Lac, Indianarmy, China, Pla, Lac, İndian Soldiers Got New Uniforms And Weapons, Pla, İndian Army, Sikkim Border, Ladakh Border, Galwan Valley Clash, İndo-China Border Dispute

Lac, Indianarmy

एलएसी: अब घुसपैठ की तो पहले चलेगा डंडा, भारतीय सैनिकों को मिली नई यूनिफॉर्म व हथियार

एलएसी: अब घुसपैठ की तो पहले चलेगा डंडा, भारतीय सैनिकों को मिली नई यूनिफॉर्म व हथियार #LAC #IndianArmy #China #PLA

12-06-2021 21:31:00

एलएसी: अब घुसपैठ की तो पहले चलेगा डंडा, भारतीय सैनिकों को मिली नई यूनिफॉर्म व हथियार LAC IndianArmy China PLA

लद्दाख सीमा पर चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी यानी पीएलए के सैनिक दंगा रोधी पुलिस की तरह तैनात रहते हैं। अब भारत ने भी

Published by:Updated Sat, 12 Jun 2021 10:12 PM ISTसारभारत-चीन सीमा पर तैनात भारतीय जवानों को नई यूनिफॉर्म व उपकरण दिए गए हैं। इनसे वे हालात से पहले फौरीतौर पर निपटेंगे। इसकी खास वजह है।विज्ञापनप्रतीकात्मक तस्वीर- फोटो : ANIपढ़ें अमर उजाला ई-पेपरकहीं भी, कभी भी।

राजस्थान : श्रीगंगानगर में किसानों ने BJP नेता को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, फाड़े कपड़े हॉकी में भारत का शानदार प्रदर्शन जारी: आखिरी पूल मैच में जापान को 5-3 से रौंदा; 49 साल बाद पूल स्टेज में 4 मैच जीती टीम इंडिया पीवी सिंधु के 3 नए हथियार: कोच विमल बोले- बेहतर डिफेंस, कॉन्फिडेंस और जोरदार बैक हैंड ने सिंधु को बनाया गोल्ड का दावेदार

ख़बर सुनेंख़बर सुनेंलद्दाख सीमा पर चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी यानी पीएलए के सैनिक दंगा रोधी पुलिस की तरह तैनात रहते हैं। उनके पास भाले, पत्थर व अन्य उपकरण रहते हैं, जिनसे वे आत्मरक्षा व हमला दोनों कर सकते हैं। अब भारत ने भी वैसी ही यूनिफार्म व हथियार अपने जवानों को दिए हैं। इसकी खास वजह है।

चीन-भारत के बीच स्थित वास्तविक नियंत्रण रेखा यानी एलएसी पर तैनात भारतीय सैनिकों को दंगा रोधी बल के तरह खास ड्रेस, हेलमेट, ग्लास-शिल्ड और बेंतें प्रदान की गई हैं। सिक्किम इलाके में एलएसी पर ऐसे पहनावे में सैनिक नजर आए हैं। हाल ही जारी फोटो में उनके हाथों में डंडे नजर आए हैं। वे नाइटविजन उपकरणों व अन्य हथियारों से भी लैस हैं। headtopics.com

शनिवार को सेना की कोलकाता स्थित पूर्वी कमान लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे ने कलिमपोंग में तैनात लॉयन स्ट्राइक डिवीजन का दौरा किया। उन्होंने इस दौरान सिक्किम में अग्रिम चौकियों का दौरा भी किया। उनकी ये तस्वीरें पूर्वी कमान ने जारी कीं। इनमें जवानों ने खास वर्दी पहन रखी थी।

इसलिए बदली ड्रेस, थमाए डंडेलद्दाख की गलवान घाटी में पिछले साल दोनों सेना के जवान भिड़ गए थे। तब चीनी सैनिकों ने ऐसी ही वर्दी पहन रखी थी, लेकिन उनके पास हथियार होने का भी दावा किया गया था। दरअसल दोनों देशों के बीच एलएसी पर नो फायरिंग की संधि है। यानी वहां गोली नहीं चलाई जा सकती। जब जवान भिड़े तो उन्हें चीनी सैनिकों की खास वर्दी के कारण उनसे निपटने में दिक्कत आई थी। भारतीय सैनिक अब तक एलएसी पर इंसास या फिर एके-47 राइफल के साथ ही तैनात होते थे।

संधि छोड़ चुका है भारतहालिया टकराव के बाद सरकार ने सेना को उक्त संधि से मुक्त कर दिया है, हालात देख कर निर्णय करने का आदेश दिया है। इसी कारण गत वर्ष 29-30 अगस्त को एलएसी पर गोली भी चलाई गई थी।विस्तारलद्दाख सीमा पर चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी यानी पीएलए के सैनिक दंगा रोधी पुलिस की तरह तैनात रहते हैं। उनके पास भाले, पत्थर व अन्य उपकरण रहते हैं, जिनसे वे आत्मरक्षा व हमला दोनों कर सकते हैं। अब भारत ने भी वैसी ही यूनिफार्म व हथियार अपने जवानों को दिए हैं। इसकी खास वजह है।

विज्ञापनचीन-भारत के बीच स्थित वास्तविक नियंत्रण रेखा यानी एलएसी पर तैनात भारतीय सैनिकों को दंगा रोधी बल के तरह खास ड्रेस, हेलमेट, ग्लास-शिल्ड और बेंतें प्रदान की गई हैं। सिक्किम इलाके में एलएसी पर ऐसे पहनावे में सैनिक नजर आए हैं। हाल ही जारी फोटो में उनके हाथों में डंडे नजर आए हैं। वे नाइटविजन उपकरणों व अन्य हथियारों से भी लैस हैं। headtopics.com

Delhi Assembly: दिल्ली विधानसभा में पास हुआ कृषि कानून को निरस्त करने का प्रस्ताव मोहनजोदड़ो की समरीन सोलंगी, जो मिट्टी को भी 'सोना' बना देती हैं - BBC News हिंदी पश्चिम अफ्रीका का मामला: 26 वर्षीय महिला ने 9 बच्चों को जन्म देकर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, कइयों के बचने की उम्मीद नहीं थी; शुक्र है डिलीवरी के 3 माह बाद भी ये जिंदा हैं

शनिवार को सेना की कोलकाता स्थित पूर्वी कमान लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे ने कलिमपोंग में तैनात लॉयन स्ट्राइक डिवीजन का दौरा किया। उन्होंने इस दौरान सिक्किम में अग्रिम चौकियों का दौरा भी किया। उनकी ये तस्वीरें पूर्वी कमान ने जारी कीं। इनमें जवानों ने खास वर्दी पहन रखी थी।

इसलिए बदली ड्रेस, थमाए डंडेलद्दाख की गलवान घाटी में पिछले साल दोनों सेना के जवान भिड़ गए थे। तब चीनी सैनिकों ने ऐसी ही वर्दी पहन रखी थी, लेकिन उनके पास हथियार होने का भी दावा किया गया था। दरअसल दोनों देशों के बीच एलएसी पर नो फायरिंग की संधि है। यानी वहां गोली नहीं चलाई जा सकती। जब जवान भिड़े तो उन्हें चीनी सैनिकों की खास वर्दी के कारण उनसे निपटने में दिक्कत आई थी। भारतीय सैनिक अब तक एलएसी पर इंसास या फिर एके-47 राइफल के साथ ही तैनात होते थे।

संधि छोड़ चुका है भारतहालिया टकराव के बाद सरकार ने सेना को उक्त संधि से मुक्त कर दिया है, हालात देख कर निर्णय करने का आदेश दिया है। इसी कारण गत वर्ष 29-30 अगस्त को एलएसी पर गोली भी चलाई गई थी।आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

इन राज्यों में राहत की बारिश बनी भारी आफत? देखें तस्वीरें

बारिश ने पहाड़ों से लेकर मैदानी इलाकों के लोगों के सामने लिए बड़ी मुश्किलें लाकर खड़ी कर दी. एक तरफ जहां पहाड़ों पर लोग भूस्खलन से जान गंवा रहे हैं तो दूसरी तरफ मैदानी इलाकों में बाढ़ ने कहर मचा रखा है. दरभंगा में बाढ़ के पानी से कुशेश्वरस्थान के लोग परेशान तो मध्य प्रदेश के कई जिले भी बाढ़ से त्रस्त हैं. सबसे बुरी हालात में महाराष्ट्र है जहां बारिश और बाढ़ से अबतक तकरीबन 112 लोग जान गंवा चुके हैं. इन सबके अलावा कर्नाटक से लेकर तेलंगाना तक में मौसम ने अपना कहर बरपा रखा है. देखें वीडियो.

डंडा? खिलौना de देते

चीनी घुसपैठ के एक साल बाद, ड्रैगन की मंशा जानना जरूरीचीनी सेना (पीएलए) ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पार जिन इलाकों में घुसपैठ की थी, वहां से उसे वापस भेजने के लिए बातचीत 告诉我是谁侵略谁??

IREDA ने केंद्र की 4,500 करोड़ रुपये की सौर पीएलआई योजना के लिए आमंत्रित की बोलियांबता दें कि पीएलआई योजना के लिए आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 30 जून 2021 है। सफल बोलीदाताओं के लिए चयन प्रक्रिया 30 जुलाई तक पूरी की जानी है। इरेडा ने 25 मई को अपनी वेबसाइट पर आवेदन दस्तावेज के लिए आमंत्रण

UNDP की रिपोर्ट में भारत की ADP योजना की तारीफ, PM मोदी ने जताई खुशीपीएम मोदी ने साथ ही इस बात पर खुशी जाहिर की है कि संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) ने ADP की मुख्य विशेषताओं को रेखांकित किया है. बताते चलें कि संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि ‘आकांक्षी जिला कार्यक्रम’ (ADP) ने कई जिलों में तेजी से विकास का काम किया है. Modiji ko bolo filme main acting karne Badhai देश इतनी त्रासदी से गुजर रहा है तो आपके खुश होने की कोई वजह नहीं है।

पुतिन की चेतावनी के बावजूद अमेरिका ने की यूक्रेन की मदद - BBC News हिंदीअमेरिका ने यूक्रेन के लिए नये सैन्य सहायता पैकेज की घोषणा की. ये मदद ऐसे समय में की गई है, जब रूस और यूक्रेन के बीच तनाव बढ़ रहा है. पुतिन कुछ नहीं कर सकता सिर्फ रेड कार्पेट पर चलने के सिवा Both are adamant 😢 मानवता का सार है ... मन में मानव भाव का प्रमाण है ... हम हैं सबके.. फिर किस भाव में संघर्ष ज्ञात है..🎭

असम: अखिल गोगोई ने प्रधानमंत्री से सरकारी पेपर मिलों की नीलामी रोकने की अपील कीजेल में बंद असम के निर्दलीय विधायक अखिल गोगोई ने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों के दौरान भाजपा ने वादा किया था कि राज्य में उसकी सरकार बनने पर वह पेपर मिलों को पुनर्जीवित करेगी. हालांकि नगांव पेपर मिल और कछार पेपर मिल की नीलामी के लिए नवीनतम नोटिस सभी वादों के लिए एक गंभीर झटका है.

अमेरिका : फ्लोरिडा की सुपरमार्केट में बंदूकधारी ने दो की हत्या कर की खुदकुशीअमेरिका में फ्लोरिडा की एक सुपरमार्केट में बृहस्पतिवार को हुई गोलीबारी में तीन लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में बंदूकधारी