार कर लिया है. शुक्रवार को गिरफ्तारी के पहले पुलिस और आरोपी के बीच गोलीबारी हुई. आरोपी मोहम्मद रेहान अपने साथियों के साथ दिल्ली में सशस्त्र लूट की वारदातों को अंजाम देने की साजिश रच रहा था. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है. कोई बड़ी खबर नहीं है ये। ये तो बदनामी के डर से उन्होंने अपनी ड्यूटी निभाई है। खबर तो तब होगी जब इनके नाक के नीचे क्राईम हो और ये पकड़ ना पाएं।

कहानियों
दिन की शीर्ष समाचार कहानियां

आकाश विजयवर्गीय को नहीं मिली राहत, जमानत याचिका पर अब भोपाल में सुनवाई– News18 हिंदीबीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय की ज़मानत याचिका पर अब भोपाल की स्पेशल कोर्ट में सुनवाई होगी. इंदौर के सेशन कोर्ट ने केस भोपाल ट्रांसफर कर दिया है. कोर्ट ने क्षेत्राधिकार के अभाव में आकाश विजयवर्गीय का मामला ट्रांसफर किया. नगर निगम ने कोर्ट में आपत्ति लगायी थी कि विधायक के मामले की सुनवाई भोपाल की विशेष कोर्ट में होना चाहिए. क्योंकि भोपाल में जन प्रतिनिधियों के मामले की सुनवाई के लिए स्पेशल कोर्ट है. कानून सब के लिए बराबर है 😄 😄 😄 😄 Atankbadi CM hi ke sahar me hi hog gundagardi ka sahi fasla Saza honi teh hai

मारुति कार से लेकर बुलेट ट्रेन तक, जापान-भारत का याराना है पुरानाभारत और जापान की दोस्ती ने मारुति के ज़माने से लेकर अब बुलेट ट्रेन के ज़माने का रास्ता तय किया है. जी-20 सम्मेलन की साइडलाइंस में पीएम मोदी की पहली मीटिंग जापान के पीएम शिंजो आबे से हुई. ऐसे किसी भी सम्मेलन में साइडलाइंस उस मौके की तरह होता है जिसमें देशों के नेता सम्मेलन के बीच ही द्विपक्षीय बातचीत का समय निकालते हैं. दूसरी पारी की शुरुआत में ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए जी-20 सम्मेलन बड़ा मंच है. जहां दूसरे बड़े देशों के नेताओं की उनके साथ आमने सामने की बातचीत होगी. इसमें पहले दिन शुरुआत जापान के साथ हुई है. ट्विटर पर नरेंद्र मोदी और शिंज़ो आबे एक दूसरे को फॉलो करते हैं और कूटनीति में एक दूसरे को दोस्ती का दम देते हैं. sardanarohit और मीडिया में चाटुकारों का खुला दरबार.. sardanarohit उत्तर प्रदेश में कैदी जेल को ससुराल समझते हैं आना-जाना लगे रहता है ☺️😊😢 sardanarohit Bahar darbar karne par jail, ob jail me karne par...........?

कहानियों
दिन की शीर्ष समाचार कहानियां

हरियाणा में सेप्टिक टैंक की सफाई के दौरान जहरीली गैस से चार की मौतआरोप है कि सफाईकर्मियों ने बिना सुरक्षा उपकरण के सेप्टिक टैंक में घुसने से मना कर दिया था, लेकिन उन पर दबाव डालकर टैंक साफ करने के लिए मजबूर किया गया. aapmamtagautam कहां है crocodile tear वाले narendramodi जो सफाई कर्मियों के पैर धोने का ड्रामा तो करता है लेकिन उनकी ज़िंदगी की सुरक्षा के लिए कुछ नहीं करता BezwadaWilson hrw HRC UN UNHumanRights HuffPostIndia cnni BBCWorld nytimesworld ICC PARVESH14639126 ये मानव अधिकारों का सीधा सीधा हनन है। there is law in place and there are supreme court orders in these matters and yet nobody follows them. UN why don't you pull up India and it's govt for this nonsense

एक मिनट में 40 रॉकेट की फायरिंग, भारत के मल्टीबैरेल रॉकेट लॉन्चर की ताकत जानिएदेवलाली में भारतीय सेना का आर्टेलेरी सेंटर है जहां पर सभी तरह की तोप, रॉकेट और मिसाइल लॉन्चर की ट्रैनिंग दी जाती है. कुछ दिन पहले रॉकेट लॉन्चर की ट्रैनिंग प्रैक्टिस के ही कुछ वीडियो सामने आए हैं. वीडियो में मल्टीबैरेल रॉकेट लॉन्चर एक साथ फायरिंग कर रहे हैं. कारगिल युद्ध में इन मल्टी बैरेल लॉन्चर ने एक अहम भूमिका निभाई थी.

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

29 जून 2019, शनिवार समाचार

पिछली खबर

यूपीः अलीगढ़ में वाहन चेकिंग के दौरान बीजेपी कार्यकर्ता ने दारोगा-सिपाही के साथ की हाथापाई, वर्दी फाड़ी

अगली खबर

स्वास्थ्य मंत्रालय ने अधिकारियों से कहा- बैठकों में बिस्किट की बजाय बादाम और अखरोट रखें
यूपीः अलीगढ़ में वाहन चेकिंग के दौरान बीजेपी कार्यकर्ता ने दारोगा-सिपाही के साथ की हाथापाई, वर्दी फाड़ी स्वास्थ्य मंत्रालय ने अधिकारियों से कहा- बैठकों में बिस्किट की बजाय बादाम और अखरोट रखें