एक नजर में जानें- सीडीएस जनरल बिपिन रावत का शानदार करियर, देश कर रहा उन्‍हें सलाम

एक नजर में जानें- सीडीएस जनरल बिपिन रावत का शानदार करियर, देश कर रहा उन्‍हें सलाम #BipinRawat #CDSBipinRawat #IndianArmy

Bipinrawat, Cdsbipinrawat

08-12-2021 18:00:00

एक नजर में जानें- सीडीएस जनरल बिपिन रावत का शानदार करियर, देश कर रहा उन्‍हें सलाम BipinRawat CDSBipinRawat IndianArmy

जनरल रावत का सैन्‍य करियर बेहद शानदार रहा है। यही वजह थी कि उन्‍हें दूसरे सीनियर अधिकारियों से वरियता देकर सेनाध्‍यक्ष बनाया गया था। आतंक को खत्‍म करने के लिए चलाए जाने वाले आपरेशन का उन्‍हें जबरदस्‍त अनुभव था।

सीडीएस बिपिन रावत की हेलीकाप्‍टर क्रैश में हुई मौत ने देश को झकझोड़ कर रख दिया है। ये हेलीकाप्‍टर खराब मौसम की वजह से कुन्‍नून में नीलगिरी की पहाडि़यों में क्रैश हो गया था। इसमें सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्‍नी समेत कुल 14 लोग सवार थे। इनमें से अधिकतर इस हादसे में मारे गए हैं।

'सत्येंद्र जैन की गिरफ्तारी हो सकती है', CM केजरीवाल केंद्र से बोले- आप एजेंसियां भेजिए, हम तैयार हैं

सीडीएस बिपिन रावत का जन्‍म 16 मार्च 1958 को उत्तराखंड में एक हिंदू गढ़वाली राजपूत परिवार में हुआ था। उनका परिवार कई पीढि़यों से भारतीय सेना में सेवा देता रहा है। उनके पिता लक्ष्मण सिंह रावत पौड़ी गढ़वाल जिले के सैंज गांव से थे और लेफ्टिनेंट जनरल के पद तक पहुंचे थे। उन्‍हें देश का पहला चीफ आफ डिफेंस स्‍टाफ नियुक्‍त किया गया था। आपको बता दें कि मोदी सरकार ने उनकी सेनाध्‍यक्ष के रूप में नियुक्ति भी आउट आफ टर्न की थी। इसके बाद भी उन्‍होंने अपने वरिष्‍ठ अधिकारों का पूरा साथ दिया। उनके ही कार्यकाल में भारत ने पाकिस्‍तान को दो बार करारा जवाब दिया था। 

यह भी पढ़ें16 दिसंबर 1978 को बिपिन रावत ने 11 गोरखा राइफल्स की 5वीं बटालियन में नियुक्ति के साथ सेना में अपनी सेवा शुरू की थी। उन्हें उच्च ऊंचाई वाले युद्ध का जबरदस्‍त अनुभव था। इसके अलावा उन्होंने आतंकवाद विरोधी अभियानों के संचालन का भी अच्‍छा अनुभव था। सेना में मेजर के रूप में उन्‍होंने उरी, जम्मू और कश्मीर में एक कंपनी की कमान संभाली। कर्नल के तौर पर उन्होंने किबिथू में वास्तविक नियंत्रण रेखा के साथ पूर्वी सेक्टर में 5वीं बटालियन 11 गोरखा राइफल्स की कमान संभाली। ब्रिगेडियर के रूप में उन्होंने सोपोर में राष्ट्रीय राइफल्स के 5 सेक्टर की कमान संभाली। headtopics.com

यह भी पढ़ेंरावत ने यूएन मिशन के तहत कांगो में भी अपनी सेवाएं दी थी। यहां पर उन्‍होंने बहुराष्ट्रीय ब्रिगेड की कमान संभाली थी। उनकी उत्‍कृष्‍ठ सेवा को देखते हुए उन्हें दो बार फोर्स कमांडर के प्रशस्ति से सम्मानित किया गया।मेजर जनरल के पद पर रहते हुए उन्‍होंने 19वीं इन्फैंट्री डिवीजन (उरी) के जनरल ऑफिसर कमांडिंग के रूप में अपनी सेवाएं दी। इसके बाद लेफ्टिनेंट जनरल के रूप में, उन्होंने पुणे में दक्षिणी सेना को संभालने से पहले दीमापुर में मुख्यालय वाली III कोर की कमान संभाली।

India vs south africa का तीसरा वनडे मैच ऐसे देखें लाइव

सेना कमांडर ग्रेड में पदोन्नत होने के बाद, रावत ने 1 जनवरी 2016 को जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ (जीओसी-इन-सी) दक्षिणी कमान का पद ग्रहण किया। एक छोटे कार्यकाल के बाद, उन्होंने थल सेना के उप प्रमुख का पद ग्रहण किया। 17 दिसंबर 2016 को उन्‍हें 27 वें थल सेनाध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था।

बता दें कि सीडीएस जनरल रावत फील्ड मार्शल सैम मानेकशा और जनरल दलबीर सिंह सुहाग के बाद गोरखा ब्रिगेड के थल सेनाध्यक्ष बनने वाले तीसरे अधिकारी हैं। 2019 में अमेरिका की अपनी यात्रा पर जनरल रावत को यूनाइटेड स्टेट्स आर्मी कमांड और जनरल स्टाफ कालेज इंटरनेशनल हाल आफ हेम में शामिल किया गया था। वह नेपाली सेना के मानद जनरल भी थे। 

यह भी पढ़ेंरावत ने देहरादून में कैम्ब्रियन हाल स्कूल और शिमला के सेंट एडवर्ड स्कूल से पढ़ाई की और फिर उन्होंने राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) खडकवासला और भारतीय सैन्य अकादमी, देहरादून में प्रवेश लिया। यहां पर उन्हें 'स्वार्ड आफ आनर से सम्‍मानित किया गया था। रावत ने डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी), वेलिंगटन और यूनाइटेड स्टेट्स आर्मी कमांड के हायर कमांड कोर्स और फोर्ट लीवेनवर्थ, कंसास में जनरल स्टाफ कालेज से भी स्नातक किया है। उन्हें चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय, मेरठ द्वारा सैन्य-मीडिया रणनीतिक अध्ययन पर उनके शोध के लिए पीएचडी से भी सम्मानित किया गया था।  headtopics.com

UP चुनाव : मायावती का कांग्रेस पर हमला, उत्तर प्रदेश में ‘वोटकटवा’ पार्टी बताया

और पढो: Dainik jagran »

सरकार: 2017 में BJP के भारी बहुमत से जीत के बाद Yogi Adityanath कैसे चुने गए CM?

मार्च 2017 की बात है. फागुन की पूरनमासी से पहले ही यूपी में बीजेपी की पूरनमासी हो गई. यूपी के बड़े बड़े लड़ैया मोदी के आगे ढेर हो गए. प्रचंड बहुमत से बीजेपी को जीत मिली थी, जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी. लेकिन इसके बाद चुनना था एक ऐसा चेहरा जो इस भारी भरकम जनादेश के साथ न्याय कर सकता था, उत्तर प्रदेश का नया मुख्यमंत्री. चर्चा थी तीन नामों की - यूपी के सीएम रह चुके राजनाथ सिंह, गाज़ीपुर से तत्कालीन सांसद मनोज सिंहा और तब के यूपी बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य. लेकिन जो फैसला लिया गया वो कयासों से बिलकुल उलट था. घोषणा हो गई एक ऐसे नाम की जिनकी किसी ने चर्चा ही नहीं की थी. बाकि तो छोड़िए, खुद योगी आदित्यनाथ को नहीं मालूम था कि उनकी बारी ऐसे आ जाएगी. देखें सरकार.

बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, सरकार के बयान का इंतज़ार - BBC Hindiतमिलनाडु में बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हुआ है. राज्य के एक मंत्री के मुताबिक़ पाँच लोगों की मौत हुई है. वायु सेना ने हादसे की जाँच का आदेश दिया है. 11 DIED AMONG 14 AS INFORMED BY DM NILGIRI ( Tamilnadu ) ? CDS General BipinRawat is most important person of Indian defence and national security with highest caliber of defence skills and that's why he became first Chief of Defence Staff of India🇮🇳 so it's biggest loss for Indian Army and whole country if the rumours proved right😔 तुम लोग किधर हो यार, Local से कोई अपडेट नहीं मिला था क्या तभी...?

जनरल बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर क्रैश, कई की मौत | DW | 08.12.2021वायुसेना के हेलिकॉप्टर में सीडीएस जनरल बिपिन रावत समेत 14 लोग सवार थे. रावत बुधवार को सुलूर एयरबेस से वेलिंगटन के लिए हेलिकॉप्टर से यात्रा कर रहे थे. हादसे में कम से कम पांच लोगों के मारे जाने की खबरें हैं. bipinrawat HelicopterCrash

जनरल बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर क्रैश, कुन्नूर में हुआ हादसा - BBC News हिंदीतमिलनाडु के कुन्नूर में भारतीय वायु सेना के Mi-17V5 हेलिकॉप्टर क्रैश कर गया है. इसमें चीफ़ डिफेंस ऑफ स्टाफ़ जनरल बिपिन रावत भी सवार थे. भारतीय वायुसेना ने कहा है कि इस दुर्घटना के कारण जानने के लिए जाँच का आदेश दे दिया गया है. complete54kbasictransfer शिक्षकों के अंतर्जनपदीय तबादलों पर भी कुछ करलो साहब। इतना भी परेशान न करो साहब कि हमारी हताशा 2022 मे BJP के विरुद्ध हो जाए।BJP समर्थक शिक्षकों को रोक लो वरना बाइस_में_साइकिल वाला नारा सच न हो जाए

जनरल बिपिन रावत का चॉपर क्रैश : जानें उनकी पत्नी सहित और कौन-कौन था सवारभारतीय वायु सेना ने ट्विटर पर पुष्टि की है कि जनरल रावत उसमें सवार थे. उन्होंने आज दिल्ली से सुलूर के लिए उड़ान भरी थी. रसिया से हथियारों की डील हुई थी कल। दुखद घटना। देश सारा शुभ प्रार्थना करें।

जनरल बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर क्रैश, अब तक हमें जो पता है - BBC News हिंदीतमिलनाडु के कुन्नूर में भारतीय वायु सेना के Mi-17V5 हेलिकॉप्टर क्रैश कर गया है. इसमें चीफ़ डिफेंस ऑफ स्टाफ़ जनरल बिपिन रावत भी सवार थे. भारतीय वायुसेना ने कहा है कि इस दुर्घटना के कारण जानने के लिए जाँच का आदेश दे दिया गया है. कोई साज़िश या हादसा..? सच से कोताही बरतने वाली सरकार हैं..! कौन बतायेगा सत्य..? Itna late news dete ho. Koi or kaam krlo bbc walo. Ye tumse na ho payega. जुमले सुनकर अंध भक्तों को खुशी मिलती हैं 😁😁😆😆😆

Bipin Rawat Death: सीडीएस जनरल बिपिन रावत का निधन, मनोरंजन जगत ने दी श्रद्धाजंलिBipin Rawat Death: सीडीएस जनरल बिपिन रावत का निधन, मनोरंजन जगत ने दी श्रद्धाजंलि BipinRawat BipinRawatDeath RIPBipinRawat Om shanti व्रिनम श्रद्धांजलि 🙏