एमएच370: सात साल पहले लापता हुआ मलेशियाई विमान क्या मिल सकेगा? - BBC News हिंदी

एमएच370: सात साल पहले लापता हुआ मलेशियाई विमान क्या मिल सकेगा?

05-12-2021 12:53:00

एमएच370: सात साल पहले लापता हुआ मलेशियाई विमान क्या मिल सकेगा?

मलेशिया का यात्री विमान एमएच370 239 यात्रियों और चालक दल के सदस्यों के साथ लापता हो गया था. ये विमानन के इतिहास के सबसे बड़े रहस्यों में से एक है.

'इस हादसे में ग्रेस नैथन ने अपनी मां एनी को खो दिया था. वो कहती हैं, "हमारे लिए ये बुरा सपना है जो ख़त्म नहीं हुआ है. इसका कोई अंत नहीं है. हमें लगता है कि हम एक चक्कर में घूम रहे हैं और बार-बार दीवार से टकरा रहे हैं.""हम इतने लंबे समय से कुछ नया होने का इंतज़ार कर रहे हैं. कुछ ऐसा जिसके आधार पर खोज फिर से शुरू हो सके. अब कम से कम एक अधिक सटीक लोकेशन है जहां खोज की जा सकती है. इससे विमान के मिलने की संभावना बढ़ गई है."

PM Modi ने जो बाइडेन जैसे दिग्गजों को इस मामले में पछाड़ा, बने दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता

नैथन क्वालालंपुर में अधिवक्ता हैं. वो चाहती हैं कि इस नए डेटा का वैज्ञानिक आधार पर परीक्षण हो इस थ्योरी को परखा जाए.वो कहती हैं, "हम नई जानकारियों का स्वागत करते हैं. ये सबूतों पर आधारित है. ये ऐसी चीज़ें हैं जिनकी गणना की जा सकती है. ये गूगल से ली गई तस्वीरों और कमज़ोर सबूतों पर आधारित नहीं है जिसका बचाव ना किया जा सके."

हिंद महासागर इतना विशाल है कि इससे पहले शुरू हुए खोजी अभियान नाकाम रहे क्योंकि सर्च एरिया बहुत बड़ा था.गोडफ्रे कहते हैं, अब तक एक लाख बीस हज़ार वर्ग किलोमीटर से बड़े इलाक़े में खोजबीन हो चुकी है. वो भूसे के ढेर में सुई नहीं खोज रहे हैं, बल्कि ये ढेर में सूक्ष्म चीज़ खोजने जैसा है. headtopics.com

इमेज स्रोत,ANNE NATHAN4 हज़ार मीटर ग़हरागोडफ्रे ने अनुमान लगाया है कि ये विमान 40 नॉटिकल मील के दायरे में हो सकता है. ये पहले चले खोजी अभियान के दायरे के मुक़ाबले में बहुत छोटा है.वो कहते हैं, विमान का मलबा या तो समंदर में किसी खाई में होगा या किसी चट्टान के पीछे होगा. विमान का मलबा समंदर में चार हज़ार मीटर की गहराई में हो सकता है.

'मैंने गांधी को क्यों मारा' पर NCP में विवाद, पार्टी के MP ने निभाया गोडसे का किरदार

अब तक इस विमान के मलबे के तीस से अधिक टुकड़े अफ़्रीका और हिंद महासागर के द्वीपों के तटों तक पहुंच चुके हैं.2009 में गोडफ्रे को ब्राज़ील के रियो डे जेनेरियो से पेरिस के फ़्रांस तक यात्रा करनी थी लेकिन काम की वजह से उन्हें ब्राज़ील में ही रुकना पड़ा.वो उड़ान कभी अपनी मंज़िल तक नहीं पहुंच सकी और अटलांटिक महासागर में समा गई. तब से ही वो समंदर में लापता हुए विमानों और उन्हें खोजने में रूची लेने लगे.

गोडफ्रे स्वतंत्र समूह एमएच370 ग्रुप के संस्थापक सदस्य हैं. वो पेशे से इंजीनियर हैं और विमान के ऑटो पायलट सिस्टम के विकास पर काम कर चुके हैंवो कहते हैं, "मैंने इंफोर्मेशन सिस्टम और डेटा को संभालने में बहुत काम किया है. इस विश्लेषण में यही अहम है. यहां डेटा बहुत ज़्यादा है और ये भूसे के ढेर से सूई निकालने जैसा ही है."

डेविड ग्लीव एविएशन सेफ्टी कंसल्टेंट के चीफ़ इन्वेस्टिगेटर है. उन्होंने विमानों के लापता होने और क्रैश होने के मामलों पर दशकों तक काम किया है.ग्लीव को लगता है कि एक नए खोजी अभियान के लिए पैसे जुटाना एक मुद्दा हो सकता है.वो कहते हैं, "अब हमारे पास क्रैश साइट कहां हो सकती है इसे लेकर अतिरिक्त सटीक डेटा है. ये अन्य थ्योरी के हिसाब से सही है और विश्वस्नीय लग रहा है." headtopics.com

इस राज्‍य के हर जिले में बनेगा एयरपोर्ट, CM ने किया ऐलान

कोई नया खोजी अभियान समंदर की स्थिति और नए विकसित किए गए उपकरणों की उपलब्धता पर निर्भर करेगा.इमेज स्रोत,Reutersसटीक सबूतडेविड ग्लीव कहते हैं, "वास्तविकता में देखा जाए तो हमें दक्षिणी सागर में गर्मियों के दिनों में खोज करनी चाहिए, यानी वो समय अब है. मुझे लगता है कि नई खोज शुरू होने में 12 महीने तक का समय लग सकता है क्योंकि इतने कम समय में खोज की जगह तक उपकरण पहुंचाना आसान नहीं है."

"मुझे लगता है कि चीन अपने नागरिकों की खोज के लिए अभियान शुरू कर सकता है या फिर इंश्योंरेंस कंपनियां खोज करवा सकती हैं."इस उड़ान पर 122 चीनी नागरिक सवार थे. ये उड़ान क्वालालंपुर से उड़ी थी और कभी बीजिंग नहीं पहुंच सकी. इस उड़ान के लापता होने के बाद विमान को लेकर कई थ्योरी दी गई.

एक थ्योरी ये भी थी कि हो सकता है कि विमान को पायलट ने ही हाईजैक किया हो और थाईलैंड की खाड़ी से पश्चिम की तरफ़ मुड़ने के बाद रडार बंद कर दिया हो.ऑस्ट्रेलिया ट्रांस्पोर्ट सेफ्टी बोर्ड (एटीएसबी) ने अक्तूबर 2017 में पानी के नीचे अपना खोजी अभियान समाप्त कर दिया था.

एटीएसबी ने बीबीसी से कहा था, "अब एटीएसबी किसी खोजी अभियान में शामिल नहीं है. विमान मलेशिया में पंजीकृत था, विमान की खोज को लेकर कोई फ़ैसला मलेशिया को ही करना है."इस पर प्रतिक्रिया के लिए मलेशियाई सरकार और चीन की सरकार से संपर्क किया गया है.ग्रैस नैथन कहती हैं, "इस विमान का मिलना वैश्विक विमानन सेवाओं की सुरक्षा के लिए ज़रूरी है ताकि भविष्य में ऐसे हादसों को रोका जा सके." headtopics.com

"हमारे लिए भी ये अध्याय अब समाप्त होना चाहिए."

और पढो: BBC News Hindi »

सिद्धू से कितना नुक़सान ? चरणजीत सिंह चन्नी EXCLUSIVE, देखिए #DNAWeekendEdition LIVE Sudhir Chaudhary के साथ

मुश्किल है!

अमेरिकी विदेश विभाग के अधिकारियों के आईफोन पेगासस के ज़रिये हैक किए गए: रिपोर्टसमाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार, इज़रायली कंपनी एनएसओ के पेगासस स्पायवेयर के ज़रिये युगांडा स्थित या युगांडा से संबंधित मामले देख रहे अमेरिकी विदेश विभाग के अधिकारियों के आईफोन में सेंधमारी की गई है. इस घटना को एनएसओ के माध्यम से अमेरिकी अधिकारियों पर की गई सबसे बड़ी हैकिंग बताया जा रहा है. America's Frankenstein.

Uttarakhand Assembly Election 2022 : राहुल गांधी के दौरे के बाद टिकट पर पत्ते खोलेगी कांग्रेसUttarakhand Assembly Election 2022 स्टार प्रचारकों की उत्तराखंड में एंट्री के मामले में अभी भाजपा से पिछड़ी कांग्रेस अब टिकट तय करने को लेकर बाजी मारना चाहती है। 16 दिसंबर को देहरादून में राहुल गांधी(Rahul Gandhi) की बड़ी जनसभा होनी है जिसके बाद प्रदेश सलेक्शन कमेटी की बैठक होगी। RahulGandhi INCIndia Kya pattey kholegi. Bekaar mein marwa diya issko . Pichley elections key dauran issney apney kurtey ki ek pockets faad li thee or abki baar ussey pattey khulwa rahey hain. Congress ney jab bhi issko kuch kaand karney ko kaha tabhi hi congress ki haar hui hai. Aa bail mujhe maar.

अनाथ बच्चियों के पिता बने सूरत के ये व्यापारी, 300 लड़कियों का किया कन्यादानगुजरात में सूरत के इंडस्ट्रलिस्ट मेहश सवाणी ने अनाथ बच्चियों के दत्तक पिता बनने का संकल्प लिया था. सवाणी हर साल अनाथ बच्चियों की शादी कराने के महान काम के लिए जाने जाते हैं. इस बार उनकी ओर से आयोजित सामूहिक विवाह में 300 अनाथ बेटियों की डोली उठेगी. rsmssb_jen_scam priyankagandhi जी राजस्थान में तो आपकी ही की पार्टी की सरकार हैं फिर यहां पेपर लीक का ठेका किसका हैं ashokgehlot51 जी का JEn भर्ती के अभ्यर्थी इतने दिनों से सड़क पर हैं और आपकी सरकार ध्यान नही दे रही हैं AHindinews TheLallantop PatrikaNews Oc वाह। अति उत्तम

रूस और यूक्रेन के तनाव के बीच में आए अर्दोआन - BBC Hindiतुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप अर्दोआन रूस के राष्ट्रपति व्लादमिर पुतिन और यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लादमिर ज़ेलेनेस्की के बीच वार्ता की पहल कर सकते हैं.

हुड़दंग के आरोप में निलंबित सांसदों का धरना, संसद में विपक्ष के रवैए पर उठा सवालहुड़दंग के आरोप में निलंबित सांसदों के धरने पर बैठे रहने की जिद के बाद भी राज्यसभा में कामकाज चल निकलना यही बताता है कि ये सांसद एक हारी हुई लड़ाई लड़ रहे हैं। विपक्षी दल इन सांसदों का साथ देकर न केवल अपना नुकसान कर रहे हैं। लोकतंत्र की रक्षा के लिए धरना और प्रदर्शन संवैधानिक अधिकार है सत्ताधारी दल हमेशा से दबाने का प्रयास करते आए हैं चाहे अंग्रेजों से देखा जाए या अंग्रेजों के अनुयायियों से लेकिन जनता को अपनी आवाज शांतिपूर्ण ढंग से धरना और प्रदर्शन के माध्यम से उठाना ही पड़ेगा भूख हड़ताल भी

जानिए- रूस के सापेक्ष भारत और अमेरिका के बीच संबंधों की क्या है अहमियतरूस के मसले पर भारत को अमेरिका के दबाव में रहने और रूस की तुलना में भारत द्वारा अमेरिका से मजबूत संबंधों को प्राथमिकता देने का आरोप लगाकर भारत पर प्रश्नचिन्ह खड़े करने वालों का एक वर्ग लगातार सक्रिय रहा है। KOI KUCH BHI KAHE ' OLD IS GOLD ' ? _ INDIA MUST REMAIN COMMITTED TO THE RUSSIA , IF IT WANTS TO WIN 3RD WORLD WAR AGAINST CHINA ?